user

Gaurav Vyas

Advocate High Court

4:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड गूगल में आपका स्वागत है मैं एडवोकेट गौरव व्यास आपके सवाल का जवाब देने के लिए हाजिर हूं फ्रेंड आपने क्वेश्चन किया है कि धारा 380 क्या है धारा 308 पीसी में पेंट हत्या यानी कि मर्डर को परिभाषित किया गया है और परिभाषित कर इसका दंड धारा 302 में बताया गया है धरा 302 में बताया गया है कि जो कोई व्यक्ति हत्या कार्य करता है तो उस व्यक्ति को कितना दंड दिया जा सकता है उस व्यक्ति को आजीवन कारावास या मृत्यु दंड दिया जा सकता है अब आते हैं हत्या क्या है हत्या को समझते हैं फ्रेंड्स किसी भी कोई भी व्यक्ति पांच कारणों से अपनी जान कब आता है ध्यान से सुनना कोई भी व्यक्ति पांच कारणों से अपनी जान दबाता है छोटा कारण जान गवाने का नहीं होता पहला नेचुरल डेथ होती है जब कोई बीमारी से या नेचुरल बुजुर्ग मरता है तो वह मरता है यह कंडीशन बहुत ही बनने की सेटिंग जब कोई एक्सीडेंट होता है तब व्यक्ति मरता है मतलब अचानक कोई दुर्घटना होती है उस टाइम व्यक्ति मरता है दो तीसरा कोई व्यक्ति जब आत्महत्या करता है तब भी वह व्यक्ति मरता है इन कंडीशन बनने की हो गई चौथी कंडीशन होती है आपराधिक मानव वध की आपराधिक मानव वध में व्यक्ति मरता है पांचवी कंडीशन होती है हत्या की किसी व्यक्ति को जानबूझकर के मारना इरादे से मारना कि उस लड़की की हत्या होती है कुछ आपराधिक घटनाओं को छोड़कर के आपराधिक मानव वध हत्या है यदि वह कार्य किसके द्वारा मृत्यु काल की गई हो मृत्यु कार्य करने के आदेश से किया गया हो पहला दूसरा यदि वह व्यक्ति शारीरिक क्षति कार्य करने के आदेश से किया गया हो जिससे अपराधी जानता हो कि उस व्यक्ति की मृत्यु काल बाबे निश्चित की गई है यदि वह किसी व्यक्ति को कैसे किया गया और वह शारीरिक क्षति जिसके कार्य करने का आशय हो प्रकृति के मामूली अनुक्रमण मृत्यु कार्य करने के लिए पर्याप्त हो तथा यदि कार्य करने वाला व्यक्ति है जानता हूं कि मैं कार इतना मतलब संकट पूर्व है की पूरी संभावना है कि वह मृत्यु कार्य कर ही देगा माल्या में किसी को गोली चलाएंगे तो संभवत संभावना अधिक से अधिक एक व्यक्ति की मृत्यु हो सकती है ठीक है अब कुछ आदेश आए दिन में अपराधिक मानव दिन में किया गया कार्य हत्या नहीं होती जबकि वह आपराधिक मानव वध होता है आपको बता दें कि आपराधिक मानव वध और हत्या दोनों में अंतर होता है आपराधिक मानव वध की ग्रेविटी थोड़ी कम होती है हालांकि जान उसमें भी जाती है मर्डर की ग्रेविटी ज्यादा होती है जान उसने भी जाती है लेकिन बहुत सीरियस है मैं उसे थोड़ा कम सीरियस अपराधिक अपराध के लिए आजीवन कारावास का दंड है जबकि हत्या के लिए आजीवन कारावास के साथ-साथ मृत्यु दंड भी दिया जा सकता है यह कोटी ऊपर डिपेंड करता है मैं उम्मीद करता हूं कि आपको यह वीडियो अच्छा लगा होगा और फ्रेंड आपके लिए इंपोर्टेंट इनफार्मेशन है यदि आपको कानून से संबंधित कोई जानकारी चाहिए या कानून पर आपको इंटरेस्ट है कानून की विशेष द्वारा यूट्यूब चैनल है उसको फॉलो कर सकते हैं उसकी लिंक है लीगल अवेयरनेस एकेडमी लगा हुआ है आपसे पहले वाटर स्पष्ट कर सकते हैं और अपनी कानून की जिज्ञासा का समाधान कर सकते हैं प्लीज चैनल को सब्सक्राइब कर लीजिएगा जिससे कि हम जो भी कोई वीडियो अपलोड करते हैं आपको भी गतिशील आप तक पहुंच सके अब कल को सब्सक्राइब करके रखिए और उम्मीद करता हूं कि आप इस तरीके से तैयार करें सवाल पूछे और हम आपके सवालों का जवाब देंगे थैंक यू वेरी मच

hello friend google me aapka swaagat hai main advocate gaurav vyas aapke sawaal ka jawab dene ke liye haazir hoon friend aapne question kiya hai ki dhara 380 kya hai dhara 308 pc me paint hatya yani ki murder ko paribhashit kiya gaya hai aur paribhashit kar iska dand dhara 302 me bataya gaya hai dhara 302 me bataya gaya hai ki jo koi vyakti hatya karya karta hai toh us vyakti ko kitna dand diya ja sakta hai us vyakti ko aajivan karavas ya mrityu dand diya ja sakta hai ab aate hain hatya kya hai hatya ko samajhte hain friends kisi bhi koi bhi vyakti paanch karanon se apni jaan kab aata hai dhyan se sunana koi bhi vyakti paanch karanon se apni jaan dabata hai chota karan jaan gavane ka nahi hota pehla natural death hoti hai jab koi bimari se ya natural bujurg marta hai toh vaah marta hai yah condition bahut hi banne ki setting jab koi accident hota hai tab vyakti marta hai matlab achanak koi durghatna hoti hai us time vyakti marta hai do teesra koi vyakti jab atmahatya karta hai tab bhi vaah vyakti marta hai in condition banne ki ho gayi chauthi condition hoti hai apradhik manav vadh ki apradhik manav vadh me vyakti marta hai paanchvi condition hoti hai hatya ki kisi vyakti ko janbujhkar ke marna Irade se marna ki us ladki ki hatya hoti hai kuch apradhik ghatnaon ko chhodkar ke apradhik manav vadh hatya hai yadi vaah karya kiske dwara mrityu kaal ki gayi ho mrityu karya karne ke aadesh se kiya gaya ho pehla doosra yadi vaah vyakti sharirik kshati karya karne ke aadesh se kiya gaya ho jisse apradhi jaanta ho ki us vyakti ki mrityu kaal babe nishchit ki gayi hai yadi vaah kisi vyakti ko kaise kiya gaya aur vaah sharirik kshati jiske karya karne ka aashay ho prakriti ke mamuli anukraman mrityu karya karne ke liye paryapt ho tatha yadi karya karne vala vyakti hai jaanta hoon ki main car itna matlab sankat purv hai ki puri sambhavna hai ki vaah mrityu karya kar hi dega malya me kisi ko goli chalayenge toh sambhavat sambhavna adhik se adhik ek vyakti ki mrityu ho sakti hai theek hai ab kuch aadesh aaye din me apradhik manav din me kiya gaya karya hatya nahi hoti jabki vaah apradhik manav vadh hota hai aapko bata de ki apradhik manav vadh aur hatya dono me antar hota hai apradhik manav vadh ki gravity thodi kam hoti hai halaki jaan usme bhi jaati hai murder ki gravity zyada hoti hai jaan usne bhi jaati hai lekin bahut serious hai main use thoda kam serious apradhik apradh ke liye aajivan karavas ka dand hai jabki hatya ke liye aajivan karavas ke saath saath mrityu dand bhi diya ja sakta hai yah koti upar depend karta hai main ummid karta hoon ki aapko yah video accha laga hoga aur friend aapke liye important information hai yadi aapko kanoon se sambandhit koi jaankari chahiye ya kanoon par aapko interest hai kanoon ki vishesh dwara youtube channel hai usko follow kar sakte hain uski link hai legal awareness academy laga hua hai aapse pehle water spasht kar sakte hain aur apni kanoon ki jigyasa ka samadhan kar sakte hain please channel ko subscribe kar lijiega jisse ki hum jo bhi koi video upload karte hain aapko bhi gatisheel aap tak pohch sake ab kal ko subscribe karke rakhiye aur ummid karta hoon ki aap is tarike se taiyar kare sawaal pooche aur hum aapke sawalon ka jawab denge thank you very match

हेलो फ्रेंड गूगल में आपका स्वागत है मैं एडवोकेट गौरव व्यास आपके सवाल का जवाब देने के लिए ह

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  121
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Priyal Agrawal

Educator at Unacademy

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धारा 300 में आया लिखा गया है कि कोई एक इंसान कुछ ऐसा काम करता है जबकि उसे पता है कि वह काम बहुत ही डेंजरस है और उस काम से या तो किस की जान जा सकती है मर्डर हो सकता है लेकिन फिर भी कोई इंसान काम कर आप ऐसा काम करता है ठीक है तो फिर उसके लिए जो सजा है वह लिखी गई है धारा 300 में

dhara 300 mein aaya likha gaya hai ki koi ek insaan kuch aisa kaam karta hai jabki use pata hai ki vaah kaam bahut hi dangerous hai aur us kaam se ya toh kis ki jaan ja sakti hai murder ho sakta hai lekin phir bhi koi insaan kaam kar aap aisa kaam karta hai theek hai toh phir uske liye jo saza hai vaah likhi gayi hai dhara 300 mein

धारा 300 में आया लिखा गया है कि कोई एक इंसान कुछ ऐसा काम करता है जबकि उसे पता है कि वह काम

Romanized Version
Likes  41  Dislikes    views  682
WhatsApp_icon
play
user

Gulnaz

लेवल 1 (बिगिनर)

0:28

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आईपीसी 380 क्या है देखिए सेक्शन आईपीसी 380 है इंडियन पेनल कोड थ्री हंड्रेड है और तू ही हत्या और इसके बाद के मामले में छोड़ कर दोषी हत्या कांड हत्या है अगर मृत्यु जिसके कारण मौत का कारण बनता है और तू मृत्यु के इरादे से किया जाता है तो इसमें जो है लेकर यह भारतीय दंड संहिता में धारा 300 सवाल किया जाता है

ipc 380 kya hai dekhiye section ipc 380 hai indian panel code three hundred hai aur tu hi hatya aur iske baad ke mamle mein chod kar doshi hatya kaand hatya hai agar mrityu jiske karan maut ka karan banta hai aur tu mrityu ke Irade se kiya jata hai toh isme jo hai lekar yah bharatiya dand sanhita mein dhara 300 sawaal kiya jata hai

आईपीसी 380 क्या है देखिए सेक्शन आईपीसी 380 है इंडियन पेनल कोड थ्री हंड्रेड है और तू ही हत्

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  268
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!