योगी ने उत्तर प्रदेश के मदरसों(इस्लामिक स्कूल) में आधुनिक शिक्षा शुरू करने की योजना की है, क्या लगता है की राजनीति मदरसों पर टारगेट क्यों कर रहें हैं?...


play
user

Neha S

UPSC कोच

0:56

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पॉजिटिव दो मैं आपको बहुत पॉजिटिव सही आंसर दूंगी क्योंकि आदित्यनाथ जी ने जो वीडियो कॉमेडी डिसाइड किया है मदरसे में आधुनिक शिक्षा के लिए उसके लिए किसी शख्स को मनाना चाहते मदरसों की लेवल में कर रखा है यूपी मदरसा बोर्ड मदरसा बोर्ड कॉलोनी को ऐड कर दिया है इसके लिए और उनके लिए नहीं लिखा है कि बोला है कि वह भी इस कार्यक्रम को टच भी नहीं करेंगे जो मदरसों का है बस फॉर एजुकेशन सिस्टम को अच्छा करेंगे प्रैक्टिस करेंगे और जॉब प्रिंटेड एजुकेशन प्रोवाइड करेंगे ऐसा मिनिस्ट्री ऑफ होम मिनिस्टर मिनिस्टर लक्ष्मी नारायण चौधरी जी ने अपने एक्सप्रेस को बोला है

positive do main aapko bahut positive sahi answer dungi kyonki adityanath ji ne jo video comedy decide kiya hai madarse mein aadhunik shiksha ke liye uske liye kisi sakhs ko manana chahte madarson ki level mein kar rakha hai up madarsa board madarsa board colony ko aid kar diya hai iske liye aur unke liye nahi likha hai ki bola hai ki vaah bhi is karyakram ko touch bhi nahi karenge jo madarson ka hai bus for education system ko accha karenge practice karenge aur job printed education provide karenge aisa ministry of home minister minister laxmi narayan choudhary ji ne apne express ko bola hai

पॉजिटिव दो मैं आपको बहुत पॉजिटिव सही आंसर दूंगी क्योंकि आदित्यनाथ जी ने जो वीडियो कॉमेडी ड

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  8
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sa Sha

Journalist since 1986

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मदरसों में आधुनिक शिक्षा किसी भी सरकार नहीं है फैसला लिया है इसका हर हाल में स्वागत होना चाहिए हाल में उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने ये फैसला भले ही लिया हो लेकिन पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी पहले ही एहसास दिखला चुकी है उन्होंने यह फैसला सच्चर कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर लिया था जिसमें कहा गया था कि भारत का मुस्लिम समुदाय आधुनिक शिक्षा से वंचित इससे पहले पश्चिम बंगाल के मदरसों में पारंपरिक शिक्षा के नाम पर धर्म की गति पिलाई जाती थी लेकिन अब वहां अंग्रेजी कंप्यूटर और विज्ञान की पढ़ाई होती है आज पूरा विश्व एक ग्लोबल विलेज में तब्दील हो गया है तब अंग्रेजी के बिना चारा नहीं राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता परीक्षाओं में अंग्रेजी जरूरी है वैसे भी आधुनिक शिक्षा का अर्थ केवल अंग्रेजी नहीं है दरअसल विज्ञान भी था और कंप्यूटर से भी है

madarson mein aadhunik shiksha kisi bhi sarkar nahi hai faisla liya hai iska har haal mein swaagat hona chahiye haal mein uttar pradesh mein yogi adityanath ki sarkar ne ye faisla bhale hi liya ho lekin paschim bengal mein mamata banerjee pehle hi ehsaas dikhla chuki hai unhone yah faisla sachchar committee ki report ke aadhaar par liya tha jisme kaha gaya tha ki bharat ka muslim samuday aadhunik shiksha se vanchit isse pehle paschim bengal ke madarson mein paramparik shiksha ke naam par dharm ki gati pilai jaati thi lekin ab wahan angrezi computer aur vigyan ki padhai hoti hai aaj pura vishwa ek global village mein tabdil ho gaya hai tab angrezi ke bina chara nahi rashtriya antarrashtriya pratiyogita parikshao mein angrezi zaroori hai waise bhi aadhunik shiksha ka arth keval angrezi nahi hai darasal vigyan bhi tha aur computer se bhi hai

मदरसों में आधुनिक शिक्षा किसी भी सरकार नहीं है फैसला लिया है इसका हर हाल में स्वागत होना

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  10
WhatsApp_icon
user

akashyadav

IIT Graduate 2014 batch

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए में यूपी से हूं और मैं आपको बता दूं कि मदरसों में जो आदमी की शिक्षा की योजना की गई है सिर्फ धार्मिक चीजें हैं उनका मेन मुद्दा तो मदरसों को टारगेट करना ही है अहमद रसूल को मेन टारगेट करने की मेन राजनीति है ताकि हिंदू कट्टरवादी लोग हैं जो हिंदू वोट बैंक है उसको अब और मतलब पेश किया जा सके उसको और मतलब बढ़ाया जा सके क्यों क्यों नहीं बताया कि अब योगी जी की छवि ऐसी है कि वह पूरे हिंदू कट्टरवादी हमें पता है कि मुस्लिम वोट तो नहीं आने वाले हैं कि हम हिंदू कट्टरवादी ताकि तरफ और मुस्लिम टारगेट मूवी मद्रासी को टारगेट करना उसमें से एक पार्ट है जिससे हिंदुओं में जोड़ दी है यूपी में प्लीज हो जाएगा तो उनको नेक्स्ट वोट इलेक्शन वोट मिलने के चांसेस बढ़ जाएंगे यही मेन टारगेट और कोई और दूसरा सीजन नहीं है

dekhiye mein up se hoon aur main aapko bata doon ki madarson mein jo aadmi ki shiksha ki yojana ki gayi hai sirf dharmik cheezen hain unka main mudda toh madarson ko target karna hi hai ahmad rasool ko main target karne ki main raajneeti hai taki hindu kattaravadi log hain jo hindu vote bank hai usko ab aur matlab pesh kiya ja sake usko aur matlab badhaya ja sake kyon kyon nahi bataya ki ab yogi ji ki chhavi aisi hai ki vaah poore hindu kattaravadi hamein pata hai ki muslim vote toh nahi aane waale hain ki hum hindu kattaravadi taki taraf aur muslim target movie madrasi ko target karna usme se ek part hai jisse hinduon mein jod di hai up mein please ho jaega toh unko next vote election vote milne ke chances badh jaenge yahi main target aur koi aur doosra season nahi hai

देखिए में यूपी से हूं और मैं आपको बता दूं कि मदरसों में जो आदमी की शिक्षा की योजना की गई ह

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  71
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बहुत ही अच्छा कदम है क्योंकि वही उसी कारण से है उन्हें आगे भी टेक्नोलॉजी के बारे में नॉलेज नहीं बजाए स्वर्ग स्वामी की शिक्षा दी जाती थी तो ही अच्छा कदम है आधुनिक शिक्षा दिए जाएं इस बहाने कंपलसरी कर दी जाए तो इससे बहुत लाभ होगा बच्चों को और उसका आगे उपयोग किया जा सकता है

yah bahut hi accha kadam hai kyonki wahi usi karan se hai unhe aage bhi technology ke bare mein knowledge nahi bajaye swarg swami ki shiksha di jaati thi toh hi accha kadam hai aadhunik shiksha diye jayen is bahaane compulsory kar di jaaye toh isse bahut labh hoga baccho ko aur uska aage upyog kiya ja sakta hai

यह बहुत ही अच्छा कदम है क्योंकि वही उसी कारण से है उन्हें आगे भी टेक्नोलॉजी के बारे में नॉ

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  9
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!