क्या वास्तव में यह दुनिया झूठ पर टिकी हुई है?...


user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

0:45
Play

Likes  482  Dislikes    views  3858
WhatsApp_icon
28 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Isu Vasava

PASTOR in CHURCH.

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं आज झूठी आने शैतान जो जो पाप का पिता है झूठ का पिता है वह आज दुनिया को झूठ के चक्कर में फंसा कर रखा है उसने लेकिन यह बात अलग है कि नहीं यह दुनिया जो परमेश्वर पिता है उस उस ने टीका कर रखी है और यह दुनिया झूठ के ऊपर नहीं टिकी हुई है

nahi aaj jhuthi aane shaitaan jo jo paap ka pita hai jhuth ka pita hai vaah aaj duniya ko jhuth ke chakkar me fansa kar rakha hai usne lekin yah baat alag hai ki nahi yah duniya jo parmeshwar pita hai us us ne tika kar rakhi hai aur yah duniya jhuth ke upar nahi tiki hui hai

नहीं आज झूठी आने शैतान जो जो पाप का पिता है झूठ का पिता है वह आज दुनिया को झूठ के चक्कर मे

Romanized Version
Likes  206  Dislikes    views  1804
WhatsApp_icon
user

bhaand's Theatre and Acting Classes

Acting And drama Coach Casting director Drama Director

2:22
Play

Likes  35  Dislikes    views  672
WhatsApp_icon
user
0:17
Play

Likes  41  Dislikes    views  977
WhatsApp_icon
user

गोपाल पांडेय

Journalist, Counselor, motivational speaker

0:53
Play

Likes  144  Dislikes    views  1670
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

1:33
Play

Likes  138  Dislikes    views  3127
WhatsApp_icon
user

K A Singh

Ias Teacher

1:32
Play

Likes  13  Dislikes    views  175
WhatsApp_icon
user

Sunita sharma

Motivational Speaker

0:41
Play

Likes  7  Dislikes    views  143
WhatsApp_icon
user

Rakesh Samdadiya

Business Owner

2:51
Play

Likes  64  Dislikes    views  1270
WhatsApp_icon
user

Sohail Ahmad

Author,Journalist And Social Worker

1:34
Play

Likes  8  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  17  Dislikes    views  198
WhatsApp_icon
user

Nirmala

Teacher Counsellor

2:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या वास्तव में यह दुनिया छूट पर टिकी है नहीं नहीं नहीं मुझे ऐसा नहीं लगता कि झूठ पर टिकी है झूठ तो गीली मिट्टी की तरह है और गीली मिट्टी अगर हम सब लेकर के एक दूसरे के साथ बनना चाहें तो सारी की सारी गीली मिट्टी हम लोगों के हाथ से टूट जाएगी गिर जाएगी और हम मिल नहीं पाएंगे गीली लकड़ी की तरह है जो तुरंत रूठ जाएगी रिश्तो की तरह है जो कमजोर है झूठ पर दुनिया कैसे टिक सकती है जब झूठ का ताना-बाना बुना रहता है और एक जगह ताश के महल की तरह ना बताओ यह उस ताश की दीवारों की तरह है जो एक दूसरे के सहारे और आपने एक ही राय नहीं कि सारे के सारे कृपया झूठ फिर झूठ ही पनपता है और झूठ के पांव नहीं होते जाने कहां से कहां था सिखा निकल जाता है और एक झूठ के लिए मैं जाने कितने झूठ बोलने पड़ते हैं तो कहीं ना कहीं कहीं ना कहीं वह पकड़ में आ ही जाता है तो दुनिया कैसे भला झूठ पर टिकी रह सकती है यह झूठ पर नहीं अगर यह चल रही है लोग यहां सलामत है जिंदगी अभी कुछ चल रही है तो उसमें सच का उसमें संघर्ष का कितने लोगों ने अपने प्राण गांव आए हैं कितने लोगों ने संघर्ष किया है तब जाके उसी से पाई है और यह दुनिया जो है सुरक्षित दिख रही है जितनी भी दिख रही है जितनी भी चल रही है मैंने कह रही थी बहुत अच्छी चल रही है लेकिन पूरी की पूरी सच में चल रही है और सच्ची भाई धन्यवाद

kya vaastav me yah duniya chhut par tiki hai nahi nahi nahi mujhe aisa nahi lagta ki jhuth par tiki hai jhuth toh gili mitti ki tarah hai aur gili mitti agar hum sab lekar ke ek dusre ke saath banna chahain toh saari ki saari gili mitti hum logo ke hath se toot jayegi gir jayegi aur hum mil nahi payenge gili lakdi ki tarah hai jo turant rooth jayegi rishto ki tarah hai jo kamjor hai jhuth par duniya kaise tick sakti hai jab jhuth ka tana bana buna rehta hai aur ek jagah tash ke mahal ki tarah na batao yah us tash ki deewaaron ki tarah hai jo ek dusre ke sahare aur aapne ek hi rai nahi ki saare ke saare kripya jhuth phir jhuth hi panpata hai aur jhuth ke paav nahi hote jaane kaha se kaha tha sikha nikal jata hai aur ek jhuth ke liye main jaane kitne jhuth bolne padate hain toh kahin na kahin kahin na kahin vaah pakad me aa hi jata hai toh duniya kaise bhala jhuth par tiki reh sakti hai yah jhuth par nahi agar yah chal rahi hai log yahan salamat hai zindagi abhi kuch chal rahi hai toh usme sach ka usme sangharsh ka kitne logo ne apne praan gaon aaye hain kitne logo ne sangharsh kiya hai tab jake usi se payi hai aur yah duniya jo hai surakshit dikh rahi hai jitni bhi dikh rahi hai jitni bhi chal rahi hai maine keh rahi thi bahut achi chal rahi hai lekin puri ki puri sach me chal rahi hai aur sachi bhai dhanyavad

क्या वास्तव में यह दुनिया छूट पर टिकी है नहीं नहीं नहीं मुझे ऐसा नहीं लगता कि झूठ पर टिकी

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  206
WhatsApp_icon
user

अशोक कुमार मिश्र

शिक्षाविद्

2:19
Play

Likes  6  Dislikes    views  171
WhatsApp_icon
user

Anita

Youtuber

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह आपकी थिंकिंग है यह दुनिया झूठ पर टिकी है क्योंकि कोई भी चीज झूठ पर कभी नहीं दे सकते हर इंसान के लिए वह सच अलग हो शायद हो सकता है कि जो दूसरे इंसान के लिए सोचो आप के लिए झूठ हो उनके लिए जो झूठ है वह आपके लिए सच में हर इंसान का अलग-अलग सच होता है यह जरूरी नहीं है कि आपके लिए सोचो दूसरों के लिए भी सच हो सकता है कि दूसरे लोग जमाने उसके लिए झूठ उसमें एक कविता भी है तो इस क्लास में किसी से भी तेज है सच के ऊपर जिसमें युधिस्टर जी जो होते हैं वह कहते हैं कि है इश्वर है परमात्मा मुझे बताइए कि सच क्या वह सच की खोज में घूमते हैं अंत में जाकर उन्हें पता लगता है कि सत्य क्या है सत्य तो एक ऐसा डांट लगा लीजिए यह सोच लगा लीजिए जिसको अपना भी नहीं सकते कि सकते हैं क्या कि हर किसी का अपना अपना अलग नजरिया है सोचने का तरीका है जो जैसा कैसा है उसके कोडिंग वैसे ही सच्ची अपना रूप बदलता रहता है इसीलिए कह रही हूं कि आपके लिए सच दूसरों सकता है दूसरे लोगों के लिए सब दूसरों सकता है यह कहना कि दुनिया झूठ पर टिकी हुई है यह बिल्कुल सत्य नहीं है

yah aapki thinking hai yah duniya jhuth par tiki hai kyonki koi bhi cheez jhuth par kabhi nahi de sakte har insaan ke liye vaah sach alag ho shayad ho sakta hai ki jo dusre insaan ke liye socho aap ke liye jhuth ho unke liye jo jhuth hai vaah aapke liye sach me har insaan ka alag alag sach hota hai yah zaroori nahi hai ki aapke liye socho dusro ke liye bhi sach ho sakta hai ki dusre log jamane uske liye jhuth usme ek kavita bhi hai toh is class me kisi se bhi tez hai sach ke upar jisme yudhistar ji jo hote hain vaah kehte hain ki hai ishvar hai paramatma mujhe bataiye ki sach kya vaah sach ki khoj me ghumte hain ant me jaakar unhe pata lagta hai ki satya kya hai satya toh ek aisa dant laga lijiye yah soch laga lijiye jisko apna bhi nahi sakte ki sakte hain kya ki har kisi ka apna apna alag najariya hai sochne ka tarika hai jo jaisa kaisa hai uske coding waise hi sachi apna roop badalta rehta hai isliye keh rahi hoon ki aapke liye sach dusro sakta hai dusre logo ke liye sab dusro sakta hai yah kehna ki duniya jhuth par tiki hui hai yah bilkul satya nahi hai

यह आपकी थिंकिंग है यह दुनिया झूठ पर टिकी है क्योंकि कोई भी चीज झूठ पर कभी नहीं दे सकते हर

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  88
WhatsApp_icon
user

Pari

Accountant

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां तो कुछ नहीं क्या पास में यह दुनिया छूट पर टिकी हुई है तो हम बहुत से लोग हैं जिन्हें सिर्फ वह चुटकुले यह पसंद है लेकिन कोई और चुटकुले यह पसंद नहीं है हर कोई सच्चाई की उम्मीद सिर्फ दूसरों से करता है और खुद वह झूठ बोले तो ऐसा चाहता है तो हां इस क्वेश्चन का जवाब हां भैया और नहीं इसलिए कुछ लोग चाहते हैं कि सर मैं ही झूठ बोलो और दूसरे जो है सच बोलो और अधिकतर आपको यही मिलेगा कहीं पर इसके अलावा कोई ऑप्शन ही नंबर कोई पता मैं झूठ हो सामने वाला मेरे लिए सच बोलो किक

haan toh kuch nahi kya paas me yah duniya chhut par tiki hui hai toh hum bahut se log hain jinhen sirf vaah chutkule yah pasand hai lekin koi aur chutkule yah pasand nahi hai har koi sacchai ki ummid sirf dusro se karta hai aur khud vaah jhuth bole toh aisa chahta hai toh haan is question ka jawab haan bhaiya aur nahi isliye kuch log chahte hain ki sir main hi jhuth bolo aur dusre jo hai sach bolo aur adhiktar aapko yahi milega kahin par iske alava koi option hi number koi pata main jhuth ho saamne vala mere liye sach bolo kick

हां तो कुछ नहीं क्या पास में यह दुनिया छूट पर टिकी हुई है तो हम बहुत से लोग हैं जिन्हें सि

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
play
user

Kanta Jhanwar

Self Employed

0:51

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपने लिखा है क्या वास्तव में यह दुनिया झूठ पर टिकी हुई है नहीं ऐसा नहीं है कि दुनिया झूठ पर टिकी हुई है दुनिया में आज भी बहुत सच्चे लोग हैं आज भी बहुत अच्छे लोग हैं शायद उन्हीं पर टिकी हुई अच्छे लोगों का दुनिया झूठ की दुनिया होती तो नष्ट हो जाती है अभी तक तो ऐसा नहीं है कि झूठ के ऊपर टिकी हुई है दुनिया अच्छे सच्चे मेहनती लोगों पर दुनिया टिकी हुई है

namaskar aapne likha hai kya vaastav me yah duniya jhuth par tiki hui hai nahi aisa nahi hai ki duniya jhuth par tiki hui hai duniya me aaj bhi bahut sacche log hain aaj bhi bahut acche log hain shayad unhi par tiki hui acche logo ka duniya jhuth ki duniya hoti toh nasht ho jaati hai abhi tak toh aisa nahi hai ki jhuth ke upar tiki hui hai duniya acche sacche mehanati logo par duniya tiki hui hai

नमस्कार आपने लिखा है क्या वास्तव में यह दुनिया झूठ पर टिकी हुई है नहीं ऐसा नहीं है कि दुन

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  616
WhatsApp_icon
user

अनिल कुमार मिश्रा

पुजारी,, जन सेवा ,देशी जड़ी द्वारा

2:35
Play

Likes  21  Dislikes    views  217
WhatsApp_icon
user
0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रोमांटिक सेक्स

romantic sex

रोमांटिक सेक्स

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  423
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या बात है मेरी दुनिया जोधपुर टिकी हुई है जी नहीं दुनिया जो है सच्चाई पर टिकी हुई और झूठ ज्यादा दिन तक कितना नहीं क्योंकि वास्तव में यह दुनिया सच्चे को टिकी हुई है ड्यूटी की बुनियाद कुछ दिन तक रही थी उस दिन के बाद दूध अपने आप निकल जाता है और सच सामने उभरकर आता है दुनिया झूठ पर टिकी हुई है गलत है दुनिया सच्चाई को सच्चाई इनके पास है उसी के पास दुनिया दुनिया जो दुनिया को दुनिया खत्म हुई कि नहीं हुई यूपी चोपडा देखना एक दिन सामने उभरकर आता है उनको हवालात के अंदर में लेकर जाना पड़ता है पालक का शेर करवाना पड़ता है और 1 दिन बहुत ही कड़ी सजा मिलती है झूठ ही झूठ की बुनियाद ज्यादा ज्यादा देर तक कितनी शक्ति झूठी गुनिया गुनिया सच्चाई पर टिकी हुई दूध पर कभी नहीं टिकती दुनिया क्योंकि दुनिया जो झूठी नहीं है सच्चाई पर टिकी हुई है और बेईमानी जिसके अंदर कूट-कूट कर भरी हुई दुनिया बदल कितनी कितनी और जो सच्चा करता है उसकी दुनिया सच्चाई की दुनिया सुनती रहती तो सच्चाई की बुनियाद पर दुनिया टिकी हुई है ऊपर कभी मिट्टी देखने की सच्चाई इस संदर्भ में यह सबसे बड़ा गलत काम सुकरी बोलना क्या कर दुनिया बड़ा गलत हमारा हिंदू विरोधी

kya baat hai meri duniya jodhpur tiki hui hai ji nahi duniya jo hai sacchai par tiki hui aur jhuth zyada din tak kitna nahi kyonki vaastav me yah duniya sacche ko tiki hui hai duty ki buniyad kuch din tak rahi thi us din ke baad doodh apne aap nikal jata hai aur sach saamne ubharakar aata hai duniya jhuth par tiki hui hai galat hai duniya sacchai ko sacchai inke paas hai usi ke paas duniya duniya jo duniya ko duniya khatam hui ki nahi hui up chopda dekhna ek din saamne ubharakar aata hai unko hawalaat ke andar me lekar jana padta hai paalak ka sher karwana padta hai aur 1 din bahut hi kadi saza milti hai jhuth hi jhuth ki buniyad zyada zyada der tak kitni shakti jhuthi guniya guniya sacchai par tiki hui doodh par kabhi nahi tikti duniya kyonki duniya jo jhuthi nahi hai sacchai par tiki hui hai aur baimani jiske andar kut kut kar bhari hui duniya badal kitni kitni aur jo saccha karta hai uski duniya sacchai ki duniya sunti rehti toh sacchai ki buniyad par duniya tiki hui hai upar kabhi mitti dekhne ki sacchai is sandarbh me yah sabse bada galat kaam sukri bolna kya kar duniya bada galat hamara hindu virodhi

क्या बात है मेरी दुनिया जोधपुर टिकी हुई है जी नहीं दुनिया जो है सच्चाई पर टिकी हुई और झूठ

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  192
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिसे आप बोल रहे हो कि आई दुनिया झूठ पर टिकी हुई है वास्तव में आप जिस से झूठ बोल रहा है ना तो सोचना कि हम जो भी काम करते हम करते हैं जहां हमसे कराया जाता है जैसे टीवी देखते हैं किसी से बात करते हैं तो बात करते हैं टीवी देखते हैं और जो व्यक्ति हम जिस से बात करें टीवी में ऐड को देखते हैं सामान खरीदते हैं आप जो बैठा सुपर में बैठा हुआ हमारा मन कर रहा है उसके पीछे तू सामान को खरीद लेना लेकिन हमने खरीदते हैं ना मरमेड में बसाया जाता इसीलिए सबसे पहले आपको ही अहसास होना चाहिए कि अध्यात्म से जुड़ी है अपने आपको परेशानी है कि आप जो है सो नहीं है जो आप समझ रहे हैं सुनाइए वास्तव में जिसे बोलते हैं मेरा नाक मेरा कल माइक्रो तो महात्मा उसने हमको

jise aap bol rahe ho ki I duniya jhuth par tiki hui hai vaastav me aap jis se jhuth bol raha hai na toh sochna ki hum jo bhi kaam karte hum karte hain jaha humse karaya jata hai jaise TV dekhte hain kisi se baat karte hain toh baat karte hain TV dekhte hain aur jo vyakti hum jis se baat kare TV me aid ko dekhte hain saamaan kharidte hain aap jo baitha super me baitha hua hamara man kar raha hai uske peeche tu saamaan ko kharid lena lekin humne kharidte hain na mermaid me basaya jata isliye sabse pehle aapko hi ehsaas hona chahiye ki adhyaatm se judi hai apne aapko pareshani hai ki aap jo hai so nahi hai jo aap samajh rahe hain sunaiye vaastav me jise bolte hain mera nak mera kal micro toh mahatma usne hamko

जिसे आप बोल रहे हो कि आई दुनिया झूठ पर टिकी हुई है वास्तव में आप जिस से झूठ बोल रहा है ना

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  81
WhatsApp_icon
user

SANJAY

Youtuber ( Serious Sanjay" Please Subscribe")

0:21
Play

Likes  8  Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  28  Dislikes    views  404
WhatsApp_icon
user

Mojhibkraft

Writer,Film Maker,Publisher

2:00
Play

Likes  10  Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
user

Purushottam Choudhary

ब्राह्मण Next IAS institute गार्ड

0:44
Play

Likes  80  Dislikes    views  1444
WhatsApp_icon
user
7:37
Play

Likes  9  Dislikes    views  186
WhatsApp_icon
user

Rajendra Karole

Poet & Motivational Speaker

1:10
Play

Likes  14  Dislikes    views  414
WhatsApp_icon
user

Rudra

learner

0:43
Play

Likes  4  Dislikes    views  102
WhatsApp_icon
user
0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं यह दुनिया झूठ पर नहीं विश्वास पर टिकी हुई है क्योंकि किसी का विश्वास अपने मां-बाप पर होता है तो किसी का विश्वास ईश्वर पर होता है और किसी का विश्वास खुद पर होता है यानी कि यह दुनिया एक विश्वास से चल रही है और झूठ की बात रही तो झूठ के ऊपर ज्यादा नहीं होती है

nahi yah duniya jhuth par nahi vishwas par tiki hui hai kyonki kisi ka vishwas apne maa baap par hota hai toh kisi ka vishwas ishwar par hota hai aur kisi ka vishwas khud par hota hai yani ki yah duniya ek vishwas se chal rahi hai aur jhuth ki baat rahi toh jhuth ke upar zyada nahi hoti hai

नहीं यह दुनिया झूठ पर नहीं विश्वास पर टिकी हुई है क्योंकि किसी का विश्वास अपने मां-बाप पर

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  106
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!