मैं अपने आस पास के सभी लोगों की मदद करता हूँ, लेकिन मुझे लगता है की ऐसा करने में मैं खुद ही फँस जाता हूँ। मैं क्या करूँ?...


play
user

Likes    Dislikes    views  81
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Girish Billore Mukul

Government Officer

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मदद भी देखभाल करके करनी चाहिए समझ लेना चाहिए कि दत्त वास्तव में देने से हमें क्या फायदा होगा और इसका नुकसान मुझे भी उठाना पड़ा था मुझे याद है बेहतर तरीके से तो हमेशा हर रोने वाले को निधि मत समझें और उसकी पर्सनालिटी का चेकअप कर ले उसको समझने की कोशिश करें फर्जी लोगों की बड़ी बहुत बड़ी लाइन है तो किसी पर विश्वास ना करें मदद सोच समझकर करनी जरूरी है

madad bhi dekhbhal karke karni chahiye samajh lena chahiye ki dutt vaastav mein dene se hamein kya fayda hoga aur iska nuksan mujhe bhi uthana pada tha mujhe yaad hai behtar tarike se toh hamesha har rone waale ko nidhi mat samajhe aur uski personality ka checkup kar le usko samjhne ki koshish kare farji logo ki badi bahut badi line hai toh kisi par vishwas na kare madad soch samajhkar karni zaroori hai

मदद भी देखभाल करके करनी चाहिए समझ लेना चाहिए कि दत्त वास्तव में देने से हमें क्या फायदा हो

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  218
WhatsApp_icon
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत बार ऐसा होता है कि दूसरों की मदद करते करते हम जो है वह खुद ही फंस जाते हैं और दूसरे की मदद करते करते हम अपनी-अपनी बारे में भूल जाते हैं और इतना व्यस्त हो जाते हैं कि उसकी मदद तो हो जाती है लेकिन उस सिचुएशन में कंडीशन में हम बस जाते हैं तो दिखे दूसरों की मदद करना बहुत अच्छी बात है करें कभी मैं मना नहीं कर रहा लेकिन ऐसा नहीं कि आप खुद को मुश्किल में डाल कर कर आप देखें कि आप क्या कर रहे हैं कैसे कर रहे हैं आप मुश्किल में तो नहीं फंस जाते हैं तू जहां तक हो सकता है वहीं तक देना दूसरों की मदद करें

bahut baar aisa hota hai ki dusro ki madad karte karte hum jo hai vaah khud hi fans jaate hai aur dusre ki madad karte karte hum apni apni bare mein bhool jaate hai aur itna vyast ho jaate hai ki uski madad toh ho jaati hai lekin us situation mein condition mein hum bus jaate hai toh dikhe dusro ki madad karna bahut achi baat hai kare kabhi main mana nahi kar raha lekin aisa nahi ki aap khud ko mushkil mein daal kar kar aap dekhen ki aap kya kar rahe hai kaise kar rahe hai aap mushkil mein toh nahi fans jaate hai tu jaha tak ho sakta hai wahi tak dena dusro ki madad karen

बहुत बार ऐसा होता है कि दूसरों की मदद करते करते हम जो है वह खुद ही फंस जाते हैं और दूसरे क

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  235
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!