हिंदी के जनक कौन है?...


play
user

S P

Teacher

1:32

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप तो पसंद है हिंदी के जनक कौन है देखे हम हिंदी का उद्भव मानते हैं वह मानते हैं 10वीं 11वीं शताब्दी जिसमें जैन कवि शंभू सिद्ध कवि सरहपा कडप्पा काली भद्र सूरी और लोग कवि अमीर खुसरो जा से नाम लिए जाते हैं इन्होंने हिंदी में काव्य शुरू किया उसके बाद मैं विद्यापति जी आते हैं अभी उन्होंने मैथिली भाषा में साहित्य सृजन किया आदिकाल में जो भाषा थी हमारी वह डिंगल पिंगल थी राजस्थान में प्रेस की भक्ति काल में मिलीजुली भाषाएं थी अवधी भाषा की ब्रजभाषा आधुनिक हिंदी है जो खड़ी बोली हिंदी है इसकी जनक 18 57 की क्रांति के बाद हम माने तो आदरणीय भारतेंदु हरिश्चंद्र उन्होंने निबंधों के माध्यम से नाटकों के माध्यम से हिंदी को स्थापित करने का प्रयास किया नाटक बहुत प्रसिद्ध है वैदिक हिंसा हिंसा न भवति जैसे उनके निबंध आज भी इमली की शोभा बढ़ाते हैं तो हिंदी के जनक के रूप में जब नाम सर्वमान्य है भारतेंदु हरिश्चंद्र

aap toh pasand hai hindi ke janak kaun hai dekhe hum hindi ka udbhav maante hain vaah maante hain vi vi shatabdi jisme jain kavi sambhu siddh kavi sarhapa cuddapah kali bhadra suri aur log kavi amir khusro ja se naam liye jaate hain inhone hindi me kavya shuru kiya uske baad main vidhyapati ji aate hain abhi unhone maithali bhasha me sahitya srijan kiya aadikaal me jo bhasha thi hamari vaah dingal pingal thi rajasthan me press ki bhakti kaal me milijuli bhashayen thi awadhi bhasha ki brajabhasha aadhunik hindi hai jo khadi boli hindi hai iski janak 18 57 ki kranti ke baad hum maane toh adaraniya bharatendu harishchandra unhone nibandho ke madhyam se natakon ke madhyam se hindi ko sthapit karne ka prayas kiya natak bahut prasiddh hai vaidik hinsa hinsa na bhavati jaise unke nibandh aaj bhi imli ki shobha badhate hain toh hindi ke janak ke roop me jab naam sarvmanya hai bharatendu harishchandra

आप तो पसंद है हिंदी के जनक कौन है देखे हम हिंदी का उद्भव मानते हैं वह मानते हैं 10वीं 11व

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  154
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!