क्या बवासीर में भिंडी खा सकते है?...


user
0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बवासीर में अरंडी नहीं खा सकते क्योंकि बवासीर में तली हुई चीजें आपको नुकसान करती है तली हुई चीजों के कारण कब्ज होती है और भिंडी हमेशा तेल में तली हुई खानी पड़ती है इसलिए इसे कब ज्यादा होती है इसलिए आप भिंडी ना खाएं यह नुकसान है प्लीज चीजें बिल्कुल बंद कर दें एक और सुबह पेट खाली करते वक्त लेट्रिन जाने के बाद में सपने गोगुंदा जो शरीर होता है वह उसको आधे घंटे तक अंदर और बाहर अंदर बाहर जैसे पशु गोबर करता है गोबर करने के बाद अपने शरीर को अंदर और बाहर करता है वैसे ही अंदर और बाहर की प्रैक्टिस करें बवासीर से छुटकारा मिल जाएगा

bawasir me arandee nahi kha sakte kyonki bawasir me tali hui cheezen aapko nuksan karti hai tali hui chijon ke karan kabz hoti hai aur bhindi hamesha tel me tali hui khaani padti hai isliye ise kab zyada hoti hai isliye aap bhindi na khayen yah nuksan hai please cheezen bilkul band kar de ek aur subah pet khaali karte waqt latrine jaane ke baad me sapne gogunda jo sharir hota hai vaah usko aadhe ghante tak andar aur bahar andar bahar jaise pashu gobar karta hai gobar karne ke baad apne sharir ko andar aur bahar karta hai waise hi andar aur bahar ki practice kare bawasir se chhutkara mil jaega

बवासीर में अरंडी नहीं खा सकते क्योंकि बवासीर में तली हुई चीजें आपको नुकसान करती है तली हुई

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बवासीर जो है वह कवच का रूप कब बहुत पुराना हो जाता है तो एनएस के चारों ओर की स्किन बहुत पतली हो जाती है जिसमें उस में से खून निकलना शुरू हो जाता है तो भिंडी जो है एक वह रेशेदार और लेस दार खाद्य पदार्थ है जो की कब्ज को दूर करता है इसलिए बवासीर में भिंडी खाने में कोई हर्ज नहीं है

bawasir jo hai vaah kavach ka roop kab bahut purana ho jata hai toh NS ke charo aur ki skin bahut patli ho jaati hai jisme us me se khoon nikalna shuru ho jata hai toh bhindi jo hai ek vaah reshedar aur less daar khadya padarth hai jo ki kabz ko dur karta hai isliye bawasir me bhindi khane me koi harz nahi hai

बवासीर जो है वह कवच का रूप कब बहुत पुराना हो जाता है तो एनएस के चारों ओर की स्किन बहुत पतल

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  409
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!