पैसा और इज़्ज़त दोनों ज़रूरी है तो ऐसे में इंसान को दोनों कमाने के लिए क्या करना पड़ेगा?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार ऐसा और दोनों जरूरी है तो ऐसे में इंसान को दोनों कमाने के लिए क्या करना पड़ेगा यदि आप इज्जत प्रतिष्ठा मान सम्मान यश कीर्ति प्रसिद्धि चाहते हैं आप चाहते हैं कि लोग आपके बारे में जाने लोग आपको किसी विशेषता के लिए स्मरण करें याद रखें तो इसके लिए बहुत आवश्यक है कि आप सबसे पहले तो अपने मस्तिष्क का विकास करने के लिए मस्तिष्क का वजन जैसे शरीर का वजन संतुलित आहार है वैसे ही एक अच्छे मस्तिष्क का भोजन सकारात्मक अच्छी सोच और अच्छे अच्छे लोगों के जीवन परिचय को अपने जीवन में आत्मसात करने के लिए अपने ज्ञान को बढ़ाने के लिए अपनी डिग्रियों को आप जब बढ़ा लेंगे जब आपके पास पर्याप्त ज्ञान हो जाएगा तो दुनिया में ज्ञान से आप बहुत पैसा कमा सकते हैं यहां यह प्रश्न उत्तर क्या अनपढ़ व्यक्ति पैसा नहीं कमाता तो आपको बता दूं अनपढ़ व्यक्ति भी पैसा कमाता है अनपढ़ व्यक्ति भी मान प्रतिष्ठा इज्जत बहुत पा लेता है बहुत सिंपल सा एग्जांपल हमारे सारे विधायक और बहुत ज्यादा पढ़े-लिखे प्राचीन काल में बहुत ज्यादा ऐसे पढ़े-लिखे नहीं होते थे फिर भी मिलता था उनका नाम भी लिया जाता था मान प्रतिष्ठा इज्जत कमाने के लिए जितनी आवश्यकता ऐसे की आवश्यकता आपके समाजिक बनने के लिए समाज के लोगों से परिवार के लोगों से आपका व्यवहार किस तरीके का है यह व्यवहार ही आपके लिए बहुत बड़ा अच्छा कारक बनता है जो आपको बहुत सारे लोगों से जोड़ देता है पैसा आप बहुत सारा कमा लीजिए और उस पैसे को जब तक आप किसी की सहायता के लिए नहीं देंगे किसी को आवश्यकता है उस समय यदि आप उसकी सहायता नहीं करेंगे तो वह पैसा आपके बैंक बैलेंस को तो बड़ा देखा पर आप के मान सम्मान और प्रतिष्ठा को वह कभी नहीं पढ़ पाएगा क्योंकि ऐसा माना पैसा जीवन में महत्वपूर्ण है मैं कई बार कहते हैं पैसा जीवन नहीं है बिना पैसे के भी आप जीवन में आप समाज में दुनिया में मान प्रतिष्ठा इज्जत सब कुछ कमा सकते हैं और उसके साथ यदि पैसे के साथ आपके पास पर्याप्त ज्ञान है तो दोनों का कॉन्बिनेशन इतना अच्छा होता है कि आप जिस काम में ज्यादा पैसा लगा रही थी वह काम आप आधी कीमत में कर सकते हैं क्योंकि आपके पास जो अनुभव है जो आपका ज्ञान है उस ज्ञान के कारण आप अधिक से अधिक पैसा कमा सकते हैं अब मैं आपको एक एग्जांपल देता हूं मेरे पास जो डिग्री आप सच मानिए जब भी मैं किसी से बातचीत करती हूं तो आप एक शाम अन्य व्यक्ति होने के नाते आप चर्चा करेंगे कि जी सर मैं यह बोल रहा हूं तू सामने वाले की जो आवाज है और वही जब मैं यह कहती हूं सामने वाला पूछता है आप कौन बोल रहे हैं तो मैं कहती हूं कि सर मैं डॉक्टर बोल रहे हो उसका स्वर उसका लहजा उसकी आवाज सब कुछ बदल जाती है क्योंकि सब पता है कि यह व्यक्ति कहीं ना कहीं ज्ञान तो रखता है जैसे आप के जो मानसिकता है उसका लेवल अप का ज्ञान नहीं है वैसे ही आपके शारीरिक सौंदर्य की वृद्धि करने वाला आपके व्यक्तित्व को बढ़ाने वाला आप की वेशभूषा होती है तो जब आप बहुत अच्छी व्यवस्थित वेशभूषा पहनते हैं आपके पास पर्याप्त ज्ञान है तो ज्ञान आप इतना पैसा कमा सकते हैं कि वह आपकी कल्पना में नहीं हो सकता मैं केवल दलित आकाशवाणी जाते हैं और मुझे ₹2000 का चेक नहीं जाता है ज्ञान आपके पास है आपको जो टॉपिक दिया जाता है आप उस टॉपिक पर बोलिए लिखिए आप सच मानिए आपके पास जो वाणी रूपी जाती है इससे आप चाहे जितना इसका उपयोग करिए और उपयोग करके आप इसे इतना पैसा कमा सकते हैं कि शायद आप उसको सोच भी नहीं सकते आप देख लीजिए अमिताभ बच्चन का एग्जाम पर आपके पास सामने वाणी का जादूगर है एक्टिंग का जादूगर है आज कौन सी चीज ऐसी है जो उसके पास नहीं है पैसा है प्रतिष्ठा है लोगों के बीच अपनी एक अलग पहचान बरसात की एक पहचान भी है इतने सारे एक्टर्स इतने सारे हीरो हीरोइन है उन सब के बीच में उसने अलग स्थान बनाया उसने अपनी अलग पहचान बनाई और उन्होंने जो अपनी पहचान बनाई खान को उन्होंने निर्माण किया वह दोनों ही चीजें जो है उनकी पूर्ति कर देता है एक नेक और बहुत अच्छे इंसान के रूप में और दूसरा अपने परिवार के लिए आर्थिक रूप से कितना संभल यानी यदि हम अच्छे तरीके से विचार करें तो एक अच्छा जीवन जीने के लिए व्यक्ति के पास पर्याप्त पैसा होना चाहिए आपके पास पैसा है तो यदि पैसा होगा तो आप उस धन का उपयोग सदुपयोग करेंगे या दुरुपयोग करेंगे सदुपयोग करेंगे तो वह पैसा आपकी उम्र को आपके प्रश्न जो प्रसिद्धि है उसको बढ़ाते चला जाएगा और वही आप किसी दारू खाने में लग जाए किसी के साथ बैठकर दारू पीने लग गए तो वही पैसा आपको आपके पतन का कारण बन जाएगा तो यदि आप मानव होकर इंसान यदि आप ऐसा भी कमाना चाहते हैं समाज में मान प्रतिष्ठा इज्जत पाना चाहते हैं तो सबसे पहली बार अपने जो मिलने जुलने वाले हैं अपने रिश्तेदार हैं अपनी पारिवारिक जन है उनके सबके साथ बड़ा हो या छोटा हो सबके साथ जो आपका व्यवहार होगा वह इतना संतुलित होना चाहिए कि उसमें तभी आप उनके साथ कोई बुरा व्यवहार न कर पाए उन्होंने जितनी उनकी आवश्यकता है उस आवश्यकता के अनुरूप आप उनकी जितनी मदद कर सकते हैं यह जो उनकी सहायता जो उनकी मदद आप करेंगे वह लोगों के बीच में आपको इज्जत देखी मानदेय की प्रतिष्ठा देखिए कि कि पैसे से आप दुकान में जाकर किलो से सामान तो कर सकते हैं किंतु यदि आप किसी से कहें मैं तुझे पैसे दे दो तो मुझे प्रणाम कर कभी नहीं करेगा इसलिए पैसा आवश्यकता है पर अच्छा इंसान होना उससे कई गुना ज्यादा अच्छा बनेंगे तो हम सब कुछ जीवन में आएंगे धन्यवाद

namaskar aisa aur dono zaroori hai toh aise me insaan ko dono kamane ke liye kya karna padega yadi aap izzat prathishtha maan sammaan yash kirti prasiddhi chahte hain aap chahte hain ki log aapke bare me jaane log aapko kisi visheshata ke liye smaran kare yaad rakhen toh iske liye bahut aavashyak hai ki aap sabse pehle toh apne mastishk ka vikas karne ke liye mastishk ka wajan jaise sharir ka wajan santulit aahaar hai waise hi ek acche mastishk ka bhojan sakaratmak achi soch aur acche acche logo ke jeevan parichay ko apne jeevan me aatmsat karne ke liye apne gyaan ko badhane ke liye apni degreeon ko aap jab badha lenge jab aapke paas paryapt gyaan ho jaega toh duniya me gyaan se aap bahut paisa kama sakte hain yahan yah prashna uttar kya anpad vyakti paisa nahi kamata toh aapko bata doon anpad vyakti bhi paisa kamata hai anpad vyakti bhi maan prathishtha izzat bahut paa leta hai bahut simple sa example hamare saare vidhayak aur bahut zyada padhe likhe prachin kaal me bahut zyada aise padhe likhe nahi hote the phir bhi milta tha unka naam bhi liya jata tha maan prathishtha izzat kamane ke liye jitni avashyakta aise ki avashyakta aapke samajik banne ke liye samaj ke logo se parivar ke logo se aapka vyavhar kis tarike ka hai yah vyavhar hi aapke liye bahut bada accha kaarak banta hai jo aapko bahut saare logo se jod deta hai paisa aap bahut saara kama lijiye aur us paise ko jab tak aap kisi ki sahayta ke liye nahi denge kisi ko avashyakta hai us samay yadi aap uski sahayta nahi karenge toh vaah paisa aapke bank balance ko toh bada dekha par aap ke maan sammaan aur prathishtha ko vaah kabhi nahi padh payega kyonki aisa mana paisa jeevan me mahatvapurna hai main kai baar kehte hain paisa jeevan nahi hai bina paise ke bhi aap jeevan me aap samaj me duniya me maan prathishtha izzat sab kuch kama sakte hain aur uske saath yadi paise ke saath aapke paas paryapt gyaan hai toh dono ka kanbineshan itna accha hota hai ki aap jis kaam me zyada paisa laga rahi thi vaah kaam aap aadhi kimat me kar sakte hain kyonki aapke paas jo anubhav hai jo aapka gyaan hai us gyaan ke karan aap adhik se adhik paisa kama sakte hain ab main aapko ek example deta hoon mere paas jo degree aap sach maniye jab bhi main kisi se batchit karti hoon toh aap ek shaam anya vyakti hone ke naate aap charcha karenge ki ji sir main yah bol raha hoon tu saamne waale ki jo awaaz hai aur wahi jab main yah kehti hoon saamne vala poochta hai aap kaun bol rahe hain toh main kehti hoon ki sir main doctor bol rahe ho uska swar uska lahaja uski awaaz sab kuch badal jaati hai kyonki sab pata hai ki yah vyakti kahin na kahin gyaan toh rakhta hai jaise aap ke jo mansikta hai uska level up ka gyaan nahi hai waise hi aapke sharirik saundarya ki vriddhi karne vala aapke vyaktitva ko badhane vala aap ki veshbhusha hoti hai toh jab aap bahut achi vyavasthit veshbhusha pehente hain aapke paas paryapt gyaan hai toh gyaan aap itna paisa kama sakte hain ki vaah aapki kalpana me nahi ho sakta main keval dalit aakashwani jaate hain aur mujhe Rs ka check nahi jata hai gyaan aapke paas hai aapko jo topic diya jata hai aap us topic par bolie likhiye aap sach maniye aapke paas jo vani rupee jaati hai isse aap chahen jitna iska upyog kariye aur upyog karke aap ise itna paisa kama sakte hain ki shayad aap usko soch bhi nahi sakte aap dekh lijiye amitabh bachchan ka exam par aapke paas saamne vani ka jaadugar hai acting ka jaadugar hai aaj kaun si cheez aisi hai jo uske paas nahi hai paisa hai prathishtha hai logo ke beech apni ek alag pehchaan barsat ki ek pehchaan bhi hai itne saare actors itne saare hero heroine hai un sab ke beech me usne alag sthan banaya usne apni alag pehchaan banai aur unhone jo apni pehchaan banai khan ko unhone nirmaan kiya vaah dono hi cheezen jo hai unki purti kar deta hai ek neck aur bahut acche insaan ke roop me aur doosra apne parivar ke liye aarthik roop se kitna sambhal yani yadi hum acche tarike se vichar kare toh ek accha jeevan jeene ke liye vyakti ke paas paryapt paisa hona chahiye aapke paas paisa hai toh yadi paisa hoga toh aap us dhan ka upyog sadupyog karenge ya durupyog karenge sadupyog karenge toh vaah paisa aapki umar ko aapke prashna jo prasiddhi hai usko badhate chala jaega aur wahi aap kisi daaru khane me lag jaaye kisi ke saath baithkar daaru peene lag gaye toh wahi paisa aapko aapke patan ka karan ban jaega toh yadi aap manav hokar insaan yadi aap aisa bhi kamana chahte hain samaj me maan prathishtha izzat paana chahte hain toh sabse pehli baar apne jo milne julne waale hain apne rishtedar hain apni parivarik jan hai unke sabke saath bada ho ya chota ho sabke saath jo aapka vyavhar hoga vaah itna santulit hona chahiye ki usme tabhi aap unke saath koi bura vyavhar na kar paye unhone jitni unki avashyakta hai us avashyakta ke anurup aap unki jitni madad kar sakte hain yah jo unki sahayta jo unki madad aap karenge vaah logo ke beech me aapko izzat dekhi manday ki prathishtha dekhiye ki ki paise se aap dukaan me jaakar kilo se saamaan toh kar sakte hain kintu yadi aap kisi se kahein main tujhe paise de do toh mujhe pranam kar kabhi nahi karega isliye paisa avashyakta hai par accha insaan hona usse kai guna zyada accha banenge toh hum sab kuch jeevan me aayenge dhanyavad

नमस्कार ऐसा और दोनों जरूरी है तो ऐसे में इंसान को दोनों कमाने के लिए क्या करना पड़ेगा यदि

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  173
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!