दूध को शुद्ध करने की विधि को क्या कहते हैं?...


user

Sandeep Kumar

Physiotherapist

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दूध का शुद्धिकरण की तो मशीनें बनी हुई है मशीनों का नाम भी आपको पता लग जाएगा बट जो इंफॉर्मेशन मैं आपको बता रहा हूं शायद कब बहुत ही कम लोगों को पता होगी दूध एक किस्म का नहीं होता है दूध बहुत किस्म के होते हैं ठीक है गाय का दूध का अलग सिस्टम में भैंस के दूध का अलग सिस्टम में पानी कितनी प्रजाति हैं गाय की भोंसड़ी प्रजातियां हैं और उसमें से काफी प्रजातियां ऐसी हैं जिनका दूध पीने से आप बीमार भी हो सकते हो वह शुद्धिकरण में नहीं आता तो मेन मुद्दा यह है आप किस दूर की बात कर रहे हो मेन क्वेश्चन का आंसर तभी मैं आपको दूंगा आप गाय के भैंस की दूध की बात कर रहे हो जाएंगी कर रहे हो या फिर वह ब्लैक टी गए होगी देसी गाय होगी बहुत सारी गाय होती है फोन में वह सारी गाय हैं उनके नाम मुझे पता नहीं है हम मेरी डायरी में लिखे हुए नाम तो मैं नहीं है क्या गाय का नाम बताएं उसके रिकॉर्डिंग बता सकते हो ना मैं कि आपके कौन से दूध की छुट्टी करने के बारे में पूछना चाहते हो

doodh ka shuddhikaran ki toh mashinen bani hui hai machino ka naam bhi aapko pata lag jaega but jo information main aapko bata raha hoon shayad kab bahut hi kam logo ko pata hogi doodh ek kism ka nahi hota hai doodh bahut kism ke hote hain theek hai gaay ka doodh ka alag system me bhains ke doodh ka alag system me paani kitni prajati hain gaay ki bhonsadi prajatiya hain aur usme se kaafi prajatiya aisi hain jinka doodh peene se aap bimar bhi ho sakte ho vaah shuddhikaran me nahi aata toh main mudda yah hai aap kis dur ki baat kar rahe ho main question ka answer tabhi main aapko dunga aap gaay ke bhains ki doodh ki baat kar rahe ho jayegi kar rahe ho ya phir vaah black T gaye hogi desi gaay hogi bahut saari gaay hoti hai phone me vaah saari gaay hain unke naam mujhe pata nahi hai hum meri diary me likhe hue naam toh main nahi hai kya gaay ka naam bataye uske recording bata sakte ho na main ki aapke kaun se doodh ki chhutti karne ke bare me poochna chahte ho

दूध का शुद्धिकरण की तो मशीनें बनी हुई है मशीनों का नाम भी आपको पता लग जाएगा बट जो इंफॉर्मे

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  341
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Rosy

Beauty and Health Expert | Motivational Speaker

2:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है दूध घोषित करने की विधि को क्या कहते हैं आप सब को मेरा नमस्कार देखिए दूर जो होता है वह बहुत तरह का होता है और डेरी एनिमल समय मिलता है और इनमें गाय का दूध हो सकता है भैंस का दूध चिपका दूध गोट का दूध और कैमल का दूध वगैरा वगैरा तो इसमें क्या किया जाता है कि जब दूध इकट्ठा कर लिया जाता है तो यह सारा दूध जो है इसकी पाश्चराइजेशन की जाती है तू पाश्चराइजेशन ही एक ऐसा प्रोसेस है जिससे दूध को शुद्ध किया जाता है मतलब कि दूध को ही करके एक टेंपरेचर तक और उसके बाद उसे फटाफट जो है लो टेंपरेचर पर कुल का किया जाता है तो जिससे दूध के 90% बैक्टीरिया खेलो जाते हैं और फिर भी 10 वर्ष में बैक्टीरिया रह जाते हैं जो नई खेल होते हैं और इसीलिए पाश्चराइजेशन के बाद दूध को पैकेट में बंद करके मार्केट में बेचने के लिए भेज दिया जाता है और इसको पैकेट खोलने के बाद जल्दी कंज्यूम कर लेना चाहिए तो दूध के शुद्धीकरण का हमारे पास और कोई जरिया नहीं है सिर्फ पाश्चराइजेशन से ही हम मैक्सिमम जो बैक्टीरिया है दूध के खेल कर सकते हैं और जब हम दूध वाले से दूध लेते हैं तो हमें नहीं पता कि उसमें किस तरह का पानी डालना है क्या डाला है या और कुछ चीजें डाली है कि नहीं डाली है तो यह फर्स्ट सेशन तभी की जाती है एक चीज और है कि सबसे पहले दूध के ऊपर एक और टेस्ट कनेक्ट किया जाता है जिसे कहते हैं मिथाईलीन ब्लू सिलेक्शन टेस्ट यह टेक्स्ट उसे दूध के ऊपर किया जाता है जिसको भी फास्ट राइस करना है यह आप याद रखिए तो दूध की कन्फर्मेशन जो है और कोई मेथड नहीं है सिर्फ यही मेथड है जिससे कि हाइजीनिकली दूध जो है घरों तक पहुंचाया जाता है और दूध को काफी समय तक सो भी कर सकते हैं आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद

aapka prashna hai doodh ghoshit karne ki vidhi ko kya kehte hain aap sab ko mera namaskar dekhiye dur jo hota hai vaah bahut tarah ka hota hai aur dairy animal samay milta hai aur inmein gaay ka doodh ho sakta hai bhains ka doodh chipaka doodh goat ka doodh aur Camel ka doodh vagera vagera toh isme kya kiya jata hai ki jab doodh ikattha kar liya jata hai toh yah saara doodh jo hai iski pashcharaijeshan ki jaati hai tu pashcharaijeshan hi ek aisa process hai jisse doodh ko shudh kiya jata hai matlab ki doodh ko hi karke ek temperature tak aur uske baad use phataphat jo hai lo temperature par kul ka kiya jata hai toh jisse doodh ke 90 bacteria khelo jaate hain aur phir bhi 10 varsh me bacteria reh jaate hain jo nayi khel hote hain aur isliye pashcharaijeshan ke baad doodh ko packet me band karke market me bechne ke liye bhej diya jata hai aur isko packet kholne ke baad jaldi consume kar lena chahiye toh doodh ke shudhikaran ka hamare paas aur koi zariya nahi hai sirf pashcharaijeshan se hi hum maximum jo bacteria hai doodh ke khel kar sakte hain aur jab hum doodh waale se doodh lete hain toh hamein nahi pata ki usme kis tarah ka paani dalna hai kya dala hai ya aur kuch cheezen dali hai ki nahi dali hai toh yah first session tabhi ki jaati hai ek cheez aur hai ki sabse pehle doodh ke upar ek aur test connect kiya jata hai jise kehte hain mithailin blue selection test yah text use doodh ke upar kiya jata hai jisko bhi fast rice karna hai yah aap yaad rakhiye toh doodh ki conformation jo hai aur koi method nahi hai sirf yahi method hai jisse ki haijinikli doodh jo hai gharon tak pahunchaya jata hai aur doodh ko kaafi samay tak so bhi kar sakte hain aapka din shubha rahe dhanyavad

आपका प्रश्न है दूध घोषित करने की विधि को क्या कहते हैं आप सब को मेरा नमस्कार देखिए दूर जो

Romanized Version
Likes  116  Dislikes    views  1327
WhatsApp_icon
user

Gunjan

Junior Volunteer

0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ईखेदूत को जो शुद्ध करने का प्रोसेस होता है वह होता है फिल्ट्रेशन इसके अंदर में जो है मुल्क की प्रोसेसिंग की जाती है और मैकेनिकल फेडरेशन मेथड से ही उसको जो है अलग-अलग इंप्योरिटी से जो है अलग किया जाता है उसके अलावा जो है उसको लंबे समय तक रखने के लिए उसको पाश्चराइजेशन भी उस में किया जाता है

ikhedut ko jo shudh karne ka process hota hai vaah hota hai filteration iske andar mein jo hai mulk ki processing ki jaati hai aur mechanical federation method se hi usko jo hai alag alag impyoriti se jo hai alag kiya jata hai uske alava jo hai usko lambe samay tak rakhne ke liye usko pashcharaijeshan bhi us mein kiya jata hai

ईखेदूत को जो शुद्ध करने का प्रोसेस होता है वह होता है फिल्ट्रेशन इसके अंदर में जो है मुल्क

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  322
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
ईखेदूत ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!