समय के आधार पर बाजार का वर्गीकरण क्या होगा ?...


play
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:15

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

समय के आधार पर बाजार को जो है वह मुख्य चार हिस्सों में डिसाइड किया गया है जिसमें पहला दैनिक बाजार है जो दूसरा अल्पकालीन बाजार हैं ऋषि कालीन बाजार है और चौथा जो है तीसरी कालीन बाजार है

samay ke aadhaar par BA zaar ko jo hai vaah mukhya char hisson mein decide kiya gaya hai jisme pehla dainik BA zaar hai jo doosra alpakaleen BA zaar hai rishi kaleen BA zaar hai aur chautha jo hai teesri kaleen BA zaar hai

समय के आधार पर बाजार को जो है वह मुख्य चार हिस्सों में डिसाइड किया गया है जिसमें पहला दैनि

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  232
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Gunjan

Junior Volunteer

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बी के समय के हिसाब से जो है वह बाजार के आचार वर्गीकरण कर सकते हैं जैसे कि दैनिक बाजार अल्पकालीन बाजार दीर्घकालीन बाजार और अधिक दीर्घकालीन बाजार दैनिक बाजार में वह सब दुआ थी जिसका की जो है मूल्य निर्धारण में पूर्ति क्या अपेक्षा मांग के आधार पर उसका प्रभाव डालते हैं अल्पकालिक बाजार में ही होती है कि जब किसी भी वस्तु की मांग बढ़ती है तो उसकी पूर्ति के लिए समय नहीं मिल पाता है और उसे ही अल्पकालीन मदार कहते हैं दीर्घकालीन बाजार उसको बोला जाता है जब किसी वस्तु की मांग बढ़ने पर उत्पादन को भी बढ़ा दिया जाता है और उस वस्तु की जो है आपूर्ति कर दी राधे हैं और अति वीर ताली बजा जो होता है तो तो तो जब उत्पादक को बहुत सारे समय मिल जाता है वह उपभोक्ता के स्वभाव फैशन और रूचि के अनुसार वस्तुओं को उत्पादित करता है उसको अति दिल कालीन बाजार बोलते हैं

be ke samay ke hisab se jo hai vaah BA zaar ke aachar vargikaran kar sakte hai jaise ki dainik BA zaar alpakaleen BA zaar dirghakalin BA zaar aur adhik dirghakalin BA zaar dainik BA zaar mein vaah sab dua thi jiska ki jo hai mulya nirdharan mein purti kya apeksha maang ke aadhaar par uska prabhav daalte hai alpakalik BA zaar mein hi hoti hai ki jab kisi bhi vastu ki maang BA dhti hai toh uski purti ke liye samay nahi mil pata hai aur use hi alpakaleen madar kehte hai dirghakalin BA zaar usko bola jata hai jab kisi vastu ki maang BA dhne par utpadan ko bhi BA dha diya jata hai aur us vastu ki jo hai aapurti kar di radhe hai aur ati veer tali BA ja jo hota hai toh toh toh jab utpadak ko BA hut saare samay mil jata hai vaah upbhokta ke swabhav fashion aur ruchi ke anusaar vastuon ko utpadit karta hai usko ati dil kaleen BA zaar bolte hain

बी के समय के हिसाब से जो है वह बाजार के आचार वर्गीकरण कर सकते हैं जैसे कि दैनिक बाजार अल्प

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  238
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
समय के आधार पर बाजार का वर्गीकरण कीजिए ; समय के आधार पर बाजार का वर्गीकरण ; samay ke aadhar par bajar ka vargikaran ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!