आज के युवाओं को भटकाने में सोशल मीडिया की कितनी भूमिका है?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज की युवा जैसा भटकते हुए नजर आ रहे हैं न्यू जेनरेशन पूरी ही जैसा भटकता नजर आ रही है जिन कर्मों को विवाह के बाद सूचना चाहिए उन कर्मों को विवाह से पूर्व भी के इंजन में यह करते नजर आ रहे हैं इसमें सोशल नेटवर्कर कम सहयोग पर कि मैं सो जाऊं पिक्चर टीवी और अन्य जो प्राइवेट वीडियो जाते हैं उनका विशेष बड़ी भूमिका है देश में विशेष रूप से उसे दिशा भी बना रहे हैं क्योंकि लड़के लड़की को तीन एज में जो पढ़ने में टाइम लगाना चाहिए अपने कैरियर जॉब के प्रति सचेत होना चाहिए बे इन लव प्रेस में फंस जाते हैं वॉइस फ्रेंड गर्लफ्रेंड के चक्कर में जो फंस जाते हैं तो उससे पर वो जैसा भी हो जाते हैं परिणाम स्वरुप कई कोशिशों में पढ़ने में आता है कि मैं दसवीं पास नहीं कर पा रहा हूं मैं दसवीं पास करके मेरा मन नहीं लगता है इस प्रकार के क्वेश्चन आते हैं वह इस बात बता रहे हैं कि न्यू जेनरेशन का दिमाग कहां भटक रहा है जोश युवा कर्म विभाग के बाद उचित है उनमें पहले ही लगे हुए हैं जबकि नहीं भटकना चाहिए सोशल मीडिया का भी थोड़ा वक्त में साथ है सोशल मीडिया स्कोर ऐसे के दिनेश के बच्चों के लिए ऐसे क्वेश्चन ओं को अलाउड नहीं करना चाहिए लेकिन सोशल मीडिया तो कम कर रहा है लेकिन दिव्या पिक्चर्स वाले बात करें पिक्चर्स वाले तो पता नहीं कितनी गंदी गंदी गंदी गंदी पिक्चरों को दे रहे हैं यह नहीं सोचते कि हमारा युवा मंच पर इसका गलत असर आएगा विदिशा भटक जाएंगे वास्तव में आज दिशा में रखते हुए समझ रहे हैं हमारे देश की नीव को फ्री हो जाएगी

aaj ki yuva jaisa bhatakte hue nazar aa rahe hain new generation puri hi jaisa bhatakta nazar aa rahi hai jin karmon ko vivah ke baad suchana chahiye un karmon ko vivah se purv bhi ke engine mein yeh karte nazar aa rahe hain ismein social networker kam sahyog par ki main so jaaun picture TV aur anya jo private video jaate hain unka vishesh badi bhumika hai desh mein vishesh roop se use disha bhi bana rahe hain kyonki ladke ladki ko teen age mein jo padhne mein time lagana chahiye apne carrier job ke prati sachet hona chahiye be in love press mein phans jaate hain voice friend girlfriend ke chakkar mein jo phans jaate hain toh usse par vo jaisa bhi ho jaate hain parinam swarup kai koshishon mein padhne mein aata hai ki main dasavi paas nahi kar pa raha hoon main dasavi paas karke mera man nahi lagta hai is prakar ke question aate hain wah is baat bata rahe hain ki new generation ka dimag kahaan bhatak raha hai josh yuva karm vibhag ke baad uchit hai unmen pehle hi lage hue hain jabki nahi bhatakana chahiye social media ka bhi thoda waqt mein saath hai social media score aise ke dinesh ke baccho ke liye aise question yuvaon ko allowed nahi karna chahiye lekin social media toh kam kar raha hai lekin divya Pictures wale baat karein Pictures wale toh pata nahi kitni gandi gandi gandi gandi picturo ko de rahe hain yeh nahi sochte ki hamara yuva manch par iska galat asar aaega vidisha bhatak jaenge vaastav mein aaj disha mein rakhte hue samajh rahe hain hamare desh ki neev ko free ho jayegi

आज की युवा जैसा भटकते हुए नजर आ रहे हैं न्यू जेनरेशन पूरी ही जैसा भटकता नजर आ रही है जिन क

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Gunjan

Junior Volunteer

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे जैसे किसी भी सिक्के के दो पहलू होते हैं तो इसी तरीके से आप जैसे सोशल मीडिया को भी देख लेते हैं क्योंकि आप जैसे कि आज सोशल मीडिया में बहुत सारे ऐसे इंफॉर्मेशन होती है जो कि आपको आगे भविष्य में काम आती है पर इसमें ऐसी भी बहुत सारी चीजें होती है जिसके कारण की जो युवा है वह अपने रास्ते से भटक जाता है जैसे कि अगर आपने फेसबुक एक बार स्टार्ट कर दिया तो यह बात है अपने आप को राजेश नहीं कर पाते हैं तरीके से बोल सकते हैं कि जो और सोशल मीडिया है उसके कारण युवक भटक रहे हैं बटासा पूरी तरीके से सही नहीं है क्योंकि पूरी आपके तरफ से डिपेंड करता है कि आपको किस तरीके से उस चीज को देते हैं अगर आप कंट्रोल कर कर नियमित हर चीज का प्रयोग करेंगे तो वह आपके लिए इफेक्टिव होगा क्योंकि आज जो है आपको बहुत सारी वेबसाइट की भी जानकारी मिलती है जो कि आप के अध्ययन में आपकी हेल्प कर सकती हैं

likhe jaise kisi bhi sikke ke do pahaloo hote hain toh isi tarike se aap jaise social media ko bhi dekh lete hain kyonki aap jaise ki aaj social media mein bahut saare aise information hoti hai jo ki aapko aage bhavishya mein kaam aati hai par isme aisi bhi bahut saree cheezen hoti hai jiske karan ki jo yuva hai vaah apne raste se bhatak jata hai jaise ki agar aapne facebook ek baar start kar diya toh yah baat hai apne aap ko rajesh nahi kar paate hain tarike se bol sakte hain ki jo aur social media hai uske karan yuvak bhatak rahe hain batasa puri tarike se sahi nahi hai kyonki puri aapke taraf se depend karta hai ki aapko kis tarike se us cheez ko dete hain agar aap control kar kar niyamit har cheez ka prayog karenge toh vaah aapke liye effective hoga kyonki aaj jo hai aapko bahut saree website ki bhi jaankari milti hai jo ki aap ke adhyayan mein aapki help kar sakti hain

लिखे जैसे किसी भी सिक्के के दो पहलू होते हैं तो इसी तरीके से आप जैसे सोशल मीडिया को भी देख

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  219
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!