क्या अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही है या गलत?...


user

Dr JP Verma, Swami Jagteswer Anand

जगतेश्वर आनंद धाम एवं कल्पांत हिलिंग सेंटर फिजियोथैरेपी, नेचुरोपैथी, एक्युप्रेशर, योग, प्राणायाम, ध्यान साधनाए, रेंकी, स्प्रीचुअल हीलिंग, अहार एवं नेचुरल व हर्बल थैरेपी (ट्रीटमेंन्ट एवं ट्रेनिंग सेंन्टर)

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही भी हो सकता है गलत भी हो सकता है अगर आप अपनी रिश्तेदारी में शादी करते हैं उसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आप किसी को जानते हैं उसके व्यवहार को जानते हैं उसके साथ कैसी मानसिक स्थिति है उसकी के विचार कैसे हैं उसके भाव कैसे हैं वह सब कुछ आप जानते हैं और अगर आप अलग से शादी करते हैं तो तो एक नया व्यवहार नए विचार आपको मिलते हैं अगर आप कुछ नहीं चाहता है तो आप उसे धारी में शादी ना करें एक नया माहौल देखने व्यवहार एक नहीं इच्छाशक्ति के साथ बाहर से शादी करनी छाता सही होता है रिश्तेदारी में शादी करने से

apni rishtedaari me se shaadi karna sahi bhi ho sakta hai galat bhi ho sakta hai agar aap apni rishtedaari me shaadi karte hain uska sabse bada fayda yah hota hai ki aap kisi ko jante hain uske vyavhar ko jante hain uske saath kaisi mansik sthiti hai uski ke vichar kaise hain uske bhav kaise hain vaah sab kuch aap jante hain aur agar aap alag se shaadi karte hain toh toh ek naya vyavhar naye vichar aapko milte hain agar aap kuch nahi chahta hai toh aap use dhari me shaadi na kare ek naya maahaul dekhne vyavhar ek nahi ichchhaashakti ke saath bahar se shaadi karni chhata sahi hota hai rishtedaari me shaadi karne se

अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही भी हो सकता है गलत भी हो सकता है अगर आप अपनी रिश्तेदार

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  75
WhatsApp_icon
25 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pawan

Financial Planer

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप इसे प्यार करते हो मुझे क्या प्यार करती हूं आपके दिल नहीं लगता है लेकिन यह कंफर्म हुई कि आप खुश हो तो हो ना

agar aap ise pyar karte ho mujhe kya pyar karti hoon aapke dil nahi lagta hai lekin yah confirm hui ki aap khush ho toh ho na

अगर आप इसे प्यार करते हो मुझे क्या प्यार करती हूं आपके दिल नहीं लगता है लेकिन यह कंफर्म हु

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
user

अशोक गुप्ता

Founder of Vision Commercial Services.

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां तक शादी करनी पड़ती है इसका आधार रिश्ता शादी हॉट देसी किसको मापने का आधार ऊपर के कुछ

jaha tak shaadi karni padti hai iska aadhar rishta shaadi hot desi kisko mapne ka aadhar upar ke kuch

जहां तक शादी करनी पड़ती है इसका आधार रिश्ता शादी हॉट देसी किसको मापने का आधार ऊपर के

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  177
WhatsApp_icon
user

P k yadav

Govt Job

1:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप ने सवाल पूछा है क्या अपनी हिस्सेदारी में से शादी करना सही है या गलत तो दोस्तों जो रिश्तेदारी होती हैं हमें शादी करने का एक और रीजन है हमारे मां-बाप द्वारा यह हमारे द्वारा हमारे आस पड़ोस के द्वारा जिस लड़की से हमारा रिश्ता होने जा रहा है उसकी हमें पूर्णता जानकारी होती है उसके परिवार के बारे में हम सब कुछ पता है क्या उसका बैकग्राउंड है कैसी लड़की है कैसे आचार विचार है कैसे उसके पारिवारिक संस्कार हैं सारी चीजों का मैसेज पता होता तो यह एक बहुत बड़ा कारण है जो लोग अपनी हिस्सेदारी होने से शादी करना सही समय रिश्तेदारी हमसे शादी करने का एक और फायदा है कि हमारी जो एक शादी प्रक्रिया है जो एक रिश्तेदारी है वह एक लिमिटेशंस वह ज्यादा दायरे में नहीं जाती तो वहां बस आपने अपनी जो रिश्ते आपको आपके समाज के हिसाब से उठाई है जो जिस समाज में रहकर कि आप किस देशों में शादी कर सकते हैं नजदीकी उन्हें उस हिसाब से आप अपना डिस्कस करें और अगर वह सब कुछ ठीक है तो इससे बढ़िया मौका आपको सब कुछ जाना पहचाना सब कुछ एक दूसरे को समझने वाला अच्छा रहेगा

aap ne sawaal poocha hai kya apni hissedaari me se shaadi karna sahi hai ya galat toh doston jo rishtedaari hoti hain hamein shaadi karne ka ek aur reason hai hamare maa baap dwara yah hamare dwara hamare aas pados ke dwara jis ladki se hamara rishta hone ja raha hai uski hamein purnata jaankari hoti hai uske parivar ke bare me hum sab kuch pata hai kya uska background hai kaisi ladki hai kaise aachar vichar hai kaise uske parivarik sanskar hain saari chijon ka massage pata hota toh yah ek bahut bada karan hai jo log apni hissedaari hone se shaadi karna sahi samay rishtedaari humse shaadi karne ka ek aur fayda hai ki hamari jo ek shaadi prakriya hai jo ek rishtedaari hai vaah ek Limitations vaah zyada daayre me nahi jaati toh wahan bus aapne apni jo rishte aapko aapke samaj ke hisab se uthayi hai jo jis samaj me rahkar ki aap kis deshon me shaadi kar sakte hain najdiki unhe us hisab se aap apna discs kare aur agar vaah sab kuch theek hai toh isse badhiya mauka aapko sab kuch jana pehchana sab kuch ek dusre ko samjhne vala accha rahega

आप ने सवाल पूछा है क्या अपनी हिस्सेदारी में से शादी करना सही है या गलत तो दोस्तों जो रिश्त

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  88
WhatsApp_icon
user

Sri Dhiru G

Spiritual Guru, Engineer

2:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप ने प्रश्न किया है अपनी रिश्तेदारी में शादी करना सही है या गलत यह इस पर डिपेंड करेगा कि वह हिस्सा कौन सा है आप जिन से शादी करना चाहते हैं उनके साथ आपका कैसा रिश्ता है और आपके समाज में क्या उन रिश्तो में शादी होती है या नहीं अगर आप नहीं होती है तो भी आप कर सकते हैं लेकिन नियम के तहत सगे होंगे या एक ही परिवार के दायरे में आते होंगे जो कि वास्तव में नहीं होना चाहिए अगर उनके प्रति आपका रुझान है शादी करने की तो अपने आप को समझाएं और वास्तविकता को पहचाने कि हमसे शादी यह हमारे शादी के लिए नहीं है अगर वैसे ही बात नहीं है जैसे मुस्लिम भाइयों में अन्य लोगों से भी शादी होती है अगले का स्तन का दूध नहीं पिया है तो अगर ऐसी कोई बात है तो आप निश्चित रूप से शादी कर सकते हैं कोई दिक्कत नहीं है परिवार वालों को समझें आप एक दूसरे को पहले से भी जानते हैं क्योंकि रिश्तेदार में हैं तो एक अच्छे जीवन को जीने के लिए भी बेहतर होता है क्योंकि किसी नया पढ़ाई से शादी होने पर भी दिक्कत होती है क्यों कहीं प्रताड़ना होती है महिलाओं को या लड़कों को भी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है और यह चीज परिवार में या रिश्ते में शादी होने से इस चीज में कमी होती है कि छूटने का चांस कम रहता है जैसे शादी हो गई अगर कोई अन्य है वह छूट जाने का चांस रहता है झगड़ा झंझट होने पर लेकिन अगर अपने में तो अपने ही रिश्तेदार हैं आप छोड़ नहीं सकते हैं एक बंधन में बंध जाएंगे लोग भी समझाने वाले रहेंगे तो एक तरह से सही है आप रिश्ते में शादी कर सकते हैं लेकिन डायरा समझकर की किस दायरे में वो रिश्ता आता है

aap ne prashna kiya hai apni rishtedaari me shaadi karna sahi hai ya galat yah is par depend karega ki vaah hissa kaun sa hai aap jin se shaadi karna chahte hain unke saath aapka kaisa rishta hai aur aapke samaj me kya un rishto me shaadi hoti hai ya nahi agar aap nahi hoti hai toh bhi aap kar sakte hain lekin niyam ke tahat sage honge ya ek hi parivar ke daayre me aate honge jo ki vaastav me nahi hona chahiye agar unke prati aapka rujhan hai shaadi karne ki toh apne aap ko samjhaye aur vastavikta ko pehchane ki humse shaadi yah hamare shaadi ke liye nahi hai agar waise hi baat nahi hai jaise muslim bhaiyo me anya logo se bhi shaadi hoti hai agle ka stan ka doodh nahi piya hai toh agar aisi koi baat hai toh aap nishchit roop se shaadi kar sakte hain koi dikkat nahi hai parivar walon ko samajhe aap ek dusre ko pehle se bhi jante hain kyonki rishtedar me hain toh ek acche jeevan ko jeene ke liye bhi behtar hota hai kyonki kisi naya padhai se shaadi hone par bhi dikkat hoti hai kyon kahin prataadana hoti hai mahilaon ko ya ladko ko bhi kai samasyaon ka samana karna padta hai aur yah cheez parivar me ya rishte me shaadi hone se is cheez me kami hoti hai ki chutney ka chance kam rehta hai jaise shaadi ho gayi agar koi anya hai vaah chhut jaane ka chance rehta hai jhagda jhanjhat hone par lekin agar apne me toh apne hi rishtedar hain aap chhod nahi sakte hain ek bandhan me bandh jaenge log bhi samjhane waale rahenge toh ek tarah se sahi hai aap rishte me shaadi kar sakte hain lekin dayra samajhkar ki kis daayre me vo rishta aata hai

आप ने प्रश्न किया है अपनी रिश्तेदारी में शादी करना सही है या गलत यह इस पर डिपेंड करेगा कि

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon
user

Anshu Saxena

Business Manager

1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही है या गलत देखिए रिश्तेदारी में शादी अगर होती है तो करना गलत नहीं है और अगर नहीं होती है तो करना गलत है हमारे समाज के कुछ नियम है वह लाइक करते हैं कि नहीं करते हैं जो समाज और उसके नियमों पर निर्भर करता है हम सामाजिक प्राणी है समाज में रहते हैं हमारे साथ और बहुत लोग हैं जो हमसे जुड़े हैं हमारे परिवार वाले तो ऐसा कोई कार्य जिसके लिए समाज अलाउ नहीं करता है आपको नहीं करना चाहिए जहां तक रिश्तेदारी में शादी की बात है तो इसमें बहुत सोच समझकर के निर्णय लीजिएगा क्योंकि रिश्ते के अंदर शादियां क्योंकि जहां और रिश्तेदार की बात कर रहे हैं तो कोई ना कोई कर्जा नहीं है आपकी शादी का कैंडिडेट बनेगा वह कहीं चाचा मैं ताऊ मैं यह अक्सर देखा गया है कि कुछ एक शादी ऐसी हमने भी देखे यहां परंतु उससे आज समाज से विमुख हो जाते हैं और समाज वाले भी ठीक नहीं समझते हरा भी हम लोग हैं भारतीय संस्कृति में इतने एडवांस में ही हुए हैं कि कदम से मैरिज हो जाए और कोई अप्रिशिएट करें तो हाल फिलहाल तो की शादी करना और उसको जीवन भर निभाना उसके लिए समाज की भी जरूरत होती है अलग-थलग पड़ कि हम उन कार्यों को कर तो सकते हैं परंतु उनका रुको हम कोई ऑपरेशन करेगा ऐसा सोचना गलत हो जाता है अकेले पड़ जाते हैं थोड़ा सा ध्यान दीजिएगा गलत कहीं कुछ नहीं है मैं मानता हूं कि आज का समय कुछ अलग ही है पर दो समाज अगर इजाजत दें तो ही करें जीवन के सुख शांति के लिए ज्यादा मुनासिब होगा

kya apni rishtedaari me se shaadi karna sahi hai ya galat dekhiye rishtedaari me shaadi agar hoti hai toh karna galat nahi hai aur agar nahi hoti hai toh karna galat hai hamare samaj ke kuch niyam hai vaah like karte hain ki nahi karte hain jo samaj aur uske niyamon par nirbhar karta hai hum samajik prani hai samaj me rehte hain hamare saath aur bahut log hain jo humse jude hain hamare parivar waale toh aisa koi karya jiske liye samaj alau nahi karta hai aapko nahi karna chahiye jaha tak rishtedaari me shaadi ki baat hai toh isme bahut soch samajhkar ke nirnay lijiega kyonki rishte ke andar shadiyan kyonki jaha aur rishtedar ki baat kar rahe hain toh koi na koi karja nahi hai aapki shaadi ka candidate banega vaah kahin chacha main taau main yah aksar dekha gaya hai ki kuch ek shaadi aisi humne bhi dekhe yahan parantu usse aaj samaj se vimukh ho jaate hain aur samaj waale bhi theek nahi samajhte hara bhi hum log hain bharatiya sanskriti me itne advance me hi hue hain ki kadam se marriage ho jaaye aur koi aprishiet kare toh haal filhal toh ki shaadi karna aur usko jeevan bhar nibhana uske liye samaj ki bhi zarurat hoti hai alag thalag pad ki hum un karyo ko kar toh sakte hain parantu unka ruko hum koi operation karega aisa sochna galat ho jata hai akele pad jaate hain thoda sa dhyan dijiyega galat kahin kuch nahi hai main maanta hoon ki aaj ka samay kuch alag hi hai par do samaj agar ijajat de toh hi kare jeevan ke sukh shanti ke liye zyada munasib hoga

क्या अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही है या गलत देखिए रिश्तेदारी में शादी अगर होती है

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  149
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

0:49
Play

Likes  357  Dislikes    views  4648
WhatsApp_icon
user

Dr. Swatantra Jain

Psychotherapist, Family & Career Counsellor and Parenting & Life Coach

2:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि क्या अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही है या गलत कमेंट में रिश्तेदारी में शादी होती विचार से साइंटिफिक रिलेशनशिप में शादी नहीं होनी चाहिए क्योंकि क्योंकि फ्लोचिलेशन चेक में जब शादी करती है तो दोनों हो सकता है कि 1 दिन से दूसरे में दूसरे में रेसिपी सॉन्ग 2000 पेरेंट्स चप्पल हो जाएंगे बच्चे का क्या आप अपने बच्चे में आने वाले बच्चे ने किया इसके लिए तैयार होना चाहिए एकदम के राजा था जिसने अपनी जान दे देता है कुछ भी नहीं कर सकता जमाने को और दोस्तों क्लोरिनेशन में शादी बिल्कुल मत करना

aapka prashna hai ki kya apni rishtedaari me se shaadi karna sahi hai ya galat comment me rishtedaari me shaadi hoti vichar se scientific Relationship me shaadi nahi honi chahiye kyonki kyonki flochileshan check me jab shaadi karti hai toh dono ho sakta hai ki 1 din se dusre me dusre me recipe song 2000 parents chappal ho jaenge bacche ka kya aap apne bacche me aane waale bacche ne kiya iske liye taiyar hona chahiye ekdam ke raja tha jisne apni jaan de deta hai kuch bhi nahi kar sakta jamane ko aur doston chlorination me shaadi bilkul mat karna

आपका प्रश्न है कि क्या अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही है या गलत कमेंट में रिश्तेदारी

Romanized Version
Likes  330  Dislikes    views  3193
WhatsApp_icon
user

Naresh Kumar Chaudhary

Mix Martial Art Trainer

0:29
Play

Likes  67  Dislikes    views  1067
WhatsApp_icon
user

Pradeep Solanki

Corporate Yoga Consultant

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रिश्तेदारी में शादी करना कई मायनों में गलत है और कई मायनों में सही भी है एक फायदा यह है कि हमारा पर्सनल हूं शादी कर रहे हैं तो आपको का नेचर पता होगा या आप अच्छी तरह पता भी कर सकते हैं और दूसरा यह है कि अगर भगवान ना करे शादी के बाद कुछ हो जाएगा पति पत्नी में मनमुटाव हो जाए तो फिर वह आपस में फैसला मतलब आराम से हो जाए कोई प्रॉब्लम ना हो आजकल देखा गया है तू कि जरदारी में भी होता है उसमें भी काफी पंगे होंगे लग जाते हैं और बाद में जब रिश्तेदार बीच में वह भी मुकर जाते हैं तो लड़की लड़का अच्छी तरह देख कर अभी कुछ करें

rishtedaari me shaadi karna kai maayano me galat hai aur kai maayano me sahi bhi hai ek fayda yah hai ki hamara personal hoon shaadi kar rahe hain toh aapko ka nature pata hoga ya aap achi tarah pata bhi kar sakte hain aur doosra yah hai ki agar bhagwan na kare shaadi ke baad kuch ho jaega pati patni me manmutaav ho jaaye toh phir vaah aapas me faisla matlab aaram se ho jaaye koi problem na ho aajkal dekha gaya hai tu ki jardari me bhi hota hai usme bhi kaafi pange honge lag jaate hain aur baad me jab rishtedar beech me vaah bhi mukar jaate hain toh ladki ladka achi tarah dekh kar abhi kuch kare

रिश्तेदारी में शादी करना कई मायनों में गलत है और कई मायनों में सही भी है एक फायदा यह है कि

Romanized Version
Likes  190  Dislikes    views  940
WhatsApp_icon
user

Emam Idrisi

Director (MBSC Group)

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्त अपनी रिश्तेदारी में पहचान में शादी करना सबसे बेहतर होता है जो कि आज के टाइम में जो हमारे रिलेशन वाले होते हम उनके पास आते हैं जाते हैं उनके रहने खाने उनके सारे लाइफस्टाइल कम बहुत बेहतर और क्लोज ली जानते हैं घर के और उनके बच्चों के बारे में भी हम उनके बच्चों के नेचर के बारे में भी जानते हैं उनके बच्चों का नेचर कैसा है करके और हमें मालूम होता है कि मैं जिस बच्चे को जिस घर से बच्चे अपने घर पर ला रहा हूं मेरे परिवार में सेटल हो सकती है नहीं हो सकती है इसलिए जो अगर हमें शादियां करनी हो रिश्तेदार या करनी हो तो अपने जान-पहचान और रिश्तेदारी में ही करना बेहतर होता है और जो अननोन पर्सन के पास शादी करते हैं उसका सर नहीं आ वह सही क्यों नहीं है क्योंकि हम किसी के पास जाकर के जब नए लोगों के पास जाते हैं तो हमें वही नहीं पता होता कि वह किस टाइप के लोग हैं क्या खाते हैं कैसे रहते हैं उनका लास्ट टाइम क्या है उनके एजुकेशन क्या है उनका कल्चर क्या है इन सब चीजों के बारे में हमें जानकारी नहीं होती हैं और अनुज लोगों के पास जो शादियां करके हम लेकर आते हैं तो हो सकता है वह हमसे अच्छे भी हो सकते हम से बुरे भी हो सकते हैं तो इस कंडीशन में मेरा पर्सनल ओपन है कि अपने पहचान में शादी करने से हमेशा एक अच्छा रिजल्ट आता है और हम कभी ठगी नहीं जाते हैं करके और हमारी शादी सक्सेस भी रहती है और हमारी नीलेश्वर भी सक्सेस रहते सर

dost apni rishtedaari me pehchaan me shaadi karna sabse behtar hota hai jo ki aaj ke time me jo hamare relation waale hote hum unke paas aate hain jaate hain unke rehne khane unke saare lifestyle kam bahut behtar aur close li jante hain ghar ke aur unke baccho ke bare me bhi hum unke baccho ke nature ke bare me bhi jante hain unke baccho ka nature kaisa hai karke aur hamein maloom hota hai ki main jis bacche ko jis ghar se bacche apne ghar par la raha hoon mere parivar me settle ho sakti hai nahi ho sakti hai isliye jo agar hamein shadiyan karni ho rishtedar ya karni ho toh apne jaan pehchaan aur rishtedaari me hi karna behtar hota hai aur jo unknown person ke paas shaadi karte hain uska sir nahi aa vaah sahi kyon nahi hai kyonki hum kisi ke paas jaakar ke jab naye logo ke paas jaate hain toh hamein wahi nahi pata hota ki vaah kis type ke log hain kya khate hain kaise rehte hain unka last time kya hai unke education kya hai unka culture kya hai in sab chijon ke bare me hamein jaankari nahi hoti hain aur anuj logo ke paas jo shadiyan karke hum lekar aate hain toh ho sakta hai vaah humse acche bhi ho sakte hum se bure bhi ho sakte hain toh is condition me mera personal open hai ki apne pehchaan me shaadi karne se hamesha ek accha result aata hai aur hum kabhi thagi nahi jaate hain karke aur hamari shaadi success bhi rehti hai aur hamari nileshwar bhi success rehte sir

दोस्त अपनी रिश्तेदारी में पहचान में शादी करना सबसे बेहतर होता है जो कि आज के टाइम में जो ह

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  61
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस के दो पहलू हैं जेनेटिक प्रभाव को देखते हुए हमारे पूर्वजों ने नजदीकी संबंधों के लिए विरोध किया है जहां पर संबंध अत्यंत नजदीक लेकिन दूसरा पहलू है कि अपने रिश्तेदार जो जान पहचान और थोड़ा दूर हो तो एक आत्मीयता आपस में होती है और एक दूसरे के परिचित होने के कारण ऐसे संबंध टूटते नहीं है इसलिए रिश्तेदारी में शादी करना कोई अपराध भी नहीं है अक्सर लगाओ उन्हीं से होता है जिनको हम अच्छी तरीके से जानते हैं परिचित होते हैं और उन्हें प्रेम होता है जो अनजान आदमी होता है वह शारीरिक कष्टों के कारण एक दूसरे से आकर्षित होते हैं और मुलाकात होने के बाद में कुछ प्रभाव के बाद में भी अक्सर ऐसा देखा जाता है कि मन के अंदर टकराव की स्थितियां पैदा हो जाती हैं और उस टकराव के कारण रिश्ते टूटते हैं इसलिए रिश्तो को बड़ी समझदारी से निभाने की भी आवश्यकताएं होती है रिश्तेदारी में शादी करना कोई अपराध नहीं है लेकिन जेनेटिक सिस्टम को देखते हुए आगे आने वाले संत मैं उसका दुष्प्रभाव देखने को मिलता है इसलिए हमारे यहां गोत्र में शादी करने का विधान नहीं है असाधारण रूप से यह कह दिया जाता है कि मामा के घर में मौसी के घर में बुआ फूफा में रिश्ते नहीं करनी चाहिए हां इसे थोड़ा सा दूर हो तो रिश्ता करने में कोई दिक्कत नहीं है वह जेनेटिक प्रभाव से बाहर हो जाता है बस इतना ही

is ke do pahaloo hain genetic prabhav ko dekhte hue hamare purvajon ne najdiki sambandhon ke liye virodh kiya hai jaha par sambandh atyant nazdeek lekin doosra pahaloo hai ki apne rishtedar jo jaan pehchaan aur thoda dur ho toh ek atmiyata aapas me hoti hai aur ek dusre ke parichit hone ke karan aise sambandh tutate nahi hai isliye rishtedaari me shaadi karna koi apradh bhi nahi hai aksar lagao unhi se hota hai jinako hum achi tarike se jante hain parichit hote hain aur unhe prem hota hai jo anjaan aadmi hota hai vaah sharirik kaston ke karan ek dusre se aakarshit hote hain aur mulakat hone ke baad me kuch prabhav ke baad me bhi aksar aisa dekha jata hai ki man ke andar takraav ki sthitiyan paida ho jaati hain aur us takraav ke karan rishte tutate hain isliye rishto ko badi samajhdari se nibhane ki bhi aavashyakataen hoti hai rishtedaari me shaadi karna koi apradh nahi hai lekin genetic system ko dekhte hue aage aane waale sant main uska dushprabhav dekhne ko milta hai isliye hamare yahan gotra me shaadi karne ka vidhan nahi hai asadharan roop se yah keh diya jata hai ki mama ke ghar me mausi ke ghar me buaa fufa me rishte nahi karni chahiye haan ise thoda sa dur ho toh rishta karne me koi dikkat nahi hai vaah genetic prabhav se bahar ho jata hai bus itna hi

इस के दो पहलू हैं जेनेटिक प्रभाव को देखते हुए हमारे पूर्वजों ने नजदीकी संबंधों के लिए वि

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  80
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखे रिश्तेदारी में अलग-अलग चंदौसी की लड़की से शादी कर सकते हैं कर सकते हैं या अपने भाई की साली शादी कर सकते भाई की शादी में तो आप कर सकते हैं और हमारा समाज हमारा धर्म इजाजत देता है लेकिन कुछ रिश्ते ऐसे सेन्स्टिव होते हैं हमारे गोत्रों के अनुसार होते हिंदू धर्म में वहां शादी नहीं की जा सकती है और उसको हमारा समाज बुरा मानता है करने के लिए आप कुछ भी कर ले भाई जबरदस्ती करें समाज को क्या लेना देना है समाज निकलेट कर दे रहे आपसे बात नहीं कर रहे हो ज्यादा अच्छा यह है कि समाज के हिसाब से अगर आप उसका परिणाम ज्यादा अच्छा होगा मुस्लिम धर्म में शादी कर लेते हैं वह के शरीर में मान्य है दो परिस्थितियों के सामने आती

dikhe rishtedaari me alag alag chandausi ki ladki se shaadi kar sakte hain kar sakte hain ya apne bhai ki saali shaadi kar sakte bhai ki shaadi me toh aap kar sakte hain aur hamara samaj hamara dharm ijajat deta hai lekin kuch rishte aise senstiv hote hain hamare gotron ke anusaar hote hindu dharm me wahan shaadi nahi ki ja sakti hai aur usko hamara samaj bura maanta hai karne ke liye aap kuch bhi kar le bhai jabardasti kare samaj ko kya lena dena hai samaj niklet kar de rahe aapse baat nahi kar rahe ho zyada accha yah hai ki samaj ke hisab se agar aap uska parinam zyada accha hoga muslim dharm me shaadi kar lete hain vaah ke sharir me manya hai do paristhitiyon ke saamne aati

दिखे रिश्तेदारी में अलग-अलग चंदौसी की लड़की से शादी कर सकते हैं कर सकते हैं या अपने भाई की

Romanized Version
Likes  272  Dislikes    views  1637
WhatsApp_icon
user

bhaand's Theatre and Acting Classes

Acting And drama Coach Casting director Drama Director

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या अपने रिश्तेदारी में से शादी करना सही है या गलत देखिए शादी कहीं भी कीजिए गलत नहीं होता रिश्तेदारों में करेंगे तो भी गलत नहीं है अब निभाते कैसे हैं गलत या सही वहां होता है अब शादी करेंगे अच्छा शादी करेंगे लेकिन आप रिश्ते निभाते कैसे हैं उन रिश्तो में कैसे खरे उतरते हैं क्या परेशानियां होती है रिश्तो में जो हमें यह सोचने पर मजबूर कर देती है कि यह गलत है तो रिश्ते निभाना ही आपको गलत या सही ठहरा था है अगर आप अच्छे से निभाएंगे तो आपको कभी नहीं लगेगा कि यह मैंने रिश्तेदारी में शादी की तो गलत है अगर आप या जो भी आपकी जिन से रिश्ते होते हैं वह रिश्ता निभाने में असमर्थ रहे या कमजोर रहे तो आपको लगेगा कि मैंने गलत किया अन्यथा सब कुछ सही है

aapka sawaal hai kya apne rishtedaari me se shaadi karna sahi hai ya galat dekhiye shaadi kahin bhi kijiye galat nahi hota rishtedaron me karenge toh bhi galat nahi hai ab nibhate kaise hain galat ya sahi wahan hota hai ab shaadi karenge accha shaadi karenge lekin aap rishte nibhate kaise hain un rishto me kaise khare utarate hain kya pareshaniya hoti hai rishto me jo hamein yah sochne par majboor kar deti hai ki yah galat hai toh rishte nibhana hi aapko galat ya sahi thahara tha hai agar aap acche se nibhaenge toh aapko kabhi nahi lagega ki yah maine rishtedaari me shaadi ki toh galat hai agar aap ya jo bhi aapki jin se rishte hote hain vaah rishta nibhane me asamarth rahe ya kamjor rahe toh aapko lagega ki maine galat kiya anyatha sab kuch sahi hai

आपका सवाल है क्या अपने रिश्तेदारी में से शादी करना सही है या गलत देखिए शादी कहीं भी कीजिए

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  236
WhatsApp_icon
user

Govind Saraf

Entrepreneur

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी से 4:00 तक है कि हिंदू धर्म के साथ सब अपने गोत्र में विवाह नहीं कर सकते जरा पंगोत्र अलग है अभी फ्रेंड की भी बात कर सकते हो लेकिन आजकल गोत्र में भी उतना लोग विश्वास नहीं रखते हैं लोग मानते हैं कि जब एक दूसरे को पसंद हो जाएगा रेवेली 44 मिल जाए तो फिर लोग कर ही देते हैं तुम गलत तो नहीं आप कोशिश कर सकता करब कोई रिश्तेदार नहीं पसंद है तो अपने पैरंट्स से अपने माता-पिता से बात करके

vicky se 4 00 tak hai ki hindu dharm ke saath sab apne gotra me vivah nahi kar sakte zara pangotra alag hai abhi friend ki bhi baat kar sakte ho lekin aajkal gotra me bhi utana log vishwas nahi rakhte hain log maante hain ki jab ek dusre ko pasand ho jaega reveli 44 mil jaaye toh phir log kar hi dete hain tum galat toh nahi aap koshish kar sakta karab koi rishtedar nahi pasand hai toh apne Parents se apne mata pita se baat karke

विकी से 4:00 तक है कि हिंदू धर्म के साथ सब अपने गोत्र में विवाह नहीं कर सकते जरा पंगोत्र अ

Romanized Version
Likes  634  Dislikes    views  7135
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी रिश्तेदारी में शादी करना गलत है या सही है हरीश चौधरी में शादी करना उचित माना जाता है क्योंकि रिश्तेदारों से जो रिश्तेदारी निकलती है ऊपर की हुई होती है उनके पिछले बिहार अनुभव और परिवार की परिचर्चा करते हैं और विश्वसनीय होते हैं इसलिए कहीं भी ऐसा कोई नुकसान या भविष्य अंधकार में होने की संभावना नहीं होती है क्योंकि रिश्तेदार एक दूसरे के प्रति चोदते हैं वह बच्चों का जीवन कुशल कुशल

apni rishtedaari me shaadi karna galat hai ya sahi hai harish choudhary me shaadi karna uchit mana jata hai kyonki rishtedaron se jo rishtedaari nikalti hai upar ki hui hoti hai unke pichle bihar anubhav aur parivar ki paricharcha karte hain aur viswasniya hote hain isliye kahin bhi aisa koi nuksan ya bhavishya andhakar me hone ki sambhavna nahi hoti hai kyonki rishtedar ek dusre ke prati chodte hain vaah baccho ka jeevan kushal kushal

अपनी रिश्तेदारी में शादी करना गलत है या सही है हरीश चौधरी में शादी करना उचित माना जाता है

Romanized Version
Likes  409  Dislikes    views  4889
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने रिश्तेदारी में शादी करना ही सही है क्योंकि रिश्तेदारी में अगर शादी करते हैं तो भविष्य में पति-पत्नी में अगर कुछ झगड़ा होता है कुछ प्रॉब्लम आते हैं तो कम से कम रिश्तेदार लोगा आकर उस मैटर को समझाते हैं दोनों को समझा कर बोलते हैं और आने वाली जिंदगी में कोई प्रॉब्लम नहीं आती इसीलिए रिश्तेदारी में अगर शादी करते तो फायदा होता है तो सभी यही है रिश्तेदारी में अक्सर ज्यादा से ज्यादा शादी करना चाहिए

apne rishtedaari me shaadi karna hi sahi hai kyonki rishtedaari me agar shaadi karte hain toh bhavishya me pati patni me agar kuch jhagda hota hai kuch problem aate hain toh kam se kam rishtedar loga aakar us matter ko smajhate hain dono ko samjha kar bolte hain aur aane wali zindagi me koi problem nahi aati isliye rishtedaari me agar shaadi karte toh fayda hota hai toh sabhi yahi hai rishtedaari me aksar zyada se zyada shaadi karna chahiye

अपने रिश्तेदारी में शादी करना ही सही है क्योंकि रिश्तेदारी में अगर शादी करते हैं तो भविष्य

Romanized Version
Likes  445  Dislikes    views  3903
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:44
Play

Likes  171  Dislikes    views  5875
WhatsApp_icon
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

1:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है क्या अपनी रिश्तेदारी में शादी करना सही है गलत मैं समझता हूं कि अपनी शादी में शादी करना सबसे सही काम क्योंकि एक तू रिश्तेदारी की तरह लड़की जानी पहचानी होती है उसका शुभा उसका चित्र भी हम जानती दूसरी रिश्तेदारी के कारण एक दूसरे से परिचय पहले से होता है कभी पति पत्नी के बीच में तनाव आता है या कोई समस्या खड़ी होती है तो समझदारी है पहले से ही है लड़का लड़की को बैठकर उनकी समस्या का अच्छी तरह मेरा विश्वास है कि यदि लड़की जानी पहचानी है रिश्तेदारी की लड़की है तो ऐसे दांपत्य संबंधों में कभी समस्या उत्पन्न नहीं होती शादी करना सबसे मैं तुझसे बहुत

aapka prashna hai kya apni rishtedaari me shaadi karna sahi hai galat main samajhata hoon ki apni shaadi me shaadi karna sabse sahi kaam kyonki ek tu rishtedaari ki tarah ladki jani pahchani hoti hai uska shubha uska chitra bhi hum jaanti dusri rishtedaari ke karan ek dusre se parichay pehle se hota hai kabhi pati patni ke beech me tanaav aata hai ya koi samasya khadi hoti hai toh samajhdari hai pehle se hi hai ladka ladki ko baithkar unki samasya ka achi tarah mera vishwas hai ki yadi ladki jani pahchani hai rishtedaari ki ladki hai toh aise danpatya sambandhon me kabhi samasya utpann nahi hoti shaadi karna sabse main tujhse bahut

आपका प्रश्न है क्या अपनी रिश्तेदारी में शादी करना सही है गलत मैं समझता हूं कि अपनी शादी मे

Romanized Version
Likes  387  Dislikes    views  3761
WhatsApp_icon
user

Manish Bhargava

Trainer/ Mentor in Delhi education deptt.

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है और क्या अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही है ऐसी कोई दिक्कत नहीं है शादी करने में ही शादी करना पसंद करते हैं क्योंकि अच्छे से जानते हैं उनको लेकर आशान्वित होते हैं पता है कि नहीं जानते हैं उनकी बच्ची कैसी है या बच्चा कैसा है तो प्रसिद्ध के लोगों में ही शादी करना पसंद करते हैं पता है गुलशन कैसा है उनके यहां हमारा बेटा बेटी उनका भी वही कल्चर है जो हमारा है कल्चर को लेकर कई चीजों को लेकर कई मान्यताओं को लेकर विवादों को लेकर लोगों को लगता है कि ठीक है यहां भी वैसा ही है हमारे यहां है तू ऐसी जगह ही शादी करना तो निश्चित रूप से रिश्तेदारी में कोई नहीं है बस खाली या बिल्कुल ही खास एक ही परिवार के

aapka prashna hai aur kya apni rishtedaari me se shaadi karna sahi hai aisi koi dikkat nahi hai shaadi karne me hi shaadi karna pasand karte hain kyonki acche se jante hain unko lekar ashanwit hote hain pata hai ki nahi jante hain unki bachi kaisi hai ya baccha kaisa hai toh prasiddh ke logo me hi shaadi karna pasand karte hain pata hai gulshan kaisa hai unke yahan hamara beta beti unka bhi wahi culture hai jo hamara hai culture ko lekar kai chijon ko lekar kai manyataon ko lekar vivadon ko lekar logo ko lagta hai ki theek hai yahan bhi waisa hi hai hamare yahan hai tu aisi jagah hi shaadi karna toh nishchit roop se rishtedaari me koi nahi hai bus khaali ya bilkul hi khas ek hi parivar ke

आपका प्रश्न है और क्या अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही है ऐसी कोई दिक्कत नहीं है शादी

Romanized Version
Likes  104  Dislikes    views  2453
WhatsApp_icon
user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

0:54
Play

Likes  133  Dislikes    views  1700
WhatsApp_icon
user
0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देसी अपनी रिश्तेदारी में शादी करना है इस हिसाब से सही भी है क्योंकि लोग समाज में यही सिस्टम चल भी रहा है समाज के हिसाब से यह चीज सही है लेकिन जात-पात के मुद्दे से यह चीज सही है वरना देखा जाए तो यह चीज जरूरी भी नहीं है

desi apni rishtedaari me shaadi karna hai is hisab se sahi bhi hai kyonki log samaj me yahi system chal bhi raha hai samaj ke hisab se yah cheez sahi hai lekin jaat pat ke mudde se yah cheez sahi hai varna dekha jaaye toh yah cheez zaroori bhi nahi hai

देसी अपनी रिश्तेदारी में शादी करना है इस हिसाब से सही भी है क्योंकि लोग समाज में यही सिस्ट

Romanized Version
Likes  143  Dislikes    views  1630
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही है या गलत है देखिए जहां पर संभव हो वहां पर आप शादी कर सकते हो अपने पर्सनल रिश्ते में आप शादी नहीं कर सकते हो और सेम गोत्र में शादी नहीं होती है और करना भी नहीं चाहिए इसका वैज्ञानिक कारण भी है अगर आप पढ़ोगे तो आपको समझ में आएगा सपोर्ट करिए आपके बुआ की कोई लड़की है तो आप अपने बुआ की लड़की से शादी नहीं कर सकते हो अगर बुआ की लड़की की लड़की भी है तो उससे भी आप शादी नहीं कर सकते हो क्योंकि यह आपका पर्सनल रिश्ता हो गया लेकिन अगर आपके परिवार में ही किसी का कहीं रिश्तेदारी है और उस रिश्तेदारी का रिश्तेदारी कहीं दूसरे जगह है तो वहां पर आप शादी कर सकते हो क्योंकि यह आपका पर्सनल दिखता नहीं है इन बातों का ध्यान रखना चाहिए शादी करने से पहले धन्यवाद

aapka sawaal hai kya apni rishtedaari me se shaadi karna sahi hai ya galat hai dekhiye jaha par sambhav ho wahan par aap shaadi kar sakte ho apne personal rishte me aap shaadi nahi kar sakte ho aur same gotra me shaadi nahi hoti hai aur karna bhi nahi chahiye iska vaigyanik karan bhi hai agar aap padhoge toh aapko samajh me aayega support kariye aapke buaa ki koi ladki hai toh aap apne buaa ki ladki se shaadi nahi kar sakte ho agar buaa ki ladki ki ladki bhi hai toh usse bhi aap shaadi nahi kar sakte ho kyonki yah aapka personal rishta ho gaya lekin agar aapke parivar me hi kisi ka kahin rishtedaari hai aur us rishtedaari ka rishtedaari kahin dusre jagah hai toh wahan par aap shaadi kar sakte ho kyonki yah aapka personal dikhta nahi hai in baaton ka dhyan rakhna chahiye shaadi karne se pehle dhanyavad

आपका सवाल है क्या अपनी रिश्तेदारी में से शादी करना सही है या गलत है देखिए जहां पर संभव हो

Romanized Version
Likes  352  Dislikes    views  6225
WhatsApp_icon
user

RAVI DUBEY

Motivational Speaker | Writer

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रिश्तेदारी में शादी करना सही है या गलत यह डिपेंड करता है कि कामली कैसे हैं और आपकी रिश्तेदारी का कौन सा रिश्ते वाली बात कर रहे हो समझ में नहीं आ रहा है मानो अगर किसी के कनेक्शन में जाकर आप शादी कर रहे हो तो भाई मैं एक चीज कहूंगा कि चेक बैकग्राउंड राइट नाउ आज की टाइम पर इफ यू अरे रिच तो आप मॉडर्न तरीके से सोच सकते हो यू आर नॉट रीच कभी प्रैक्टिकल जो आपका कल्चर है जो आप की संस्कृति है उसे आप फॉलो करो आप हमेशा खुश रहोगे तो रिसर्च यह है कि अगर आपके घर में संस्कार पलता है आप अच्छी खासी चीजों से तालुकात रखते आप दूसरों को इज्जत देते हैं बड़ों की रिस्पेक्ट करते हैं औरतों को इज्जत देते हैं और सामने वाले परिवार में भी यही सारी चीजें हैं तो आप जरूर करें अदर वाइज मैं यह कहूंगा कि यह सारी दुनिया गोल है हम सभी एक दूसरे से जुड़े हुए हैं तो आप कहीं पर भी शादी करो को सारी रिश्तेदारी नहीं आती है आज नहीं तो कल आप निकालेंगे तो रिश्ते मिल ही जाते

rishtedaari me shaadi karna sahi hai ya galat yah depend karta hai ki calmly kaise hain aur aapki rishtedaari ka kaun sa rishte wali baat kar rahe ho samajh me nahi aa raha hai maano agar kisi ke connection me jaakar aap shaadi kar rahe ho toh bhai main ek cheez kahunga ki check background right now aaj ki time par if you are rich toh aap modern tarike se soch sakte ho you R not reach kabhi practical jo aapka culture hai jo aap ki sanskriti hai use aap follow karo aap hamesha khush rahoge toh research yah hai ki agar aapke ghar me sanskar palta hai aap achi khasee chijon se talukat rakhte aap dusro ko izzat dete hain badon ki respect karte hain auraton ko izzat dete hain aur saamne waale parivar me bhi yahi saari cheezen hain toh aap zaroor kare other wise main yah kahunga ki yah saari duniya gol hai hum sabhi ek dusre se jude hue hain toh aap kahin par bhi shaadi karo ko saari rishtedaari nahi aati hai aaj nahi toh kal aap nikalenge toh rishte mil hi jaate

रिश्तेदारी में शादी करना सही है या गलत यह डिपेंड करता है कि कामली कैसे हैं और आपकी रिश्तेद

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  47
WhatsApp_icon
user

Dr. J.Singh

Financial Expert || Ayurvedic Doctor

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गर्भवती स्त्री आपकी इस तरह की है कि वहां पर शादी की जा सकती है सामाजिक रूप से तब आप कर सकते हैं कि आपके ऊपर ही वक्त आपको सोचना है कि वह आपके इस तारीख किस तरीके से सारी है धन्यवाद

garbhwati stree aapki is tarah ki hai ki wahan par shaadi ki ja sakti hai samajik roop se tab aap kar sakte hain ki aapke upar hi waqt aapko sochna hai ki vaah aapke is tarikh kis tarike se saari hai dhanyavad

गर्भवती स्त्री आपकी इस तरह की है कि वहां पर शादी की जा सकती है सामाजिक रूप से तब आप कर सकत

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!