क्या हम किसी इंसान को बार-बार याद करते हैं वह हमें भी याद करते हैं?...


user

Rj Ak Adhikari

Singer, Radio Jockey, Voice Over Artist, Dubbing Artist And Music Composer

2:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपका क्वेश्चन है क्या हम किसी इंसान को बार-बार याद करते हैं वह हमें याद भी करता है या नहीं तो मुझे उम्मीद है मुझे लगता नहीं कि ऐसा यह सही है क्योंकि जिसे हम याद करते हैं वह हमें याद करता है या नहीं करता है इसकी कोई पॉसिबिलिटी नहीं है एक टाइम था कि मैं एक बंदे को एक बंदी को बहुत याद करता था मेरा ब्रेकअप हुआ था स्टार्टिंग में मैं अपने से रिलेटेड ही बता रहा हूं कि मैंने अपनी जिंदगी में पेश किया मैं उसको भी टाइम टाइम की बात बहुत मिस करता था और पूरी तरीके से पूरे दिन को याद करता रहता था एक दिन मैं तुम्हें याद करता था बहुत ज्यादा मन से क्या तुम्हें भी मेरी याद आती थी या तुम मुझे याद करती थी उसने साफ मना कर दिया कि नहीं तो बिल्कुल इस तरीके की कोई बात में आप में दम नहीं रहा कि कोई किसी को अगर हम याद करते हैं तो क्या वह हमें याद करता भी है नहीं करता आप अगर किसी की मम्मी को अगर आप याद कर रहे हो और आपकी मम्मी आपको याद कर ली तब आपको फील होगा यहां पर हो जाती है क्योंकि वहां पर बिल्कुल दिल के अंदर से निकल रही है तो वहां पर भी थोड़ा बहुत मैं मान सकता हूं यह बात सही है पर हंड्रेड परसेंट तरीके तो सही है पर मां और बच्चे के बीच में अगर मां याद कर रही है अपने बेटे को तो वहां पर बिल्कुल आपको याद आएगी और आप अगर अपनी मम्मी को याद कर रहे हो दिल से तो फिर आपकी मम्मी भी आपको ही सोच रही हो मुझे उम्मीद है कि आप जवाब धन्यवाद

dekhiye aapka question hai kya hum kisi insaan ko baar baar yaad karte hain vaah hamein yaad bhi karta hai ya nahi toh mujhe ummid hai mujhe lagta nahi ki aisa yah sahi hai kyonki jise hum yaad karte hain vaah hamein yaad karta hai ya nahi karta hai iski koi possibility nahi hai ek time tha ki main ek bande ko ek bandi ko bahut yaad karta tha mera breakup hua tha starting me main apne se related hi bata raha hoon ki maine apni zindagi me pesh kiya main usko bhi time time ki baat bahut miss karta tha aur puri tarike se poore din ko yaad karta rehta tha ek din main tumhe yaad karta tha bahut zyada man se kya tumhe bhi meri yaad aati thi ya tum mujhe yaad karti thi usne saaf mana kar diya ki nahi toh bilkul is tarike ki koi baat me aap me dum nahi raha ki koi kisi ko agar hum yaad karte hain toh kya vaah hamein yaad karta bhi hai nahi karta aap agar kisi ki mummy ko agar aap yaad kar rahe ho aur aapki mummy aapko yaad kar li tab aapko feel hoga yahan par ho jaati hai kyonki wahan par bilkul dil ke andar se nikal rahi hai toh wahan par bhi thoda bahut main maan sakta hoon yah baat sahi hai par hundred percent tarike toh sahi hai par maa aur bacche ke beech me agar maa yaad kar rahi hai apne bete ko toh wahan par bilkul aapko yaad aayegi aur aap agar apni mummy ko yaad kar rahe ho dil se toh phir aapki mummy bhi aapko hi soch rahi ho mujhe ummid hai ki aap jawab dhanyavad

देखिए आपका क्वेश्चन है क्या हम किसी इंसान को बार-बार याद करते हैं वह हमें याद भी करता है य

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  713
KooApp_icon
WhatsApp_icon
9 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!