गुप्त काल के दौरान सोने के सिक्कों को किस नाम से पुकारा जाता था?...


play
user

Dayakant Saxena

Retd Principle

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुप्त काल में सोने के सिक्के और तरह-तरह के सिक्के का उपयोग किया जाता था समुद्रगुप्त के बीरा बालक प्रयाग नियंता सिक्के उसके संगीत के प्रति रुचि पासवर्ड को दर्शाते हैं कुमारगुप्त के कार्तिकेय प्रकार के सिक्के हमें यह बताते हैं कि कुमारगुप्त किस प्रकार से सेवा निवाई शिवजी की पूजा करते थे क्योंकि उनके सिक्कों पर कार्तिकेय भगवान कार्तिकेय की मूर्ति लगी हुई है इसी प्रकार गुप्त काल में सोने और चांदी के सिक्के रिसीव थे सिक्कों पर राजा का नाम राजा का चिन्ह राजा का धर्म और तिथि अंकित कुछ विशेष घटनाओं की जानकारी सिक्कों से मिलती है समुद्रगुप्त के सिक्के जो थे फुलपरास के लिए प्रोग्राम दिखाएं इससे पता लगता है समुद्रगुप्त ने आश्चर्य भी किया था कुछ सीखो बसंत गुप्ता बजाते हुए दिखाया गया है उसे पता लगता है कि वह संगीत के भी अन्याय के सिक्कों पर तिथि सिक्कों पर धार्मिक विश्वास सिद्धू की कला पर प्रकाश व्यापक आर्थिक स्तर की जानकारी नवीन तत्वों का उद्घाटन और शासकों की नीतियों का ज्ञान यह में गुप्त काल के सिक्कों से होता है प्राप्त होता था और इस प्रकार चेक करो कि जो मुद्राएं थी वह काम में आती थी

gupt kaal me sone ke sikke aur tarah tarah ke sikke ka upyog kiya jata tha samudragupt ke bira balak prayag niyanta sikke uske sangeet ke prati ruchi password ko darshate hain kumargupt ke kartikey prakar ke sikke hamein yah batatey hain ki kumargupt kis prakar se seva niwai shivaji ki puja karte the kyonki unke sikkon par kartikey bhagwan kartikey ki murti lagi hui hai isi prakar gupt kaal me sone aur chaandi ke sikke receive the sikkon par raja ka naam raja ka chinh raja ka dharm aur tithi ankit kuch vishesh ghatnaon ki jaankari sikkon se milti hai samudragupt ke sikke jo the phulaparas ke liye program dikhaen isse pata lagta hai samudragupt ne aashcharya bhi kiya tha kuch sikho basant gupta bajaate hue dikhaya gaya hai use pata lagta hai ki vaah sangeet ke bhi anyay ke sikkon par tithi sikkon par dharmik vishwas sidhu ki kala par prakash vyapak aarthik sthar ki jaankari naveen tatvon ka udghatan aur shaasakon ki nitiyon ka gyaan yah me gupt kaal ke sikkon se hota hai prapt hota tha aur is prakar check karo ki jo mudraen thi vaah kaam me aati thi

गुप्त काल में सोने के सिक्के और तरह-तरह के सिक्के का उपयोग किया जाता था समुद्रगुप्त के ब

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  146
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!