2014 से पहले वृद्धा पेंशन कैसे मिलती थी?...


play
user

Manish Bhargava

Trainer/ Mentor in Delhi education deptt.

0:56

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका पति है 2014 से पहले वृद्धा पेंशन कैसे मिलती थी पेंशन सभी प्रकार की पूर्व से ही मिलती रही हैं पर पहले क्या होता था कैजन नगरी जो जनपद निकाय है या नबी जो भी स्थानीय निकाय हैं उनके खातों में पैसा भेजा जाता था और उनके द्वारा केस निकालकर उस धारा को दिया जाता था तो इसमें कई बार फ्रॉड की गुंजाइश रहती थी कई लोगों तक नहीं पहुंचता तो पैसा उनके साथ कोई और करता था और कोई छोटी जगह तक वेरीफाई करने नहीं जा रहा कि आप ने कितनों को दिया कितना को नहीं दिया कई प्रकार की समस्या होती थी कोई व्यक्ति नहीं है अब इस दुनिया में उसकी भी पेंशन उसके नाम से ही पेंशन ली जा रही है तो इसका कोई ज्यादा रोकने का प्रावधान नहीं था पागल पिछले कुछ वर्षों में जब सबकुछ ऑनलाइन हुआ है खुले हैं जबसे खातों में पेंशन भेजना पर कंपलसरी कर दिया गया है उसके बाद डायरेक्ट खाताधारकों के खाते में पहुंचती है

namaskar aapka pati hai 2014 se pehle vriddha pension kaise milti thi pension sabhi prakar ki purv se hi milti rahi hain par pehle kya hota tha kaijan nagari jo janpad nikaay hai ya nabi jo bhi sthaniye nikaay hain unke khaaton me paisa bheja jata tha aur unke dwara case nikalakar us dhara ko diya jata tha toh isme kai baar fraud ki gunjaiesh rehti thi kai logo tak nahi pahuchta toh paisa unke saath koi aur karta tha aur koi choti jagah tak verify karne nahi ja raha ki aap ne kitano ko diya kitna ko nahi diya kai prakar ki samasya hoti thi koi vyakti nahi hai ab is duniya me uski bhi pension uske naam se hi pension li ja rahi hai toh iska koi zyada rokne ka pravadhan nahi tha Pagal pichle kuch varshon me jab sabkuch online hua hai khule hain jabse khaaton me pension bhejna par compulsory kar diya gaya hai uske baad direct khatadharakon ke khate me pohchti hai

नमस्कार आपका पति है 2014 से पहले वृद्धा पेंशन कैसे मिलती थी पेंशन सभी प्रकार की पूर्व से ह

Romanized Version
Likes  159  Dislikes    views  3011
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!