ऐसा कौन सा भोजन है जिससे बचपन में आप नफ़रत करते थे लेकिन बड़े होकर वो आपको खाने में पसंद है?...


play
user

Dilsh Sheikh

Journalist

1:04

Likes  9  Dislikes    views  320
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Snehasish Gupta

Journalist / Traveller

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं जब छोटा था मैं बचपन में कॉन्प्लेक्स से बहुत नफरत करता था लेकिन जब धीरे-धीरे बड़ा हो गया तो मुझे कॉर्नफ्लेक्स बहुत पसंद है अब मुझे नहीं पता है कॉन्फ्रेंस बस 15 बस बच्चा का कारखाना बताइए बच्चा लोग इसे ज्यादा खाते हैं लेकिन फिर भी मैंने बचपन में छोटा था तो मुझे कौन से जिले में पसंद है तो मुझे अभी भी याद है मम्मी मुझे दूध और कॉल कर दे दी थी लेकिन मैं पीता नहीं था लेकिन अभी जो है अभी मुझे कांग्रेस बहुत पसंद है मैं अभी यह खुद पीता हूं

main jab chota tha main bachpan mein kanpleks se bahut nafrat karta tha lekin jab dhire dhire bada ho gaya toh mujhe karnafleks bahut pasand hai ab mujhe nahi pata hai conference bus 15 bus baccha ka karkhana bataiye baccha log ise zyada khate hain lekin phir bhi maine bachpan mein chota tha toh mujhe kaun se jile mein pasand hai toh mujhe abhi bhi yaad hai mummy mujhe doodh aur call kar de di thi lekin main peeta nahi tha lekin abhi jo hai abhi mujhe congress bahut pasand hai main abhi yah khud peeta hoon

मैं जब छोटा था मैं बचपन में कॉन्प्लेक्स से बहुत नफरत करता था लेकिन जब धीरे-धीरे बड़ा हो गय

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  315
WhatsApp_icon
play
user

Kavita

Writer

1:04

Likes  9  Dislikes    views  285
WhatsApp_icon
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम राम जी की आपका प्रश्न ऐसा कौन सा भोजन है जिससे बचपन में आप नफरत नफरत करते थे लेकिन बड़े होकर वह आपको खाने में पसंद तुम्हें यह बता दो मुझे तो कोई भी चीज ऐसी नहीं थी जो पसंद ना हो मैं तो सभी कुछ खाती हूं हर सब्जी खाती हूं एक रतालू ऐसा है इससे क्या मेरे जिम में अंदर खुजली मचती है इसलिए वह मुझे बिल्कुल पसंद नहीं है कंद जो भी है वह मैं कम खाती अरबी खाती हूं लेकिन जब वह थोड़ी पक जाते उसके बाद कच्ची अरबी जैसे रहती है शुरू में आती है तो वह थोड़ा दिक्कत दे जाती है वैसे ज्यादातर क्या होता बच्चों करेले पसंद नहीं आती करेली में आदमी है कम पसंद आते करेले तो जाल में फंसे बच्चे कोई नहीं खाते बड़े होकर उनको बड़े चाव से खाते हैं मैंने यह देखा जाता अपने घर में भी देखो घर में रहिए धन्यवाद

ram ram ji ki aapka prashna aisa kaun sa bhojan hai jisse bachpan me aap nafrat nafrat karte the lekin bade hokar vaah aapko khane me pasand tumhe yah bata do mujhe toh koi bhi cheez aisi nahi thi jo pasand na ho main toh sabhi kuch khati hoon har sabzi khati hoon ek ratalu aisa hai isse kya mere gym me andar khujli machati hai isliye vaah mujhe bilkul pasand nahi hai kand jo bhi hai vaah main kam khati rb khati hoon lekin jab vaah thodi pak jaate uske baad kachhi rb jaise rehti hai shuru me aati hai toh vaah thoda dikkat de jaati hai waise jyadatar kya hota baccho karele pasand nahi aati kareli me aadmi hai kam pasand aate karele toh jaal me fanse bacche koi nahi khate bade hokar unko bade chav se khate hain maine yah dekha jata apne ghar me bhi dekho ghar me rahiye dhanyavad

राम राम जी की आपका प्रश्न ऐसा कौन सा भोजन है जिससे बचपन में आप नफरत नफरत करते थे लेकिन बड़

Romanized Version
Likes  231  Dislikes    views  1685
WhatsApp_icon
user

Riya

Artist, Traveller

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अजी हां मुझे करेला खाना बिल्कुल पसंद नहीं था बचपन में लेकिन जब मैं बड़ी होती गई और मुझे पता चला कि वह हमारे शरीर के लिए इतना फायदेमंद है तब मैं करेला खाना शुरू की और बाद में मुझे वह पसंद भी आने लगा

aji haan mujhe karela khana bilkul pasand nahi tha bachpan mein lekin jab main badi hoti gayi aur mujhe pata chala ki vaah hamare sharir ke liye itna faydemand hai tab main karela khana shuru ki aur baad mein mujhe vaah pasand bhi aane laga

अजी हां मुझे करेला खाना बिल्कुल पसंद नहीं था बचपन में लेकिन जब मैं बड़ी होती गई और मुझे पत

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  71
WhatsApp_icon
user

Sweta pawar

Beginner

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बचपन में बैटरी नहीं खाती थी मैं थी वह तो बिल्कुल अच्छा नहीं लगता था लेकिन अभी मुझे अच्छा लगने लगा क्या होता है तो हम तो बहुत अच्छे हो जाती है पहले बिल्कुल नहीं खाते

bachpan mein battery nahi khati thi main thi wah toh bilkul accha nahi lagta tha lekin abhi mujhe accha lagne laga kya hota hai toh hum toh bahut acche ho jati hai pehle bilkul nahi khate

बचपन में बैटरी नहीं खाती थी मैं थी वह तो बिल्कुल अच्छा नहीं लगता था लेकिन अभी मुझे अच्छा ल

Romanized Version
Likes  109  Dislikes    views  1993
WhatsApp_icon
play
user

Mohini

Voice Artist

1:03

Likes  16  Dislikes    views  212
WhatsApp_icon
play
user

TS Bhanot

Teacher

1:00

Likes  13  Dislikes    views  310
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
आपको खाने में क्या पसंद है ; गूगल आपको खाने में क्या पसंद है ; आपको क्या पसंद है ; आपको क्या पसंद है? ; गूगल आपको क्या पसंद है ; aapko khane mein kya pasand hai ; तुम्हें खाने में क्या पसंद है ; aapko kya khana pasand hai ; khane mein kya pasand hai ; आप क्या खाना पसंद करते हैं ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!