देश में कभी राजनीति में परिवर्तन आएगा कि नहीं?...


user
1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो माय डियर फ्रेंड आपका क्वेश्चन है कि देश की राजनीति में कभी परिवर्तन आएगा नहीं आ सकता है यह राजनीतिक पार्टियों पर डिपेंड नहीं करता है वह पार्टियां जनता के ऊपर बहुत कुछ डिपेंड करता है जो सत्तारूढ़ पार्टियां अपोजिशन की पार्टियां हुए बेहतर जानते हैं कि भारतीय जनता को किस तरह से पढ़ाया जाता है किस तरीके से उनकी भावनाएं सीकर का रोल किया जाता है इसीलिए वह मस्जिद मंदिर का मामला करती है वह संप्रदाय बातों को उठाती हैं को यह देखते हैं कि किस तरफ हमारा वोट हमारा मानिक लाल साहब को देखा था दिल्ली चुनाव में बहुत अच्छी कैंपेनिंग हुई उनकी बहुत अच्छा कैंपेनिंग कि उन्होंने उन्होंने एक भी मस्जिद और मंदिर साइन बाग anti-national देश तो कोई मामला ही नहीं दिया उन्होंने यह तो हमें इंटरनेशनल ऊपर जाकर देखना है आप भूखे आदमी को राष्ट्र से क्या लेना होगा हुक्का सोचेगा यह तो बड़ी-बड़ी लाल किले पर खड़े होकर कहने की बात है कि ऐसा नहीं है वहां की जमीनी स्तर पर एक बूढ़ा आदमी को पहले खाना चाहिए फिर वह बाद में बाद में और राष्ट्र की नेशनल की सोचेगा इसलिए मैं केजरीवाल साहब की सोच देखता हूं कि वो शिक्षा सभा से पानी इन पर वोट लेते हैं और उनको दिल्ली की जनता ने भरपूर कामयाबी थी तो इसलिए हम कह सकते हैं देश की जनता देश की राजनीति बदल सकती है अगले चुनाव में जो पार्टी आती जोए संप्रदायिक तत्व मामलों को उठा उठा कर उठाती थी अब वह शांत बैठ गई और वह समझ गए कि दिल्ली में नहीं चलने वाला है नहीं है झारखंड में चला नहीं है तो वह समझ गया कि यह मामला नहीं चलने वाला देश के लिए कुछ अच्छा करना होगा अच्छी बातें करनी होंगी तभी हम आगे बढ़ेंगे

hello my dear friend aapka question hai ki desh ki raajneeti me kabhi parivartan aayega nahi aa sakta hai yah raajnitik partiyon par depend nahi karta hai vaah partyian janta ke upar bahut kuch depend karta hai jo sattarudh partyian opposition ki partyian hue behtar jante hain ki bharatiya janta ko kis tarah se padhaya jata hai kis tarike se unki bhaavnaye sikar ka roll kiya jata hai isliye vaah masjid mandir ka maamla karti hai vaah sampraday baaton ko uthaati hain ko yah dekhte hain ki kis taraf hamara vote hamara manik laal saheb ko dekha tha delhi chunav me bahut achi campaigning hui unki bahut accha campaigning ki unhone unhone ek bhi masjid aur mandir sign bagh anti national desh toh koi maamla hi nahi diya unhone yah toh hamein international upar jaakar dekhna hai aap bhukhe aadmi ko rashtra se kya lena hoga hukka sochega yah toh badi badi laal kile par khade hokar kehne ki baat hai ki aisa nahi hai wahan ki zameeni sthar par ek budha aadmi ko pehle khana chahiye phir vaah baad me baad me aur rashtra ki national ki sochega isliye main kejriwal saheb ki soch dekhta hoon ki vo shiksha sabha se paani in par vote lete hain aur unko delhi ki janta ne bharpur kamyabi thi toh isliye hum keh sakte hain desh ki janta desh ki raajneeti badal sakti hai agle chunav me jo party aati joy sampradaayik tatva mamlon ko utha utha kar uthaati thi ab vaah shaant baith gayi aur vaah samajh gaye ki delhi me nahi chalne vala hai nahi hai jharkhand me chala nahi hai toh vaah samajh gaya ki yah maamla nahi chalne vala desh ke liye kuch accha karna hoga achi batein karni hongi tabhi hum aage badhenge

हेलो माय डियर फ्रेंड आपका क्वेश्चन है कि देश की राजनीति में कभी परिवर्तन आएगा नहीं आ सकता

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  230
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजनीतिक परिवर्तन राजनीतिक विकास को केंद्र में रखकर राजनीतिक वामपंथी की कम्युनिस्ट पार्टी हो गई मंगल मंगल मंगल महिलाओं को ऐसा महिलाओं को जहाव कार्यस्थल पर जो कार्य कर रहे उनको उचित माहौल चाहिए उनके बच्चों के द्वारा

raajnitik parivartan raajnitik vikas ko kendra me rakhakar raajnitik vampanthi ki communist party ho gayi mangal mangal mangal mahilaon ko aisa mahilaon ko jahav karyasthal par jo karya kar rahe unko uchit maahaul chahiye unke baccho ke dwara

राजनीतिक परिवर्तन राजनीतिक विकास को केंद्र में रखकर राजनीतिक वामपंथी की कम्युनिस्ट पार्टी

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  355
WhatsApp_icon
play
user

Er Anand Yadav

Motivational speaker

1:33

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

परिवर्तन ही संसार का नियम है राजनीति में चढ़ाव उतार जीत हार आदान-प्रदान बयान चलते रहते राजनीति कभी एक समान एक समरूप एक व्यक्ति के लिए नहीं हो सकती उसकी परिस्थितियों में उसकी राजनीतिक परिस्थितियों व सामाजिक प्रदेश की बात करें तो देश की तिथियों परिस्थितियों लोगों के मनों स्थितियों से चलती है राजनीति आज कोई व्यक्ति चुनाव जीत जाता है कल वह हार जाता है और सोच से पहले वह जीता हुआ था बड़े बड़े योद्धा राजनीतिक योद्धा राष्ट्र आयोग क्या है यह तो परिवर्तन है आप देख तो परिवर्तन ही रहे किसी की एक नहीं चलती किसी की सब सीटें निकलती यही तो परिवर्तन परिवर्तन जरूर आता है आता रहेगा परिवर्तन जिंदगी में भी आता है राजनीति में भी आता है पर आना भी चाहिए

parivartan hi sansar ka niyam hai raajneeti me chadhav utar jeet haar aadaan pradan bayan chalte rehte raajneeti kabhi ek saman ek samroop ek vyakti ke liye nahi ho sakti uski paristhitiyon me uski raajnitik paristhitiyon va samajik pradesh ki baat kare toh desh ki tithiyon paristhitiyon logo ke manon sthitiyo se chalti hai raajneeti aaj koi vyakti chunav jeet jata hai kal vaah haar jata hai aur soch se pehle vaah jita hua tha bade bade yodha raajnitik yodha rashtra aayog kya hai yah toh parivartan hai aap dekh toh parivartan hi rahe kisi ki ek nahi chalti kisi ki sab seaten nikalti yahi toh parivartan parivartan zaroor aata hai aata rahega parivartan zindagi me bhi aata hai raajneeti me bhi aata hai par aana bhi chahiye

परिवर्तन ही संसार का नियम है राजनीति में चढ़ाव उतार जीत हार आदान-प्रदान बयान चलते रहते राज

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  113
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देश मैं राजनीति में परिवर्तन आएगा लेकिन कब आएगा जब हमारे भारत की जनता चाहेगी गरीब जनता चाहिए अगर गरीब जनता एकजुट हो जाएगी उस दिन राजनीति में बदलाव आ जाएगा कि मेरा मानना है गरीब असहाय लोग जब एक होते हैं तो हर मुकाम पहुंच निकाल लेते हैं और हम तो एक रहेंगे जय मजदूर जय भारत जय जवान जय किसान जब यह जय मजदूर अपनी बात पर अधिक हो जाएगा तो देश की राजनीति में बदलाव जरूर आ जाएगा

desh main raajneeti me parivartan aayega lekin kab aayega jab hamare bharat ki janta chahegi garib janta chahiye agar garib janta ekjut ho jayegi us din raajneeti me badlav aa jaega ki mera manana hai garib asahay log jab ek hote hain toh har mukam pohch nikaal lete hain aur hum toh ek rahenge jai majdur jai bharat jai jawaan jai kisan jab yah jai majdur apni baat par adhik ho jaega toh desh ki raajneeti me badlav zaroor aa jaega

देश मैं राजनीति में परिवर्तन आएगा लेकिन कब आएगा जब हमारे भारत की जनता चाहेगी गरीब जनता च

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  143
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!