क़िस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है? क्या क़िस्मत से ही सब कुछ होता है या परिश्रम की भी ज़रूरत होती है?...


user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किस्मत का मेरे जीवन से कितना योगदान है क्या किस्मत से सब कुछ होता है ऑपरेशन के लिए देखी मैं किस्मत कभी काम करती है जब आप अपनी मेहनत करेंगे जब तक हम करेंगे नहीं तो किस्मत के भरोसे बैठे रहे खुशी मिले वाला कभी भी देख लीजिए अगर आप अपने पढ़ाई लिखाई नहीं करेंगे आपको भी नहीं सिर्फ उसे किस बात की जल्दी जवाब मिल गई लेकिन आप देख लीजिए क्या उसने बिना पढ़े हुए और जॉब मिल गई क्या किसी कंपटीशन में बिना बैठे होगी कहीं ना कहीं कोई न कोई रिपोर्ट्स किया होगा कोई न कोई प्रयास किया होगा कोई न कोई कर्तव्य किया होगा तो किस्मत का कनेक्शन जो है वह अपने कर्म से है तो अपने काम को करते रहेंगे आपका साथ जरूर देखें

kismat ka mere jeevan se kitna yogdan hai kya kismat se sab kuch hota hai operation ke liye dekhi main kismat kabhi kaam karti hai jab aap apni mehnat karenge jab tak hum karenge nahi toh kismat ke bharose baithe rahe khushi mile vala kabhi bhi dekh lijiye agar aap apne padhai likhai nahi karenge aapko bhi nahi sirf use kis baat ki jaldi jawab mil gayi lekin aap dekh lijiye kya usne bina padhe hue aur job mil gayi kya kisi competition me bina baithe hogi kahin na kahin koi na koi reporters kiya hoga koi na koi prayas kiya hoga koi na koi kartavya kiya hoga toh kismat ka connection jo hai vaah apne karm se hai toh apne kaam ko karte rahenge aapka saath zaroor dekhen

किस्मत का मेरे जीवन से कितना योगदान है क्या किस्मत से सब कुछ होता है ऑपरेशन के लिए देखी मै

Romanized Version
Likes  348  Dislikes    views  3951
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Krishna Kumar Gupta

Astrologer And Tantrokt Vastu Consultant

0:36
Play

Likes  86  Dislikes    views  1390
WhatsApp_icon
user

Siyaram Dubey

YouTuber/Spiritual Person/Thinker/Social-media Activist

2:11
Play

Likes  210  Dislikes    views  2072
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने कहा किस्मत में मेरी जीवन बस इतना ही होता है क्या किसी सब कुछ होता है अपनों की भी उन्नत होती है नई चाल कसूती चाले कहां से लाता है आप कितनी मेहनत करनी है कितना अपने जीवन का लक्ष्या वर्कर चाहिए कितना चक्कर दे दे कितने टन मंथन निछावर करते हैं लेकिन आपके परिश्रम कचरे तब तक आपको नहीं मिलेगा जब तक कि आपकी किस्मत पर रखा हुआ नहीं होगा किस्मत इंसान को पत्थर से भगवान बना देती है ओके पंछी भगवान को पत्थर की मूर्ति में तब्दील कर देती है किस्मत मायने रखती है क्योंकि इंसान अपनी जन्म के साथ लाता है लेकिन कर्म इंसान जन्म के साथ नहीं लाता उसी सुनसान हो सकता है और कर्म करके जो कुछ भी प्राप्त होती है तो किकन करने से इंसान वहां मिलता है लक्ष्मी प्राप्ति होती है और उसे जो इंसान को सचिव दीपक की परिश्रम ही सफलता की कुंजी कुंजी है इंसान की पूजा इसमें कंपनी में रेशम की भी जरूरत होती है तभी इंसान सफल बनाते हैं और तन के साथ किस्मत थोड़ी आती है

aapne kaha kismat me meri jeevan bus itna hi hota hai kya kisi sab kuch hota hai apnon ki bhi unnat hoti hai nayi chaal kasuti chaale kaha se lata hai aap kitni mehnat karni hai kitna apne jeevan ka lakshya worker chahiye kitna chakkar de de kitne ton manthan nichavar karte hain lekin aapke parishram kachre tab tak aapko nahi milega jab tak ki aapki kismat par rakha hua nahi hoga kismat insaan ko patthar se bhagwan bana deti hai ok panchhi bhagwan ko patthar ki murti me tabdil kar deti hai kismat maayne rakhti hai kyonki insaan apni janam ke saath lata hai lekin karm insaan janam ke saath nahi lata usi sunsaan ho sakta hai aur karm karke jo kuch bhi prapt hoti hai toh kikan karne se insaan wahan milta hai laxmi prapti hoti hai aur use jo insaan ko sachiv deepak ki parishram hi safalta ki kunji kunji hai insaan ki puja isme company me resham ki bhi zarurat hoti hai tabhi insaan safal banate hain aur tan ke saath kismat thodi aati hai

आपने कहा किस्मत में मेरी जीवन बस इतना ही होता है क्या किसी सब कुछ होता है अपनों की भी उन्न

Romanized Version
Likes  345  Dislikes    views  2220
WhatsApp_icon
user

निर्मला विश्नोई

अध्यापिका व समाज सेवा

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किस्मत का मेरे दिल में कितना योगदान है क्या किस्मत ही सब कुछ होती है या परिश्रम की भी जरूरत होती है जी हां आपने जो सवाल किया है वह बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है और आप यह किस्मत कुछ भी नहीं होती व्यक्ति को हर अपने जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए जो कर्म करने पड़ते हैं और उस कर्म में उसको दिन रात है जो उससे कर्म रूपी अग्नि मंद को जलना पड़ता है और परिश्रम के द्वारा ही जीवन में सफलता प्राप्त की जा सकती है और अपने किस्मत इसको कहते हैं भाग्य को बदला जा सकता है आप यह बिल्कुल भी नहीं सोचे कि मेरी किस्मत में यह लिखा हुआ तो मुझे यह प्राप्त तक हो जाएगा सफलता के लिए कोई भी जीवन में शॉर्टकट नहीं हो सकता आपको कठिन मेहनत और करनी होगी इसके द्वारा ही आप जीवन में सफलता प्राप्त कर सकते हैं परिश्रम के बिना या जो कुछ भी विश्रम के द्वारा है आप अपने जीवन में कुछ हासिल कर सकते हैं आज तक आप देख लो जो भी जीवन में जितने भी व्यक्ति सफल हो गए हैं उन्होंने अपने जीवन में कठिन परिश्रम किया है और कठिन परिश्रम के द्वारा ही व्यक्ति है जो अपनी किस्मत और भाग्य को बदल सकता है बैठे-बैठे कुछ भी प्राप्त नहीं हो सकता इसलिए परिश्रम शर्म भूत जीवन में सफल होने के लिए श्रम की बहुत आवश्यकता है

kismat ka mere dil me kitna yogdan hai kya kismat hi sab kuch hoti hai ya parishram ki bhi zarurat hoti hai ji haan aapne jo sawaal kiya hai vaah bahut zyada mahatvapurna hai aur aap yah kismat kuch bhi nahi hoti vyakti ko har apne jeevan me safalta prapt karne ke liye jo karm karne padate hain aur us karm me usko din raat hai jo usse karm rupee agni mand ko jalna padta hai aur parishram ke dwara hi jeevan me safalta prapt ki ja sakti hai aur apne kismat isko kehte hain bhagya ko badla ja sakta hai aap yah bilkul bhi nahi soche ki meri kismat me yah likha hua toh mujhe yah prapt tak ho jaega safalta ke liye koi bhi jeevan me shortcut nahi ho sakta aapko kathin mehnat aur karni hogi iske dwara hi aap jeevan me safalta prapt kar sakte hain parishram ke bina ya jo kuch bhi vishram ke dwara hai aap apne jeevan me kuch hasil kar sakte hain aaj tak aap dekh lo jo bhi jeevan me jitne bhi vyakti safal ho gaye hain unhone apne jeevan me kathin parishram kiya hai aur kathin parishram ke dwara hi vyakti hai jo apni kismat aur bhagya ko badal sakta hai baithe baithe kuch bhi prapt nahi ho sakta isliye parishram sharm bhoot jeevan me safal hone ke liye shram ki bahut avashyakta hai

किस्मत का मेरे दिल में कितना योगदान है क्या किस्मत ही सब कुछ होती है या परिश्रम की भी जरूर

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  95
WhatsApp_icon
user

Phool Kanwar

Business Owner

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है किस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है क्या किस्मत से ही सब कुछ होता है या परिश्रम की भी जरूरत होती है कि मैं आपको बताना चाहता हूं किस्मत का हमारे जीवन में मात्र 22% से लेकर 30% योगदान होता है 70 से 80 पर सेंट योगदान तो हमारा सिर्फ परिश्रम मेहनत का फल हियर में मिलता है

aapka sawaal hai kismat ka mere jeevan me kitna yogdan hai kya kismat se hi sab kuch hota hai ya parishram ki bhi zarurat hoti hai ki main aapko batana chahta hoon kismat ka hamare jeevan me matra 22 se lekar 30 yogdan hota hai 70 se 80 par sent yogdan toh hamara sirf parishram mehnat ka fal hear me milta hai

आपका सवाल है किस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है क्या किस्मत से ही सब कुछ होता है या प

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
user

Tanya

Beautician & The modelling

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां किस्मत भी यह बात सही है बट जरूरी नहीं है कि हर बात हर चीज हमें किस्मत से मिलती है अगर हमें कुछ पाना है तो उसके लिए हम मेहनत करते हैं और वह चीज हमें मिल जाती है मेहनत से भी लिखिए तू जरूरी नहीं किस्मत से मिलते हैं और अपनी मेहनत से है तो वह सारी चीज व्याकुलता से जॉब को पाना है तो किस्मत ऐसी कोई चीज नहीं है वह हमें बनानी पड़ती है तो अब बना तो वैसे अच्छी किस्मत होती है

haan kismat bhi yah baat sahi hai but zaroori nahi hai ki har baat har cheez hamein kismat se milti hai agar hamein kuch paana hai toh uske liye hum mehnat karte hain aur vaah cheez hamein mil jaati hai mehnat se bhi likhiye tu zaroori nahi kismat se milte hain aur apni mehnat se hai toh vaah saari cheez vyakulta se job ko paana hai toh kismat aisi koi cheez nahi hai vaah hamein banani padti hai toh ab bana toh waise achi kismat hoti hai

हां किस्मत भी यह बात सही है बट जरूरी नहीं है कि हर बात हर चीज हमें किस्मत से मिलती है अगर

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  42
WhatsApp_icon
user

Dr. J.Singh

Financial Expert || Ayurvedic Doctor

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे अनुभव और जानकारी के अनुसार किस्मत कुछ ना कुछ होती है लेकिन किस्मत के भरोसे बैठा जा सकता आदित्य में धर्म ग्रंथों में पढ़ेंगे तो कर्म को महान बताया गया है कर्म ही पूजा है आप कर्म करेंगे तभी आपको कुछ मिलेगा किस्मत बाद में शादी थी पहले आपको कम कर्म करना और निरंतर इमानदारी के साथ करते अवनीश होकर भी निरंतर आपको लगातार उस किसी भी कार्य को सफल पान करने के लिए आपको लगाता प्रयास करना होता है धन्यवाद

mere anubhav aur jaankari ke anusaar kismat kuch na kuch hoti hai lekin kismat ke bharose baitha ja sakta aditya me dharm granthon me padhenge toh karm ko mahaan bataya gaya hai karm hi puja hai aap karm karenge tabhi aapko kuch milega kismat baad me shaadi thi pehle aapko kam karm karna aur nirantar imaandari ke saath karte avnish hokar bhi nirantar aapko lagatar us kisi bhi karya ko safal pan karne ke liye aapko lagaata prayas karna hota hai dhanyavad

मेरे अनुभव और जानकारी के अनुसार किस्मत कुछ ना कुछ होती है लेकिन किस्मत के भरोसे बैठा जा सक

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
user

Sanjana

PhD ENGLISH AND ASTROLOGER

0:22
Play

Likes  6  Dislikes    views  72
WhatsApp_icon
user

Pawan

Financial Planer

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किस्मत का रोल हमारी जीवन होता है 30% किस्मत होते 70 प्रश्न हमारी मेहनत होती है इसलिए भगवान का नाम लीजिए और मेहनत करते रहिए भगवान की तरफ आस्था भी रखी हो मेहनत कीजिए कि मैं बोलता कुछ भी मिलेगी वीडियो अच्छी लगे तो लाइक करो और मुझे फॉलो करो

kismat ka roll hamari jeevan hota hai 30 kismat hote 70 prashna hamari mehnat hoti hai isliye bhagwan ka naam lijiye aur mehnat karte rahiye bhagwan ki taraf astha bhi rakhi ho mehnat kijiye ki main bolta kuch bhi milegi video achi lage toh like karo aur mujhe follow karo

किस्मत का रोल हमारी जीवन होता है 30% किस्मत होते 70 प्रश्न हमारी मेहनत होती है इसलिए भगवा

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  79
WhatsApp_icon
user
0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किस्मत के साथ सो परिश्रम मिल जाए तो सोने में सुहागा हो जाता है आपने एक पंक्ति सुनी होगी नहीं सकता से सेहत से प्रभु शांति मुखीम रखा आस्था सोए हुए सी के मुंह में प्रवेश नहीं करता किस्मत आपको अवसर प्रदान करती है उस अवसर का मेहनत से भरपूर था आप नहीं उठाएंगे तो ऐसी किस्मत व्यर्थ

kismat ke saath so parishram mil jaaye toh sone me suhaga ho jata hai aapne ek pankti suni hogi nahi sakta se sehat se prabhu shanti mukhim rakha astha soye hue si ke mooh me pravesh nahi karta kismat aapko avsar pradan karti hai us avsar ka mehnat se bharpur tha aap nahi uthayenge toh aisi kismat vyarth

किस्मत के साथ सो परिश्रम मिल जाए तो सोने में सुहागा हो जाता है आपने एक पंक्ति सुनी होगी नह

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  287
WhatsApp_icon
user

मीनाक्षी शर्मा

Enterpreneur, Author, Teacher, Motivational Speaker, Career Counsellor.

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किस्मत भगवान के द्वारा लिखी गई एवं आपके ही पिछले जन्म के अच्छे कर्म के द्वारा आप को दिया हुआ उपहार है यह परिणाम है आपके उन अच्छे कर्मों का जो आपने बीते समय में किए हैं अर्थात इस किस्मत को पाने के लिए भी आपको परिश्रम की ही आवश्यकता होती है गीता में तीसरे अध्याय के अनुसार हमें कर्म करना चाहिए और कर्म के द्वारा ही हमारे जीवन में सब कुछ निर्धारित होता है

kismat bhagwan ke dwara likhi gayi evam aapke hi pichle janam ke acche karm ke dwara aap ko diya hua upahar hai yah parinam hai aapke un acche karmon ka jo aapne bite samay me kiye hain arthat is kismat ko paane ke liye bhi aapko parishram ki hi avashyakta hoti hai geeta me teesre adhyay ke anusaar hamein karm karna chahiye aur karm ke dwara hi hamare jeevan me sab kuch nirdharit hota hai

किस्मत भगवान के द्वारा लिखी गई एवं आपके ही पिछले जन्म के अच्छे कर्म के द्वारा आप को दिया

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  92
WhatsApp_icon
user

Faridul Haque

Industrial Consultant

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है क्या किस्मत में ही सब कुछ होता है या परिश्रम की भी जरूरत होती है इस बात का उत्तर तो इस संसार में कोई भी ले सकता भगवान ने आपकी किस्मत में ऊपर वाले ने कितना कुछ लिखा है या कितना कुछ आपके द्वारा लिखने के लिए छोड़ रखा है इसका आपको बिल्कुल भी ध्यान नहीं है और किसी भी जीव वस्तु या इस धरती पर किसी को नहीं है तो वह किस्मत है वह तो आपके हाथ में है नहीं बचा परिश्रम वह पूरा आपके हाथों में उसको हम जननी कोशिश करिए हो सकता है आपकी जो बुक हो उसमें परिश्रम को पर संदेश कुछ ज्यादा ही हो थोड़ा कम भी और आप ज्यादा परेशान करते हैं तो वह आपका जो मिलेगा वह ज्यादा ही हो जाएगा तो परिश्रम पर ध्यान दीजिए का रोना रोना छोड़ दीजिए किस्मत आपके हाथ में पैसे भी नहीं है धन्यवाद

kismat ka mere jeevan me kitna yogdan hai kya kismat me hi sab kuch hota hai ya parishram ki bhi zarurat hoti hai is baat ka uttar toh is sansar me koi bhi le sakta bhagwan ne aapki kismat me upar waale ne kitna kuch likha hai ya kitna kuch aapke dwara likhne ke liye chhod rakha hai iska aapko bilkul bhi dhyan nahi hai aur kisi bhi jeev vastu ya is dharti par kisi ko nahi hai toh vaah kismat hai vaah toh aapke hath me hai nahi bacha parishram vaah pura aapke hathon me usko hum janani koshish kariye ho sakta hai aapki jo book ho usme parishram ko par sandesh kuch zyada hi ho thoda kam bhi aur aap zyada pareshan karte hain toh vaah aapka jo milega vaah zyada hi ho jaega toh parishram par dhyan dijiye ka rona rona chhod dijiye kismat aapke hath me paise bhi nahi hai dhanyavad

किस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है क्या किस्मत में ही सब कुछ होता है या परिश्रम की भी

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  325
WhatsApp_icon
user

shreekaant gautam

CLINICAL Psychologist Life Coach ,wellness Guide

2:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे दोस्त किस्मत के बारे में बरसों से एक बात चला रहा है क्या कि किस्मत क्या चीज है फिर क्या होता है बड़ी वैज्ञानिकों ने बहुत सारे ऐसे क्लोज उसने खुद क्या कि फिट होता क्या किस्मत होता क्या है यह किस्मत बड़ा होता है या मेहनत बड़ा होता है तो शब्दों में से कहें कि एक मेहनत पसंद इंसान एकदम इंसान इंसान इंसान इसकी डिस्क्रिप्शन मेहनत करते हुए जिस अपॉर्चुनिटी को ट्रैक कर लेता है उसी को अपॉर्चुनिटी कहते हैं अपॉर्चुनिटी का उसका प्रश्न के उपग्रह कर लेते हैं उसी को फिट कहते हैं किस्मत कहते हैं और कुछ नहीं है किस्मत जैसा कोई शब्द इंसानों ने नहीं बनाया फिर होता क्या है कि लोग तो कहते हैं कि बाहरी सक्सेसफुल आदमी के साथ ही के दिन जन्म नेता है और वह कोई सो सक्सेसफुल हो तो हो जाता है बल्कि दूसरे नहीं होता उसका पेट अच्छा होता है इस युग में स्वीट उसी को कहा जाता है जो अपॉर्चुनिटी को प्रेम करता है किसने कहा जाता है कि आप हमेशा तैयार रहो जब मौका मिले आपको यह मौका मिला और आप उसके तैयार नहीं होता फिटनेस हो गए आपको फिट नहीं है और जो बंदा को मौका मिला वह तैयार था उस ग्रह कर लिया तो उसके लिए फिट हो गया क्योंकि कोई बना बनाया वीडियो है कोई बना तला तला हुआ कोई पूरी या बना बनाया हुआ कोई रेडीमेड चीज नहीं है जो इंसान ले लेता है या ले सकता यह खरीद सकता है एक स्वीट एक ऐसी चीज है जो इंसान के परे है इंसान से काफी पर है वह इंसान के पास ही नहीं आ सकता लेकिन जो मेहनत पस्त हैं जो मेहनत करते हैं ईमानदार हैं विजडम है इसकी उन्हीं का साथ देती भी यह भी कहा जाता है इसलिए जो है वह अकेले रहने वाली चीज नहीं है स्वीट का दोस्त है मेहनत पेट का बहुत बड़ा दोस्त है उसका मेहनत फीट का दोस्त है उसका स्किन वेट का दोस्त है उसका बीज दम इस सभी मिलकर एक नया फिट का निर्माण करता है कि नहीं किस्मत के निर्माण करते हैं इसलिए मेरे भाई किस्मत पर मत बैठे अपनी मेहनत इमानदारी से साथ काम करते नहीं हैं जरूर आपको सफलता मिलेगी थैंक यू वेरी मच

mere dost kismat ke bare me barson se ek baat chala raha hai kya ki kismat kya cheez hai phir kya hota hai badi vaigyaniko ne bahut saare aise close usne khud kya ki fit hota kya kismat hota kya hai yah kismat bada hota hai ya mehnat bada hota hai toh shabdon me se kahein ki ek mehnat pasand insaan ekdam insaan insaan insaan iski description mehnat karte hue jis opportunity ko track kar leta hai usi ko opportunity kehte hain opportunity ka uska prashna ke upgrah kar lete hain usi ko fit kehte hain kismat kehte hain aur kuch nahi hai kismat jaisa koi shabd insano ne nahi banaya phir hota kya hai ki log toh kehte hain ki bahri successful aadmi ke saath hi ke din janam neta hai aur vaah koi so successful ho toh ho jata hai balki dusre nahi hota uska pet accha hota hai is yug me sweet usi ko kaha jata hai jo opportunity ko prem karta hai kisne kaha jata hai ki aap hamesha taiyar raho jab mauka mile aapko yah mauka mila aur aap uske taiyar nahi hota fitness ho gaye aapko fit nahi hai aur jo banda ko mauka mila vaah taiyar tha us grah kar liya toh uske liye fit ho gaya kyonki koi bana banaya video hai koi bana tala tala hua koi puri ya bana banaya hua koi ready made cheez nahi hai jo insaan le leta hai ya le sakta yah kharid sakta hai ek sweet ek aisi cheez hai jo insaan ke pare hai insaan se kaafi par hai vaah insaan ke paas hi nahi aa sakta lekin jo mehnat past hain jo mehnat karte hain imaandaar hain wisdom hai iski unhi ka saath deti bhi yah bhi kaha jata hai isliye jo hai vaah akele rehne wali cheez nahi hai sweet ka dost hai mehnat pet ka bahut bada dost hai uska mehnat feet ka dost hai uska skin wait ka dost hai uska beej dum is sabhi milkar ek naya fit ka nirmaan karta hai ki nahi kismat ke nirmaan karte hain isliye mere bhai kismat par mat baithe apni mehnat imaandari se saath kaam karte nahi hain zaroor aapko safalta milegi thank you very match

मेरे दोस्त किस्मत के बारे में बरसों से एक बात चला रहा है क्या कि किस्मत क्या चीज है फिर क्

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
user

Sadhu Yograj

UPSC/ MPPSC Coach

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे किस्मत का मतलब इंग्लिश में होता लल्लू सीखें और लक का मतलब होता है आप लिख लीजिए बिल कॉपी पेन लेकर लेबर अंडर करंट नॉलेज लेबर अंडर करेक्ट नॉलेज सही ज्ञान के तले परिश्रम करना ही किस्मत है इसलिए निश्चित रूप से किस में से शब्द को अपने परिश्रम से आप हटा दीजिए क्योंकि आपके जीवन में सफलता केवल परिश्रम पर नहीं रही है बिल्कुल उच्चतर परिश्रम प्लस जो लोग कर रहे हैं उनसे कुछ अच्छा आप बेहतर और क्या कर सकते हैं यह आवश्यक है इसलिए हमें लगता है कि मेरा बैड लक है मेरा लक नहीं चला मैं एक नंबर से परीक्षा पास नहीं कर पाया मेरा व्यापार नहीं चला लेकिन लेबर अंडर-19 अगर आप सही ज्ञान के तले प्रयास करते हैं तो सफलता निश्चित है परिश्रम प्रमुख तत्व है किस्मत जैसा कोई भी तो नहीं होता है मैं निश्चित रूप से मानता हूं

dekhe kismat ka matlab english me hota Lallu sikhe aur luck ka matlab hota hai aap likh lijiye bill copy pen lekar labour under current knowledge labour under correct knowledge sahi gyaan ke tale parishram karna hi kismat hai isliye nishchit roop se kis me se shabd ko apne parishram se aap hata dijiye kyonki aapke jeevan me safalta keval parishram par nahi rahi hai bilkul uchatar parishram plus jo log kar rahe hain unse kuch accha aap behtar aur kya kar sakte hain yah aavashyak hai isliye hamein lagta hai ki mera bad luck hai mera luck nahi chala main ek number se pariksha paas nahi kar paya mera vyapar nahi chala lekin labour under 19 agar aap sahi gyaan ke tale prayas karte hain toh safalta nishchit hai parishram pramukh tatva hai kismat jaisa koi bhi toh nahi hota hai main nishchit roop se maanta hoon

देखे किस्मत का मतलब इंग्लिश में होता लल्लू सीखें और लक का मतलब होता है आप लिख लीजिए बिल कॉ

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  97
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:34
Play

Likes  84  Dislikes    views  2874
WhatsApp_icon
user

Meenaxi Yadav

Wellness Coach

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किस्मत से कुछ नहीं मिलता परिश्रम का योगदान होता है किस्मत एक किस्मत के भरोसे आप कुछ नहीं सोच सकते क्योंकि अगर आपके सामने अगर खाली भरी हुई पड़ी है और अगर आप हाथ नहीं बढ़ाएंगे तो किस्मत से आपके खाना मैंने चला जाएगा इसलिए आपके लिए परिश्रम बहुत जरूरी है किस्मत यह है कि उसमें थोड़ी सपोर्ट कर सकती है बाकायदा कहते हैं लेकिन किस्मत नहीं आ परिश्रम को ज्यादा ध्यान दीजिए परिश्रम का योगदान रखिए किस्मत पर भरोसा करके मत बैठिए

kismat se kuch nahi milta parishram ka yogdan hota hai kismat ek kismat ke bharose aap kuch nahi soch sakte kyonki agar aapke saamne agar khaali bhari hui padi hai aur agar aap hath nahi badhaenge toh kismat se aapke khana maine chala jaega isliye aapke liye parishram bahut zaroori hai kismat yah hai ki usme thodi support kar sakti hai bakayada kehte hain lekin kismat nahi aa parishram ko zyada dhyan dijiye parishram ka yogdan rakhiye kismat par bharosa karke mat baithiye

किस्मत से कुछ नहीं मिलता परिश्रम का योगदान होता है किस्मत एक किस्मत के भरोसे आप कुछ नहीं स

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  105
WhatsApp_icon
user

Raja Bhaiya Gandhi

Brain Enhance Workshop & Career Counselling

10:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत अच्छा प्रश्न है मेरा पसंदीदा प्रश्न है आराम से सुनना पूरी बात आपको जो कुछ भी पूरे जीवन में मिलता है गीता में भगवान कृष्ण ने जो बताया वह आपके प्रारब्ध से मिलता है आप के वर्तमान कर्म से नहीं मिलता लेकिन वर्तमान कर्म के द्वारा मिलता है प्रारब्ध से मिलता है प्रारब्ध अर्थात किस्मत किस्मत का निर्माण किससे होता है यह प्रश्न है तो किस्मत से ही मिलता है परंतु सब कुछ किस्मत से ही मिलता है ऐसा नहीं परिश्रम की जरूरत होती है बिल्कुल होती है थोड़ा विस्तार से चर्चा करेंगे कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन आ कर्म करो फल की चिंता मत करना कठिन सवाल बचपन से दिमाग में मेरे जाता नहीं मुझे समझ आता ही नहीं हाउ कैन वी पॉसिबल आपको एक काम करो और फल की चिंता मत करो इस नॉट पॉसिबल फल की चिंता पहले हो जाती है अब तो आप काम करते हो पहले परिणाम के बारे में पता होता है तभी तो एक्शन होता है तब परिणाम के बारे में बताना होगा एक से एक्शन लेने का एक्साइटमेंट एनर्जी आएगी नहीं आप कहीं जॉब क्यों नहीं इंटरव्यू देने जाओ जॉब करो और सैलरी ना पूछो तो आपको पूरी दुनिया मूर्ख ना सहेगी कहीं परिणाम के बारे में हमें पहले चिंता होती है हम एग्जाम दे परिणाम की चिंता ना करें बस एग्जाम दे दे नोट तो फिर क्या भगवान मुर्ख थे जो उन्होंने यह कहा कि कर्म करो फल की चिंता मत कर क्यों असल में जो आप वर्तमान में कर्म कर रहे हो उससे परिणाम नहीं आना है ध्यान देना उससे परिणाम नहीं आना है बट उसके द्वारा ना तो कर्म की जरूरत है कर्म की जरूरत है क्योंकि उस तक के द्वारा आना है तो वह नाम जिसे आना परिणाम जो नारद अर्थात किस्मत है उसके द्वारा आना है वह किस्मत किस से बनती है वह भी कर्म से बनती है असल में यह ट्रेन गले ट्रायंगल दो कोणों पर करम है नीचे के दो कोणों के कर्म है ऊपर के टॉप के कोने पर कॉर्नर किस्मत बैठे लोग कर्म करते हो कर्मा करते हो ऊपर जाकर किस्मत बनती है और वह किस्मत आपको फल देना चाहती है लेकिन दे सकती है जब आप कर्म करते हो कर्म के द्वारे फल देते थे अब ऐसे कर्म करो जिससे अच्छे किस्मत में जितने अच्छे कर्म होंगे जितने पॉजिटिव एनर्जी पॉजिटिव कर्म होंगे उसके अनुसार अच्छी किस्मत बनेगी अच्छी किस्मत आपको अच्छे परिणाम देगी लेकिन उन परिणामों को हासिल करने के लिए अगेन कर्म करना पड़ेगा मेरे जीवन का अनुभव यह है कि किस्मत से ही मिलता है मैं हमेशा किस्मत का इंतजार करता हूं सही समय और उस समय मुझे बहुत मिलता है इसलिए वह कहते हैं कर्म कर फल की चिंता मत रॉकी फल तेरे हाथ में नहीं कल मेरे हाथ में क्या समझ ले तेरे याद में तो तेरे हाथ में नहीं तेरे परिश्रम के हाथ में नहीं तेरी किस्मत क्या है बहुत सारे लोग बहुत सारे मोटिवेशनल स्पीकर आपसे कहेंगे कि कर कड़ा परिश्रम करो कड़ा परिश्रम करो 1 दिन सफलता जरुर मिलेगी आप किसी भी सक्सेस पर्सन की पत्रिका अगर मालूम कर सको जन्मपत्रिका अगर मालूम कर सको तो आपको पता चल जाएगा एक अच्छा ज्योतिष पत्रिका को देख कर बता सकता है आप स्वयं कुछ ना बताओ तो बता देगा इतने साल सिस्टर कल करेगा इतने साल इस के सबसे अच्छे हैं और आप देखोगे कि वही साल उसके सक्सेस के होंगे तब तक उसने स्ट्रगल किया तो लोग कहते मैंने बहुत कठिन परिश्रम से सफलता हासिल करना कठिन परिश्रम करते ही रहा जब तक उसकी किस्मत नहीं थी उसे सफलता नहीं मिली लेकिन हां उससे उसका परफेक्शन आ गया परफेक्शन आ गया और जब उसका समय अच्छा आया तो उसने मैक्सिमम हासिल किया ऐसा हो कि साल में एक कंपटीशन होता है रनिंग का तोड़कर उस रनिंग के कंपटीशन में ₹100000 का प्राइस है हर साल भर दौड़ कर उसकी प्रेक्टिस कर रहे हो तू को एक लाख जीतने के चांसेस आपके सौ परसेंट हो गया लेकिन आप सोचो कि अरे यार मिलना होगा तो मिल जाएगा किस्मत में होगा तो मिल जाए तो किस्मत में हो सकता है आपके हो लेकिन आप रह जाओ क्यों क्योंकि आपने मेहनत नहीं की हो सकता पहला प्राइज एक लगता वह ना मिले सेकंड प्राइस 50000 तक हो ना मिले थर्ड प्राइज आपको 11th था वो मिल जाए क्योंकि आपने सिर्फ किस्मत का खाया तो किस्मत से उतना ही मिलता है जितना किस्मत में लिखा होता है लेकिन परिश्रम से कितना मिल सकता है जितना आप चाहते हो कि आपको मिले देखो अगर में गुड समय आता है जो अच्छा समय आता है ना उस अच्छे समय में परिणाम हासिल करना आपके हाथ में होता है वह समय अच्छा होता है अच्छे समय पे कितना मैक्सिमम उसका दोहन कर सकते हो सच्चे समय का कितना उपयोग कर सकते कितना आप निकाल सकते हो अपने लिए कितना कमा सकते हो आपके ऊपर है तो उसके लिए उतना इस टाइम ना उतनी कैपेसिटी उतनी काबिलियत आपके पास होना चाहिए ना तब आप उस कम समय में मैक्सिमम आउटपुट ले पाओगे लेकिन समय आया और चला गया क्यों क्योंकि आप की प्रेक्टिस नहीं थी अब ध्यान नहीं था ध्यान नहीं था नॉलेज नहीं थी तो वह अच्छा समय जो आएगा वह आपको थोड़ा बहुत लाभ दे जाएगा परंतु जो मैच लाभ दे सकता था वह नहीं दे पाएगा तू किस्मत के बिना तो कोई व्यक्ति चलता ही नहीं है किसी ने आज तक अपने परिश्रम से सफलता हासिल करें ऐसा नहीं हो सारे लोग लता जी से अच्छा गाने वाले होंगे हो सकता हूं पता ही ना चला सॉन्ग सारे गायक हो सकते उनको सफलता नहीं मिली बहुत सारे कलाकार हो सकते हैं जिनको सफलता नहीं मिली मंच नहीं मिला बहुत सारे कवि हैं जिनको मंच नहीं मिल पाए वह सारे लोगों की किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया उन्होंने स्ट्रगल भी करा मेहनत भी करा यह है कि वह क्विट कर गए गलत समय पर कुछ कर गए जल्दी हार गए जल्दी थक गए कब तक लगे रहना था एक समय उनकी लाइफ में अच्छा था उस समय तक होने लगे रहना था अच्छा समय और बुरा समय आता जाता रहता है अब अब बुरे समय मेहनत कर रहे हो तो बाप अपनी स्टैमिना को अपनी काबिलियत को बढ़ा रहा है प्रैक्टिस कर रहा है और जब वह अच्छा समय आएगा ना तो यह जो अभ्यास अपने बुरे समय में करा है यह आपको बेहतर हो ज्यादा परिणाम देगा बहुत ज्यादा परिणाम देगा तैयारी करते रहो जिस दिन सही समय होगा उस दिन बहुत ज्यादा मिल जाएगा यार 5 साल बाद आपके 2 साल भी अच्छा है ना तो उन 2 साल में जो पिछले 5 साल के अपने तैयारी करिए वह आप कौन 2 सालों में बहुत हाइक चले जाएंगे बहुत ज्यादा है और इतना ज्यादा पैसा कमा लोगे इतना कमा लेंगे लोगों के पास 10 साल लग जाते हैं और फिर आपका एक लेवल अप हो जाएगा और फिर अगर मान लूं फिर उसके बाद स्ट्रगल का बुरा समय भी आ गया अगर फिर से किस्मत पलटी खा गई दो ही साल के लिए अच्छी किस्मत किस बात पर पलटी खा गई वह भी आपका जो लेवल अप हो चुका होगा ना फिर उससे नीचे नहीं जाए उतना चलता रहेगा रन करता रहे किस्मत का बहुत ज्यादा आपके सक्सेज में योगदान होता ही है लेकिन कर्म करे बिना आप लाइफ में बहुत ज्यादा नहीं पता बहुत थोड़ा पाओगे पहुंच जरा सा मिलेगा एक बात दूसरी बात अगर हम किस्मत के भरोसे मिलेंगे भर रहेंगे तो भूख भी मर जाएंगे जो मेरा बुरा समय है ना यह अच्छा समय नहीं है कहीं वह बुरा नहीं है लेकिन सम सम है सम सम लेकिन उस समय भी तो हमें कुछ ना कुछ पैसा चाहिए तो वह तो कम कर कर्म करने से ही आएगा तो जो नॉर्मल टाइम है उसमें कर्म करना पड़ेगा तो कर्म के अनुरूप में लेगा जब अच्छा समय आएगा तो कर्मप्लेस अच्छा समय यानी भाग गया ने किस्मत उसके अनुरूप मिलेगा तब दो चीज हो जाएगी कर्म और भाग्य दोनों से मिले धन्यवाद

bahut accha prashna hai mera pasandida prashna hai aaram se sunana puri baat aapko jo kuch bhi poore jeevan me milta hai geeta me bhagwan krishna ne jo bataya vaah aapke prarabdh se milta hai aap ke vartaman karm se nahi milta lekin vartaman karm ke dwara milta hai prarabdh se milta hai prarabdh arthat kismat kismat ka nirmaan kisse hota hai yah prashna hai toh kismat se hi milta hai parantu sab kuch kismat se hi milta hai aisa nahi parishram ki zarurat hoti hai bilkul hoti hai thoda vistaar se charcha karenge karmanyevadhikaraste ma faleshu kadachan aa karm karo fal ki chinta mat karna kathin sawaal bachpan se dimag me mere jata nahi mujhe samajh aata hi nahi how can v possible aapko ek kaam karo aur fal ki chinta mat karo is not possible fal ki chinta pehle ho jaati hai ab toh aap kaam karte ho pehle parinam ke bare me pata hota hai tabhi toh action hota hai tab parinam ke bare me batana hoga ek se action lene ka exitement energy aayegi nahi aap kahin job kyon nahi interview dene jao job karo aur salary na pucho toh aapko puri duniya murkh na sahegi kahin parinam ke bare me hamein pehle chinta hoti hai hum exam de parinam ki chinta na kare bus exam de de note toh phir kya bhagwan murkh the jo unhone yah kaha ki karm karo fal ki chinta mat kar kyon asal me jo aap vartaman me karm kar rahe ho usse parinam nahi aana hai dhyan dena usse parinam nahi aana hai but uske dwara na toh karm ki zarurat hai karm ki zarurat hai kyonki us tak ke dwara aana hai toh vaah naam jise aana parinam jo narad arthat kismat hai uske dwara aana hai vaah kismat kis se banti hai vaah bhi karm se banti hai asal me yah train gale triangle do konon par karam hai niche ke do konon ke karm hai upar ke top ke kone par corner kismat baithe log karm karte ho karma karte ho upar jaakar kismat banti hai aur vaah kismat aapko fal dena chahti hai lekin de sakti hai jab aap karm karte ho karm ke dware fal dete the ab aise karm karo jisse acche kismat me jitne acche karm honge jitne positive energy positive karm honge uske anusaar achi kismat banegi achi kismat aapko acche parinam degi lekin un parinamon ko hasil karne ke liye again karm karna padega mere jeevan ka anubhav yah hai ki kismat se hi milta hai main hamesha kismat ka intejar karta hoon sahi samay aur us samay mujhe bahut milta hai isliye vaah kehte hain karm kar fal ki chinta mat rocky fal tere hath me nahi kal mere hath me kya samajh le tere yaad me toh tere hath me nahi tere parishram ke hath me nahi teri kismat kya hai bahut saare log bahut saare Motivational speaker aapse kahenge ki kar kada parishram karo kada parishram karo 1 din safalta zaroor milegi aap kisi bhi success person ki patrika agar maloom kar Sako janmapatrika agar maloom kar Sako toh aapko pata chal jaega ek accha jyotish patrika ko dekh kar bata sakta hai aap swayam kuch na batao toh bata dega itne saal sister kal karega itne saal is ke sabse acche hain aur aap dekhoge ki wahi saal uske success ke honge tab tak usne struggle kiya toh log kehte maine bahut kathin parishram se safalta hasil karna kathin parishram karte hi raha jab tak uski kismat nahi thi use safalta nahi mili lekin haan usse uska parafekshan aa gaya parafekshan aa gaya aur jab uska samay accha aaya toh usne maximum hasil kiya aisa ho ki saal me ek competition hota hai running ka todkar us running ke competition me Rs ka price hai har saal bhar daudh kar uski practice kar rahe ho tu ko ek lakh jitne ke chances aapke sau percent ho gaya lekin aap socho ki are yaar milna hoga toh mil jaega kismat me hoga toh mil jaaye toh kismat me ho sakta hai aapke ho lekin aap reh jao kyon kyonki aapne mehnat nahi ki ho sakta pehla prize ek lagta vaah na mile second price 50000 tak ho na mile third prize aapko 11th tha vo mil jaaye kyonki aapne sirf kismat ka khaya toh kismat se utana hi milta hai jitna kismat me likha hota hai lekin parishram se kitna mil sakta hai jitna aap chahte ho ki aapko mile dekho agar me good samay aata hai jo accha samay aata hai na us acche samay me parinam hasil karna aapke hath me hota hai vaah samay accha hota hai acche samay pe kitna maximum uska dohan kar sakte ho sacche samay ka kitna upyog kar sakte kitna aap nikaal sakte ho apne liye kitna kama sakte ho aapke upar hai toh uske liye utana is time na utani capacity utani kabiliyat aapke paas hona chahiye na tab aap us kam samay me maximum output le paoge lekin samay aaya aur chala gaya kyon kyonki aap ki practice nahi thi ab dhyan nahi tha dhyan nahi tha knowledge nahi thi toh vaah accha samay jo aayega vaah aapko thoda bahut labh de jaega parantu jo match labh de sakta tha vaah nahi de payega tu kismat ke bina toh koi vyakti chalta hi nahi hai kisi ne aaj tak apne parishram se safalta hasil kare aisa nahi ho saare log lata ji se accha gaane waale honge ho sakta hoon pata hi na chala song saare gayak ho sakte unko safalta nahi mili bahut saare kalakar ho sakte hain jinako safalta nahi mili manch nahi mila bahut saare kavi hain jinako manch nahi mil paye vaah saare logo ki kismat ne unka saath nahi diya unhone struggle bhi kara mehnat bhi kara yah hai ki vaah quit kar gaye galat samay par kuch kar gaye jaldi haar gaye jaldi thak gaye kab tak lage rehna tha ek samay unki life me accha tha us samay tak hone lage rehna tha accha samay aur bura samay aata jata rehta hai ab ab bure samay mehnat kar rahe ho toh baap apni stamina ko apni kabiliyat ko badha raha hai practice kar raha hai aur jab vaah accha samay aayega na toh yah jo abhyas apne bure samay me kara hai yah aapko behtar ho zyada parinam dega bahut zyada parinam dega taiyari karte raho jis din sahi samay hoga us din bahut zyada mil jaega yaar 5 saal baad aapke 2 saal bhi accha hai na toh un 2 saal me jo pichle 5 saal ke apne taiyari kariye vaah aap kaun 2 salon me bahut hike chale jaenge bahut zyada hai aur itna zyada paisa kama loge itna kama lenge logo ke paas 10 saal lag jaate hain aur phir aapka ek level up ho jaega aur phir agar maan loon phir uske baad struggle ka bura samay bhi aa gaya agar phir se kismat palati kha gayi do hi saal ke liye achi kismat kis baat par palati kha gayi vaah bhi aapka jo level up ho chuka hoga na phir usse niche nahi jaaye utana chalta rahega run karta rahe kismat ka bahut zyada aapke succsej me yogdan hota hi hai lekin karm kare bina aap life me bahut zyada nahi pata bahut thoda paoge pohch zara sa milega ek baat dusri baat agar hum kismat ke bharose milenge bhar rahenge toh bhukh bhi mar jaenge jo mera bura samay hai na yah accha samay nahi hai kahin vaah bura nahi hai lekin some some hai some some lekin us samay bhi toh hamein kuch na kuch paisa chahiye toh vaah toh kam kar karm karne se hi aayega toh jo normal time hai usme karm karna padega toh karm ke anurup me lega jab accha samay aayega toh karmaples accha samay yani bhag gaya ne kismat uske anurup milega tab do cheez ho jayegi karm aur bhagya dono se mile dhanyavad

बहुत अच्छा प्रश्न है मेरा पसंदीदा प्रश्न है आराम से सुनना पूरी बात आपको जो कुछ भी पूरे जीव

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  140
WhatsApp_icon
user
0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं फिर से यह बताना चाहूंगा कि किस्मत आप अपनी खुद लिखते हैं ना कि किस्मत लिखा हुआ होता है जब मानव जन्म लेता है तो उसका जो स्टिक्स होता है गोरा कोरा कागज होता है और उस कोरे कागज में जो भी चीज डाला जाता है लिखा जाता है वही हमेशा रहता है इसलिए किस्मत के भरोसे कुछ नहीं मिलने वाला है अगर आपको कुछ भी चाहिए तो उसके लिए आपको परिश्रम करना होगा बिना परिश्रम के आप कुछ भी नहीं प्राप्त कर सकते हैं इसमें कुछ भी प्राप्त करने के लिए आपको परेशान करना ही पड़ेगा

main phir se yah batana chahunga ki kismat aap apni khud likhte hain na ki kismat likha hua hota hai jab manav janam leta hai toh uska jo sticks hota hai gora quora kagaz hota hai aur us kore kagaz me jo bhi cheez dala jata hai likha jata hai wahi hamesha rehta hai isliye kismat ke bharose kuch nahi milne vala hai agar aapko kuch bhi chahiye toh uske liye aapko parishram karna hoga bina parishram ke aap kuch bhi nahi prapt kar sakte hain isme kuch bhi prapt karne ke liye aapko pareshan karna hi padega

मैं फिर से यह बताना चाहूंगा कि किस्मत आप अपनी खुद लिखते हैं ना कि किस्मत लिखा हुआ होता है

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  81
WhatsApp_icon
user

bhaand's Theatre and Acting Classes

Acting And drama Coach Casting director Drama Director

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए किस्मत का अर्थ क्या समझ रहे हैं किस्मत तभी काम करती है जब आप प्रयत्नशील हो जब आपको किसी प्रकार का काम कर रहे हैं तो अब भरोसा करके कर रहे हो तभी आपका किस्मत साथ देती है जब आप अब पर्यटन करते हो आप परिश्रम करते हो आप कोशिश करते हो अब सिर्फ किस्मत के भरोसे नहीं बैठ सकते क्योंकि किस्मत उन्हीं लोगों की चमकती है जो कोशिश करते हैं अगर परिश्रम नहीं करोगे और सिर्फ किस्मत के सहारे बैठे रहोगे तू शायद आप बैठे ही रहोगे देखिए आपकी थाली में खाना रखा है और आप सोचोगे कि परिश्रम ना करूं मेरी किस्मत में खाना है तो मुझे मिल जाएगा परिश्रम अर्थात कि आपको आने वाले को उठाना है और अपने मुंह में डालना है और परिश्रम करना है चलाने के लिए तब जाकर आप को शांति मिलेगी और तब कहा जाएगा कि हां आपकी किस्मत में है तू प्रयत्न किया तभी वह आपकी किस्मत में आया तो आप अपनी किस्मत को अपने कर्मों से बदल सकते हैं और अपने कर्मों से अच्छी या बुरी कर सकते हो धन्यवाद

dekhiye kismat ka arth kya samajh rahe hain kismat tabhi kaam karti hai jab aap prayatnashil ho jab aapko kisi prakar ka kaam kar rahe hain toh ab bharosa karke kar rahe ho tabhi aapka kismat saath deti hai jab aap ab paryatan karte ho aap parishram karte ho aap koshish karte ho ab sirf kismat ke bharose nahi baith sakte kyonki kismat unhi logo ki chamakati hai jo koshish karte hain agar parishram nahi karoge aur sirf kismat ke sahare baithe rahoge tu shayad aap baithe hi rahoge dekhiye aapki thali me khana rakha hai aur aap sochoge ki parishram na karu meri kismat me khana hai toh mujhe mil jaega parishram arthat ki aapko aane waale ko uthana hai aur apne mooh me dalna hai aur parishram karna hai chalane ke liye tab jaakar aap ko shanti milegi aur tab kaha jaega ki haan aapki kismat me hai tu prayatn kiya tabhi vaah aapki kismat me aaya toh aap apni kismat ko apne karmon se badal sakte hain aur apne karmon se achi ya buri kar sakte ho dhanyavad

देखिए किस्मत का अर्थ क्या समझ रहे हैं किस्मत तभी काम करती है जब आप प्रयत्नशील हो जब आपको क

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
user

Harish Rana

Motivational Speaker

3:01
Play

Likes  5  Dislikes    views  106
WhatsApp_icon
user

Dr. Swatantra Jain

Psychotherapist, Family & Career Counsellor and Parenting & Life Coach

2:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब तक कितने किस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है किस्मत से सब कुछ होता है यह परीक्षण के लिए जरूरत होती है अब किस्मत का आपके जीवन में कितना योगदान है यह तो आप ही बताएंगे कोई और कैसे बताएगा आपके जेब में क्या हुआ क्या सफलता मिली नहीं मिली तो मिली नहीं मिली है तो आपको पता है अब रही बात आपकी किस क्या किस्मत से सब कुछ होता है या परिश्रम की भी जरूरत होती है अगर आप क्या किस्मत में ही सब कुछ होता है कहीं आपको आम खाना है हम बहुत समय पेड़ के नीचे बैठ जाओ तो कॉल कर किस्मत होगी तो मैं में पड़ जाएगा अरे परिश्रमी आम तोड़ने नहीं बाबू तोड़ोगे ने तुम्हें कैसे आ जाएगा अपने आप किस में तो आपके घर में लिखते हैं जैसा कर्म करोगे वैसे कितने बच्चे कैसे हैं ठीक वैसे ही जैसे आम का बीज बोने से अमरूद का बीज बोने से अवैध प्रीपेड निकलेगा कोई और अच्छा कर्म किया तो उसका बुरा हल नहीं निकल सकता लेकिन कर्म करेंगे ही नहीं बैठे रहेंगे किस्मत के सारे तो यह तो हमारी समझ में तो पड़ता है आपके समझ में पड़ता है तो आजमा के देख लो

ab tak kitne kismat ka mere jeevan me kitna yogdan hai kismat se sab kuch hota hai yah parikshan ke liye zarurat hoti hai ab kismat ka aapke jeevan me kitna yogdan hai yah toh aap hi batayenge koi aur kaise batayega aapke jeb me kya hua kya safalta mili nahi mili toh mili nahi mili hai toh aapko pata hai ab rahi baat aapki kis kya kismat se sab kuch hota hai ya parishram ki bhi zarurat hoti hai agar aap kya kismat me hi sab kuch hota hai kahin aapko aam khana hai hum bahut samay ped ke niche baith jao toh call kar kismat hogi toh main me pad jaega are parishrami aam todne nahi babu todoge ne tumhe kaise aa jaega apne aap kis me toh aapke ghar me likhte hain jaisa karm karoge waise kitne bacche kaise hain theek waise hi jaise aam ka beej bone se amrud ka beej bone se awaidh prepaid niklega koi aur accha karm kiya toh uska bura hal nahi nikal sakta lekin karm karenge hi nahi baithe rahenge kismat ke saare toh yah toh hamari samajh me toh padta hai aapke samajh me padta hai toh ajama ke dekh lo

अब तक कितने किस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है किस्मत से सब कुछ होता है यह परीक्षण के

Romanized Version
Likes  541  Dislikes    views  3989
WhatsApp_icon
Likes  258  Dislikes    views  1902
WhatsApp_icon
user

Vijendra Bhambu

Motivational Speaker

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमेशा सकारात्मक उचित कार्य करने वाले को ही किस्मत का साथ मिल पाता है अर्थात आपके द्वारा किए गए उचित कार्य सकारात्मक परिश्रम ही आपकी किस्मत होते हैं

hamesha sakaratmak uchit karya karne waale ko hi kismat ka saath mil pata hai arthat aapke dwara kiye gaye uchit karya sakaratmak parishram hi aapki kismat hote hain

हमेशा सकारात्मक उचित कार्य करने वाले को ही किस्मत का साथ मिल पाता है अर्थात आपके द्वारा कि

Romanized Version
Likes  40  Dislikes    views  374
WhatsApp_icon
play
user

Shipra Ranjan

Life Coach

0:26

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आकाश वाले किस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है क्या किस्मत ही सब कुछ होता है या परिश्रम की भी जरूरत होती है आपको बता दें कि किस्मत में चाहे कितना भी अच्छा क्यों ना लिखा हो राजयोगी क्यों ना लिखा हो जब तक आप परेशान नहीं करेंगे प्रयास नहीं करेंगे तब तक आपको कुछ भी हासिल नहीं होगा तो किस्मत में कुछ भी लिखा है उसे पाने के लिए उसे हासिल करने के लिए परिश्रम करना बहुत ही ज्यादा जरूरी होता है प्रयास करना बहुत ही ज्यादा जरूरी होता है आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद

akash waale kismat ka mere jeevan mein kitna yogdan hai kya kismat hi sab kuch hota hai ya parishram ki bhi zarurat hoti hai aapko bata de ki kismat mein chahen kitna bhi accha kyon na likha ho rajayogi kyon na likha ho jab tak aap pareshan nahi karenge prayas nahi karenge tab tak aapko kuch bhi hasil nahi hoga toh kismat mein kuch bhi likha hai use paane ke liye use hasil karne ke liye parishram karna bahut hi zyada zaroori hota hai prayas karna bahut hi zyada zaroori hota hai aapka din shubha rahe dhanyavad

आकाश वाले किस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है क्या किस्मत ही सब कुछ होता है या परिश्रम

Romanized Version
Likes  187  Dislikes    views  3437
WhatsApp_icon
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे ख्याल से किस्मत का जीवन में कोई योगदान नहीं होता इंसान के कर्म जो रिजल्ट देते हैं उसे लोग किस्मत का नाम दे देते हैं तो आप इन बातों पर ध्यान ना देकर परिश्रम करें और परिश्रम के साथ बुद्धि का मेल करें कि बुद्धि लगाकर परिश्रम करें कि आपको कहां हो तो क्या करना चाहिए और इन किस्मत किस्मत की बातों को आप अलग ही छोड़ दें

mere khayal se kismat ka jeevan mein koi yogdan nahi hota insaan ke karm jo result dete hain use log kismat ka naam de dete hain toh aap in baaton par dhyan na dekar parishram kare aur parishram ke saath buddhi ka male kare ki buddhi lagakar parishram kare ki aapko kahaan ho toh kya karna chahiye aur in kismat kismat ki baaton ko aap alag hi chhod dein

मेरे ख्याल से किस्मत का जीवन में कोई योगदान नहीं होता इंसान के कर्म जो रिजल्ट देते हैं उस

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  328
WhatsApp_icon
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

5:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे किस्मत को आप इस तरीके से भतीजे की कोई बैठा हुआ आपकी किस्मत मेरी किस्मत उसकी किस्मत इसके किस्मत है लिखता जाते हैं उसके दिमाग में जो आता है ऐसा नहीं होता है किस्मत और कुछ नहीं जो हमारा आने वाला समय या कल होता है वह क्या होता है वह कौन सीक्वेंस होता है एक नतीजा होता है जिस तरह कैसे हमने पास्ट में या आज काम किया है तो जो हम करते हैं जैसा हम सोचते हैं और कर्म करते हैं उसी हिसाब से हमेशा के कौन सीक्वेंस आगे मिलता है अब क्योंकि हम इस धरातल पर अकेले नहीं हैं हम बहुत सारे लोगों के साथ हैं तो हम सब एक दूसरे के साथ जुड़े हुए हैं जी से जुड़ी हुई हैं तो इसीलिए आज अब हम आगे बढ़ते हैं तो हमें कई बार लगता है कि मैं अटक के व्यापक क्यों गया वह मेरे साथ ऐसा क्यों कर रहा है ऐसा क्यों हो रहा है मेरे साथ उसने मुझे धोखा दिया यह हुआ वह हुआ यह सारे इसलिए होता है कि जो भी कुछ हमने किया है जो तीर हमारी तरफ से गया है वह तीर हमारे पास आएगा ही आएगा हमें यह नहीं पता होता कि कब आएगा कि फॉर्म में टाइगर केस इंटेंसिटी का आएगा तो किस्मत असली में देखा जाए तो आप और हम अपनी किस्मत खुद बनाते हैं लेकिन हमें पता नहीं होता कि यह करने से क्या होगा यह करने से क्या होगा हां मोटा मोटा तो देखने हम ब्रॉडली तो देखते हैं भाई अच्छी बात है मैंने सिग्नल जाम कर लिया तो क्या होता है तो भाई आगे कोई पुलिस वाला होगा वह मुझे पकड़ लेगा यह सब हमें समझ आता है हम इस तरीके से जीवन को देखते हैं लेकिन जो प्रकृति का नियम है वह सारा उस तरीके से चलता है जो हमें दिखाई नहीं देता हमें समझ नहीं आता और हाइट तो हमें तो ऐसे लगता है कि लाइव बहुत में क्या निकले लेकिन इतनी महक में क्या निकल रही है लाइव बहुत सुस्त उसमें तरीके से भी चलती है और इसी तरीके से हमारा कल बनता चला जाता है चाहे हम उसको अनजाने में बनाई या जानबूझकर सोच समझकर बनाए लेकिन हम बनाते रहते हैं अपना कल तो आज हम क्या करें यह बड़ा इंपॉर्टेंट होते हमें तो बस आज पर ध्यान देना होता है क्योंकि जो चला गया उस पर आप कुछ नहीं कर सकते बीते हुए कल पर कुछ नहीं कर सकते आने वाले समय पर जाकर कुछ नहीं कर सकते जब वह समय आएगा तब उस दिन उस समय उस टाइम आप कुछ करेंगे लेकिन करना जो होता है वह हमेशा आज होता है आप ही होता है इस पल होता है तो हमेशा हमें ध्यान देना चाहिए कि हम हर पल कैसा व्यतीत करें क्या सोचते हैं और क्या करते हैं किस दिशा में कदम उठाते हैं उसी हिसाब से आपके दर्शन सुधरती चली जाती हैं ऐसा क्यों हो रहा है जी देखिए आपने कुछ तेज जो कई सालों पहले हो चुका है या पिछले जन्म में मारी होंगे उसको तो आना ही है वह तो आएगा ही आएगा किससे में आएगा किस तरीके का आएगा यह हमको नहीं पता तो कोई बात नहीं उसकी वह भी हमारे कारण ही आएगा तो एक्सेप्ट करते हैं और मुंह करते हैं लाइन में लाइफ में अगर आदि से भी समझ आ गए तो कोई बात नहीं अभी से हम सुधार करने की कोशिश करते हैं और आगे बढ़ते हैं तो इसीलिए किस्मत हम सब खुद बनाते हैं आसानी से मैंने कुछ किया है और उसे जलने वाले तो मुझे परेशान करने की क्या जरूरत है रही थी आप का सवाल है जी देखिए कोई भी चीज तो बिना परिश्रम के नहीं होगी ना अगर आपको पानी भी पीना है तो आपको बॉटल से जल्द से गिलास में पानी डालकर या जग से या बोतल से आपको पानी पीने का प्रयास करना पड़ेगा तब आप पी सकते हैं खाना खाने के लिए भी खाना कब मेहनत करना पड़ता है आप को सैलरी उठाने के लिए नौकरी अगर आप करते हैं तो आपको कहीं जाना होता है पूरे महीने काम करते हैं तब जाकर आपको जान को मिलती हैं तो बिना किसी परिश्रम किया बिना किसी शाम के ठीक है आपको कहां से रिजल्ट मिलेगा वह तो नहीं मिलेगा ना अगर आप बेड से उठ कर जाकर नहाना चाहते हैं तो वहीं बैठ पर बैठे-बैठे तो आप नहा नहीं सकते ना को तो उसके तो जाना पड़ेगा तो वही परिश्रम करना तो आज जरूरी है जरूरी में का मतलब यह नहीं होता कि नहीं आपको आप मजदूर की तरह ही परेशान करना है जी नहीं आपने अगर अपने स्कूल बना रखा है आपको पता है कि कौन सा काम किस तरीके से किस समय पर होगा और आप पूरे का नियंत्रण में है तो जैसे कि वह बहुत अच्छी बात है लेकिन हर इंसान को कर्म तो करते रहना पड़ेगा ना तो इस पर ध्यान दीजिएगा तो हम ही कर डेफिनेटली करना है किस तरीके का कर्म करना है किस दिशा में करना है हमारी सोच क्या है नजरिया क्या है हमारे कर्म मैं कैसे हो रहे हैं तो उससे जरा अगर हम थोड़ा सा ध्यान देंगे तो हमारी किस्मत जगने की अच्छी बनती चली जाएगी अगर अच्छी मान लीजिए मेरी ड्यूटी में नहीं तो कोई बात नहीं आप रे आंसू कीजिए आने वाले समय अच्छा ही हो गए प्लीज कम से कम आपकी बस तेरी ग्रेट तो नहीं रहेगा अफसोस तो नहीं रहेगा कि मैंने कहा अच्छा काम अच्छा कर्म कर लिया होता दूसरी बात यह आती है कि भाई कोई बात नहीं आप क्या फर्क पड़ता है आप जब होना होगा देखा जाएगा तो यह आपके ऊपर है आप अपनी लाइफ कैसी चाहते हैं यह जीवन बड़ी मुश्किल से हम को मिलता है तो अगर आपके जीवन को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो डेफिनिटी आ प्रयास कीजिए और अपने जीवन को जितना चाहे उतना सुंदर बना सकते हैं क्योंकि लाइफ है यह आपका लाइफ है

dekhe kismat ko aap is tarike se bhatije ki koi baitha hua aapki kismat meri kismat uski kismat iske kismat hai likhta jaate hai uske dimag mein jo aata hai aisa nahi hota hai kismat aur kuch nahi jo hamara aane vala samay ya kal hota hai vaah kya hota hai vaah kaun sequence hota hai ek natija hota hai jis tarah kaise humne past mein ya aaj kaam kiya hai toh jo hum karte hai jaisa hum sochte hai aur karm karte hai usi hisab se hamesha ke kaun sequence aage milta hai ab kyonki hum is dharatal par akele nahi hai hum bahut saare logo ke saath hai toh hum sab ek dusre ke saath jude hue hai ji se judi hui hai toh isliye aaj ab hum aage badhte hai toh hamein kai baar lagta hai ki main atak ke vyapak kyon gaya vaah mere saath aisa kyon kar raha hai aisa kyon ho raha hai mere saath usne mujhe dhokha diya yah hua vaah hua yah saare isliye hota hai ki jo bhi kuch humne kiya hai jo teer hamari taraf se gaya hai vaah teer hamare paas aayega hi aayega hamein yah nahi pata hota ki kab aayega ki form mein tiger case intention ka aayega toh kismat asli mein dekha jaaye toh aap aur hum apni kismat khud banate hai lekin hamein pata nahi hota ki yah karne se kya hoga yah karne se kya hoga haan mota mota toh dekhne hum broadly toh dekhte hai bhai achi baat hai maine signal jam kar liya toh kya hota hai toh bhai aage koi police vala hoga vaah mujhe pakad lega yah sab hamein samajh aata hai hum is tarike se jeevan ko dekhte hai lekin jo prakriti ka niyam hai vaah saara us tarike se chalta hai jo hamein dikhai nahi deta hamein samajh nahi aata aur height toh hamein toh aise lagta hai ki live bahut mein kya nikle lekin itni mahak mein kya nikal rahi hai live bahut sust usme tarike se bhi chalti hai aur isi tarike se hamara kal baata chala jata hai chahen hum usko anjaane mein banai ya janbujhkar soch samajhkar banaye lekin hum banate rehte hai apna kal toh aaj hum kya kare yah bada important hote hamein toh bus aaj par dhyan dena hota hai kyonki jo chala gaya us par aap kuch nahi kar sakte bite hue kal par kuch nahi kar sakte aane waale samay par jaakar kuch nahi kar sakte jab vaah samay aayega tab us din us samay us time aap kuch karenge lekin karna jo hota hai vaah hamesha aaj hota hai aap hi hota hai is pal hota hai toh hamesha hamein dhyan dena chahiye ki hum har pal kaisa vyatit kare kya sochte hai aur kya karte hai kis disha mein kadam uthate hai usi hisab se aapke darshan sudhrati chali jaati hai aisa kyon ho raha hai ji dekhiye aapne kuch tez jo kai salon pehle ho chuka hai ya pichle janam mein mari honge usko toh aana hi hai vaah toh aayega hi aayega kisse mein aayega kis tarike ka aayega yah hamko nahi pata toh koi baat nahi uski vaah bhi hamare karan hi aayega toh except karte hai aur mooh karte hai line mein life mein agar aadi se bhi samajh aa gaye toh koi baat nahi abhi se hum sudhaar karne ki koshish karte hai aur aage badhte hai toh isliye kismat hum sab khud banate hai aasani se maine kuch kiya hai aur use jalne waale toh mujhe pareshan karne ki kya zarurat hai rahi thi aap ka sawaal hai ji dekhiye koi bhi cheez toh bina parishram ke nahi hogi na agar aapko paani bhi peena hai toh aapko bottle se jald se gilas mein paani dalkar ya jag se ya bottle se aapko paani peene ka prayas karna padega tab aap p sakte hai khana khane ke liye bhi khana kab mehnat karna padta hai aap ko salary uthane ke liye naukri agar aap karte hai toh aapko kahin jana hota hai poore mahine kaam karte hai tab jaakar aapko jaan ko milti hai toh bina kisi parishram kiya bina kisi shaam ke theek hai aapko kahaan se result milega vaah toh nahi milega na agar aap bed se uth kar jaakar nahaana chahte hai toh wahi baith par baithe baithe toh aap naha nahi sakte na ko toh uske toh jana padega toh wahi parishram karna toh aaj zaroori hai zaroori mein ka matlab yah nahi hota ki nahi aapko aap majdur ki tarah hi pareshan karna hai ji nahi aapne agar apne school bana rakha hai aapko pata hai ki kaun sa kaam kis tarike se kis samay par hoga aur aap poore ka niyantran mein hai toh jaise ki vaah bahut achi baat hai lekin har insaan ko karm toh karte rehna padega na toh is par dhyan dijiyega toh hum hi kar definetli karna hai kis tarike ka karm karna hai kis disha mein karna hai hamari soch kya hai najariya kya hai hamare karm main kaise ho rahe hai toh usse zara agar hum thoda sa dhyan denge toh hamari kismat jagane ki achi banti chali jayegi agar achi maan lijiye meri duty mein nahi toh koi baat nahi aap ray aasu kijiye aane waale samay accha hi ho gaye please kam se kam aapki bus teri great toh nahi rahega afasos toh nahi rahega ki maine kaha accha kaam accha karm kar liya hota dusri baat yah aati hai ki bhai koi baat nahi aap kya fark padta hai aap jab hona hoga dekha jaega toh yah aapke upar hai aap apni life kaisi chahte hai yah jeevan baadi mushkil se hum ko milta hai toh agar aapke jeevan ko aur behtar banana chahte hai toh definiti aa prayas kijiye aur apne jeevan ko jitna chahen utana sundar bana sakte hai kyonki life hai yah aapka life hai

देखे किस्मत को आप इस तरीके से भतीजे की कोई बैठा हुआ आपकी किस्मत मेरी किस्मत उसकी किस्मत इस

Romanized Version
Likes  551  Dislikes    views  7268
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो मैं आपको बता देना चाहता हूं किस्मत लेकर सभी लोग पैदा नहीं होते कुछ लोगों को अपना किस्मत बनाना भी पड़ता है हिटलर को आप जानते होंगे इतना दुनिया के सबसे बड़े स्तन आशा थी जब वह बचपन में छोटे थे तो एक बार एक पंडित जी उनके घर पर आए हुए थे उनकी माताजी ने हिटलर का हाथ पंडित जी को दिखाया हिटलर ने यह बोला कि पंडित जी देखिए मेरे हाथ में की कोई अच्छी लकीर है कि मैं दुनिया में शासन करूंगा पंडित जी ने बोला तुम्हारा जीवन सामान में बिकेगा तुम कभी भी बड़ा नहीं बन पाओगे तो हिटलर ने बोला पंडित जी बताइए वह लकीर कैसी होती है जो दुनिया पर व्यक्ति शासन करता है उन्होंने बताया कि ऐसे होती है हिटलर गया किचन में और चाकू से अपने हाथ पर लकीर बनाकर आया और पंडित जी को दिखाया खून बह रहा था कि पंडित जी मैं अपना भविष्य अपने से बना लूंगा अपने महल से बना लूंगा बाद में हिटलर दुनिया का सबसे बड़ा तानाशाह बना इसलिए अगर आप किस्मत के ऊपर डिपेंड रहोगे तो आप कमजोर बनोगे अजब कमजोर बनोगे जीवन में आप कुछ कर नहीं पाओगे आपका जीवन ऐसे ही बीतेगा एक दिन आप मर जाओगे और आपको कोई नहीं जानेगा इसलिए मेहनत करने की जरूरत है जब आप मेहनत करोगे इमानदारी से सत्य के पथ पर चलोगे अपने मन में अच्छी भावना रखोगे तो आपका किस्मत भी साथ देने लगेगा जब आप कुछ करोगे ही नहीं तो आपका किस्मत कभी साथ नहीं देगा इसलिए आपको अपने ऊपर कॉन्फिडेंस होना चाहिए भरोसा होना चाहिए और समय का यूटिलाइजेशन करने की भावना होनी चाहिए एक-एक मिनट एक-एक सेकंड बहुत इंपॉर्टेंट है इसका यूटिलाइजेशन आप सही दिशा में करिए और मन लगाकर करिए आपका सफलता कदम चूमेगी धन्यवाद

dekho main aapko bata dena chahta hoon kismat lekar sabhi log paida nahi hote kuch logo ko apna kismat banana bhi padta hai hitler ko aap jante honge itna duniya ke sabse bade stan asha thi jab vaah bachpan mein chote the toh ek baar ek pandit ji unke ghar par aaye hue the unki mataji ne hitler ka hath pandit ji ko dikhaya hitler ne yah bola ki pandit ji dekhiye mere hath mein ki koi achi lakir hai ki main duniya mein shasan karunga pandit ji ne bola tumhara jeevan saamaan mein bikega tum kabhi bhi bada nahi ban paoge toh hitler ne bola pandit ji bataye vaah lakir kaisi hoti hai jo duniya par vyakti shasan karta hai unhone bataya ki aise hoti hai hitler gaya kitchen mein aur chaku se apne hath par lakir banakar aaya aur pandit ji ko dikhaya khoon wah raha tha ki pandit ji main apna bhavishya apne se bana lunga apne mahal se bana lunga baad mein hitler duniya ka sabse bada tanashah bana isliye agar aap kismat ke upar depend rahoge toh aap kamjor banogey ajab kamjor banogey jeevan mein aap kuch kar nahi paoge aapka jeevan aise hi bitegaa ek din aap mar jaoge aur aapko koi nahi janega isliye mehnat karne ki zarurat hai jab aap mehnat karoge imaandari se satya ke path par chaloge apne man mein achi bhavna rakhoge toh aapka kismat bhi saath dene lagega jab aap kuch karoge hi nahi toh aapka kismat kabhi saath nahi dega isliye aapko apne upar confidence hona chahiye bharosa hona chahiye aur samay ka yutilaijeshan karne ki bhavna honi chahiye ek ek minute ek ek second bahut important hai iska yutilaijeshan aap sahi disha mein kariye aur man lagakar kariye aapka safalta kadam choomegi dhanyavad

देखो मैं आपको बता देना चाहता हूं किस्मत लेकर सभी लोग पैदा नहीं होते कुछ लोगों को अपना किस्

Romanized Version
Likes  229  Dislikes    views  4582
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है किस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है क्या किस्मत से ही सब ठीक होता है या प्रीतम की भी जरूरत होती वास्तव में एक गलत अवधारणा है कि भाग्य हमारे भविष्य का निर्धारण करते हैं हकीकत यह नहीं है हकीकत यह है कि हमारे कर्म हमारे स्वयं के शारीरिक संभोग के मानसिक शारीरिक एवं मानसिक श्रम के परिणाम स्वरूप हम जो कर्म करते हैं कर्म ही भाग का कारक होता है ट्रैक्टर जिनका फल हमें मिल जाता है हम उसका अच्छे कर्म का अच्छा फल बुरे कर्म का बुरा फल संभोग लेते हैं अच्छे नतीजे कॉम इंजॉय करते हैं बुरे नतीजे को हम बर्दाश्त करते हैं और इस तरह से है जिन कर्मों का फल हमें मिल जाता है उन्हें हम छह कर्म कहते हैं है यह समाप्त हो गए लेकिन ऐसे कर्म का फल मिलना शेष रह जाता है वह प्रारब्ध और भाग्य बन जाते हैं लेकिन भाग्य का निर्माता हमारे कर्म है और कर्म मनुष्य उनके फर्क पड़ता है इसका अर्थ यह है कि परिश्रम और कर्म ही मूल है परिश्रम और गर्मी आपके आगे का निर्धारण करता है इसलिए आप निरंतर परिश्रम करते रहिए आप निरंतर बढ़ते रहिए अगर आप निरंतर परिश्रम करते रहेंगे तो आपका भाग्य निश्चित रूप से शुरू होगा थैंक यू

aapka prashna hai kismat ka mere jeevan mein kitna yogdan hai kya kismat se hi sab theek hota hai ya pritam ki bhi zarurat hoti vaastav mein ek galat avdharna hai ki bhagya hamare bhavishya ka nirdharan karte hain haqiqat yah nahi hai haqiqat yah hai ki hamare karm hamare swayam ke sharirik sambhog ke mansik sharirik evam mansik shram ke parinam swaroop hum jo karm karte hain karm hi bhag ka kaarak hota hai tractor jinka fal hamein mil jata hai hum uska acche karm ka accha fal bure karm ka bura fal sambhog lete hain acche natije com enjoy karte hain bure natije ko hum bardaasht karte hain aur is tarah se hai jin karmon ka fal hamein mil jata hai unhe hum cheh karm kehte hain hai yah samapt ho gaye lekin aise karm ka fal milna shesh reh jata hai vaah prarabdh aur bhagya ban jaate hain lekin bhagya ka nirmaata hamare karm hai aur karm manushya unke fark padta hai iska arth yah hai ki parishram aur karm hi mul hai parishram aur garmi aapke aage ka nirdharan karta hai isliye aap nirantar parishram karte rahiye aap nirantar badhte rahiye agar aap nirantar parishram karte rahenge toh aapka bhagya nishchit roop se shuru hoga thank you

आपका प्रश्न है किस्मत का मेरे जीवन में कितना योगदान है क्या किस्मत से ही सब ठीक होता है या

Romanized Version
Likes  215  Dislikes    views  983
WhatsApp_icon
user

Vinod Kumar Pandey

Life Coach | Career Counsellor ::Relationship Counsellor :: Parenting Counsellor

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने जो प्रश्न किया उस पत्र में मैं यही कहना चाहता हूं कि जीवन में हमारे कैसी परिस्थितियां आएगी वह हमारे नियंत्रण में नहीं होता है हम किस परिवार में जन्म लेंगे वह हमारी नजरों में नहीं होता है लेकिन हम अपने जीवन को क्या बना पाएंगे हमारे नियंत्रण में जरूर होता है इसलिए मेरा यही कहना है कि हमारा किस्मत सिर्फ इसके लिए जिम्मेदार होता है कि हम किस परिवार में जन्म लेंगे हमारे जीवन में इस प्रकार की चुनौतियां आएंगी किस प्रकार की परिस्थिति आएगी यह सब कहीं ना कहीं किस्मत पर निर्भर करता है लेकिन उस परिस्थिति में हम क्या बन पाते हैं और अपने जीवन को कैसी दशा और दिशा दशा दे पाते हैं यह हमारे परिश्रम पर हमारे कर्म पर निर्भर होता है इसलिए मेरा यही कहना है कि किस्मत आपके जीवन में परिस्थिति लाने के लिए जिम्मेदार होती है लेकिन आप कौन सी परिस्थिति में क्या कुछ कितना पाप आते हैं यह आपके परिश्रम और आखिरकार पर निर्भर करता है मेरा यही कहना है कि हर एक व्यक्ति अपने जीवन में जो सफलता हासिल करता है कामयाबी हासिल करता है वह कहीं ना कहीं परिश्रम उसके लिए जिम्मेदार होता है केवल किस्मत के सहारे पर बैठ के जीवन में कुछ भी बहुत अधिक नहीं मिल पाता किस्मत के सहारे बैठे रहने से सिर्फ वही मिलता है जो हमें परिस्थिति जाने अनजाने में दे देती है लेकिन अगर हम अपने जीवन को जैसा चाहते हैं वैसा बनाने की कोशिश करें तो वह सिर्फ और सिर्फ हमारे परिश्रम और हमारे मेहनत की बदौलत ही मिल सकता है आशा करता हूं कि आपको उत्तर मिल गया होगा धन्यवाद

aapne jo prashna kiya us patra me main yahi kehna chahta hoon ki jeevan me hamare kaisi paristhiyaann aayegi vaah hamare niyantran me nahi hota hai hum kis parivar me janam lenge vaah hamari nazro me nahi hota hai lekin hum apne jeevan ko kya bana payenge hamare niyantran me zaroor hota hai isliye mera yahi kehna hai ki hamara kismat sirf iske liye zimmedar hota hai ki hum kis parivar me janam lenge hamare jeevan me is prakar ki chunautiyaan aayengi kis prakar ki paristhiti aayegi yah sab kahin na kahin kismat par nirbhar karta hai lekin us paristhiti me hum kya ban paate hain aur apne jeevan ko kaisi dasha aur disha dasha de paate hain yah hamare parishram par hamare karm par nirbhar hota hai isliye mera yahi kehna hai ki kismat aapke jeevan me paristhiti lane ke liye zimmedar hoti hai lekin aap kaun si paristhiti me kya kuch kitna paap aate hain yah aapke parishram aur aakhirkaar par nirbhar karta hai mera yahi kehna hai ki har ek vyakti apne jeevan me jo safalta hasil karta hai kamyabi hasil karta hai vaah kahin na kahin parishram uske liye zimmedar hota hai keval kismat ke sahare par baith ke jeevan me kuch bhi bahut adhik nahi mil pata kismat ke sahare baithe rehne se sirf wahi milta hai jo hamein paristhiti jaane anjaane me de deti hai lekin agar hum apne jeevan ko jaisa chahte hain waisa banane ki koshish kare toh vaah sirf aur sirf hamare parishram aur hamare mehnat ki badaulat hi mil sakta hai asha karta hoon ki aapko uttar mil gaya hoga dhanyavad

आपने जो प्रश्न किया उस पत्र में मैं यही कहना चाहता हूं कि जीवन में हमारे कैसी परिस्थितियां

Romanized Version
Likes  202  Dislikes    views  1473
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!