प्रार्थना करने के लिए क्या करें?...


user

Isu Vasava

PASTOR in CHURCH.

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रार्थना करने के लिए अपने बाइबल के हिसाब से अपने रूम में जाए जहां पर आपको डिस्टर्ब करने वाला कोई ना हो और आप अपने घुटने पर आकर गिरे और परमेश्वर पिता को प्रभु यीशु के नाम से प्रार्थना करें और जो भी प्रभु यीशु ख्रीस्त के नाम से आप मांगोगे परमेश्वर पिता के पास तो आपको जरूर मिलेगा

prarthna karne ke liye apne bible ke hisab se apne room me jaaye jaha par aapko disturb karne vala koi na ho aur aap apne ghutne par aakar gire aur parmeshwar pita ko prabhu yeshu ke naam se prarthna kare aur jo bhi prabhu yeshu khrist ke naam se aap mangoge parmeshwar pita ke paas toh aapko zaroor milega

प्रार्थना करने के लिए अपने बाइबल के हिसाब से अपने रूम में जाए जहां पर आपको डिस्टर्ब करने व

Romanized Version
Likes  233  Dislikes    views  1982
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Abhishek Pratap Singh

Author, Thinker, Life Adviser

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि प्रार्थना करने के लिए क्या करें तो दुनिया में कई धर्म है समाज है लोग हैं तो सबकी अलग-अलग पूजा पद्धति है प्रार्थना पद्धति लेकिन अगर आप कुछ प्रार्थना करना चाहते हैं तो बस अपनी आंखें बंद करिए और अपने ईश्वर का ध्यान करिए कहीं पर भी अगर आप बैठकर करना चाहते हैं कुछ ज्यादा श्रेष्ठ पर होगा आपकी कमर जो आपकी रीड की हड्डी है वह जब सीधी होगी तो आपके रक्त का प्रभाव और आपकी जॉब आयु प्रभा है स्वसन क्रिया है बहुत अच्छी होगी उस वक्त आप जो सोचते हैं प्रार्थना करते हैं तो सीधे आपके मन को इस वातावरण से जोड़ता है तो उनको एक सकारात्मक ऊर्जा जनरेट करता है तो प्रार्थना करने के लिए उचित तरीका यही है कि आप सीधे बैठ कर अपने हाथों को जोड़ लें और अपने से के पास लगाएं जो हिंदू पूजा पद्धति में किया जाता है बाकी आप दूसरी पूजा पद्धति भी अपना सकते हैं अलग-अलग धर्म की अपनी-अपनी पूजा पद्धतियां है सभी सही और सही भी उचित है प्रार्थना कभी भी गलत नहीं हो सकती है प्रार्थना आप कहीं भी किसी से भी कर सकते हैं बस आंख का उद्देश्य सही होना चाहिए सही उद्देश्य के लिए प्राप्त की गई प्रार्थना सदैव पलकारी होती है सदैव सकारात्मक ऊर्जा रहती है तो कभी भी प्रार्थना सकारात्मक उर्जा के लिए करें कुछ रिजल्ट पाने के लिए कुछ परिणाम पाने के लिए ना करें

aapka sawaal hai ki prarthna karne ke liye kya kare toh duniya me kai dharm hai samaj hai log hain toh sabki alag alag puja paddhatee hai prarthna paddhatee lekin agar aap kuch prarthna karna chahte hain toh bus apni aankhen band kariye aur apne ishwar ka dhyan kariye kahin par bhi agar aap baithkar karna chahte hain kuch zyada shreshtha par hoga aapki kamar jo aapki read ki haddi hai vaah jab seedhi hogi toh aapke rakt ka prabhav aur aapki job aayu prabha hai svasan kriya hai bahut achi hogi us waqt aap jo sochte hain prarthna karte hain toh sidhe aapke man ko is vatavaran se Jodta hai toh unko ek sakaratmak urja generate karta hai toh prarthna karne ke liye uchit tarika yahi hai ki aap sidhe baith kar apne hathon ko jod le aur apne se ke paas lagaye jo hindu puja paddhatee me kiya jata hai baki aap dusri puja paddhatee bhi apna sakte hain alag alag dharm ki apni apni puja paddhatiyan hai sabhi sahi aur sahi bhi uchit hai prarthna kabhi bhi galat nahi ho sakti hai prarthna aap kahin bhi kisi se bhi kar sakte hain bus aankh ka uddeshya sahi hona chahiye sahi uddeshya ke liye prapt ki gayi prarthna sadaiv palkari hoti hai sadaiv sakaratmak urja rehti hai toh kabhi bhi prarthna sakaratmak urja ke liye kare kuch result paane ke liye kuch parinam paane ke liye na kare

आपका सवाल है कि प्रार्थना करने के लिए क्या करें तो दुनिया में कई धर्म है समाज है लोग हैं त

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  828
WhatsApp_icon
user

Vimla Bidawatka

Spiritual Thinker

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है की प्रार्थना करने के लिए क्या करें तो प्रार्थना करने के लिए सबसे पहले हमारी इच्छा शक्ति होनी चाहिए और मन शुद्ध होना चाहिए कि अच्छा मतलब क्या कर रहा है प्रार्थना के भगवान से किसी के लिए भी लेकिन भगवान से शुगर से या परमात्मा से या कोई भी एक निराकार 361 से बात करना उसके शुकराने करना वह प्रार्थना है उसने जो हमको दिया है जैसे हमको यह चारों तरफ के नीचे दिया है बहुत कुछ हमको मिला है भगवान की तरफ से उसके शुकराना करना ही प्रार्थना है उससे यह करना कि अगर हमें दो तो ऐसी शक्ति दो इमानदारी दो हमारे कष्ट दूर करो हमें भूख बुक पावर दो कि हम कुछ गलत काम ना करें इसको प्रार्थना बोलते तो सबसे पहले तो हमारी इच्छा शक्ति होनी चाहिए मन था मन साफ होना चाहिए छल कपट ने छल कपट से भगवान नहीं मिलते हैं जैसे बोलते चतुराई से चतुर्भुज नहीं मिलते छल कपट से नहीं तो मन साफ होकर फिर अब प्राप्त कहां पर कर सकते हैं जरूरी नहीं है उसके लिए कोई मंदिर मस्जिद चर्च जाएं घर में भी बैठ कर 5 मिनट आंख बंद करके मतलब वह फील करें कि वह जो भी भगवान की है या जो भी किसी निराकार की है वह हमारे सामने हैं और हम किस तरह से जैसे एक बच्चा है वह अपनी मां से कैसे बोलता है कि मम्मी मुझे यह चाहिए उसी तरह से भगवान से कि मुझे शक्ति दो वह अपनी भक्ति दो बात करनी है आपकी फ्रेंड करें कि वह सामने है आप कैसे बात करेंगे थैंक यू

aapka prashna hai ki prarthna karne ke liye kya kare toh prarthna karne ke liye sabse pehle hamari iccha shakti honi chahiye aur man shudh hona chahiye ki accha matlab kya kar raha hai prarthna ke bhagwan se kisi ke liye bhi lekin bhagwan se sugar se ya paramatma se ya koi bhi ek nirakaar 361 se baat karna uske shukrane karna vaah prarthna hai usne jo hamko diya hai jaise hamko yah charo taraf ke niche diya hai bahut kuch hamko mila hai bhagwan ki taraf se uske shukrana karna hi prarthna hai usse yah karna ki agar hamein do toh aisi shakti do imaandari do hamare kasht dur karo hamein bhukh book power do ki hum kuch galat kaam na kare isko prarthna bolte toh sabse pehle toh hamari iccha shakti honi chahiye man tha man saaf hona chahiye chhal kapat ne chhal kapat se bhagwan nahi milte hain jaise bolte chaturaai se chaturbhuj nahi milte chhal kapat se nahi toh man saaf hokar phir ab prapt kaha par kar sakte hain zaroori nahi hai uske liye koi mandir masjid church jayen ghar me bhi baith kar 5 minute aankh band karke matlab vaah feel kare ki vaah jo bhi bhagwan ki hai ya jo bhi kisi nirakaar ki hai vaah hamare saamne hain aur hum kis tarah se jaise ek baccha hai vaah apni maa se kaise bolta hai ki mummy mujhe yah chahiye usi tarah se bhagwan se ki mujhe shakti do vaah apni bhakti do baat karni hai aapki friend kare ki vaah saamne hai aap kaise baat karenge thank you

आपका प्रश्न है की प्रार्थना करने के लिए क्या करें तो प्रार्थना करने के लिए सबसे पहले हमारी

Romanized Version
Likes  167  Dislikes    views  2600
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रार्थना करने के लिए ऊपर हाथ जांघों पर हाथ से दुआ और प्रार्थना करें अपने आप संपर्क करें मनाए सारा दुख दर्द सुनाएं हॉलीवुड पिक्चर हर परेशानी अपने बच्चे और आगे भी काम और से चलती रहोगी

prarthna karne ke liye upar hath janghon par hath se dua aur prarthna kare apne aap sampark kare manaye saara dukh dard sunaen hollywood picture har pareshani apne bacche aur aage bhi kaam aur se chalti rahogi

प्रार्थना करने के लिए ऊपर हाथ जांघों पर हाथ से दुआ और प्रार्थना करें अपने आप संपर्क करें म

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  156
WhatsApp_icon
user

UP13🇮🇳GOURAV SHINGHANIYA

#Sexologist#DOCTOR.#®A 2.z Sex Piroblum Ke Liye Follow Me Sex Piroblum Kesi Bhi Ho.

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रार्थना करने के लिए क्या करें प्रार्थना एक सुमंगल निकालिए शुभ मंगलमय कार्य है और किसी भी कार्य को करने से पहले आपका पवित्र होना बहुत अहम और जरूरी होता है पवित्र होकर किसी भी अच्छे काम को अंजाम ना दे यह प्रार्थना करने के लिए जा रहे हैं आपको सबसे पहले अपनी पवित्रता नहान दोन कपड़े आफताब हो ना उसके बाद में रात में कपड़े साफ सुथरे होनी चाहिए नाराज हो गए हुए होनी चाहिए धन्यवाद

prarthna karne ke liye kya kare prarthna ek sumangal nikaliye shubha mangalmay karya hai aur kisi bhi karya ko karne se pehle aapka pavitra hona bahut aham aur zaroori hota hai pavitra hokar kisi bhi acche kaam ko anjaam na de yah prarthna karne ke liye ja rahe hain aapko sabse pehle apni pavitrata nahan don kapde aaftab ho na uske baad me raat me kapde saaf suthre honi chahiye naaraj ho gaye hue honi chahiye dhanyavad

प्रार्थना करने के लिए क्या करें प्रार्थना एक सुमंगल निकालिए शुभ मंगलमय कार्य है और किसी भी

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  340
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बात ना करने के लिए सबसे पहले जिस प्रभु या किसकी स्तुति कर रहे हैं उसको अपने शरीर में धारण करें फिर प्रार्थना शुरुआत करें प्रार्थना करने से हमारे शरीर की जितनी भी ज्ञानेंद्रियां हैं साफ-सुथरी होगी और ताजा फुर्तीला शरीर प्राप्त होता है

baat na karne ke liye sabse pehle jis prabhu ya kiski stuti kar rahe hain usko apne sharir me dharan kare phir prarthna shuruat kare prarthna karne se hamare sharir ki jitni bhi gyanendriyan hain saaf suthri hogi aur taaza furtila sharir prapt hota hai

बात ना करने के लिए सबसे पहले जिस प्रभु या किसकी स्तुति कर रहे हैं उसको अपने शरीर में धार

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  131
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!