फाइनांस मिनिस्टर क्यों निवेदन कर रहें है की सारे बैंकदरों को स्ट्रेस्ड असेट्स खरीदने के डिफॉल्टर्स को रोके?...


play
user

Chandraprakash Joshi

Ex-AGM RBI & CEO@ixamBee.com

0:58

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसे इसलिए बोला जा रहा है कि पहले तो डिफॉल्टर्स प्रमोटरों है उन्होंने बैंक के लोन में डिफॉल्ट किया यानी कि बैंक का पैसा जो हर टाइम से वापस नहीं किया है अब उसके बाद जब वह इस प्रेसेंट बिक रहे हैं यानी कि जब बैंक मजबूर हो जाता है कि जो BSF हैं अगर उसके खिलाफ कोई कोलेटरल है या अगर वह कोई कंपनी भेजनी पड़ती है तो उसको बैंक बेच रहा है तो वह जो बिकती है वह कम पैसे पर बिकती है तो अब यह तो सिंपल वोटर है जिनमें बैंक का डिफॉल्ट किया अब वह उनको कम पैसे पहले निकला ऑप्शन कर रही है आने की जब पूरी लग रही है उसकी वह भी बोली लगा रहे हैं निजी FM कंपनी को वह कम पैसे में खरीद ले रहे हैं क्या उसमें जो भी ऐसे-ऐसे उनको कम पैसे में खरीद ले रहे हैं तो यह अपने आप में एक फ्रॉड है कि अगर ऐसा होगा तो बहुत सारे लोग और भी डिफॉल्ट करेंगे पहले बैंक का पैसा नहीं देंगे फिर बैंक कम में बेचेगा और फिर वहां से खरीद लेंगे जो गलत है

aise isliye bola ja raha hai ki pehle toh defaulters pramotaron hai unhone bank ke loan mein default kiya yani ki bank ka paisa jo har time se wapas nahi kiya hai ab uske baad jab vaah is present bik rahe hain yani ki jab bank majboor ho jata hai ki jo BSF hain agar uske khilaf koi koletaral hai ya agar vaah koi company bhejni padti hai toh usko bank bech raha hai toh vaah jo bikti hai vaah kam paise par bikti hai toh ab yah toh simple voter hai jinmein bank ka default kiya ab vaah unko kam paise pehle nikala option kar rahi hai aane ki jab puri lag rahi hai uski vaah bhi boli laga rahe hain niji FM company ko vaah kam paise mein kharid le rahe kya usme jo bhi aise aise unko kam paise mein kharid le rahe hain toh yah apne aap mein ek fraud hai ki agar aisa hoga toh bahut saare log aur bhi default karenge pehle bank ka paisa nahi denge phir bank kam mein bechega aur phir wahan se kharid lenge jo galat hai

ऐसे इसलिए बोला जा रहा है कि पहले तो डिफॉल्टर्स प्रमोटरों है उन्होंने बैंक के लोन में डिफॉल

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  135
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!