अगर एक मानसिक रोग हो तो क्या लक्षण होंगे?...


user

Sarika

Beautician

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखने में आयुर्वेदिक फेयरफेस्ट में दर्द रहता है उसको पता है कि छोटी सी बात करने की जरूरत होती है

dikhne me ayurvedic feyarafest me dard rehta hai usko pata hai ki choti si baat karne ki zarurat hoti hai

दिखने में आयुर्वेदिक फेयरफेस्ट में दर्द रहता है उसको पता है कि छोटी सी बात करने की जरूरत ह

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  103
WhatsApp_icon
15 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Tabinda Arif

Psychologist, Trainer and Clinical Hypnotherapist

1:14
Play

Likes  295  Dislikes    views  3449
WhatsApp_icon
user

Sanjana Singh Transgender

motivator & Transgegender Social Activist

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय श्री कृष्णा हिमांशु में हमेशा हम एक ही विचार एक ही सोच और एक ही ख्याल एक ही बात पर ज्यादा ध्यान देते हैं बार-बार भाई हमारे सामने आती हैं हम उसी को फोकस करते हैं यह हमारा जो हुए हम राम जो बात करते हैं मानसिक विकार आते हैं जो कि नकारात्मक नकारात्मक विचार और उसके अलावा अंसारी आसपास की प्रति चीजों को है आंधी का करते हैं और उसे महसूस नहीं कर पाती

jai shri krishna himanshu me hamesha hum ek hi vichar ek hi soch aur ek hi khayal ek hi baat par zyada dhyan dete hain baar baar bhai hamare saamne aati hain hum usi ko focus karte hain yah hamara jo hue hum ram jo baat karte hain mansik vikar aate hain jo ki nakaratmak nakaratmak vichar aur uske alava ansari aaspass ki prati chijon ko hai aandhi ka karte hain aur use mehsus nahi kar pati

जय श्री कृष्णा हिमांशु में हमेशा हम एक ही विचार एक ही सोच और एक ही ख्याल एक ही बात पर ज्या

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  150
WhatsApp_icon
user

डॉ.संजीव कुमार

Psychologist (follow On Yohtube @Sanjeev K Pandya)

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मानसिक रोग के लक्षण क्या है जिससे कि बुखार आता है तो शरीर गर्म हो जाता है यह एक लक्षण है मगर मानसिक रोगी के लक्षण नाम समझना मुश्किल है लक्षण एक ही सोच बार-बार आए एक ही क्रिया बार-बार करते हो आपको कुछ चीजें ऐसी दिखे जो दूसरे किसी को नहीं दिख रही है आपको ऐसी चीजें सुनाई दे जो दूसरे किसी को नहीं सुनाई दे रही हो आपको बहुत ज्यादा करो द्वारा हो आप बहुत ज्यादा उदास है मरने की इच्छा हो रही है अपने आप को खत्म कर देने की इच्छा हो रही है खाना ना खाने की इच्छा हो या ज्यादा खाना शुरू कर रहे हैं परिवार के साथ आप दूर रहे हो ज्यादा चिंता हो तो इसके बारे में आत्महत्या करने की सोच है बार-बार

mansik rog ke lakshan kya hai jisse ki bukhar aata hai toh sharir garam ho jata hai yah ek lakshan hai magar mansik rogi ke lakshan naam samajhna mushkil hai lakshan ek hi soch baar baar aaye ek hi kriya baar baar karte ho aapko kuch cheezen aisi dikhe jo dusre kisi ko nahi dikh rahi hai aapko aisi cheezen sunayi de jo dusre kisi ko nahi sunayi de rahi ho aapko bahut zyada karo dwara ho aap bahut zyada udaas hai marne ki iccha ho rahi hai apne aap ko khatam kar dene ki iccha ho rahi hai khana na khane ki iccha ho ya zyada khana shuru kar rahe hain parivar ke saath aap dur rahe ho zyada chinta ho toh iske bare me atmahatya karne ki soch hai baar baar

मानसिक रोग के लक्षण क्या है जिससे कि बुखार आता है तो शरीर गर्म हो जाता है यह एक लक्षण है म

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  130
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए यह सवाल थोड़ा सा पड़ा है मानसिक रोग बहुत तरह के होते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप मुझे डिटेल बताइए कि पेशेंट को क्या-क्या प्रॉब्लम है उसकी क्या प्रोफाइल है उसकी एज क्या है मैरिटल स्टेटस कैसे बीएफ करता है तो मैं आपकी बेहतर मदद कर पाऊंगा जो भी बातें मुझसे शेयर कीजिए अगला को लगता है कि समस्या कुछ जाना है तो तुरंत रोगी को किसी अच्छे फैमिली डॉक्टर या साइकेट्रिस्ट के पास लेकर जाइए अगर ऐसा नहीं है तो हमेशा सिर कर सकते हैं मैं आपकी पूरी मदद करूंगा

dekhiye yah sawaal thoda sa pada hai mansik rog bahut tarah ke hote hain toh aapse nivedan hai ki aap mujhe detail bataiye ki patient ko kya kya problem hai uski kya profile hai uski age kya hai marital status kaise bf karta hai toh main aapki behtar madad kar paunga jo bhi batein mujhse share kijiye agla ko lagta hai ki samasya kuch jana hai toh turant rogi ko kisi acche family doctor ya psychiatrist ke paas lekar jaiye agar aisa nahi hai toh hamesha sir kar sakte hain main aapki puri madad karunga

देखिए यह सवाल थोड़ा सा पड़ा है मानसिक रोग बहुत तरह के होते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप मुझ

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  156
WhatsApp_icon
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

0:40
Play

Likes  887  Dislikes    views  13134
WhatsApp_icon
user

Sunila Nirmal

Lifestyle Coach ,Yoga Therapist,Astrologer,Motivational Speaker ,English Trainer .

2:22
Play

Likes  19  Dislikes    views  237
WhatsApp_icon
user

Dr Sejal Shukla

Counseling Psychologist

1:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

होते हैं यार थोड़ा सा भी बदलाव लगता हो रहा है रो रहा है ताकि वह सारी चीजें हैं शाम को जाकर अपने बच्चे को कोई परेशानी लगती है मारपीट करने लगती है उनका स्वभाव कभी नहीं रहा है या मानसिक रोग के लक्षण

hote hain yaar thoda sa bhi badlav lagta ho raha hai ro raha hai taki vaah saari cheezen hain shaam ko jaakar apne bacche ko koi pareshani lagti hai maar peet karne lagti hai unka swabhav kabhi nahi raha hai ya mansik rog ke lakshan

होते हैं यार थोड़ा सा भी बदलाव लगता हो रहा है रो रहा है ताकि वह सारी चीजें हैं शाम को जाकर

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  202
WhatsApp_icon
user
1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है अगर एक मानसिक रोग हो तो क्या लखनऊ में तो देखिए जैसे शारीरिक रोग होता है उस रोग के विशेष लक्षण होते हैं उसी प्रकार से जो मानसिक रोग होता है तो मानसिक रोग भी कई प्रकार के होते हैं तो उसके विलक्षण के प्रकार के होते हैं परंतु सामान्य जो मानसिक परंतु सामान्य जो मानसिक रोग होता है उसके लक्षण बताएं कि वह व्यक्ति जो है विकार से ग्रसित रहता है कुंठित रहता है उसका स्वभाव जो है चिड़चिड़ा हो जाता है वह हीन भावना से ग्रस्त होता है उसमें हिरता ज्यादा होती है जलन होती है दूसरों के लिए सहानुभूति कम होती है ऐसे बहुत से लक्षण है जो आप देख सकते हैं अभी से साधन तरीके से कर देखा जाए तो जो असामान्य व्यवहार दर्शाता है कि हम आशा करते हैं कि सामान्य इंसान का व्यवहार सामान्य व्यवहार होगा उस सामान्य व्यवहार की अपेक्षा अगर कोई व्यक्ति असामान्य व्यवहार का प्रदूषण करता है या असामान्य व्यवहार दर्शाता है तो हम यह मानकर चलें कि निश्चित रूप से सामने वाला व्यक्ति मानसिक रोगी है धन्यवाद

namaskar aapka prashna hai agar ek mansik rog ho toh kya lucknow me toh dekhiye jaise sharirik rog hota hai us rog ke vishesh lakshan hote hain usi prakar se jo mansik rog hota hai toh mansik rog bhi kai prakar ke hote hain toh uske vilakshan ke prakar ke hote hain parantu samanya jo mansik parantu samanya jo mansik rog hota hai uske lakshan bataye ki vaah vyakti jo hai vikar se grasit rehta hai kunthit rehta hai uska swabhav jo hai chidchida ho jata hai vaah heen bhavna se grast hota hai usme hirta zyada hoti hai jalan hoti hai dusro ke liye sahanubhuti kam hoti hai aise bahut se lakshan hai jo aap dekh sakte hain abhi se sadhan tarike se kar dekha jaaye toh jo asamanya vyavhar darshata hai ki hum asha karte hain ki samanya insaan ka vyavhar samanya vyavhar hoga us samanya vyavhar ki apeksha agar koi vyakti asamanya vyavhar ka pradushan karta hai ya asamanya vyavhar darshata hai toh hum yah maankar chalen ki nishchit roop se saamne vala vyakti mansik rogi hai dhanyavad

नमस्कार आपका प्रश्न है अगर एक मानसिक रोग हो तो क्या लखनऊ में तो देखिए जैसे शारीरिक रोग होत

Romanized Version
Likes  72  Dislikes    views  449
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Varshney

Marriage Counsellors

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मेरा नाम लक्ष्मी है आपकी तो डेली पास नहीं है उस पर शक करते हैं आपका जो नॉर्मल रूटीन है या किसी भी व्यक्ति का जमाव मलूटी है उसको फॉलो करने में समर्थ ना हो पा रहा हो अपनी जो रेगुलर पास होते हैं उसको नहीं कर पा रहा हो और या गलत कर रहा हूं और इसमें 2% अंश होता है फॉर गेटिंग आउट है आप भूल जाते हैं आपको क्या करना है आप मुझसे क्या बात कही है आपने कौन सा सामान कहां रखा है तू ही तू भी छोटी सी जगह फ्रिक्वेंटली हो रही है तो कहीं ना कहीं दिमाग में कोई ना कोई परेशानी या कोई भी कोई भी प्यार किया था यहां पर कोई समझता है और अगर यह अलीमेंट्री स्टेशन से तो थोड़ा कम होता है और अगर यह ज्यादा फ्रिक्वेंटली होता है तो इसका मतलब यहां पर प्रॉपर मेडिटेशन दिया काउंसलिंग A37 की आपको जरूरत पड़े तो आसानी से कोई भी किसी को ब्लॉक करके टेबल मई तक कर सकता है कि सामने वाला नार्मल भी यह कर रहा है या तो यह बेफिक्रा एरिया होते हैं कि आप किसी को मानसिक बीमारी हो रही है या उससे बहुत आता है धन्यवाद

namaskar mera naam laxmi hai aapki toh daily paas nahi hai us par shak karte hain aapka jo normal routine hai ya kisi bhi vyakti ka jamav maluti hai usko follow karne me samarth na ho paa raha ho apni jo regular paas hote hain usko nahi kar paa raha ho aur ya galat kar raha hoon aur isme 2 ansh hota hai for getting out hai aap bhool jaate hain aapko kya karna hai aap mujhse kya baat kahi hai aapne kaun sa saamaan kaha rakha hai tu hi tu bhi choti si jagah frikwentali ho rahi hai toh kahin na kahin dimag me koi na koi pareshani ya koi bhi koi bhi pyar kiya tha yahan par koi samajhata hai aur agar yah alimentri station se toh thoda kam hota hai aur agar yah zyada frikwentali hota hai toh iska matlab yahan par proper meditation diya kaunsaling A37 ki aapko zarurat pade toh aasani se koi bhi kisi ko block karke table may tak kar sakta hai ki saamne vala normal bhi yah kar raha hai ya toh yah befikra area hote hain ki aap kisi ko mansik bimari ho rahi hai ya usse bahut aata hai dhanyavad

नमस्कार मेरा नाम लक्ष्मी है आपकी तो डेली पास नहीं है उस पर शक करते हैं आपका जो नॉर्मल रूटी

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  129
WhatsApp_icon
user

Bk Rama Didi

ब्रह्माकुमारीज में समर्पित वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका , कांकेर (छत्तीसगढ़)

2:47
Play

Likes  8  Dislikes    views  109
WhatsApp_icon
user

Shruti Aggarwal

Psychologist

4:39
Play

Likes  4  Dislikes    views  124
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह कार्य को बार-बार करना किसी भी चीज में मन न लगना अपने आप में रहना एकांकी जीवन व्यतीत करना किसी भी बातों को किसी भी बातों का बुरा या अच्छा ना मानना उसे यह फर्क समझ में नहीं आता कि यह मेरे लिए अच्छा कह रहा है या गलत कह रहा है इसका संस्था न कर पाना रोजमर्रा के कार्यों को ठीक से न कर पाना भी एक मानसिक रोगी का लक्षण हो सकता है अगर वह डीप डिप्रेशन में है अगर उसका सही समय पर कमेंट नहीं मिल पाया वह भी धीरे-धीरे आगे चलकर मानसिक रोगी बन सकता है इसलिए मानसिक रोगी के साथ अच्छा बर्ताव होना चाहिए उनके साथ अच्छा व्यवहार होना चाहिए

yah karya ko baar baar karna kisi bhi cheez me man na lagna apne aap me rehna ekanki jeevan vyatit karna kisi bhi baaton ko kisi bhi baaton ka bura ya accha na manana use yah fark samajh me nahi aata ki yah mere liye accha keh raha hai ya galat keh raha hai iska sanstha na kar paana rozmarra ke karyo ko theek se na kar paana bhi ek mansik rogi ka lakshan ho sakta hai agar vaah deep depression me hai agar uska sahi samay par comment nahi mil paya vaah bhi dhire dhire aage chalkar mansik rogi ban sakta hai isliye mansik rogi ke saath accha bartaav hona chahiye unke saath accha vyavhar hona chahiye

यह कार्य को बार-बार करना किसी भी चीज में मन न लगना अपने आप में रहना एकांकी जीवन व्यतीत करन

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  150
WhatsApp_icon
play
user

Vimal Singh

Teacher, Social Worker, Social Consultant, Psychology Expert

2:03

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मानसिक रोग कोई रोग नहीं है समाज में फैली हुई है जानती है जब भी हम अपने आप को किसी भी प्रति में अनुकूलन नहीं कर पाते चाहे बस परिवार हो समाज हो अपने कार्यस्थल हो अपनी शारीरिक आवश्यकताएं अपनी जो भी चीज है जब उस पर हम कूलर नहीं कर पाते तो धीरे-धीरे वह समस्या घंटी जाती है और जो समस्या मंत्री जाती है वहीं आज की पुलिस में मानसिक रुप होते हैं धीरे-धीरे होगा हमारे अंदर घर कर लेता है उसे दूर करने के लिए ग्राम को दवाओं का सहारा लेना पड़ता है इसलिए हमें कभी भी किसी भी कमी को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए जब भी कोई कमी हमको नजर आए तुझको में थोड़ी दूर करने का उपाय और समस्याओं को दूर करके चलेंगे तो हमको भी मानसिक शोषण और लक्षण की जान को कोई काम करने का मन ना करें किसी चीज में मन लगे ना किसी से मिलने जुलने का मन ना करे अकेले रहने का मन करे खाने में मन ना लगे नींद ना आए हमको पोस्टिंग हो जाएगी भाई असी खुश ना रहे

mansik rog koi rog nahi hai samaj me faili hui hai jaanti hai jab bhi hum apne aap ko kisi bhi prati me anukulan nahi kar paate chahen bus parivar ho samaj ho apne karyasthal ho apni sharirik aavashyakataen apni jo bhi cheez hai jab us par hum cooler nahi kar paate toh dhire dhire vaah samasya ghanti jaati hai aur jo samasya mantri jaati hai wahi aaj ki police me mansik roop hote hain dhire dhire hoga hamare andar ghar kar leta hai use dur karne ke liye gram ko dawaon ka sahara lena padta hai isliye hamein kabhi bhi kisi bhi kami ko najarandaj nahi karna chahiye jab bhi koi kami hamko nazar aaye tujhko me thodi dur karne ka upay aur samasyaon ko dur karke chalenge toh hamko bhi mansik shoshan aur lakshan ki jaan ko koi kaam karne ka man na kare kisi cheez me man lage na kisi se milne julne ka man na kare akele rehne ka man kare khane me man na lage neend na aaye hamko posting ho jayegi bhai asi khush na rahe

मानसिक रोग कोई रोग नहीं है समाज में फैली हुई है जानती है जब भी हम अपने आप को किसी भी प्रति

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user

Devendra Dwivedi

Business Owner

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर एक मानसिक रोग हो तो क्या लक्षण है मानसिक रोग में माइंड जो है प्रेस नहीं रहता मैंने जो है काम नहीं करता या कभी-कभी काम करता है कभी कभी नहीं करता कभी कभी कोई चीज याद नहीं रहती भूल जाती है कोई आदमी का चेहरा याद नहीं रहता है हम क्या कर रहे हैं कहां खड़े हुए हैं यह याद नहीं रहता कहां जाना है यह भूल जाता है सामने वाला क्या कर रहा है वह समझ में नहीं आता ऐसे लक्षण है तो आप समझ जाइए कि आपका माइंड थोड़ा थोड़ा डिस्टर्ब हो रहा है तो डॉक्टर की सलाह दें आपको गाइड करेंगे और उसी हिसाब से आगे बढ़े

agar ek mansik rog ho toh kya lakshan hai mansik rog me mind jo hai press nahi rehta maine jo hai kaam nahi karta ya kabhi kabhi kaam karta hai kabhi kabhi nahi karta kabhi kabhi koi cheez yaad nahi rehti bhool jaati hai koi aadmi ka chehra yaad nahi rehta hai hum kya kar rahe hain kaha khade hue hain yah yaad nahi rehta kaha jana hai yah bhool jata hai saamne vala kya kar raha hai vaah samajh me nahi aata aise lakshan hai toh aap samajh jaiye ki aapka mind thoda thoda disturb ho raha hai toh doctor ki salah de aapko guide karenge aur usi hisab se aage badhe

अगर एक मानसिक रोग हो तो क्या लक्षण है मानसिक रोग में माइंड जो है प्रेस नहीं रहता मैंने जो

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  543
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!