भारत के बारे में बताइए?...


play
user

jagdeep

academy teacher

6:54

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसने भारत के बारे में बताइए तुम आपको भारत की थोड़ी सी हिस्ट्री थोड़ी सी क्वालिटी थोड़ी सी जगह थी और थोड़ी सी संस्कृति आपको बताता हूं सबसे पहले हम बात करते हैं कि भारत बनाकर से भारतीय मूल के आधार पर जो भारतवर्ष का निर्माण हेतु भारत है उत्तर भारत और दक्षिण भारत पहले उत्तर भारत दक्षिण भारत नहीं था तो यूरेशियन प्लेट है और यह गोंडवाना लैंड इन दोनों के टूटने से प्रायद्वीपीय भारत आकर्षण मिला और जहां पर हिमालय है वहां पर 133 सागर था तो प्लेटों के हिलने धुलने से आपस में टकराने की वजह से इस गुफा का निर्माण हुआ कैनोज एक ताल खंड में इसमें नदी नालों का निर्माण हुआ पर्वतों का निर्माण हुआ और हिमालय के निर्माण से पहले इस पूरे एरिया में बर्फ ही बर्फ जमती थी जिसे हम जोगिया हिम युग के नाम से जानते हैं हिमालय के निर्माण से क्या हुआ हिमालय की ऊंचाई की वजह से साइबेरिया से आने वाले ठंडी हवाएं हिमालय से टकराकर वहीं पर हूं और यहां पर जो जमी हुई बर्फ थी वह सूर्य की गर्मी से धीरे-धीरे पिघलने लगी उस बर्फ के पिघलने से नदी नालों खाड़ी तालाबों झीलों का निर्माण हुआ और उनमें थोड़ी थोड़ी सी जीव आने लगे तो जीव कहां से आए मध्य एशिया में सबसे पहले आदिमानव होमो इरेक्टस के रूप में रहता था वहां पर आए और निरंतर बसते चलेंगे जो भारत का नामकरण है इसे हिंदुस्तान इंडिया या भारत क्यों कहते हैं ऋग्वेद के अनुसार भारत पर शासन करने वाले महर्षि मनु के अनुसार भारत पर राज करने वाला भारत का पहला वन जो था उसका शासक था भारत और भारत के वंशज होने की वजह से सिर्फ भारत का हक है फिर हम बात करते हैं जब आर्य भारत में आए हरता हरता रिग वैदिक काल के समय यूरोप और मध्य एशिया से आर्य आर्य वे लोग थे जो मूर्ति पूजा में यकीन ना कर पशुपालन का कार्य करते थे उन लोगों ने सिंधु नदी को हिंदू कहा और हिंदू को हिंदू कहने की वजह से यह हिंदुस्तान हिंदुस्तान बना तो हारे इंडिया को हिंदुस्तान नाम किसने दिया है यूनानी यों के द्वारा उर्दू यूनानी आए यूनानी यों ने सिंधु नदी को इंडस का सिंधु नदी का सबसे पुराना और वास्तविक नाम इन द सुनाने आए रोमन यूनानी यों ने इसे इंडस कहां इंडस्ट्रीज इंडिया बना जुआरियों ने सिंधु को हिंदू कहां और यह हिंदुस्तान वालों को यह तो है इसके नाम का है इसका सामाजिक का हम बात करते हैं कि वह जो भारत है यह सबसे पहले हम बात करेंगे अंकल से शासन चलता है और जब गुलामी की बात करते हैं हम दूसरे दूसरे शासकों के द्वारा शासन की बात करते हैं तो सबसे पहले पुर्तगाली आए पुत्र उनसे पहले आप तो 12 ईसवी में अरब के मुसलमानों के द्वारा अब हम बात करेंगे जो अभी से उनके द्वारा आक्रमण किया गया और राजा दाहिर को हराकर जहां पर 70 काम की है और निरंतर ऐसे हिंदू मुस्लिम सिख ईसाई सब चलता रहा और 15 अगस्त 1947 को भारत के दो अलग-अलग खंडों के रूप में दो अलग राज्य के रूप में भारत और पाकिस्तान के रूप में इसका निर्माण हुआ वहां से हमारे संविधान सभा का निर्माण और स्नेक संविधान को बनाया संविधान के अनुसार भारत राज्यों का संघ है अतः सभी राज्यों को मिलाकर इसे बनाया गया है संजय का मतलब होता है कि जो राज्य हैं वह अपनी मर्जी से अलग नहीं हो सकते हैं उनको इकट्ठा रहना होगा दूसरी बात हम बात करते हैं जो शासन हैं वह इस विधान के द्वारा किया जाएगा जो प्रक्रिया होगी वह चुनाव की होगी तथा एक लोकतांत्रिक गणराज्य का निर्माण भारत का हुआ भारतीय संविधान ने इसे लोकतांत्रिक गणराज्य दिया और एक राष्ट्रपति दिया वैसे जल में बात करूं जो भारत की उत्तर से दक्षिण लंबाई है वह 3214 किलोमीटर है जो पश्चिम से पूर्व है वह 2933 किलोमीटर है भारत की दुआ करती है वह विषमबाहु षट्भुज है टेडी मेडी है भुजाएं जब हम भारत की बात करते हैं तो हम बात करते हैं भारत का मानक समय क्या है भारत का मानक समय 5:30 या 5:30 घंटे मुख्य देशांतर रेखा से 5:30 स्थान पर आ गए या पढ़े-लिखे भारत के पश्चिम से पूर्व के बीच में 2 घंटे का समय अंतराल है उत्तर से दक्षिण की लंबाई और 3214 हैं पश्चिम से पूर्व जो लंबाई है वह 30 किलोमीटर है भारत से गुजरने वाली समय रेखा है वह इलाहाबाद के नैनी से गुजरती है भारत की जो कुल सीमा है वह 22700 किलोमीटर बात करूंगा 15200 किलोमीटर यह तो है चलिए भूमि कैसी है भारत की स्थलीय सीमा जो पाकिस्तान अफगानिस्तान नेपाल की दया मार के साथ लगते हैं बांग्लादेश के साथ लगते हैं चलिए सिमाद्रियसीमा यात्रा टीएसपी माता आरती भारत का समुंदर से लिखने लगने वाला जिसकी कुल लंबाई 617 किलोमीटर है दोनों को मिलाने से 15275 सौ 17 पॉइंट 6 को मिलाने से यह 22717 पॉइंट 6 किलोमीटर भारत की कुल सीमा और अन्य सीमा सीमा सीमा 17 राज्यों के साथ और जलीय सीमा 9 राज्यों के साथ सीमा साझा करते हैं ऐसे तो बहुत ज्यादा अगर मैं बात करूंगा तो मैं आपको 3 घंटे घंटे में बता सकता हूं कि इंडियन के बारे में कहते हैं 3 घंटे 1 दिन 2 दिन 3 दिन तो अभी इतना काफी है

kisne bharat ke bare me bataiye tum aapko bharat ki thodi si history thodi si quality thodi si jagah thi aur thodi si sanskriti aapko batata hoon sabse pehle hum baat karte hain ki bharat banakar se bharatiya mul ke aadhar par jo bharatvarsh ka nirmaan hetu bharat hai uttar bharat aur dakshin bharat pehle uttar bharat dakshin bharat nahi tha toh yureshiyan plate hai aur yah gondwana land in dono ke tutne se prayadvipiye bharat aakarshan mila aur jaha par himalaya hai wahan par 133 sagar tha toh pleton ke hilne dhulne se aapas me takrane ki wajah se is gufa ka nirmaan hua canoes ek taal khand me isme nadi naalon ka nirmaan hua parwaton ka nirmaan hua aur himalaya ke nirmaan se pehle is poore area me barf hi barf jamti thi jise hum jogiya him yug ke naam se jante hain himalaya ke nirmaan se kya hua himalaya ki unchai ki wajah se saiberiya se aane waale thandi hawaye himalaya se takraakar wahi par hoon aur yahan par jo jami hui barf thi vaah surya ki garmi se dhire dhire pighalane lagi us barf ke pighalane se nadi naalon khadi talabon jhilon ka nirmaan hua aur unmen thodi thodi si jeev aane lage toh jeev kaha se aaye madhya asia me sabse pehle adimanav homo irektas ke roop me rehta tha wahan par aaye aur nirantar baste chalenge jo bharat ka namakaran hai ise Hindustan india ya bharat kyon kehte hain rigved ke anusaar bharat par shasan karne waale maharshi manu ke anusaar bharat par raj karne vala bharat ka pehla van jo tha uska shasak tha bharat aur bharat ke vanshaj hone ki wajah se sirf bharat ka haq hai phir hum baat karte hain jab arya bharat me aaye harata harata rig vaidik kaal ke samay europe aur madhya asia se arya arya ve log the jo murti puja me yakin na kar pashupalan ka karya karte the un logo ne sindhu nadi ko hindu kaha aur hindu ko hindu kehne ki wajah se yah Hindustan Hindustan bana toh hare india ko Hindustan naam kisne diya hai unani yo ke dwara urdu unani aaye unani yo ne sindhu nadi ko indus ka sindhu nadi ka sabse purana aur vastavik naam in the sunaane aaye roman unani yo ne ise indus kaha industries india bana juaariyon ne sindhu ko hindu kaha aur yah Hindustan walon ko yah toh hai iske naam ka hai iska samajik ka hum baat karte hain ki vaah jo bharat hai yah sabse pehle hum baat karenge uncle se shasan chalta hai aur jab gulaami ki baat karte hain hum dusre dusre shaasakon ke dwara shasan ki baat karte hain toh sabse pehle purtgali aaye putra unse pehle aap toh 12 isvi me arab ke musalmanon ke dwara ab hum baat karenge jo abhi se unke dwara aakraman kiya gaya aur raja dahir ko harakar jaha par 70 kaam ki hai aur nirantar aise hindu muslim sikh isai sab chalta raha aur 15 august 1947 ko bharat ke do alag alag khando ke roop me do alag rajya ke roop me bharat aur pakistan ke roop me iska nirmaan hua wahan se hamare samvidhan sabha ka nirmaan aur snake samvidhan ko banaya samvidhan ke anusaar bharat rajyo ka sangh hai atah sabhi rajyo ko milakar ise banaya gaya hai sanjay ka matlab hota hai ki jo rajya hain vaah apni marji se alag nahi ho sakte hain unko ikattha rehna hoga dusri baat hum baat karte hain jo shasan hain vaah is vidhan ke dwara kiya jaega jo prakriya hogi vaah chunav ki hogi tatha ek loktantrik ganrajya ka nirmaan bharat ka hua bharatiya samvidhan ne ise loktantrik ganrajya diya aur ek rashtrapati diya waise jal me baat karu jo bharat ki uttar se dakshin lambai hai vaah 3214 kilometre hai jo paschim se purv hai vaah 2933 kilometre hai bharat ki dua karti hai vaah vishamabahu shatbhuj hai teddy medi hai bhujaen jab hum bharat ki baat karte hain toh hum baat karte hain bharat ka maanak samay kya hai bharat ka maanak samay 5 30 ya 5 30 ghante mukhya deshantar rekha se 5 30 sthan par aa gaye ya padhe likhe bharat ke paschim se purv ke beech me 2 ghante ka samay antaral hai uttar se dakshin ki lambai aur 3214 hain paschim se purv jo lambai hai vaah 30 kilometre hai bharat se guzarne wali samay rekha hai vaah allahabad ke Nanny se gujarati hai bharat ki jo kul seema hai vaah 22700 kilometre baat karunga 15200 kilometre yah toh hai chaliye bhoomi kaisi hai bharat ki sthaliya seema jo pakistan afghanistan nepal ki daya maar ke saath lagte hain bangladesh ke saath lagte hain chaliye simadriyasima yatra TSP mata aarti bharat ka samundar se likhne lagne vala jiski kul lambai 617 kilometre hai dono ko milaane se 15275 sau 17 point 6 ko milaane se yah 22717 point 6 kilometre bharat ki kul seema aur anya seema seema seema 17 rajyo ke saath aur jallian seema 9 rajyo ke saath seema sajha karte hain aise toh bahut zyada agar main baat karunga toh main aapko 3 ghante ghante me bata sakta hoon ki indian ke bare me kehte hain 3 ghante 1 din 2 din 3 din toh abhi itna kaafi hai

किसने भारत के बारे में बताइए तुम आपको भारत की थोड़ी सी हिस्ट्री थोड़ी सी क्वालिटी थोड़ी स

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  69
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!