मैं मेरी GF से बहुत प्यार करता हूँ, औऱ वो भी मुझसे बहुत प्यार करती है,परंतु हम दोनों अलग अलग जाति के होने के कारण हमारी शादी के लिए घर वाले नहीं मान र है हैं, क्या करूँ?...


user
0:17
Play

Likes  247  Dislikes    views  1809
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ansh jalandra

Motivational speaker & criminal lawyer

0:26
Play

Likes  153  Dislikes    views  2145
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि आप का सबसे पहला यह कदम तो बहुत अच्छा है कि आप अपनी गर्लफ्रेंड से प्यार करने के साथ-साथ विवाह भी करना चाहते हैं और वह भी आपसे एक बात करना चाहती हैं आपके जीवन जीवन के लिए शुभकामना देते हो कहना चाहूंगा कि जाति महत्वपूर्ण नहीं है हमारे भारत के संविधान में 50 वर्ष से अधिक उम्र की लड़की और 21 वर्ष से अधिक उम्र के लड़के आपस में विवाह कर सकते हैं इसके लिए आप परेश ट मैरिज कर सकते हैं आर्य समाज में जाकर शादी का समंदर में विवाह कर सकते हैं और उसको मान्यता भी प्राप्त हो सकती है आपको नगर निगम जाना से प्रमाण पत्र भी लेना चाहिए यह सब करने के साथ मैं आपसे कहना चाहूंगा कि पहले आप अपनी आजीविका के बारे में सोचते क्या आप दोनों आगे जब अपने परिवार वालों का मदद नहीं हुई तो अपना जीवन यापन किस प्रकार करेंगे और आपके पास आजीविका का क्या साधन है अगर आपके पास आजीविका नौकरी धंधा नहीं तो पहले कुछ समय से प्राप्त करें उसके पश्चात भी निर्वाह करें तो ज्यादा अच्छा रहेगा

yadi aap ka sabse pehla yah kadam toh bahut accha hai ki aap apni girlfriend se pyar karne ke saath saath vivah bhi karna chahte hain aur vaah bhi aapse ek baat karna chahti hain aapke jeevan jeevan ke liye shubhkamna dete ho kehna chahunga ki jati mahatvapurna nahi hai hamare bharat ke samvidhan me 50 varsh se adhik umar ki ladki aur 21 varsh se adhik umar ke ladke aapas me vivah kar sakte hain iske liye aap paresh t marriage kar sakte hain arya samaj me jaakar shaadi ka samundar me vivah kar sakte hain aur usko manyata bhi prapt ho sakti hai aapko nagar nigam jana se pramaan patra bhi lena chahiye yah sab karne ke saath main aapse kehna chahunga ki pehle aap apni aajiwika ke bare me sochte kya aap dono aage jab apne parivar walon ka madad nahi hui toh apna jeevan yaapan kis prakar karenge aur aapke paas aajiwika ka kya sadhan hai agar aapke paas aajiwika naukri dhandha nahi toh pehle kuch samay se prapt kare uske pashchat bhi nirvah kare toh zyada accha rahega

यदि आप का सबसे पहला यह कदम तो बहुत अच्छा है कि आप अपनी गर्लफ्रेंड से प्यार करने के साथ-सा

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  270
WhatsApp_icon
user

BOB

Teacher

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं मेरी गर्लफ्रेंड से बहुत प्यार करता हूं और वह भी मुझसे बहुत प्यार करती है परंतु हम दोनों अलग-अलग जाति के हैं अलग-अलग जाति के हो रहे एक कारण हमारी शादी के लिए हमारे घर वाले नहीं मान रहे क्या करें दिखे आजकल जातियों को तो चलते बहुत से लोग नहीं मानते हैं हो सकता है कि आपके घर वाले इस बात को मानते हो और राजी ना हो रहे हो लेकिन हमारा संविधान हमारा कानून इस बात की इजाजत देता है कि हम किसी से भी शादी कर सकते हैं अपनी मर्जी से तो अगर आपके घरवाले नहीं मान रहे हैं तो आप उन्हें अच्छी तरह से समझाएं उन्हें कन्वेंस करें तो शायद वह मान जाए और उसके बावजूद भी अगर आप दोनों राजी हैं और घरवाले फिर भी नहीं मान रहे हैं तो आप कानून का भी सहारा ले सकते हैं लेकिन मेरी राय यह है कि आप कानून का सहारा लेगी या तो आप अपने घर वालों के खिलाफ जाएंगे और यह आपके घर वालों को कभी भी पसंद नहीं आएगा तो मेरी राहे कि आपके घर वालों को समझाने की कोशिश करते रहिए हो सकता है कि वह राजी हो जाए और अगर राजी नहीं होते हैं तो दूसरा ऑप्शन है ही आपके पास

main meri girlfriend se bahut pyar karta hoon aur vaah bhi mujhse bahut pyar karti hai parantu hum dono alag alag jati ke hain alag alag jati ke ho rahe ek karan hamari shaadi ke liye hamare ghar waale nahi maan rahe kya kare dikhe aajkal jaatiyo ko toh chalte bahut se log nahi maante hain ho sakta hai ki aapke ghar waale is baat ko maante ho aur raji na ho rahe ho lekin hamara samvidhan hamara kanoon is baat ki ijajat deta hai ki hum kisi se bhi shaadi kar sakte hain apni marji se toh agar aapke gharwale nahi maan rahe hain toh aap unhe achi tarah se samjhaye unhe convence kare toh shayad vaah maan jaaye aur uske bawajud bhi agar aap dono raji hain aur gharwale phir bhi nahi maan rahe hain toh aap kanoon ka bhi sahara le sakte hain lekin meri rai yah hai ki aap kanoon ka sahara legi ya toh aap apne ghar walon ke khilaf jaenge aur yah aapke ghar walon ko kabhi bhi pasand nahi aayega toh meri rahe ki aapke ghar walon ko samjhane ki koshish karte rahiye ho sakta hai ki vaah raji ho jaaye aur agar raji nahi hote hain toh doosra option hai hi aapke paas

मैं मेरी गर्लफ्रेंड से बहुत प्यार करता हूं और वह भी मुझसे बहुत प्यार करती है परंतु हम दोनो

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  256
WhatsApp_icon
play
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

1:12

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे देश में जब हम किसी से प्यार करते हैं तो हम ना तो उनकी जाति देखते हैं ना उनका ध्यान देते हैं ना उनका चेहरा देखता है और ना ही उनका बैकग्राउंड देखते हैं और प्यार हो जाता है कि किसी की तैयारी कैसे हो जाता है यह भेदभाव नहीं देखता है रे भोंसड़ी की दुकान थी जैसे कि हमारी जाती हमारी फरमाते हैं कि परिवार जी आपकी बात नहीं मानते हैं तो पहले तो शादी दादा पीर भी सताने की लाइफ में आप जीवन में जो है कुछ अच्छा की नौकरी करें या जीवन में सफल हो जाएंगे तो खुद से ले सकते हैं और अगर नहीं मानता तो जो भी चाहे तो मैं अपने परिवार की जिम्मेदारियों को संभालने परिवार को कन्वेंस का नाम

hamare desh mein jab hum kisi se pyar karte hain toh hum na toh unki jati dekhte hain na unka dhyan dete hain na unka chehra dekhta hai aur na hi unka background dekhte hain aur pyar ho jata hai ki kisi ki taiyari kaise ho jata hai yah bhedbhav nahi dekhta hai ray bhonsadi ki dukaan thi jaise ki hamari jaati hamari farmate hain ki parivar ji aapki baat nahi maante hain toh pehle toh shadi dada pir bhi satane ki life mein aap jeevan mein jo hai kuch accha ki naukri kare ya jeevan mein safal ho jaenge toh khud se le sakte hain aur agar nahi manata toh jo bhi chahen toh main apne parivar ki jimmedariyon ko sambhalne parivar ko convence ka naam

हमारे देश में जब हम किसी से प्यार करते हैं तो हम ना तो उनकी जाति देखते हैं ना उनका ध्यान द

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  246
WhatsApp_icon
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज के प्यार में इस तरह की चीजें होती है अगर आप याद कर रहे हैं तो अलग अलग खास मतलब खास का होना बहुत कॉमन सी बात है उसको आप खुश हो जाना पड़ेगा क्लिक नहीं माने संस्कृत

aaj ke pyar mein is tarah ki cheezen hoti hai agar aap yaad kar rahe hain toh alag alag khaas matlab khaas ka hona bahut common si baat hai usko aap khush ho jana padega click nahi maane sanskrit

आज के प्यार में इस तरह की चीजें होती है अगर आप याद कर रहे हैं तो अलग अलग खास मतलब खास का ह

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  243
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!