मैं एक कंप्यूटर प्रोग्रामर हूँ और हर रोज कंप्यूटर पर काफ़ी समय तक काम करता हूँ। यह सुनिश्चित करने के लिए मैं क्या कर सकता हूँ कि मेरी दृष्टि स्वस्थ और ठीक र है?...


play
user
0:38

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

काम तो यह तो मैं करना है कि आंखों में अगर जलन होती है तो आप जैसे सुबह उठते हो यह प्राकृतिक तरीका तुम्हें बता रहे हैं जैसे सुबह उठते हैं टूटकर के पहले मुंह में पानी भर लो और फिर दूसरे पानी से आंखों में खूब सीखे लगाई है उस पानी को हटा दीजिए फिर मुंह में पानी भरी है इस प्रकार से 10 12 बार इस प्रक्रिया को करिए आपकी जन्म कभी जिंदगी में नहीं होगी पहली बार दूसरी बार शीतली प्राणायाम शीतकारी प्राणायाम करिए इसे आप की आंखों की जांच समाप्त होगी

kaam toh yah toh main karna hai ki aankho mein agar jalan hoti hai toh aap jaise subah uthte ho yah prakirtik tarika tumhe bata rahe hain jaise subah uthte hain tutkar ke pehle mooh mein paani bhar lo aur phir dusre paani se aankho mein khoob sikhe lagayi hai us paani ko hata dijiye phir mooh mein paani bhari hai is prakar se 10 12 baar is prakriya ko kariye aapki janam kabhi zindagi mein nahi hogi pehli baar dusri baar shitli pranayaam shitkari pranayaam kariye ise aap ki aankho ki jaanch samapt hogi

काम तो यह तो मैं करना है कि आंखों में अगर जलन होती है तो आप जैसे सुबह उठते हो यह प्राकृतिक

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  209
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Arpit Meena

Yoga Instructor

2:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां बिल्कुल जब इन पर लगातार देख सकते तो उससे कुछ जो भी कहना निकलती है वह मेरी आंखों को काफी नुकसान पहुंचाती है थोड़ी देर के लिए समय-समय पर अपनी निगाहों को हटाकर किसी दूर स्थित कोई बिंदु है उस पर अपनी निगाहों से दिखाइए फिर सामान्य स्थिति में लाई है फिर थोड़ी दूर स्थित कोई भी उसको देखिए फिर सामान्य उसको वहां से निकाल चाहिए आराम दीजिए या अपनी आंखों को सुबह ठंडे पानी से धोना और एक आए उसका पता है उसका यू सर गलत जो भी सिस्टम चलाने वाले लोग ही कंप्यूटर चलाने वाले को उसका यूज़ करें तो काफी बेहतर होता है आयुष कप में आप तो ठंडा पानी डाली है उसमें क्षेत्र साबुन गुलाब जल की डाली है ना और लगभग उसको उसके अंदर पूरा आकुर्डी करके क्लॉक को एंटी क्लॉक वाइज घुमाते हुए लगभग 30 से 40 सेकंड तक पूरी आंखों को वॉश करके उस पानी को चेंज कर दीजिए तो आंखों को ठंडे पानी आपको काफी रिलैक्स मिलेगा और रही है उसमें साइड की बात तो योग में त्राटक होता है यह 304 तरीके का होता है तो उसमें आप आंखें बंद करके भी स्कोर कर सकता आपको करना क्या है उसको सीधा देखना किसी भी पोजीशन में आप चाहे तो आसन पर बैठ सकते हैं कुर्सी पर बैठकर कर सकते हैं उसको सीधे स्पेक्ट्रा कमर सीधी आंख बंद करके आपको केवल यावास करना कि आपकी आंखें बंद हो रात को जो मिड पॉइंट होता अपना जहां पर आज्ञा चक्र होता है दोनों के बीच में वहां पर फोकस करना है कुछ टाइम के लिए सिर्फ देख सकता है जब तक आप की आंखों से आंसू ना आए तब तक यह आपको तभी करना जब आपकी आंखें थोड़ी मत लो आपको चश्मा वगैरह नहीं लगा तो बिंदु त्राटक ठीक रहता है और बाकी फिर ज्योति का नाटक होता और दर्पण त्राटक होता है उसके लिए आपको किसी एक्सपर्ट की निगरानी में उसको करने का मैं सजेशन दूंगा

haan bilkul jab in par lagatar dekh sakte toh usse kuch jo bhi kehna nikalti hai vaah meri aankho ko kaafi nuksan pohchti hai thodi der ke liye samay samay par apni nigaahon ko hatakar kisi dur sthit koi bindu hai us par apni nigaahon se dikhaaiye phir samanya sthiti mein lai hai phir thodi dur sthit koi bhi usko dekhiye phir samanya usko wahan se nikaal chahiye aaram dijiye ya apni aankho ko subah thande paani se dhona aur ek aaye uska pata hai uska you sir galat jo bhi system chalane waale log hi computer chalane waale ko uska use kare toh kaafi behtar hota hai ayush cup mein aap toh thanda paani dali hai usme kshetra sabun gulab jal ki dali hai na aur lagbhag usko uske andar pura akurdi karke clock ko anti clock wise ghumate hue lagbhag 30 se 40 second tak puri aankho ko wash karke us paani ko change kar dijiye toh aankho ko thande paani aapko kaafi relax milega aur rahi hai usme side ki baat toh yog mein tratak hota hai yah 304 tarike ka hota hai toh usme aap aankhen band karke bhi score kar sakta aapko karna kya hai usko seedha dekhna kisi bhi position mein aap chahen toh aasan par baith sakte hai kursi par baithkar kar sakte hai usko sidhe Spectra kamar seedhi aankh band karke aapko keval yavas karna ki aapki aankhen band ho raat ko jo mid point hota apna jaha par aagya chakra hota hai dono ke beech mein wahan par focus karna hai kuch time ke liye sirf dekh sakta hai jab tak aap ki aankho se aasu na aaye tab tak yah aapko tabhi karna jab aapki aankhen thodi mat lo aapko chashma vagera nahi laga toh bindu tratak theek rehta hai aur baki phir jyoti ka natak hota aur darpan tratak hota hai uske liye aapko kisi expert ki nigrani mein usko karne ka main suggestion dunga

हां बिल्कुल जब इन पर लगातार देख सकते तो उससे कुछ जो भी कहना निकलती है वह मेरी आंखों को काफ

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  232
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!