क्या वाकई में अच्छे दिनों का बुरा नतीजा मिला देशवासियों को?...


user
0:19
Play

Likes  269  Dislikes    views  3843
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

1:02

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या वाकई में अच्छे दिनों का बुरा नतीजा मिला देशवासियों को तो बिल्कुल हम ना कहेंगे इसके लिए मुझे आज भी याद है 2014 से पहले इलेक्शन से पहले मोदी जी के वह बातें जिससे हम आज के बजट की बेरोजगारी कम होगी देशवासी आकर आएंगे महंगाई कम होगी मुझे आज के समय में तो स्मृति रानी जी रोड पर जो है टंकी लेकर बैठी थी और आज उनकी जय बीजेपी के समय में टंकी का प्राइस इतना अच्छे दिन तो बिल्कुल नहीं हम पहले से हमारे दिन खराब थी अभी जो है बिल्कुल अच्छी नहीं हुए हैं जैसा कि सब लोग हर 1 लोगों के पास यही उम्मीद था कि मोदी जी का सरकार आएगा तो लोगों का यह मतलब धामा डिश में काफी विकास होगा लोग काफी तरक्की करेंगे काफी हो जाएंगे ऐसा कुछ भी नहीं आ पाया अगर यह अच्छे दिन यूं तो हमने कभी भी ऐसे अच्छे दिनों का जो उम्मीद नहीं किया था

kya vaakai mein acche dino ka bura natija mila deshvasiyon ko toh bilkul hum na kahenge iske liye mujhe aaj bhi yaad hai 2014 se pehle election se pehle modi ji ke vaah batein jisse hum aaj ke budget ki berojgari kam hogi deshvasi aakar aayenge mahangai kam hogi mujhe aaj ke samay mein toh smriti rani ji road par jo hai tanki lekar baithi thi aur aaj unki jai bjp ke samay mein tanki ka price itna acche din toh bilkul nahi hum pehle se hamare din kharab thi abhi jo hai bilkul achi nahi hue hain jaisa ki sab log har 1 logo ke paas yahi ummid tha ki modi ji ka sarkar aayega toh logo ka yah matlab dhama dish mein kaafi vikas hoga log kaafi tarakki karenge kaafi ho jaenge aisa kuch bhi nahi aa paya agar yah acche din yun toh humne kabhi bhi aise acche dino ka jo ummid nahi kiya tha

क्या वाकई में अच्छे दिनों का बुरा नतीजा मिला देशवासियों को तो बिल्कुल हम ना कहेंगे इसके लि

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  90
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!