भारत के प्रधानमंत्री का चुनाव कैसे होता है तथा किसके द्वारा होता है?...


user

Pragati

Aspiring Lawyer

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखित जब भी कोई पार्टी और लोकसभा में अपना बहुमत बनाती है तो उस पार्टी को यह हक मिल जाता है कि वह अपना प्रधानमंत्री कैंडिडेट सामने रखें और अगर उनकी लोकसभा में बहुमत बन चुकी है इसका मतलब अब अगर और उनकी बहुमत से वह चाहे तो अपने प्रधानमंत्री चुन सकते हैं तो दिखें प्रधानमंत्री का जो चुनाव है उसी प्रकार होता है कि लोकसभा में जिस भी पार्टी की बहुमत बनती है चाहे वह गठबंधन में हो या फिर अकेले अपनी पार्टी की बहुमत हो तो वह पार्टी आपने लोकसभा अपने आप प्रधानमंत्री का कैंडिडेट सामने रखती है और उन्हीं के कैंडिडेट को प्रधानमंत्री बनने का मौका मिलता है पवित्र हम कह सकते हैं कि प्रधानमंत्री का जो चुनाव होता है वह संसद भवन में लोकसभा और राज्यसभा के जितने भी एमएलए हैं ऐश्वर्या एमपी से वह लोग करते हैं

likhit jab bhi koi party aur lok sabha mein apna bahumat banati hai toh us party ko yah haq mil jata hai ki vaah apna pradhanmantri candidate saamne rakhen aur agar unki lok sabha mein bahumat ban chuki hai iska matlab ab agar aur unki bahumat se vaah chahen toh apne pradhanmantri chun sakte hain toh dikhein pradhanmantri ka jo chunav hai usi prakar hota hai ki lok sabha mein jis bhi party ki bahumat banti hai chahen vaah gathbandhan mein ho ya phir akele apni party ki bahumat ho toh vaah party aapne lok sabha apne aap pradhanmantri ka candidate saamne rakhti hai aur unhi ke candidate ko pradhanmantri banne ka mauka milta hai pavitra hum keh sakte hain ki pradhanmantri ka jo chunav hota hai vaah sansad bhawan mein lok sabha aur rajya sabha ke jitne bhi mla hain aishwarya mp se vaah log karte hain

लिखित जब भी कोई पार्टी और लोकसभा में अपना बहुमत बनाती है तो उस पार्टी को यह हक मिल जाता है

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  279
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:58

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निखिल रूल तो यह है कि भारत का प्रधानमंत्री का चुनाव जो सांसद होते हैं जो कि जो जीतेगा पार्टी के सांसद होते हैं वह करते हैं लेकिन अब ऐसा रहा नहीं है यह बी सी के सारे रूल है कि ना पैसा रहा तो चुनाव होने से पहले ही तो पार्टी है वह अपना कैंडिडेट डिक्लेयर कर देती है कि अगर हमारी पार्टी में सोरठी में आती है यानी कि हमारी पार्टी जीती है तो हमारी जो प्रधानमंत्रियों को ही होंगे जैसे कि आपको पता है कि अगर किसी हालत में BJP जीती है तो बिना किसी चुनाव प्रक्रिया के इंटरनल चुनाव प्रक्रिया के जो नरेंद्र मोदी है वही प्रधानमंत्री बनेंगे किसी हालत में अगर कांग्रेस जीत जाती है या फिर अंदर कोई पार्टी जोक्स उनका दल बना हुआ है महागठबंधन हो जाती है तो बिना किसी चुनाव प्रक्रिया के राहुल गांधी हैं वह प्रधानमंत्री बनेगा तरुण तो कुछ अलग है लेकिन अब ऐसा नहीं है अब क्योंकि स्टार्टिंग से ऐसा नहीं रहा है हमेशा चुनाव से पहले जरूर प्रधानमंत्री का डिटेल क्लियर कर दिया जाता है और जो पार्टी जीतने के बाद उसी को प्रधानमंत्री बना दिया जाता है

nikhil rule toh yah hai ki bharat ka pradhanmantri ka chunav jo saansad hote hain jo ki jo jitega party ke saansad hote hain vaah karte hain lekin ab aisa raha nahi hai yah be si ke saare rule hai ki na paisa raha toh chunav hone se pehle hi toh party hai vaah apna candidate declare kar deti hai ki agar hamari party mein sorthi mein aati hai yani ki hamari party jeeti hai toh hamari jo pradhanmantriyon ko hi honge jaise ki aapko pata hai ki agar kisi halat mein BJP jeeti hai toh bina kisi chunav prakriya ke internal chunav prakriya ke jo narendra modi hai wahi pradhanmantri banenge kisi halat mein agar congress jeet jaati hai ya phir andar koi party jokes unka dal bana hua hai mahagathbandhan ho jaati hai toh bina kisi chunav prakriya ke rahul gandhi hain vaah pradhanmantri banega tarun toh kuch alag hai lekin ab aisa nahi hai ab kyonki starting se aisa nahi raha hai hamesha chunav se pehle zaroor pradhanmantri ka detail clear kar diya jata hai aur jo party jitne ke baad usi ko pradhanmantri bana diya jata hai

निखिल रूल तो यह है कि भारत का प्रधानमंत्री का चुनाव जो सांसद होते हैं जो कि जो जीतेगा पार्

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  13
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
pradhan mantri ka chunav kaise hota hai ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!