हर समय लोग झूठ क्यों बोलते है?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ब्लू पिक्चर यह जमाना है झूठ का गया यहां आज झूठा ही बिक रहा है कि बोला जा रहा है और झूठा ही खाया जा रहा है झूठ का जमाना आ गया बिना झुके आप जी नहीं सकते और तो और यह है आप देख के विज्ञापनों में चुटकुले जाती है व्यापार में किस तरह से लोगों को ठगा जा रहा है कि सब कुछ लुटा के दिखाते कुछ और हैं देसी कुछ और है कोई राजनीति में पा रहे हो एक साथ सभी का व्यक्ति हो खड़ा हो जाए इमानदारी पर चलने वाला सत्य बोलने वाला व्यक्ति यदि खड़ा हो जाए साहब छवि का व्यक्ति हो तो उसको 10 वोट नहीं मिलता है लेकिन झूठ बोलता है धोखेबाज फरेबी है जिसका करेक्टर सही नहीं रहा है तुरंत जीत जाता है और उसका दोस्त सच्चाई है यह बात की छोटे बच्चे छोटे बच्चे का साथ देता है एक नशेबाज 110 आवाज को मित्र बनाता है यह संसार का नियम है गंदे लोग गंदी बातों को ध्यान देते हैं एक इमानदार व्यक्ति ईमानदारी को चाहता है तो इस संसार ही कुछ ऐसा बनता जा रहा है और विशेष तौर से आप यह न कहें कि क्वालिफाइड ने वाली ₹5 में शरीक है कुछ लोग तो कागज की तितलियां भी हुए हैं वह पढ़े हैं लेकिन उन्हें नहीं इसलिए वह स्थान दे रहे हैं कुछ लोगों को यह कहते हैं यहां तक कि सफल बिजनेसमैन बनना है यदि जीवन में सफल होना है तो झूठ का सहारा तो लेना ही होगा जब आप सब खुलेआम इस बात को कह रहे हो इसका मतलब आप कितना झूठ बोलते हो संसार तुम कहोगे तो उसके लिए अपने सिद्धांतों सत्य वचन सत्य की राह कठिन जरूर है लेकिन हमेशा सफल होती है सत्यमेव जयते ना

blue picture yeh jamana hai jhuth ka gaya yahan aaj jhutha hi bik raha hai ki bola ja raha hai aur jhutha hi khaya ja raha hai jhuth ka jamana aa gaya bina jhuke aap ji nahi sakte aur toh aur yeh hai aap dekh ke vigyapanon mein chutkule jati hai vyapar mein kis tarah se logo ko thaga ja raha hai ki sab kuch loota ke dikhate kuch aur hain desi kuch aur hai koi rajneeti mein pa rahe ho ek saath sabhi ka vyakti ho khada ho jaye imaandari par chalne vala satya bolne vala vyakti yadi khada ho jaye saheb chhavi ka vyakti ho toh usko 10 vote nahi milta hai lekin jhuth bolta hai dhokhebaj farebi hai jiska Character sahi nahi raha hai turant jeet jata hai aur uska dost sacchai hai yeh baat ki chote bacche chote bacche ka saath deta hai ek nashebaj 110 awaaz ko mitra banata hai yeh sansar ka niyam hai gande log gandi baaton ko dhyan dete hain ek imaandaar vyakti imandari ko chahta hai toh is sansar hi kuch aisa baata ja raha hai aur vishesh taur se aap yeh na kahein ki qualified ne wali Rs mein sharik hai kuch log toh kagaz ki titliyan bhi hue hain wah padhe hain lekin unhein nahi isliye wah sthan de rahe hain kuch logo ko yeh kehte hain yahan tak ki safal bussinessmen banana hai yadi jeevan mein safal hona hai toh jhuth ka sahara toh lena hi hoga jab aap sab khuleaam is baat ko keh rahe ho iska matlab aap kitna jhuth bolte ho sansar tum kahoge toh uske liye apne siddhanto satya vachan satya ki raah kathin zaroor hai lekin hamesha safal hoti hai satyamev jayate na

ब्लू पिक्चर यह जमाना है झूठ का गया यहां आज झूठा ही बिक रहा है कि बोला जा रहा है और झूठा ही

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  385
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
harsamay ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!