क्या ऐसा सिर्फ़ मुझे लगता है या और भी लोग है जिन्हें प्रेरणा ना मिलने का डर होता है?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसके जीवन में हर व्यक्ति किसी न किसी से प्रेरणा लेता है तो प्रेरणा आप अपनी मां से लेंगे बाप से लेंगे गुरु से लेकर समाज के सुलगते लेंगे प्रेरणा तो आदमी क्या प्रेरणा लेता है फूलों से हंसना सीखो भैरों से हम जानना सूरज की किरणों से सीखे जगना और सबसे ज्यादा प्रेरणा आपको अध्यात्म से मिलती है अच्छी पुस्तकों से मिलती है बालकृष्ण भट्ट ने कहा बालकृष्ण भट्ट 110 से लेकर सभी जोन के लेकर पाद पाद में पाद तो सज्जन की बात बात में बात तो प्रेरणा तो आपको जीवन में आगे बढ़ने के लिए अपने जीवन में सुधार के लिए अपने व्यक्तित्व को प्रखर बनाने के लिए प्रणाम कह सकता है कैसे प्रेरणा पसंद करते हैं आप आपके जीवन में सकारात्मक था कि वह पसंद करते हैं कि जो अनुसार आत्मघाती को पसंद करते हैं अगर नकारात्मक किसी से प्रेरणा लेकर क्या आपने तो आपको जीवन बर्बाद हो जाएगा सबसे बड़ी प्रेरणा की बात आप साक्षरता को सीमित रखिए मन में आता संतोष रखी है 200 सुदेश भावना रखिए अपने लक्ष्य को पूरा कीजिए इस प्रेरणा शब्द है किंतु थोड़ा मेहनत दूर पक्का इरादा

kiske jeevan me har vyakti kisi na kisi se prerna leta hai toh prerna aap apni maa se lenge baap se lenge guru se lekar samaj ke sulagte lenge prerna toh aadmi kya prerna leta hai fulo se hansana sikho bhairo se hum janana suraj ki kirano se sikhe jagna aur sabse zyada prerna aapko adhyaatm se milti hai achi pustakon se milti hai balkrishna bhatt ne kaha balkrishna bhatt 110 se lekar sabhi zone ke lekar pad pad me pad toh sajjan ki baat baat me baat toh prerna toh aapko jeevan me aage badhne ke liye apne jeevan me sudhaar ke liye apne vyaktitva ko prakhar banane ke liye pranam keh sakta hai kaise prerna pasand karte hain aap aapke jeevan me sakaratmak tha ki vaah pasand karte hain ki jo anusaar aatmghaati ko pasand karte hain agar nakaratmak kisi se prerna lekar kya aapne toh aapko jeevan barbad ho jaega sabse badi prerna ki baat aap saksharta ko simit rakhiye man me aata santosh rakhi hai 200 sudesh bhavna rakhiye apne lakshya ko pura kijiye is prerna shabd hai kintu thoda mehnat dur pakka irada

किसके जीवन में हर व्यक्ति किसी न किसी से प्रेरणा लेता है तो प्रेरणा आप अपनी मां से लेंगे ब

Romanized Version
Likes  244  Dislikes    views  3054
KooApp_icon
WhatsApp_icon
27 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!