क्या मेरा जीवन कोई यात्रा है या मुझे कहीं पहुँचना है? हर किसी के जीवन का कोई मक़सद होता है। मेरे जीवन का मक़सद क्या है?...


user

Trainer Yogi Yogendra

Motivational Speaker || Career Coach || Business Coach || Marketing & Management Expert's

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स लोकेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर के रिपोर्ट और कॉरपोरेट ट्रेनर नहीं पहुंचना हर किसी के जीवन में कोई मकसद होता है मेरे जीवन का मकसद क्या है आपको बोलना चाहूंगा कि आप परेशान को एक रास्ता मिला है उस रास्ते पर चलते जाना है मतलब आपको यात्रा जो है उसको देखना है आपको जो है कहां लेकर जाता है और लेकर जाता की यात्रा यात्रा को आप को धर्म के धर्म के निर्णय करना है और अगर आप ने कर्म को अपने धर्म के अनुसार किया और उसको परमात्मा को समर्पित कर दिया तो आपका रिश्ता कभी गलत रास्ते पर नहीं जाएगा आपकी जो यात्रा है वह एक सफल तक पहुंचेगी

hello friends lokendra sharma Motivational speaker ke report aur corporate trainer nahi pahunchana har kisi ke jeevan me koi maksad hota hai mere jeevan ka maksad kya hai aapko bolna chahunga ki aap pareshan ko ek rasta mila hai us raste par chalte jana hai matlab aapko yatra jo hai usko dekhna hai aapko jo hai kaha lekar jata hai aur lekar jata ki yatra yatra ko aap ko dharm ke dharm ke nirnay karna hai aur agar aap ne karm ko apne dharm ke anusaar kiya aur usko paramatma ko samarpit kar diya toh aapka rishta kabhi galat raste par nahi jaega aapki jo yatra hai vaah ek safal tak pahunchegi

हेलो फ्रेंड्स लोकेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर के रिपोर्ट और कॉरपोरेट ट्रेनर नहीं पहुंचना ह

Romanized Version
Likes  427  Dislikes    views  2990
WhatsApp_icon
14 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन यात्रा वाकई जीवन एक यात्रा है ईश्वर ने अपना एकांश हमारी आत्मा के अंदर बैठा दिया और वह आत्मा आपको अनंत यात्रा क्या कम भ्रमण कराते हैं वह यात्रा है लौकिक ताकि आप इस लव के जीवन में आए हैं तो कुछ आपको श्रेष्ठ कार्य करने की सौम्या को कुछ अच्छे कार्य करने के लिए भेजे आपके जीवन का एक उद्देश्य होना चाहिए कि उस परमात्मा ने आपको इसके लिए स्वतंत्रता कैसा उद्देश्य चाहते हैं कैसा जीवन का लक्ष्य चाहते हैं अब व्यापारी बनना चाहते हैं कि उद्योगपति बनना चाहते हैं कि दार्शनिक बनना चाहते हैं कि आध्यात्मिक बनना चाहते हैं आईएएस पीसीएस अधिकारी क्या बनना चाहते हैं अपने जीवन के लक्ष्य बनाइए सारी संभावनाएं आपके मन में है और आपको उस हिसाब से निर्णय करना है कि आप करना कि छात्र के किस दर्शन की यात्रा करना चाहते हैं उस यात्रा का एक अपना लक्ष्य निर्धारित कीजिए और लग जाइए सब कर्मों के साथ उसे पूरा करने हैं कड़ी मेहनत दूर दृष्टि पक्का इरादा अनुशासन के साथ सोच सकारात्मक होगी आवश्यकताएं असीमित होगी यात्रा का लक्ष्य है आपका परिपूर्ण हो उस पर मेहनत करेंगे संघर्ष जीवन में आते रहते संघर्षों को पार करना है अपनी समस्याओं का समाधान भी सेंड करना है जीवन को सार्थक बनाने के लिए आपको संतोषी जीवन व्यतीत करना पड़ेगा लोगों से साभार दूर करने पड़ेंगे और मन को स्थिर करके आत्मा के साथ समन्वय बनाकर के आध्यात्मिक दिशा की ओर प्रभु का हमेशा ध्यान रखना है थोड़ा सा गीता का पाठ की गई योग और प्राणायाम कीजिए फिर देखिए आप की जीवन यात्रा कितने आसान हो जाती है आप अपने परिवार का भी संचालन करने के लिए समाज का भी संचालन पहले समाज में मान सम्मान प्राप्त करने के लिए माता-पिता की सेवा करने होंगे अपने मन को के विचारों को प्रखर रखिए सापेक्ष और बड़ी रखिए अब जीवन की यात्रा हमेशा पूरी करेंगे अच्छी तरह से पूरी करने के बाद अब मुक्तिधाम को प्राप्त करेंगे बिल्कुल श्री चरणों में आसान हुआ लेकिन जितना समय आपको मिला है जितनी सांसो की विनती है उनको सब कार्य में लगाइए ईश्वर आपकी मदद करें

jeevan yatra vaakai jeevan ek yatra hai ishwar ne apna ekaansh hamari aatma ke andar baitha diya aur vaah aatma aapko anant yatra kya kam bhraman karate hain vaah yatra hai laukik taki aap is love ke jeevan me aaye hain toh kuch aapko shreshtha karya karne ki saumya ko kuch acche karya karne ke liye bheje aapke jeevan ka ek uddeshya hona chahiye ki us paramatma ne aapko iske liye swatantrata kaisa uddeshya chahte hain kaisa jeevan ka lakshya chahte hain ab vyapaari banna chahte hain ki udyogpati banna chahte hain ki darshnik banna chahte hain ki aadhyatmik banna chahte hain IAS pcs adhikari kya banna chahte hain apne jeevan ke lakshya banaiye saari sambhavnayen aapke man me hai aur aapko us hisab se nirnay karna hai ki aap karna ki chatra ke kis darshan ki yatra karna chahte hain us yatra ka ek apna lakshya nirdharit kijiye aur lag jaiye sab karmon ke saath use pura karne hain kadi mehnat dur drishti pakka irada anushasan ke saath soch sakaratmak hogi aavashyakataen asimeet hogi yatra ka lakshya hai aapka paripurna ho us par mehnat karenge sangharsh jeevan me aate rehte sangharshon ko par karna hai apni samasyaon ka samadhan bhi send karna hai jeevan ko sarthak banane ke liye aapko santosh jeevan vyatit karna padega logo se sabhar dur karne padenge aur man ko sthir karke aatma ke saath samanvay banakar ke aadhyatmik disha ki aur prabhu ka hamesha dhyan rakhna hai thoda sa geeta ka path ki gayi yog aur pranayaam kijiye phir dekhiye aap ki jeevan yatra kitne aasaan ho jaati hai aap apne parivar ka bhi sanchalan karne ke liye samaj ka bhi sanchalan pehle samaj me maan sammaan prapt karne ke liye mata pita ki seva karne honge apne man ko ke vicharon ko prakhar rakhiye sapeksh aur badi rakhiye ab jeevan ki yatra hamesha puri karenge achi tarah se puri karne ke baad ab muktidham ko prapt karenge bilkul shri charno me aasaan hua lekin jitna samay aapko mila hai jitni saanso ki vinati hai unko sab karya me lagaaiye ishwar aapki madad kare

जीवन यात्रा वाकई जीवन एक यात्रा है ईश्वर ने अपना एकांश हमारी आत्मा के अंदर बैठा दिया और

Romanized Version
Likes  201  Dislikes    views  2330
WhatsApp_icon
user

Vivek

Motivational Speaker

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपकी जीवन का मकसद साइन जानते हैं आप क्या कर रहे हैं आप किस रास्ते पर चल रहे हैं कौन सा मार्ग आप अपना रहे हैं जो आपके जीवन में एक सही संदेश दे रहा है आपको सही रास्ते पर लेकर चल रहा है हर व्यक्ति के जीवन का एक मकसद होता है अपने जीवन का एक मकसद बनाइए एक अच्छे गुरु की तलाश कल का आने वाला समय निश्चित रूप से अच्छा होगा और जब तक आपको एक शब्द लिखकर नहीं चलेंगे जीवन में कोई भी प्रयास आपका सार्थक नहीं होगा आपको अपने मकसद को लेकर हमेशा चलना होगा अपने जीवन को हमेशा सकारात्मक पॉजिटिव विचारों को लेकर आगे बढ़ना होगा तभी आप कुछ कर सकते हैं

aapki jeevan ka maksad sign jante hain aap kya kar rahe hain aap kis raste par chal rahe hain kaun sa marg aap apna rahe hain jo aapke jeevan me ek sahi sandesh de raha hai aapko sahi raste par lekar chal raha hai har vyakti ke jeevan ka ek maksad hota hai apne jeevan ka ek maksad banaiye ek acche guru ki talash kal ka aane vala samay nishchit roop se accha hoga aur jab tak aapko ek shabd likhkar nahi chalenge jeevan me koi bhi prayas aapka sarthak nahi hoga aapko apne maksad ko lekar hamesha chalna hoga apne jeevan ko hamesha sakaratmak positive vicharon ko lekar aage badhana hoga tabhi aap kuch kar sakte hain

आपकी जीवन का मकसद साइन जानते हैं आप क्या कर रहे हैं आप किस रास्ते पर चल रहे हैं कौन सा मार

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  181
WhatsApp_icon
user

Manoj Modi

Motivational Speaker | Business Owner

5:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुड मॉर्निंग पीपल माय नेम इज मनोज मोदी एंड योर फेलो फ्रेंड फोन न कोई आता है या मुझे कहीं पहुंचना है हर किसी के जीवन का कोई मकसद होता है मेरे जीवन का मकसद क्या है रोहित नींद से अपने जीवन का एक उद्देश्य जानना चाहते हैं द परपस ऑफ लाइफ इंटरनेट पर तो दिखे ऐसा कई बार होता है कि हमें हमारी इंपोर्टेंट पता नहीं होती हमारे महामारी जीवन की जो 124 है हमारे जीवन का जो एक टारगेट है वह पता नहीं कर पाते हैं और काफी लोगों के समय होता है कि मैं साथ में भी ऐसा हुआ है तो इसका स्टैंड के लिए देखे ना आपको क्यों लेकिन सजेस्ट करना चाहूंगा वह विनय भैया जस्ट गोइंग टू टेक फाइनल पेपर जस्ट फॉरगेट अबाउट व्हाट एवर हैपेंड विद यू इन द डे इन द पास्ट जस्ट लेट डाउन द बेड एंड पुअर पिलो ब्लॉक एंड स्टार्ट थिंकिंग स्टार्ट थिंकिंग अबाउट दैट व्हाट यू हैव डन सो फर अवे यूनिट टू डू एंड हाउ आर यू स्टूडेंट अरे प्रोफेशनल आर यू ए फैमिली पर्सन आर एस ओ यू आर जस्ट रिमेंबर योर सेल्फ एंड अंडरस्टैंड यू आर ग्रेट एंड व्हाट व्हाट व्हाट व्हाट पीपल वांट फॉर डिपेंडेंट ऑन यू व्हाट यू फ्रेंड सर्किल वांट यू विल फाइंड आंसर व्हाट द परपस ऑफ रियल लाइफ व्हाई यू आर लिविंग हिस लाइफ एंड व्हाट यू नीड टू डू बाय लिव इन दिस माय टॉकिंग अबाउट एंड यू आर रेडी टू फाइंड आउट द कल पिक मैं आपको अपने आप को जानना होगा कि आप क्या है और यह तभी पॉसिबल है जब आप एकदम शांत वातावरण में आपके पास में कोई डिस्टरबेंस नहीं हो आप एकांत में है आप रात को सो रहे हैं उस टाइम पर सब सो चुके होते हैं हम अकेले रहते हैं उस टाइम पर आप सोइए बेड पर लेटी है तो क्या लगाई है सिर के नीचे को देखते देखते हो क्या के जीवन का उद्देश्य क्या है आप क्या थे अभी आप क्या है और जिस तरीके से सिचुएशंस आपके सामने सामने हैं आपके आसपास में आपके चारों और है वह आपको कहां लेकर गए क्या उससे आपको अपने परिवार को आने वाले भविष्य को सिक्योर कर सकते हैं या जॉब कर रहे हैं क्या वह सफिशिएंट है कि आप समय बर्बाद कर रहे हैं व्हाट यू आर डूइंग व्हाट डेट ऑफ बर्थ इन प्रोसेस विल डेफिनटली टेक यू टू द पार्क पार्क कैन कंपलीटली चेंज योर लाइफ विद एनीमेशन हस्बैंड फोटो न्यू बाइक नंबर डीएल दैट्स व्हाई यू हैव गोन बट यू विल हैव टो फाइंड आउट व्हेयर विल हैव टो रिकॉग्नाइज योर सेल्फ एयरपोर्टगेटवे यूनिवर्स इन पीस एंड यू एंड यू विल विन द सिचुएशन टो थिंक अबाउट डोंट डिस्ट्रेस्ड सो मच डोंट थिंक अबाउट इट बट जस्ट बी पॉजिटिव डिग्री कोर्स कंप्लीट किया अंडरस्टैंड बाय द इंटरपी सलाम वीडियो एंड येलो यूरीन आउटपुट एक दम इन विच स्टेट

good morning pipal my name is manoj modi and your fellow friend phone na koi aata hai ya mujhe kahin pahunchana hai har kisi ke jeevan ka koi maksad hota hai mere jeevan ka maksad kya hai rohit neend se apne jeevan ka ek uddeshya janana chahte hain the parpas of life internet par toh dikhe aisa kai baar hota hai ki hamein hamari important pata nahi hoti hamare mahamari jeevan ki jo 124 hai hamare jeevan ka jo ek target hai vaah pata nahi kar paate hain aur kaafi logo ke samay hota hai ki main saath me bhi aisa hua hai toh iska stand ke liye dekhe na aapko kyon lekin suggest karna chahunga vaah vinay bhaiya just going to take final paper just forget about what ever happened with you in the day in the past just late down the bed and poor peelo block and start thinking start thinking about that what you have done so fur away unit to do and how R you student are professional R you a family person R S O you R just remember your self and understand you R great and what what what what pipal want for dependent on you what you friend circle want you will find answer what the parpas of real life why you R living hiss life and what you need to do bye live in this my talking about and you R ready to find out the kal pic main aapko apne aap ko janana hoga ki aap kya hai aur yah tabhi possible hai jab aap ekdam shaant vatavaran me aapke paas me koi distarabens nahi ho aap ekant me hai aap raat ko so rahe hain us time par sab so chuke hote hain hum akele rehte hain us time par aap soiye bed par leti hai toh kya lagayi hai sir ke niche ko dekhte dekhte ho kya ke jeevan ka uddeshya kya hai aap kya the abhi aap kya hai aur jis tarike se sichueshans aapke saamne saamne hain aapke aaspass me aapke charo aur hai vaah aapko kaha lekar gaye kya usse aapko apne parivar ko aane waale bhavishya ko secure kar sakte hain ya job kar rahe hain kya vaah sufficient hai ki aap samay barbad kar rahe hain what you R doing what date of birth in process will definatali take you to the park park can kampalitli change your life with animation husband photo new bike number DL daits why you have gone but you will have toe find out veyar will have toe rikagnaij your self eyaraportagetve Universe in peace and you and you will win the situation toe think about dont distressed so match dont think about it but just be positive degree course complete kiya understand bye the intarapi salaam video and yellow Urine output ek dum in which state

गुड मॉर्निंग पीपल माय नेम इज मनोज मोदी एंड योर फेलो फ्रेंड फोन न कोई आता है या मुझे कहीं प

Romanized Version
Likes  41  Dislikes    views  334
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हर जीवन के एक मकसद होता है आप अपना जीवन का मकसद बनाइए आपको जीवन में कोई अच्छा कार्य करना है जिसे समाज का भला हो देश का भला हो परिवार का भला हो उस लक्ष्य को पूरा करने के लिए जी तोड़ मेहनत करें परेशान करें तभी आप सफलता प्राप्त करेंगे तो जीवन का उपयोग करें

har jeevan ke ek maksad hota hai aap apna jeevan ka maksad banaiye aapko jeevan me koi accha karya karna hai jise samaj ka bhala ho desh ka bhala ho parivar ka bhala ho us lakshya ko pura karne ke liye ji tod mehnat kare pareshan kare tabhi aap safalta prapt karenge toh jeevan ka upyog kare

हर जीवन के एक मकसद होता है आप अपना जीवन का मकसद बनाइए आपको जीवन में कोई अच्छा कार्य करना ह

Romanized Version
Likes  396  Dislikes    views  3366
WhatsApp_icon
user

Dr. Swatantra Jain

Psychotherapist, Family & Career Counsellor and Parenting & Life Coach

1:57
Play

Likes  841  Dislikes    views  12018
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

1:54
Play

Likes  351  Dislikes    views  3006
WhatsApp_icon
user

Vinod Kumar Pandey

Life Coach | Career Counsellor ::Relationship Counsellor :: Parenting Counsellor

5:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने जो प्रश्न किया उसको उत्तर में मैं यही कहना चाहता हूं कि इस धरती पर जितने भी मनुष्य हैं वह किसी ना किसी एक विशेष उद्देश्य के लिए ही आते हैं इसलिए इस चीज को समझना बहुत जरूरी है इसीलिए हर एक मनुष्य के अंदर एक विशेष प्रतिभा पाई जाती है एक विशेष क्षमता पाई जाती है यह ध्यान रखना होगा कि जब तक हम अपने उस जीवन के उद्देश्य को नहीं पूरा करते हैं या उस को पहचानने की कोशिश नहीं करते हैं तब तक हमें पूरी तरह से संतुष्टि नहीं मिलती है इसलिए जीवन में यह बहुत जरूरी होता है कि आप चाहे जो कार्य कर रहे हो लेकिन अपने उद्देश्य तक आप जरूर पहुंचे अपने उद्देश्य को जरूर पहचाने और उस काम को जरूर करें आज आपने देखा होगा कि दुनिया में आप चाहे जो काम कर लेते चाहे जितनी चीजें कटा कर लेते हैं लेकिन ज्यादातर लोगों के जीवन में संतुष्टि नहीं रहती है उसका कारण क्या है आपने कभी समझने की कोशिश की इसका कारण सिर्फ यही होता है कि जब तक आप अपने जीवन के उद्देश को पहचान नहीं पाते हैं और वह चीज करने का प्रयास नहीं करते हैं जिसके लिए आपको ईश्वर ने या प्रकृति ने बनाया होता है जो आपका जीवन का उद्देश्य होता है तब तक किसी भी व्यक्ति को संतुष्टि नहीं मिलती है यह ध्यान रखना होगा कि हम इस धरती पर किसी न किसी विशेष उद्देश्य के लिए आते हैं इसलिए उस उद्देश्य को पहचानना और उसको पूरा करना यह हमारी जिम्मेदारी होती है उतने हमें क्षमता देता है पर कितने हमें प्रतिभा दिया होता है और उसके साथ था तो वह हमें सोचने समझने की क्षमता दिया होता है कि जिससे हम उस चीज को पहचाने कि हमारे अंदर कौन से प्रतिभा है हमारा कौन सी क्वालिटी है जिसके द्वारा हम अपने जीवन के उद्देश्य को पूरा कर सकते हैं इस चीज को समझना हर एक व्यक्ति के लिए जरूरी होता है ज्यादातर लोग अपने जीवन में इन सब बातों पर ध्यान नहीं देते हैं तो कहीं ना कहीं अपने स्तर बाइबिल पर ही बिजी रहते हैं अपनी रोजी-रोटी में अपने परिवार में इतने उलझे रहते हैं कि कभी भी अपने जीवन के उद्देश्य को ना पहचानने की कोशिश करते हैं और ना ही समझने की कोशिश करते हैं यह ध्यान रखना होगा कि जीवन का मकसद या उद्देश्य पहचानना बहुत जरूरी है जब तक आप अपने जीवन के उद्देश को पहचानते नहीं उसको करने की कोशिश नहीं करते हैं तब तक आप को पूरी तरह से जीवन से संतुष्टि नहीं मिलती है और यही कारण है कि ज्यादातर लोग अपने जीवन से असंतुष्ट ही चले जाते हैं यह ध्यान रखना होगा कि अपने जीवन के मकसद को पहचानने का सिंपल तरीका है कि आप अपने अंदर उस विशेष प्रतिभा को पहचानने की कोशिश करिए जो आपके व्यक्तित्व में सबसे ज्यादा है यह ध्यान रखना होगा कि कहीं ना कहीं तो हमारी प्रतिभा होती है वह हमारे जीवन के उद्देश्य से जुड़ा हुआ होता है इसलिए जिस दिन आप अपने आपसे प्रश्न पूछना शुरु करेंगे अपने आप अपने व्यक्तित्व को देखना शुरू करेंगे समझना शुरू करेंगे तो धीरे-धीरे आप अपने जीवन के मकसद और जीवन के उद्देश्य पर जरूर पहुंच जाएंगे यह ध्यान रखना होगा कि आपके जीवन का मकसद क्या है इसका प्रश्न इसका उत्तर कभी भी बाहर की दुनिया में मिलना बहुत मुश्किल होता है इस आप अपने आपसे प्रश्न करके अपने आप से ही अपने आप को समझ सकते हैं कई बार ऐसा होता है कि जो हमारा व्यक्तित्व होता है जो हमारी प्रतिभा होती है जो हमारा सोल होता है इसको दूसरे लोग पहचानते हैं दूसरे लोग कभी कभी तारीफ भी करते हैं कि आपके अंदर यह अच्छा ही है लेकिन अगर दूसरे लोग नहीं भी कह रहे हैं तो उससे ज्यादा जरूरी होता है कि आप अपने आपको खुद पहचानने की कोशिश करिए अपने व्यक्तित्व को जाने की कोशिश करिए अपने इन्हेरेंट जो क्वालिटी है उसको जानने की कोशिश करिए और अपने आप से प्रश्न पूछे कि वास्तव में जीवन में आप करना क्या चाहते हैं जिस दिन आपने प्रश्न पूछना शुरू कर दिया अपने आप को धीरे धीरे जाना शुरू कर दिया तो धीरे-धीरे आपको उसका एहसास होता चला जाएगा और पता चलना शुरू हो जाएगा यह ध्यान रखना होगा कि यह कोई भी इस का शॉर्टकट तरीका बिल्कुल नहीं होता है कि आप 1 दिन में यह जानना है कि उनका मकसद क्या है एक लंबी प्रक्रिया है जिसके लिए अपने अंदर जाना होता है अपने आप से पूछना होता है इसके लिए आप मेडिटेशन की हेल्प ले सकते हैं क्योंकि मेडिटेशन भी बहुत हेल्प करता है अपने आप को सनी में अपने जीवन के उद्देश्य को पहचानने में ध्यान रहे जिस दिन आपको अपने जीवन का उद्देश्य पता चल जाए या महसूस कर ले उसको आप पूरा करने की जरूर कोशिश करें क्योंकि जिस दिन आप अपने जीवन का उद्देश्य पूरा करने लगते हैं उस दिन से आपके जीवन में संतुष्टि आनी शुरू हो जाती है खुशी आनी शुरू हो जाती है और कामयाबी झक मार के पीछे आपकी आती है ज्यादातर लोग जीवन में सफल इसलिए नहीं हो पाते हैं कि कहीं ना कहीं वह अपने व्यक्तित्व को अपनी प्रतिभा को ही नहीं पहचान पाते हैं और अपना पूरा जीवन कहीं ना कहीं आप उनके सामने जो भी परिस्थिति आती है उसी में उलझ करके रह जाते हैं या अपना पूरा जीवन अपने सर्वाइकल के ही दे देते अपनी रोजी-रोटी में दे देते हैं यह ध्यान रखना होगा कि हमें अगर जीवन जीना है तो रोजी-रोटी की जरूरत जरूर होती है लेकिन उससे ज्यादा जरूरी होता है कि हम अपने जीवन के मकसद को पहचाने और उसको पूरा करें जिस दिन हम उसको पूरा करने लगते हैं हमारी रोजी-रोटी की जरूरतें हैं अपने आप किसी न किसी तरीके से जरूर पूरी होती हैं क्योंकि ध्यान रहे एक सिंपल एग्जांपल से समझ सकते हैं कि अगर आप वह काम करते हैं जिसके लिए आपको बनाया गया होता है तो आपकी जो भी जरूरत है वह अपने आप प्रकृति जरूर पूरा करता है इसी को समझना बहुत जरूरी है और इसको अपने जीवन में उतारना बहुत जरूरी है मेरी शुभकामनाएं धन्यवाद

aapne jo prashna kiya usko uttar me main yahi kehna chahta hoon ki is dharti par jitne bhi manushya hain vaah kisi na kisi ek vishesh uddeshya ke liye hi aate hain isliye is cheez ko samajhna bahut zaroori hai isliye har ek manushya ke andar ek vishesh pratibha payi jaati hai ek vishesh kshamta payi jaati hai yah dhyan rakhna hoga ki jab tak hum apne us jeevan ke uddeshya ko nahi pura karte hain ya us ko pahachanne ki koshish nahi karte hain tab tak hamein puri tarah se santushti nahi milti hai isliye jeevan me yah bahut zaroori hota hai ki aap chahen jo karya kar rahe ho lekin apne uddeshya tak aap zaroor pahuche apne uddeshya ko zaroor pehchane aur us kaam ko zaroor kare aaj aapne dekha hoga ki duniya me aap chahen jo kaam kar lete chahen jitni cheezen kata kar lete hain lekin jyadatar logo ke jeevan me santushti nahi rehti hai uska karan kya hai aapne kabhi samjhne ki koshish ki iska karan sirf yahi hota hai ki jab tak aap apne jeevan ke uddesh ko pehchaan nahi paate hain aur vaah cheez karne ka prayas nahi karte hain jiske liye aapko ishwar ne ya prakriti ne banaya hota hai jo aapka jeevan ka uddeshya hota hai tab tak kisi bhi vyakti ko santushti nahi milti hai yah dhyan rakhna hoga ki hum is dharti par kisi na kisi vishesh uddeshya ke liye aate hain isliye us uddeshya ko pahachanana aur usko pura karna yah hamari jimmedari hoti hai utne hamein kshamta deta hai par kitne hamein pratibha diya hota hai aur uske saath tha toh vaah hamein sochne samjhne ki kshamta diya hota hai ki jisse hum us cheez ko pehchane ki hamare andar kaun se pratibha hai hamara kaun si quality hai jiske dwara hum apne jeevan ke uddeshya ko pura kar sakte hain is cheez ko samajhna har ek vyakti ke liye zaroori hota hai jyadatar log apne jeevan me in sab baaton par dhyan nahi dete hain toh kahin na kahin apne sthar bible par hi busy rehte hain apni rozi roti me apne parivar me itne ulajhe rehte hain ki kabhi bhi apne jeevan ke uddeshya ko na pahachanne ki koshish karte hain aur na hi samjhne ki koshish karte hain yah dhyan rakhna hoga ki jeevan ka maksad ya uddeshya pahachanana bahut zaroori hai jab tak aap apne jeevan ke uddesh ko pehchante nahi usko karne ki koshish nahi karte hain tab tak aap ko puri tarah se jeevan se santushti nahi milti hai aur yahi karan hai ki jyadatar log apne jeevan se asantusht hi chale jaate hain yah dhyan rakhna hoga ki apne jeevan ke maksad ko pahachanne ka simple tarika hai ki aap apne andar us vishesh pratibha ko pahachanne ki koshish kariye jo aapke vyaktitva me sabse zyada hai yah dhyan rakhna hoga ki kahin na kahin toh hamari pratibha hoti hai vaah hamare jeevan ke uddeshya se juda hua hota hai isliye jis din aap apne aapse prashna poochna shuru karenge apne aap apne vyaktitva ko dekhna shuru karenge samajhna shuru karenge toh dhire dhire aap apne jeevan ke maksad aur jeevan ke uddeshya par zaroor pohch jaenge yah dhyan rakhna hoga ki aapke jeevan ka maksad kya hai iska prashna iska uttar kabhi bhi bahar ki duniya me milna bahut mushkil hota hai is aap apne aapse prashna karke apne aap se hi apne aap ko samajh sakte hain kai baar aisa hota hai ki jo hamara vyaktitva hota hai jo hamari pratibha hoti hai jo hamara soul hota hai isko dusre log pehchante hain dusre log kabhi kabhi tareef bhi karte hain ki aapke andar yah accha hi hai lekin agar dusre log nahi bhi keh rahe hain toh usse zyada zaroori hota hai ki aap apne aapko khud pahachanne ki koshish kariye apne vyaktitva ko jaane ki koshish kariye apne inherent jo quality hai usko jaanne ki koshish kariye aur apne aap se prashna pooche ki vaastav me jeevan me aap karna kya chahte hain jis din aapne prashna poochna shuru kar diya apne aap ko dhire dhire jana shuru kar diya toh dhire dhire aapko uska ehsaas hota chala jaega aur pata chalna shuru ho jaega yah dhyan rakhna hoga ki yah koi bhi is ka shortcut tarika bilkul nahi hota hai ki aap 1 din me yah janana hai ki unka maksad kya hai ek lambi prakriya hai jiske liye apne andar jana hota hai apne aap se poochna hota hai iske liye aap meditation ki help le sakte hain kyonki meditation bhi bahut help karta hai apne aap ko sunny me apne jeevan ke uddeshya ko pahachanne me dhyan rahe jis din aapko apne jeevan ka uddeshya pata chal jaaye ya mehsus kar le usko aap pura karne ki zaroor koshish kare kyonki jis din aap apne jeevan ka uddeshya pura karne lagte hain us din se aapke jeevan me santushti aani shuru ho jaati hai khushi aani shuru ho jaati hai aur kamyabi jhaka maar ke peeche aapki aati hai jyadatar log jeevan me safal isliye nahi ho paate hain ki kahin na kahin vaah apne vyaktitva ko apni pratibha ko hi nahi pehchaan paate hain aur apna pura jeevan kahin na kahin aap unke saamne jo bhi paristhiti aati hai usi me ulajh karke reh jaate hain ya apna pura jeevan apne cervical ke hi de dete apni rozi roti me de dete hain yah dhyan rakhna hoga ki hamein agar jeevan jeena hai toh rozi roti ki zarurat zaroor hoti hai lekin usse zyada zaroori hota hai ki hum apne jeevan ke maksad ko pehchane aur usko pura kare jis din hum usko pura karne lagte hain hamari rozi roti ki jaruratein hain apne aap kisi na kisi tarike se zaroor puri hoti hain kyonki dhyan rahe ek simple example se samajh sakte hain ki agar aap vaah kaam karte hain jiske liye aapko banaya gaya hota hai toh aapki jo bhi zarurat hai vaah apne aap prakriti zaroor pura karta hai isi ko samajhna bahut zaroori hai aur isko apne jeevan me utarana bahut zaroori hai meri subhkamnaayain dhanyavad

आपने जो प्रश्न किया उसको उत्तर में मैं यही कहना चाहता हूं कि इस धरती पर जितने भी मनुष्य है

Romanized Version
Likes  275  Dislikes    views  2679
WhatsApp_icon
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह तो अपनी-अपनी सोच है कोई जीवन को यात्रा कहता है या कोई जीवन में कहीं पहुंचना चाहता है यहां पर मैं आपको यह सजेशन दे सकती हूं कि यह जीवन है और आपको जीना है और हर पल खुश रहकर अगर आप जी सके तो आपका जीवन सफल है अब सवाल है आपके मकसद का तो अपने मकसद को पहचानने के लिए 3 स्टेप में आप काम कर सकते हो पहला स्टेप है कि आप यह पहचानो किस काम को करके आपको मजा आता है दूसरा स्टेप है उस काम में अपने आप को बेहतर बनाओ और तीसरा कि उसका हमसे अब दुनिया में और लोगों का भला कैसे कर सकते हो और लोगों को क्या उस काम की जरूरत है आपकी करने से उनको कोई फायदा होगा जब आप यह तीनों लेवल पर काम करोगे तो आपको खुद ब खुद समझ आ जाएगा कि आपके जीवन का मकसद क्या है

yah toh apni apni soch hai koi jeevan ko yatra kahata hai ya koi jeevan mein kahin pahunchana chahta hai yahan par main aapko yah suggestion de sakti hoon ki yah jeevan hai aur aapko jeena hai aur har pal khush rahkar agar aap ji sake toh aapka jeevan safal hai ab sawaal hai aapke maksad ka toh apne maksad ko pahachanne ke liye 3 step mein aap kaam kar sakte ho pehla step hai ki aap yah pehchano kis kaam ko karke aapko maza aata hai doosra step hai us kaam mein apne aap ko behtar banao aur teesra ki uska humse ab duniya mein aur logo ka bhala kaise kar sakte ho aur logo ko kya us kaam ki zarurat hai aapki karne se unko koi fayda hoga jab aap yah tatvo level par kaam karoge toh aapko khud bsp khud samajh aa jaega ki aapke jeevan ka maksad kya hai

यह तो अपनी-अपनी सोच है कोई जीवन को यात्रा कहता है या कोई जीवन में कहीं पहुंचना चाहता है यह

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  383
WhatsApp_icon
user

Purushottam Choudhary

ब्राह्मण Next IAS institute गार्ड

2:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने बिल्कुल सही प्रस्तुत किया है यह जीवन एक यात्रा ही है मुझे कहीं पहुंचना है हर किसी के जीवन का कोई ना कोई मकसद होता है हमारे जीवन का भी आपके जीवन का भी है और उनके जीवन का भी मकसद है घर गृहस्ती के साथ भक्ति करिए भगवान की आराधना सबसे जरूरी है क्योंकि यह मेरा यहां आने का मेन मकसद भगवान ईश्वर का भजन करना ही था ईश्वर का गुणगान करना ही था पूजा पाठ करना इसलिए मैं यहां आया था ने 84 लाख योनि में लगानी चाहिए किसको खा चाहिए किस पर पढ़ाई चाहिए तो उसी तरह प्रभु डालते हैं देखते हैं यह काफी दिनों से इनफॉर्मैटिका भेज दो वहां जाने के बाद बोलेंगे नहीं ज्यादा दुखी होता है और प्रभु आपको नींद नहीं होगा कई प्रकार के रोग लगेंगे हमारे देश का कारण क्या है भगवान को एक साइड अगर आप चाहे कि मैं महान बन जाऊं इतना आसान नहीं है महान तो सबका पास बैठा हुआ है इसलिए किसी से छेड़छाड़ ना करें सबका जीवन का सब का यात्रा का जो है वह निर्धारित है अब कहां जाएंगे और क्या करेंगे नहीं करेंगे सब कुछ हमारे और आपके साथ पूरा करेंगे परसों करेंगे हमें पता भी नहीं कि कल क्या करें प्रोग्राम बनकर जय श्री राम

aapne bilkul sahi prastut kiya hai yah jeevan ek yatra hi hai mujhe kahin pahunchana hai har kisi ke jeevan ka koi na koi maksad hota hai hamare jeevan ka bhi aapke jeevan ka bhi hai aur unke jeevan ka bhi maksad hai ghar grihasti ke saath bhakti kariye bhagwan ki aradhana sabse zaroori hai kyonki yah mera yahan aane ka main maksad bhagwan ishwar ka bhajan karna hi tha ishwar ka gunagan karna hi tha puja path karna isliye main yahan aaya tha ne 84 lakh yoni me lagani chahiye kisko kha chahiye kis par padhai chahiye toh usi tarah prabhu daalte hain dekhte hain yah kaafi dino se inafarmaitika bhej do wahan jaane ke baad bolenge nahi zyada dukhi hota hai aur prabhu aapko neend nahi hoga kai prakar ke rog lagenge hamare desh ka karan kya hai bhagwan ko ek side agar aap chahen ki main mahaan ban jaaun itna aasaan nahi hai mahaan toh sabka paas baitha hua hai isliye kisi se chedchad na kare sabka jeevan ka sab ka yatra ka jo hai vaah nirdharit hai ab kaha jaenge aur kya karenge nahi karenge sab kuch hamare aur aapke saath pura karenge parso karenge hamein pata bhi nahi ki kal kya kare program bankar jai shri ram

आपने बिल्कुल सही प्रस्तुत किया है यह जीवन एक यात्रा ही है मुझे कहीं पहुंचना है हर किसी के

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  242
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  52  Dislikes    views  1085
WhatsApp_icon
play
user

656 Mangal Singh Thakur

Teacher/Operator

1:24

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके बहुत अच्छे कुछ दिन की है मैं आपका बहुत-बहुत धन्यवाद देते हैं कि जीवन का मकसद ऊपर वाले ने हमें यहां भेजा है तो मकसद है पर वह मकसद क्या है हमें यह कहकर नहीं भेजा यहां हमको एक प्रवेश में रहते हुए सामाजिक स्तर में रहते हुए हम उन समस्याओं को जब यह करना यह किसी कार्य को करते करते हुए हैं बांसुरी की वास्तव में हम एक अब समाज के एक व्यक्ति बन गए हैं जो हम एक समाज को नई दिशा दे सकते हैं वहां पर ऐसा लगता है कि वास्तव में हो ऊपर वाले ने भेजा था इसलिए अभी हमको यह निश्चित करें आप कल जो पढ़ाई है और कोई वर्कर तो चाहते आप पर कर रहे हो अंकुर को करते रहे एक ऐसे महान रेट कीजिए जहां पर आपको अधिक से अधिक लोग जाने संध्या और आपकी बातों को मान है कि है मुक्त देश जब आपके बातों को देख लोग मानेंगे आपके पास जनमत अधिक होगा तो आप अनेक प्रकार के कार्यक्रम संवाद

aapke bahut acche kuch din ki hai aapka bahut bahut dhanyavad dete hai ki jeevan ka maksad upar waale ne hamein yahan bheja hai toh maksad hai par vaah maksad kya hai hamein yah kehkar nahi bheja yahan hamko ek pravesh mein rehte hue samajik sthar mein rehte hue hum un samasyaon ko jab yah karna yah kisi karya ko karte karte hue hai bansuri ki vaastav mein hum ek ab samaj ke ek vyakti ban gaye hai jo hum ek samaj ko nayi disha de sakte hai wahan par aisa lagta hai ki vaastav mein ho upar waale ne bheja tha isliye abhi hamko yah nishchit kare aap kal jo padhai hai aur koi worker toh chahte aap par kar rahe ho ankur ko karte rahe ek aise mahaan rate kijiye jaha par aapko adhik se adhik log jaane sandhya aur aapki baaton ko maan hai ki hai mukt desh jab aapke baaton ko dekh log manenge aapke paas janmat adhik hoga toh aap anek prakar ke karyakram samvaad

आपके बहुत अच्छे कुछ दिन की है मैं आपका बहुत-बहुत धन्यवाद देते हैं कि जीवन का मकसद ऊपर वाले

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  274
WhatsApp_icon
user

Rounak Romi Jain

Philosopher - Social Activist

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां यह जीवन एक यात्रा है और हमें कहां पहुंचना है इस बारे में अभी विचार नहीं करना चाहिए और आपने जैसा बोला कि हर किसी के जीवन का कोई मकसद होता है यह मकसद हमें स्वयं तलाश ना होता है पहला मकसद तो सभी के लिए समान है कि इस जीवन की हम वैल्यू समझे इसकी कीमत समझे और उसका सदुपयोग करते हुए इस जीवन को आनंद पूर्वक संपूर्णता से जिए और साथ ही अन्य प्राणी और जीव और मनुष्य जो हमारे आसपास हमें नजर आते हैं उनके सहयोग के लिए उनकी खुशी के लिए उनकी बेहतरी के लिए यदि हम कुछ सहयोग कर सकते हैं तो हमें करना चाहिए जीवन के हर पल को हर समय को संपूर्णता से जागृत होकर जिए और जीवन का लक्ष्य अंतिम लक्ष्य यही हो कि जब जिस वक्त हमें यह प्राण त्याग कर पुनेश्वर के करीब जाना पड़े तो हम पूर्ण संतोष भाव से और आनंद पूर्वक उस परमपिता की शरण में जा सके

ji haan yah jeevan ek yatra hai aur hamein kahaan pahunchana hai is bare mein abhi vichar nahi karna chahiye aur aapne jaisa bola ki har kisi ke jeevan ka koi maksad hota hai yah maksad hamein swayam talash na hota hai pehla maksad toh sabhi ke liye saman hai ki is jeevan ki hum value samjhe iski kimat samjhe aur uska sadupyog karte hue is jeevan ko anand purvak sanpoornataa se jiye aur saath hi anya prani aur jeev aur manushya jo hamare aaspass hamein nazar aate hain unke sahyog ke liye unki khushi ke liye unki behatari ke liye yadi hum kuch sahyog kar sakte hain toh hamein karna chahiye jeevan ke har pal ko har samay ko sanpoornataa se jagrit hokar jiye aur jeevan ka lakshya antim lakshya yahi ho ki jab jis waqt hamein yah praan tyag kar puneshwar ke kareeb jana pade toh hum purn santosh bhav se aur anand purvak us parampita ki sharan mein ja sake

जी हां यह जीवन एक यात्रा है और हमें कहां पहुंचना है इस बारे में अभी विचार नहीं करना चाहिए

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  329
WhatsApp_icon
user

hariom mishra

UPSC ASPIRANTS

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अपने अपने विचारों पर डिपेंड करता है कि जीवन यात्रा है या क्या है ठीक है और यदि जैसा बात करें मुझे कहीं पहुंचना है तो कहीं पहुंचने का मतलब है कि आपको जिंदगी में सफल होना असफल होने का एक ही मकसद होता है कि आपके द्वारा जितने भी किए गए कार्य हैं उनसे आप को भी खुशी हो और आपके साथ-साथ दूसरों को ज्यादा खुशियां दूसरों का अधिक से अधिक संख्या में लोगों को आपके द्वारा किए कार्य से खुश क्यों लोग आप को जाने पहचाने और आपकी भलाई करे आपके के कार्यों की तारीफ करें यही जवाब अच्छा करें किसी के लिए तभी तो लोग आपकी तारीफ करेंगे आपके द्वारा काफी सारे लोगों का भला यह जीवन का मकसद होता है चेहरे के हर किसी के जीवन का कोई न कोई मकसद होता बिल्कुल सब व्यक्ति कुछ न कुछ अपनी लाइफ में करना चाहते हैं कोई किधर कोई बच्चे कुछ बनना चाहता है या कुछ करना चाहता है तू अपनी पिक टारगेट्स होते हैं लेकिन एक चीज सबसे बड़ी बात होती है कि आप ऐसा जीवन जियो 1 से आपके लिए नहीं है बल्कि दूसरों के प्रति समर्पित आपको ऐसा काम करें सबसे बारिश के लिए के सबसे पहले आपको खुद सक्षम होना पड़ेगा पहले अपने कैरियर को अच्छे से पढ़ाई और जब आप सक्षम होते हैं तब आप दूसरों के लिए कार्य करिए दूसरों के जीवन को सुखी बनाने में अपना कार्य लगा दीजिए यह जीवन के सफल होने का

dekhiye apne apne vicharon par depend karta hai ki jeevan yatra hai ya kya hai theek hai aur yadi jaisa baat kare mujhe kahin pahunchana hai toh kahin pahuchne ka matlab hai ki aapko zindagi mein safal hona asafal hone ka ek hi maksad hota hai ki aapke dwara jitne bhi kiye gaye karya hain unse aap ko bhi khushi ho aur aapke saath saath dusro ko zyada khushiya dusro ka adhik se adhik sankhya mein logo ko aapke dwara kiye karya se khush kyon log aap ko jaane pehchane aur aapki bhalai kare aapke ke karyo ki tareef kare yahi jawab accha kare kisi ke liye tabhi toh log aapki tareef karenge aapke dwara kaafi saare logo ka bhala yah jeevan ka maksad hota hai chehre ke har kisi ke jeevan ka koi na koi maksad hota bilkul sab vyakti kuch na kuch apni life mein karna chahte hain koi kidhar koi bacche kuch banna chahta hai ya kuch karna chahta hai tu apni pic targets hote hain lekin ek cheez sabse badi baat hoti hai ki aap aisa jeevan jio 1 se aapke liye nahi hai balki dusro ke prati samarpit aapko aisa kaam kare sabse barish ke liye ke sabse pehle aapko khud saksham hona padega pehle apne carrier ko acche se padhai aur jab aap saksham hote hain tab aap dusro ke liye karya kariye dusro ke jeevan ko sukhi banane mein apna karya laga dijiye yah jeevan ke safal hone ka

देखिए अपने अपने विचारों पर डिपेंड करता है कि जीवन यात्रा है या क्या है ठीक है और यदि जैसा

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  313
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!