मैं आजकल हमेशा ही अकेला और दुखी रहता हूँ। क्या मैं इस अकेलेपन में ख़ुशी ढूंढ़ सकता हूँ?...


user

Trainer Yogi Yogendra

Motivational Speaker || Career Coach || Business Coach || Marketing & Management Expert's

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स में योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर केरियर कोच और कॉरपोरेट ट्रेनर आज हम ट्यूशन के बारे में बात करने वाले हैं माय डियर फ्रेंड्स वह है कि मैं हमेशा अकेला और दुखी रहता हूं क्या मैं इस अकेलेपन में खुशी ढूंढ सकता हूं देखिए ढूंढने वाला अगर ढूंढता है उसी को तो कहीं भी ढूंढ लेता है और अगर नहीं सुन पाता तो उसको सारे जहां में नहीं मिल पाती इसलिए अगर आप अकेले हैं और दुखी रहते हैं तो मैं आपको यही सलाह दूंगा कि आप योग और ध्यान की तरफ चाहिए अपने अंदर आग लगाने की कोशिश कीजिए अपने आपको आंखें बंद करके भेजने की कोशिश कीजिए अपनी रिसर्च करने की कोशिश है मैं क्या हूं मेरा कसूर क्या है मैं किस लिए आया हूं अगर उस दिन में अगर आप जाने की कोशिश करेंगे अपने आप को पहचानने की कोशिश करेंगे तो माय डिअर फ्रेंड्स आप हमेशा खुश रहेंगे और आपको खुशी की प्राप्ति हो जाएगी वास्तविकता में खुशी क्या है

hello friends me yogendra sharma Motivational speaker Career coach aur corporate trainer aaj hum tuition ke bare me baat karne waale hain my dear friends vaah hai ki main hamesha akela aur dukhi rehta hoon kya main is akelepan me khushi dhundh sakta hoon dekhiye dhundhne vala agar dhundhta hai usi ko toh kahin bhi dhundh leta hai aur agar nahi sun pata toh usko saare jaha me nahi mil pati isliye agar aap akele hain aur dukhi rehte hain toh main aapko yahi salah dunga ki aap yog aur dhyan ki taraf chahiye apne andar aag lagane ki koshish kijiye apne aapko aankhen band karke bhejne ki koshish kijiye apni research karne ki koshish hai main kya hoon mera kasoor kya hai main kis liye aaya hoon agar us din me agar aap jaane ki koshish karenge apne aap ko pahachanne ki koshish karenge toh my dear friends aap hamesha khush rahenge aur aapko khushi ki prapti ho jayegi vastavikta me khushi kya hai

हेलो फ्रेंड्स में योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर केरियर कोच और कॉरपोरेट ट्रेनर आज हम ट्यू

Romanized Version
Likes  382  Dislikes    views  2622
WhatsApp_icon
21 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Shipra Ranjan

Life Coach

0:41
Play

Likes  823  Dislikes    views  4324
WhatsApp_icon
user
0:27
Play

Likes  260  Dislikes    views  2336
WhatsApp_icon
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां जरूर आप अपने अकेलेपन में अपनी खुशी अपने अंदर ढूंढ सकते हो इसके लिए आपको एक छोटी सी एक्सरसाइज बताती हूं यह आप दिन में जितनी बार करोगे उतनी बार आपको अच्छा महसूस होगा और करते-करते 10 15 दिन में आप बिल्कुल एक नए इंसान बन जाओगे और मैं यह रिक्वेस्ट करूंगी क्या आप सुबह उठते ही सेक्सी सा इसको जरूर करें और यह 1 साइज ब्रा कीच्यूट फील करने की तो आप अपने जीवन में जितना भी आपका अकेलापन है जो भी आपका दुख है उसके बीज से भी अब 10 चीजें ढूंढ कर ऐसे निकाल सकते हैं जिसके लिए आप खुश हो सकते हैं जैसे आप जिंदा हैं आपके पास घर है रहने को यहां कितने लोग हैं दुनिया में जिनके पास घर नहीं है कितने लोग मरने की कगार पर हैं कितने लोगों के हाथ पैर नहीं है आपका पूरा शरीर सही सलामत है आप फोन यूज कर रहे हो तो आप इतने के प्रबल हो कि आप एक फोन में फोन कर सकते हो तो इस तरीके से 10 चीजों को ढूंढना बहुत आसान है और अगर आप इस एक्सरसाइज को मुझ पर विश्वास करके देखो लवली करते हो तो 10 से 15 दिन के अंदर आपको अपने अंदर फर्क महसूस लगने लगेगा और फिर आप इसको कंटिन्यू रखो हमेशा ताकि आपकी जिंदगी हमेशा खुशियों से भरी रहे

G haan jarur aap apne akelepan mein apni khushi apne andar dhundh sakte ho iske liye aapko ek choti si exercise batati hoon yeh aap din mein jitni baar karoge utani baar aapko accha mehsus hoga aur karte karte 10 15 din mein aap bilkul ek naye insaan ban jaoge aur main yeh request karungi kya aap subah uthte hi sexy sa isko jarur kare aur yeh 1 size bra kichyut feel karne ki to aap apne jeevan mein jitna bhi aapka akelapan hai jo bhi aapka dukh hai uske beej se bhi ab 10 cheezen dhundh kar aise nikal sakte hain jiske liye aap khush ho sakte hain jaise aap zinda hain aapke paas ghar hai rehne ko yahan kitne log hain duniya mein jinke paas ghar nahi hai kitne log marne ki kagar par hain kitne logo ke hath pair nahi hai aapka pura sharir sahi salamat hai aap phone use kar rahe ho to aap itne ke prabal ho ki aap ek phone mein phone kar sakte ho to is tarike se 10 chijon ko dhundhana bahut aasan hai aur agar aap is exercise ko mujh par vishwas karke dekho lovely karte ho to 10 se 15 din ke andar aapko apne andar fark mehsus lagne lagega aur phir aap isko continue rakho hamesha taki aapki zindagi hamesha khushiyon se bhari rahe

जी हां जरूर आप अपने अकेलेपन में अपनी खुशी अपने अंदर ढूंढ सकते हो इसके लिए आपको एक छोटी सी

Romanized Version
Likes  42  Dislikes    views  2087
WhatsApp_icon
play
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

1:59

Likes  111  Dislikes    views  3189
WhatsApp_icon
user

Ruchi Garg

Counsellor and Psychologist(Gold MEDALIST)

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत ही अच्छा सवाल है आपका कि मैं अपने अकेलेपन में खुशी ढूंढ सकता हूं बिल्कुल ढूंढ सकते हैं आप यह जो जो कंप्लेंट है जो शिकायत है यह बहुत लोगों को आमतौर पर होती है कि हमें बहुत अकेलापन महसूस हो रहा है और ऐसा चैनल ही होता भी है इसके लिए आप क्या कर सकते हैं इसलिए आप इसके लिए आप ही को भी ढूंढ सकते हैं जिसमें आप आपको दिन और रात को पता ना चले हमेशा याद रखे कि जब भी हमें कॉपी की बात करते हैं तो वह कैसी होती होनी चाहिए जो आपके स्वास्थ्य को खराब ना करें और आप क्यों आपको कुछ खुशी दे कर जाए जैसे कि आप से मिल कर सकते हैं डांसिंग कर सकते हैं कि गार्डनिंग कर सकते हैं पेड़ पौधे लगाना कर सकते हैं या फिर कोई इंस्ट्रूमेंट बना कर सकते हैं जब आप उसमें हो जाएंगे तो आपको जो है उस अकेलेपन में ही खुशी का अहसास होगा इसके अलावा हमेशा याद रखें की जो है बहुत सारे लोग जो हैं उनके पास बांटना और रोते हैं लोग होते हैं आसपास फिर भी वह अकेला महसूस करते हैं तो अकेलापन जरूरी नहीं है कि लोगों का नाम ना हो अकेलापन एक फीलिंग है जो अंदर से इंसान को आ रही होती है और इसका सलूशन हमेशा आपके पास ही होता है

bahut hi accha sawal hai aapka ki main apne akelepan mein khushi dhundh sakta hoon bilkul dhundh sakte hain aap yeh jo jo complaint hai jo shikayat hai yeh bahut logo ko aamtaur par hoti hai ki hume bahut akelapan mehsus ho raha hai aur aisa channel hi hota bhi hai iske liye aap kya kar sakte hain isliye aap iske liye aap hi ko bhi dhundh sakte hain jisme aap aapko din aur raat ko pata na chale hamesha yaad rakhe ki jab bhi hume copy ki baat karte hain to wah kaisi hoti honi chahiye jo aapke swasthya ko kharab na kare aur aap kyon aapko kuch khushi de kar jaye jaise ki aap se mil kar sakte hain dancing kar sakte hain ki gardening kar sakte hain ped paudhe lagana kar sakte hain ya phir koi instrument bana kar sakte hain jab aap usamen ho jaenge to aapko jo hai us akelepan mein hi khushi ka ehsaas hoga iske alava hamesha yaad rakhen ki jo hai bahut sare log jo hain unke paas bantana aur rote hain log hote hain aaspass phir bhi wah akela mehsus karte hain to akelapan zaroori nahi hai ki logo ka naam na ho akelapan ek feeling hai jo andar se insaan ko aa rahi hoti hai aur iska salution hamesha aapke paas hi hota hai

बहुत ही अच्छा सवाल है आपका कि मैं अपने अकेलेपन में खुशी ढूंढ सकता हूं बिल्कुल ढूंढ सकते है

Romanized Version
Likes  95  Dislikes    views  2846
WhatsApp_icon
user

Dr. Priya Shatanjib Jha

Psychologist|Counselor|Dentist

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्ते दोस्तों मेरी आणि डॉक्टर प्रिया झा के तरफ से आप सब को दिन की बहुत सारी शुभकामनाएं देखिए अगर आप अकेले हैं और दुखी हैं मेरे हिसाब से दुखी रहने का मतलब यही है कि आप अभी फिलहाल अभी कि जिंदगी में कुछ नहीं कर रहे हो अगर आपकी लाइफ में छोटी-छोटी शॉर्ट टर्म गोल्स नहीं है और आप सही टाइम पर सही चीज नहीं कर रहे हो तो आप दुखी हो अभी अगर आप स्टूडेंट हो स्टूडेंट लाइफ है घर आपका है आप या तो आप पैरंट हो आपके अगर न्यू बोर्न बेबी हुआ है और अगर आप अभी के वक्त में आपका जो रिस्पांसिबिलिटी है उसको आप अगर नहीं उठा रहे हो उसको छोड़कर बाकी चीजें कर रहे हो जैसे कि अगर आप स्टूडेंट हो आप का अभी एक हफ्ते में एग्जाम है और अभी आप टेलीविजन में कोई सोच देख रहे हो या फिर आप बहुत ज्यादा फ्रेंड्स के साथ घूम रहे हो पढ़ाई नहीं कर रहे हो तो आप एक्जाम के एक दिन पहले दुखी रहने वाले हो बहुत ज्यादा परेशान हो जाओगे ब्यूटीफुल फेस टू टू अवॉइड ह्यूमर्स बिटवीन द राइटिंग एंड राइट टाइम मैंने आपको जिस समय पर जो काम करना चाहिए अगर आपने को कर लिया है तो आप कंटेंट रहोगे और आपको अचीवमेंट का आपको फील होगा चलो अगर आपको मांग 50 आउट ऑफ इंडिया है अगर आपको पसंद नहीं आया लेकिन आपको यह पता है कि आपने अपना भेज दिया है जिस समय आप को जो करना चाहिए आपको वह करना चाहिए अगर आपको नहीं करोगे तो आप दुख ही रहोगे तो यह आपको यह जानना जिंदगी में यह नॉलेज जाना बहुत जरूरी है अकेलेपन में आप खुशी तभी ढूंढ सकते हो जवाब आप काम ठीक कर रहे हो कोई आपको मालूम होना चाहिए कि आपको काम करते रहना चाहिए जब जो रिक्वायर्ड स्टूडेंट्स लाइफ में पढ़ाई करना चाहिए आपको अपने भारतीय टाइम में आपको अच्छे से आपका प्रायरिटी शुड बी गुड वर्क एंड गुड वर्क टुवर्ड्स कंपनी आफ अगर आप डॉक्टर हैं तो आप अपने पेसेंट से मेहनत से पूरा काम कीजिए 24 इंच वॉटर आईडिया ऑफ बीन हैप्पी एंड एवरी डे जो आपको गोल है वह करना चाहिए और बस आप अपने आप खुश हो जाओगे तो काम करते रहना चाहिए और खुशी अपने अपने जाएगी

namaste doston meri aani doctor priya jha ke taraf se aap sab ko din ki bahut saree subhkamnaayain dekhiye agar aap akele hain aur dukhi hain mere hisab se dukhi rehne ka matlab yahi hai ki aap abhi filhal abhi ki zindagi mein kuch nahi kar rahe ho agar aapki life mein choti choti short term goals nahi hai aur aap sahi time par sahi cheez nahi kar rahe ho toh aap dukhi ho abhi agar aap student ho student life hai ghar aapka hai aap ya toh aap pairant ho aapke agar new born baby hua hai aur agar aap abhi ke waqt mein aapka jo responsibility hai usko aap agar nahi utha rahe ho usko chhodkar baki cheezen kar rahe ho jaise ki agar aap student ho aap ka abhi ek hafte mein exam hai aur abhi aap television mein koi soch dekh rahe ho ya phir aap bahut zyada friends ke saath ghum rahe ho padhai nahi kar rahe ho toh aap exam ke ek din pehle dukhi rehne waale ho bahut zyada pareshan ho jaoge beautiful face to to avoid hyumars between the writing and right time maine aapko jis samay par jo kaam karna chahiye agar aapne ko kar liya hai toh aap content rahoge aur aapko achievement ka aapko feel hoga chalo agar aapko maang 50 out of india hai agar aapko pasand nahi aaya lekin aapko yah pata hai ki aapne apna bhej diya hai jis samay aap ko jo karna chahiye aapko vaah karna chahiye agar aapko nahi karoge toh aap dukh hi rahoge toh yah aapko yah janana zindagi mein yah knowledge jana bahut zaroori hai akelepan mein aap khushi tabhi dhundh sakte ho jawab aap kaam theek kar rahe ho koi aapko maloom hona chahiye ki aapko kaam karte rehna chahiye jab jo required students life mein padhai karna chahiye aapko apne bharatiya time mein aapko acche se aapka prayariti should be good work and good work tuvards company of agar aap doctor hain toh aap apne patient se mehnat se pura kaam kijiye 24 inch water idea of bin happy and every day jo aapko gol hai vaah karna chahiye aur bus aap apne aap khush ho jaoge toh kaam karte rehna chahiye aur khushi apne apne jayegi

नमस्ते दोस्तों मेरी आणि डॉक्टर प्रिया झा के तरफ से आप सब को दिन की बहुत सारी शुभकामनाएं दे

Romanized Version
Likes  116  Dislikes    views  3051
WhatsApp_icon
play
user

Anshuman Sharma

Fitness Guide & Health coach

1:58

Likes  43  Dislikes    views  966
WhatsApp_icon
user

Bhavin J. Shah

Life Coach

1:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंसान कोई भी परिस्थिति में दुखी रह सकता है या खुश रह सकता है अपने पूछा है मैं आजकल हमेशा ही अकेला और दुखी रहता हूं क्या मैं इस अकेलेपन में खुश रह सकता हूं यस आप जरूर खुश रह सकते हैं इंसान चाहे तो अकेलेपन में भी खुश रह सकता है वह अपनी मनपसंद प्रवृत्ति करके आप गाना सुन सकते हो या गाना गा सकते हो आप डांस कर सकते हो या आप टहलने जा सकते हो आप कोई भी एक्टिविटी ऐसी कर सकते हो जो आपको पसंद है वह भी पढ़ सकते हो आप कॉमेडी मूवी भी देख सकते हो जो आपको पसंद है वह आप करो व्यक्ति बाहर जब दूध खुशी ढूंढने की कोशिश करता है और लोगों के बीच या वह दूसरों से प्रशंसा पाने के लिए खुशी ढूंढता है वह खोखले खुशी है फेसबुक पर 5000 फ्रेंड्स होंगे टि्वटर पी 3 4 फॉलोअर्स होंगे लेकिन आप देखेंगे कि जब जब कोई व्यक्ति बीमार पड़ता है तब हॉस्पिटल में आईसीयू के रूम के बाहर उसके माता-पिता या उसकी वाइफ है उसके बच्चे के अलावा कोई नहीं दिखता है तो आप अकेले हैं तो कोई दुखी होने की जरूरत नहीं है अकेले हो ना लेकिन उससे भी खुश रहना वह अपने हाथ में है थैंक यू

insaan koi bhi paristithi mein dukhi rah sakta hai ya khush rah sakta hai apne poocha hai aajkal hamesha hi akela aur dukhi rehta hoon kya main is akelepan mein khush rah sakta hoon yash aap jarur khush rah sakte hai insaan chahe to akelepan mein bhi khush rah sakta hai wah apni manpasand pravritti karke aap gaana sun sakte ho ya gaana ga sakte ho aap dance kar sakte ho ya aap tahlane ja sakte ho aap koi bhi activity aisi kar sakte ho jo aapko pasand hai wah bhi padh sakte ho aap comedy movie bhi dekh sakte ho jo aapko pasand hai wah aap karo vyakti bahar jab dudh khushi dhundhane ki koshish karta hai aur logo ke bich ya wah dusro se prashansa pane ke liye khushi dhundhta hai wah khokle khushi hai facebook par 5000 friends honge twitter p 3 4 followers honge lekin aap dekhenge ki jab jab koi vyakti bimar padata hai tab hospital mein ICU ke room ke bahar uske mata pita ya uski wife hai uske bacche ke alava koi nahi dikhta hai to aap akele hai to koi dukhi hone ki zarurat nahi hai akele ho na lekin usse bhi khush rehna wah apne hath mein hai thank you

इंसान कोई भी परिस्थिति में दुखी रह सकता है या खुश रह सकता है अपने पूछा है मैं आजकल हमेशा

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  1746
WhatsApp_icon
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी जैसे आपका प्रश्न है कि मैं आजकल हमेशा अकेला और दुखी रहता हूं और इस अकेलेपन में कोई और खुशी ढूंढ सकता हूं तो दिखे सबसे बड़ी चीज कि मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है और आपको इस बात को समझना चाहिए कि हर एक काम अकेले रहकर नहीं हो सकता आप अकेले सारे काम नहीं कर सकते आपको सोशल होने की जरूरत है सामाजिक बनने की जरूरत है हां अगर किसी रीजन से आप अकेलापन चाहते हैं आप सोसाइटी में नहीं आना चाहते कुछ टाइम के लिए लेकिन हम चले तो नहीं लेकिन कुछ नहीं मिली नहीं आना चाहते तो मेरे सुझाव है कि आप अपने आप को किसी काम में व्यस्त कर ले और इतना व्यस्त कर ले कि आपको कुछ और सोचने का टाइम ही ना मिले मान लीजिए आप अगर कोई गिटार बजाना सीखना चाहते हैं या और कोई भी काम या कोई कैसे बनाने सीखने हैं कोई डांस सीख रहे हैं अब वह सीखिए करिए और जब आप उसमें प्रकाशन की ओर जाते रहेंगे तो एक अलग ही आनंद की अनुभूति भी आपको होगी आपको खुशी भी मिलेगी मिले आप उस समय अकेले ही क्यों ना हो लेकिन फिर मैं कहना चाहूंगा कि कुछ समय के लिए तो ठीक है लेकिन लोंग टर्म के लिए आप सामाजिक हो जाइए वहीं आपके लिए बेहतर होगा मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

dekhi jaise aapka prashna hai ki main aajkal hamesha akela aur dukhi rehta hoon aur is akelepan mein koi aur khushi dhundh sakta hoon toh dikhe sabse baadi cheez ki manushya ek samajik prani hai aur aapko is baat ko samajhna chahiye ki har ek kaam akele rahkar nahi ho sakta aap akele saare kaam nahi kar sakte aapko social hone ki zarurat hai samajik banne ki zarurat hai haan agar kisi reason se aap akelapan chahte hai aap society mein nahi aana chahte kuch time ke liye lekin hum chale toh nahi lekin kuch nahi mili nahi aana chahte toh mere sujhaav hai ki aap apne aap ko kisi kaam mein vyast kar le aur itna vyast kar le ki aapko kuch aur sochne ka time hi na mile maan lijiye aap agar koi guitar bajana sikhna chahte hai ya aur koi bhi kaam ya koi kaise banane sikhne hai koi dance seekh rahe hai ab vaah sikhiye kariye aur jab aap usme prakashan ki aur jaate rahenge toh ek alag hi anand ki anubhuti bhi aapko hogi aapko khushi bhi milegi mile aap us samay akele hi kyon na ho lekin phir main kehna chahunga ki kuch samay ke liye toh theek hai lekin long term ke liye aap samajik ho jaiye wahi aapke liye behtar hoga meri subhkamnaayain aapke saath hai dhanyavad

देखी जैसे आपका प्रश्न है कि मैं आजकल हमेशा अकेला और दुखी रहता हूं और इस अकेलेपन में कोई और

Romanized Version
Likes  93  Dislikes    views  6384
WhatsApp_icon
user

Varsha Shaw

Psychologist; Counsellor

2:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सपोर्ट में है या नहीं है इस ऑलवेज तो आप अपनी सोच को उनको बताओ कि मैं नहीं तोरी की जीत होती थी कि गलत फैमिली है क्या देखने की पेरेंट्स को बहुत अच्छी है आपसे ज्यादा हम से ज्यादा टैलेंट हमेशा हम लोगों का पॉइंट ऑफ यू समझे इसके लिए हमें नीचे तक लेना पड़ेगा कमीनी की शौक नहीं हो पाते अगर आप अपने पेरेंट्स को अब बताओ क्या मैं गलत हूं तो उन्होंने कॉपी किया अगर आपको लगता है कि गलत है उनको गलत है मैं वर्षा वर्षा की मां की प्यार की लड़ाई में किसी और की लॉजिकल थिंकिंग नहीं आता

support mein hai ya nahi hai is always toh aap apni soch ko unko batao ki main nahi tore ki jeet hoti thi ki galat family hai kya dekhne ki parents ko bahut achi hai aapse zyada hum se zyada talent hamesha hum logo ka point of you samjhe iske liye hamein niche tak lena padega kamini ki shauk nahi ho paate agar aap apne parents ko ab batao kya main galat hoon toh unhone copy kiya agar aapko lagta hai ki galat hai unko galat hai varsha varsha ki maa ki pyar ki ladai mein kisi aur ki logical thinking nahi aata

सपोर्ट में है या नहीं है इस ऑलवेज तो आप अपनी सोच को उनको बताओ कि मैं नहीं तोरी की जीत होती

Romanized Version
Likes  61  Dislikes    views  768
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि मैं आजकल हमेशा ही अकेला और दुखी रहता हूं क्या मैं इस अकेलेपन को खुशी ढूंढ सकता हूं जी हां आप इस अकेलेपन में खुशी ढूंढ सकते हो सोचिए ऐसे बहुत सारे लोगों ने शादी नहीं की सिंगल रहते हैं फिर भी खुश होते बस बिंदास खाओ पियो ऐश करो जहां जाना है वहां जाओ जहां घूमना है वहां घूमने कहां गए थे क्या कोई रोकने वाला नहीं होता

aapka prashna hai ki main aajkal hamesha hi akela aur dukhi rehta hoon kya main is akelepan ko khushi dhundh sakta hoon ji haan aap is akelepan mein khushi dhundh sakte ho sochiye aise bahut saare logo ne shadi nahi ki singles rehte hain phir bhi khush hote bus bindas khao piyo aish karo jaha jana hai wahan jao jaha ghumana hai wahan ghoomne kahaan gaye the kya koi rokne vala nahi hota

आपका प्रश्न है कि मैं आजकल हमेशा ही अकेला और दुखी रहता हूं क्या मैं इस अकेलेपन को खुशी ढूं

Romanized Version
Likes  253  Dislikes    views  4744
WhatsApp_icon
user
1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका फेस नहीं कि मैं आजकल अमीषा अकेला दुखी रहता हूं क्या मैं अकेली पर उसे खुशी ढूंढ सकता हूं तो सबसे पहले सटीक आंसर आफ अकेलेपन से भी खुशी ढूंढ सकते हैं क्योंकि हर सिचुएशन में खुश रहा जा सकता है और खुशी टोनी जा सकती है इसके अलावा मैं यह जरूर कहूंगा आप से कि आजकल आप अकेला महसूस कर रहे हो दुखी रहते तो सबसे पहले अपने आप को शांत रखे अकेला रह के थोड़े यह सोचने की कोशिश करें कि आप क्यों अकेलापन महसूस कर रहे हैं ऐसा क्या कारण हुआ है जिस वजह से आपको अकेला फील हो रहा इसके अलावा ऐसी कौन सी बात है जिस जो आपको दुखी कर रही है यह चीजें पहले फाइंड करें उस फाइंड करने के बाद जैसे ही आपको यह मिल जाए रीजन वह सृजन के बाद उस रीजन का सलूशन सोचा और जैसे ही आपको सलूशन मिल जाएगा आपको खुशी मिल जाएगी अकेलेपन में भी और लोगों के साथ भी आप खुश रह पाएंगे यह चीजें ढूंढने और उन्हें खत्म करें धन्यवाद

aapka face nahi ki main aajkal amisha akela dukhi rehta hoon kya main akeli par use khushi dhundh sakta hoon toh sabse pehle sateek answer of akelepan se bhi khushi dhundh sakte hain kyonki har situation mein khush raha ja sakta hai aur khushi toni ja sakti hai iske alava main yah zaroor kahunga aap se ki aajkal aap akela mehsus kar rahe ho dukhi rehte toh sabse pehle apne aap ko shaant rakhe akela reh ke thode yah sochne ki koshish kare ki aap kyon akelapan mehsus kar rahe hain aisa kya karan hua hai jis wajah se aapko akela feel ho raha iske alava aisi kaun si baat hai jis jo aapko dukhi kar rahi hai yah cheezen pehle find kare us find karne ke baad jaise hi aapko yah mil jaaye reason vaah srijan ke baad us reason ka salution socha aur jaise hi aapko salution mil jaega aapko khushi mil jayegi akelepan mein bhi aur logo ke saath bhi aap khush reh payenge yah cheezen dhundhne aur unhe khatam kare dhanyavad

आपका फेस नहीं कि मैं आजकल अमीषा अकेला दुखी रहता हूं क्या मैं अकेली पर उसे खुशी ढूंढ सकता ह

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
user

Indu

Life Coach & Corporate trainer

0:57
Play

Likes  12  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
user

Vimla Bidawatka

Spiritual Thinker

2:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका कहना है कि मैं हमेशा अकेला और दुखी रहता हूं तो नंबर वन तो यह है कि जो अकेला मतलब या तो कई जो संत है या महापुरुष अकेलेपन में इंजॉय करते उनको लगता अगर कोई आ गया तो हम को दुख है लेकिन आप का कहना है कि अकेला और दुखी रहता हूं तो दुखी होने का कारण मतलब अंदर ही अंदर किसी चीज की घुटन है क्या कोई विचार आपको खाए जा रहा है या कोई बात से आप दुखी हैं तो पहले बात तो समझना पड़ेगा कि ऐसी क्या बात है जो हम को दुख दे रही है इस अकेलेपन में खुशी ढूंढ सकता हूं तो खुशी तो आपके पास ही है उसको ढूंढने की जरूरत ही नहीं है सिर्फ महसूस करने की बात है तो पहले यह देखना पड़ेगा आपको अपने आप ही और कोई मैं कोई थर्मामीटर लगा कर चेक करने की जरूरत नहीं है आपको यह देखना पड़ेगा कि आप दुखी क्यों हैं आपको किसी से शिकायत है या ऐसा कोई दुख है या कोई गम है तू सब कुछ सब कुछ दूर हो सकता है बशर्ते हमको पता होना चाहिए कि इसका रीजन क्या है उसके बाद अगर जैसे कारण समझ में आ गया तो वह दूर हो जाएगा और अगर वह वह तकलीफ या वह गम यह दुख दूर हो जाता है तो फिर खुशी तो आपके पास है उसको ढूंढने की जरूरत नहीं है और जितना हो सके आप खुद खुश रहेंगे आप बाटेंगे तो आपको ढूंढने ढूंढने खुशियां मिलेगी लोगों से मनुष्य ही ऐसा है यह मतलब एक का प्रकृति की तरफ से गिफ्ट है जो लोगों में बांट सकता है दे सकता एक जानवर है वो थोड़ी किसी को कुछ बढ़ सकता है इंसान है वह खुशियां बांट सकता है और वह जितना बटेगा उतना उसको मिलेगा क्योंकि उसी को तो विवेक मिला है तो भगवान की यह बहुत बड़ी गिफ्ट आप देखिए की हवा है हमको देती देती है वह कुछ गरीब अमीर कुछ नहीं देखती है प्रकृति की तरफ से पानी है सब कुछ हमको में मिल रहा है सूरज की किरने है हमको फ्री में मिल रही है और वह सिर्फ देती है उनसे हम कुछ सीखे हम खुशियां बांटे खूब खुशी बातें और सबसे पहले हम महसूस करें कि मेरा नेचर ही खुश रहना है जिस दिन यह सोच लेंगे तो वह खुशी ढूंढने की जरूरत नहीं पड़ेगी और खुशी आपके पास है और आप हमेशा खुश रहेंगे

aapka kehna hai ki main hamesha akela aur dukhi rehta hoon toh number van toh yah hai ki jo akela matlab ya toh kai jo sant hai ya mahapurush akelepan mein enjoy karte unko lagta agar koi aa gaya toh hum ko dukh hai lekin aap ka kehna hai ki akela aur dukhi rehta hoon toh dukhi hone ka karan matlab andar hi andar kisi cheez ki ghutan hai kya koi vichar aapko khaye ja raha hai ya koi baat se aap dukhi hain toh pehle baat toh samajhna padega ki aisi kya baat hai jo hum ko dukh de rahi hai is akelepan mein khushi dhundh sakta hoon toh khushi toh aapke paas hi hai usko dhundhne ki zarurat hi nahi hai sirf mehsus karne ki baat hai toh pehle yah dekhna padega aapko apne aap hi aur koi main koi thermometer laga kar check karne ki zarurat nahi hai aapko yah dekhna padega ki aap dukhi kyon hain aapko kisi se shikayat hai ya aisa koi dukh hai ya koi gum hai tu sab kuch sab kuch dur ho sakta hai basharte hamko pata hona chahiye ki iska reason kya hai uske baad agar jaise karan samajh mein aa gaya toh vaah dur ho jaega aur agar vaah vaah takleef ya vaah gum yah dukh dur ho jata hai toh phir khushi toh aapke paas hai usko dhundhne ki zarurat nahi hai aur jitna ho sake aap khud khush rahenge aap batenge toh aapko dhundhne dhundhne khushiya milegi logo se manushya hi aisa hai yah matlab ek ka prakriti ki taraf se gift hai jo logo mein baant sakta hai de sakta ek janwar hai vo thodi kisi ko kuch badh sakta hai insaan hai vaah khushiya baant sakta hai aur vaah jitna batega utana usko milega kyonki usi ko toh vivek mila hai toh bhagwan ki yah bahut badi gift aap dekhiye ki hawa hai hamko deti deti hai vaah kuch garib amir kuch nahi dekhti hai prakriti ki taraf se paani hai sab kuch hamko mein mil raha hai suraj ki kirne hai hamko free mein mil rahi hai aur vaah sirf deti hai unse hum kuch sikhe hum khushiya bante khoob khushi batein aur sabse pehle hum mehsus kare ki mera nature hi khush rehna hai jis din yah soch lenge toh vaah khushi dhundhne ki zarurat nahi padegi aur khushi aapke paas hai aur aap hamesha khush rahenge

आपका कहना है कि मैं हमेशा अकेला और दुखी रहता हूं तो नंबर वन तो यह है कि जो अकेला मतलब या त

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  456
WhatsApp_icon
user

Mohit Chouksey

Business Coach at MLM

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलेपन में खुशी के लिए आप बहुत सारी चीजें कर सकते हैं जैसे कि आपने जो क्वेश्चन लिखा है कि मैं अकेलापन अकेला हूं वह दुखी रहता हूं यह आपके अकेले की परेशानी नहीं है बहुत सारे युवाओं को यह परेशानी आजकल होती है तो मेरे विचार से आपको सबसे पहले जो अकेलापन महसूस हो रहा है उसको दूर करने के लिए अपने परिवार अपने मित्रों जिन पर आपको विश्वास है जिनके साथ आप अपनी बातें शेयर कर सकते हैं उनके साथ समय बिताना चाहिए ऐसी गतिविधियों में अपने आपको बिजी कर लेना चाहिए जहां पर आपको यह नकारात्मकता और यह विचार कि मैं अकेला हूं यह ना सताए इसके लिए आपको ऐसे साधन जुटाने पड़ेंगे जिनको करने में आपको खुशी मिलती है चाहे तो आप सोशल वर्क मैं अपने आपको बिजी कर सकते हैं अगर आप स्टूडेंट हैं तो अपनी पढ़ाई में अपने आपको बिजी कर सकते हैं अगर यह भी नहीं अगर आप वर्किंग है तो अपने भारत में अपने आपको बिजी कर सकते हैं इसके अलावा आप अपने परिवार के लिए समय दे सकते हैं उनके साथ समय बिता सकते हैं अपने दोस्तों के साथ समय बिता सकते हैं धीरे धीरे कर कर जो आपका अकेलापन जो आपको महसूस हो रहा है वह दूर होने लगेगा कुछ भी ऐसी नई नई चीजें ड्राई कीजिए जिन्ना को खुशी महसूस होती है सोशल वर्क में भी जा सकते हैं आप लोगों की मदद कर सकते हैं अपने आप को एक पॉजिटिव में ले जाइए सब सब कुछ पॉजिटिव तो नहीं सोचा जा सकता है हर इंसान की लाइफ में नेगेटिव प्वाइंट्स होते हैं बट फिर भी आप जितना भी सोचते हैं उसको सकारात्मक सोचिए क्योंकि हर एक बात का एक नकारात्मक और सकारात्मक पहलू होता है तो वह आप पर डिपेंड करता है क्या आप उसको कस्बे में ले जा रहे हैं मेरे विचार से आपको सारी चीजें सकारात्मक सोच नहीं चाहिए और जो मैंने कहा

akelepan mein khushi ke liye aap bahut saree cheezen kar sakte hain jaise ki aapne jo question likha hai ki main akelapan akela hoon wah dukhi rehta hoon yeh aapke akele ki pareshani nahi hai bahut sare yuvaon ko yeh pareshani aajkal hoti hai to mere vichar se aapko sabse pehle jo akelapan mehsus ho raha hai usko dur karne ke liye apne parivar apne mitron jin par aapko vishwas hai jinke saath aap apni batein share kar sakte hain unke saath samay bitana chahiye aisi gatividhiyon mein apne aapko busy kar lena chahiye jaha par aapko yeh nakaratmakta aur yeh vichar ki main akela hoon yeh na sataye iske liye aapko aise sadhan jutane padenge jinako karne mein aapko khushi milti hai chahe to aap social work main apne aapko busy kar sakte hain agar aap student hain to apni padhai mein apne aapko busy kar sakte hain agar yeh bhi nahi agar aap working hai to apne bharat mein apne aapko busy kar sakte hain iske alava aap apne parivar ke liye samay de sakte hain unke saath samay bita sakte hain apne doston ke saath samay bita sakte hain dhire dhire kar kar jo aapka akelapan jo aapko mehsus ho raha hai wah dur hone lagega kuch bhi aisi nayi nayi cheezen dry kijiye jinna ko khushi mehsus hoti hai social work mein bhi ja sakte hain aap logo ki madad kar sakte hain apne aap ko ek positive mein le jaiye sab sab kuch positive to nahi socha ja sakta hai har insaan ki life mein Negative point hote hain but phir bhi aap jitna bhi sochte hain usko sakaratmak sochie kyonki har ek baat ka ek nakaratmak aur sakaratmak pahaloo hota hai to wah aap par depend karta hai kya aap usko kasbe mein le ja rahe hain mere vichar se aapko saree cheezen sakaratmak soch nahi chahiye aur jo maine kaha

अकेलेपन में खुशी के लिए आप बहुत सारी चीजें कर सकते हैं जैसे कि आपने जो क्वेश्चन लिखा है कि

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  465
WhatsApp_icon
user

Dr. Jitubhai Shah

Friend, Philosopher and Guide

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अकेलेपन में खुश रहने के लिए आप आपकी मनपसंद पर्वती ढूंढने के लिए जिसमें आपको खुशी मिलती है वह भी हो सकता है निशु हो सकता है दोस्तों के साथ घूमना हो सकता है एक्सचेंज हो सकता है कुछ भी जो आपको पसंद है वह अपने पहले तो आप अकेले होते हुए भी जरूर खुश रह सकते हैं

akelepan mein khush rehne ke liye aap aapki manpasand parvati dhundhane ke liye jisme aapko khushi milti hai wah bhi ho sakta hai nishu ho sakta hai doston ke saath ghumana ho sakta hai exchange ho sakta hai kuch bhi jo aapko pasand hai wah apne pehle to aap akele hote huye bhi jarur khush rah sakte hain

अकेलेपन में खुश रहने के लिए आप आपकी मनपसंद पर्वती ढूंढने के लिए जिसमें आपको खुशी मिलती है

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  1607
WhatsApp_icon
user

Imran Ansari

Electrician at Treasure Xpart

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

टिकिया का सवाल अच्छा सवाल है मगर इसमें गलती आपकी है कि आप लोगों से भी ज्यादा रखते हैं मैं आपको एक बात बता दूं कि मेरी सब परेशानी की जड़ होती है जिस तरह की से एक बेटा या एक पिता या एक मां अपने बेटे से बच्चों से उम्मीद रखती है मुझे बच्चे बड़े हो जाते हैं धोनी मां बाप को नहीं पूछते तो मां बाप अपने बच्चों से जो उम्मीद लगाकर रखते हैं और जब बुढ़ापे में योमी दूंगी तो होती है तकलीफ उनको होती है तो मैं मेरा जो एक अनुभव है कि उम्मीद ही सब परेशानी की जड़ है आप किसी से उम्मीद मत रखें और रही आपकी दुखी रहने की बात क्या आप हमेशा दुखी रहते हैं तो उसमें यह बजे है कि आप लोगों से उम्मीद लगाकर रखते हैं तो आप कोशिश कीजिए आप अकेलेपन में कोशिश खुशी को ढूंढ सकता हूं कि नहीं आपका इसमें सवाल में कुछ चीज और जुड़ी हुई भी बड़ी अच्छी अकेलापन और खुशी ढूंढ ना आप परेशान होकर परेशानी का हल नहीं कर सकते हैं परेशानी का हल ढूंढना पड़ता है आप जब साथ में रहते हैं दोस्तों की तो आपको अच्छा लगता है कि रहते है तो बोर लग गया फोन की आदत बन गई बेहतर यह है कि अगर आप अकेले रहते हैं तो आप अपने दिमाग को शांत रखें कि इंसान की सबसे बड़ी ताकत उसका दिमाग होता है जो जितना शांत रहेगा तो आप इतना अच्छा विचार कर सकते इतना खुश रह सकते हैं पल की खुशियां बाकी आप लोगों की रास्ता मत देखिए कौन आपको पूछ रहा है कौन आपको नहीं पूछ रहा है और उम्मीद कभी भी किसी से मत लगाइए किसी ने पूछा है तो ठीक है नहीं पूछा तो ठीक है आप भी भाग जिंदगी गुजार हंसते रहे जिससे लोगों को यह सबक मिले इस इनकी को कैसे जीना चाहिए

tikiya ka sawal accha sawal hai magar isme galti aapki hai ki aap logo se bhi zyada rakhate hain main aapko ek baat bata doon ki meri sab pareshani ki jad hoti hai jis tarah ki se ek beta ya ek pita ya ek maa apne bete se baccho se ummid rakhti hai mujhe bacche bade ho jaate hain dhoni maa baap ko nahi poochte to maa baap apne baccho se jo ummid lagakar rakhate hain aur jab budhape mein yomi dungi to hoti hai takleef unko hoti hai to main mera jo ek anubhav hai ki ummid hi sab pareshani ki jad hai aap kisi se ummid mat rakhen aur rahi aapki dukhi rehne ki baat kya aap hamesha dukhi rehte hain to usamen yeh baje hai ki aap logo se ummid lagakar rakhate hain to aap koshish kijiye aap akelepan mein koshish khushi ko dhundh sakta hoon ki nahi aapka isme sawal mein kuch cheez aur judi hui bhi badi acchi akelapan aur khushi dhundh na aap pareshan hokar pareshani ka hal nahi kar sakte hain pareshani ka hal dhundhana padata hai aap jab saath mein rehte hain doston ki to aapko accha lagta hai ki rehte hai to bore lag gaya phone ki aadat ban gayi behtar yeh hai ki agar aap akele rehte hain to aap apne dimag ko shaant rakhen ki insaan ki sabse badi takat uska dimag hota hai jo jitna shaant rahega to aap itna accha vichar kar sakte itna khush rah sakte hain pal ki khushiya baki aap logo ki rasta mat dekhie kaon aapko pooch raha hai kaon aapko nahi pooch raha hai aur ummid kabhi bhi kisi se mat lagaaiye kisi ne poocha hai to theek hai nahi poocha to theek hai aap bhi bhag zindagi gujar hansate rahe jisse logo ko yeh sabak mile is inki ko kaise jeena chahiye

टिकिया का सवाल अच्छा सवाल है मगर इसमें गलती आपकी है कि आप लोगों से भी ज्यादा रखते हैं मैं

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  459
WhatsApp_icon
user

KRISHNA RAJPOOT

DEFENSE SERVICES | LIFE COACH

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल आप अगर सोचते हैं कि मैं एकदम अकेला रहता हूं और दुखी रहता हूं और आप उस अकेलेपन में खुशी ढूंढना चाहते हैं तो इसका सबसे अच्छा अभिजन तो यह है और सबसे अच्छी ऐसी वजह बताऊंगा मैं आपको जो आपके जीवन की रहा और आपके भविष्य को बदल देगी आपको अगर लगता है कि आप एकांत में रहना पसंद करते हैं तो आप अपने उस एकांत को अपनी पढ़ाई पर अपनी स्टडी अट एक ऐसे अन्य कार्य में फोकस कीजिए जो आपके जीवन में अच्छी चीजें लाइन सपोर्ट कीजिए अगर आप स्टडी फोकस करेंगे तो मुख्य बात तो यह कि आप की पुस्तकें हैं वही आपकी फ्रेंड बन जाए और कभी भी आपको अकेलेपन का एहसास नहीं होने देंगे और दूसरी बात है कि कोई भी आपको डिस्टर्ब करने वाला नहीं रहेगा और आपके जो जीवन में सकारात्मकता है क्या पुस्तक पढ़ रही है उसके लिए आपको प्रॉपर टाइम मिलेगा कोई आपको डिस्टर्ब नहीं करना 5:00 एग्जाम में पास करते हैं और अगर आप अच्छे एग्जाम पास करेंगे तो आपको जीवन में उन्नति प्राप्त होगी आपकी समाज में आप की रेपुटेशन बढ़ेगी आपकी इज्जत बढ़ेगी आप एक ब्रांड काली बन जाएगी आप की सरकार आप अकेलेपन में उस समय उस लाइक करते हुए एचडी में लगाइए जो आपके जीवन में अच्छे अवसर प्रदान करें

bilkul aap agar sochte hain ki main ekdam akela rehta hoon aur dukhi rehta hoon aur aap us akelepan mein khushi dhundhana chahte hain to iska sabse accha abhijan to yeh hai aur sabse acchi aisi wajah bataunga main aapko jo aapke jeevan ki raha aur aapke bhavishya ko badal degi aapko agar lagta hai ki aap ekant mein rehna pasand karte hain to aap apne us ekant ko apni padhai par apni study at ek aise anya karya mein focus kijiye jo aapke jeevan mein acchi cheezen line support kijiye agar aap study focus karenge to mukhya baat to yeh ki aap ki pustakein hain wahi aapki friend ban jaye aur kabhi bhi aapko akelepan ka ehsaas nahi hone denge aur dusri baat hai ki koi bhi aapko disturb karne vala nahi rahega aur aapke jo jeevan mein sakaraatmakata hai kya pustak padh rahi hai uske liye aapko proper time milega koi aapko disturb nahi karna 5:00 exam mein paas karte hain aur agar aap acche exam paas karenge to aapko jeevan mein unnati prapt hogi aapki samaj mein aap ki reputation badhegi aapki izzat badhegi aap ek brand kali ban jayegi aap ki sarkar aap akelepan mein us samay us like karte huye hd mein lagaaiye jo aapke jeevan mein acche avsar pradan kare

बिल्कुल आप अगर सोचते हैं कि मैं एकदम अकेला रहता हूं और दुखी रहता हूं और आप उस अकेलेपन में

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  393
WhatsApp_icon
user

Gyaani Woman lekhika 📚👩

Lekhika Hoon Suchai Likhti Hoo

2:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

खुशी हमारे चारों तरफ है हमारी सोच में पड़ जाते हैं तब हमें दुखी होते हैं कहां से होते हुए भी मेरे साथ ही कई बार ऐसा हो चुका है मैं अकेली पड़ जाती हूं कभी कभी बहुत ज्यादा दुखी हो जाती है तो कैसे खुश रहूं मुझे पता है कैसे रहा जाता है आपको भी पता है सबको पता है लेकिन फिर भी हम अकेले में ही रहना पसंद कर दुखी रहना पसंद करते हैं और यह भूल जाते हैं कि हमारी जिंदगी में खुशी भी है जिसे हम इग्नोर कर रहे हैं आप अपना अकेलापन कोहिनूर के दिन अपने दुख को इग्नोर कैसे खुशी में शामिल हो रही है जो आपको नजर आ रही है जो आपके अंदर दोस्तों में है परिवार में है फैमिली में है और आपके पास कोई भी नहीं आती आप खुश रखते हैं आप खुद सबसे बड़ी वजह है दुखी रहने की और आप खुद सबसे बड़ी वजह है वह अपने आप से दोस्ती के लिए अपने आप को समझिए खुशी अपने आपके अंदर नजर आएंगे आप अपने आप ही खुश हो जाओगे

khushi hamare charo taraf hai hamari soch mein padh jaate hain tab hume dukhi hote hain kahaan se hote huye bhi mere saath hi kai baar aisa ho chuka hai akeli padh jati hoon kabhi kabhi bahut zyada dukhi ho jati hai to kaise khush rahun mujhe pata hai kaise raha jata hai aapko bhi pata hai sabko pata hai lekin phir bhi hum akele mein hi rehna pasand kar dukhi rehna pasand karte hain aur yeh bhul jaate hain ki hamari zindagi mein khushi bhi hai jise hum ignore kar rahe hain aap apna akelapan kohinoor ke din apne dukh ko ignore kaise khushi mein shaamil ho rahi hai jo aapko nazar aa rahi hai jo aapke andar doston mein hai parivar mein hai family mein hai aur aapke paas koi bhi nahi aati aap khush rakhate hain aap khud sabse badi wajah hai dukhi rehne ki aur aap khud sabse badi wajah hai wah apne aap se dosti ke liye apne aap ko samajhie khushi apne aapke andar nazar aayenge aap apne aap hi khush ho jaoge

खुशी हमारे चारों तरफ है हमारी सोच में पड़ जाते हैं तब हमें दुखी होते हैं कहां से होते हुए

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  447
WhatsApp_icon
user

Prabhav Kumar Singh

youtuber ,pharmacist,

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां आप अपने अकेलापन में खुशी ढूंढ सकते हैं क्योंकि ऐसा है कि आप पहले सबसे पहले जो है आपका जो प्रॉब्लम है और ढूंढिए उसके बाद आप उस प्रॉब्लम को सॉल्व कर सकते हो तो कर लो नहीं कर सकते तो कोई दिक्कत नहीं आगे बढ़ी है और अकेलापन जो है उसमें आपको जो ज्यादा बैटर लगता है आपको जो करना पसंद है वह कीजिए और जिस चीज से अकेलापन आया कि जिस व्यक्ति से अकेलापन है उसको एलिमिनेट करिए अपनी लाइफ से उसके बारे में कम सोचा कीजिए बस सबसे बेहतर उपाय यही है और खुशी रहने के लिए जरूरी नहीं है कि आप पास सब चीज हो राजा के पास हर एक चीज हो क्यों कुछ नहीं रहता ना एक मिडिल फैमिली वाले के पास कुछ नहीं होते भी ज्यादा खुश रहता है उसकी तुलना में सो आप अपने प्रॉब्लम का सलूशन ढूंढने से ज्यादा बेटर रहेगा इस प्रॉब्लम को या तो छोड़ दीजिए या फिर उस प्रॉब्लम के साथ मत जाइए बस

ji haan aap apne akelapan mein khushi dhundh sakte hain kyonki aisa hai ki aap pehle sabse pehle jo hai aapka jo problem hai aur dhundhiye uske baad aap us problem ko solve kar sakte ho toh kar lo nahi kar sakte toh koi dikkat nahi aage badhi hai aur akelapan jo hai usme aapko jo zyada better lagta hai aapko jo karna pasand hai vaah kijiye aur jis cheez se akelapan aaya ki jis vyakti se akelapan hai usko eliminate kariye apni life se uske bare mein kam socha kijiye bus sabse behtar upay yahi hai aur khushi rehne ke liye zaroori nahi hai ki aap paas sab cheez ho raja ke paas har ek cheez ho kyon kuch nahi rehta na ek middle family waale ke paas kuch nahi hote bhi zyada khush rehta hai uski tulna mein so aap apne problem ka salution dhundhne se zyada better rahega is problem ko ya toh chod dijiye ya phir us problem ke saath mat jaiye bus

जी हां आप अपने अकेलापन में खुशी ढूंढ सकते हैं क्योंकि ऐसा है कि आप पहले सबसे पहले जो है आप

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
हमेशा अकेला ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!