धर्म से बड़ी इंसानियत है तो लोग एक दूसरे से प्यार क्यों नहीं करते?...


play
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दीदी कि अगर आप किसी छोटे बच्चे को बुलाकर भूलेंगे ना कि क्या सही है क्या गलत है तो वह आपको बता देगा आप जो कहना मत होगा क्योंकि हम इंसान को यह पता होता है बेसिकली मोटा मोटा कि सही क्या है क्या गलत है एक इंसान का दूसरे इंसान के प्रति क्या रवैया होना चाहिए उसे पता होता है आप बहुत बारीकी में नहीं समझ आएगा नहीं पता होगा वह लड़का नहीं है वह कोई दिक्कत वाली बात नहीं है लेकिन मोटा-मोटा उसे बताओ तो सही क्या है गलत क्या है जब हम बात करते हैं इंसानियत और धर्म की तो होता क्या है कि कुछ धर्म के प्रचारक कि मैं धर्म को कैसे माध्यम बनाओ ताकि मेरा काम निकल जाए और अधिकतर हमने देखा है कि यह पॉलीटिकल रीजंस होते हैं जिनके कारण वह धर्म को चुनते हैं और सोचते हैं कि धर्म को अगर चुना जाए तो इसमें मुझे बहुत बड़ी तादाद मिल जाएगी मैं इमोशनली लोगों को चार्ज कर सकता हूं और एक दिशा में ले जा सकता हूं तो लोग क्या करते हैं लोग अपनी अधर्म की छतरी निकालते हैं उस धर्म की छतरी के नीचे वह धर्म वाले या उस मान्यता वाले लोगों को इकट्ठा करते हैं उसके बाद क्या होता है उसके बाद वहां प्रचार शुरू है किसी भी तरीके का इंश्योरेंस करने वाली कहानी शुरू होती है इससे क्या होता है वह इंसान जो दूसरे इंसान के बारे में वह नजरिया रखता था वह सोच रखता था वह इंसान को इंसान देखता था वैसा ट्वीट करता था अब वह क्या हो गया भाई तू उस छतरी वाला में छतरी वाला तुम उस टीम में मैं इस टीम में मेरी टीम यह बोलती है तुम्हारी टीम वह बोलती अबू टीम टीम की बात हो गई है अब टीम टीम की बात हो गई तो क्या इसका मतलब क्या हुआ भी फ्री इंसानियत नहीं आएगी ना फिर तो जीत और हार वाली बात है जाएगी फिर तो हॉट वाली बात हो जाएगी जहां पर जीत और हार वाली बात हो गई कि मैं बड़ा तो तुम छोटे हाथों में ऊंचा तुम नीचे फिर इंसानियत कहां हो कहां हो कोई वैल्यू करेगा लेकिन इंसान को पता होता है सही क्या है गलत क्या है

didi ki agar aap kisi chote bacche ko bulakar bhulenge na ki kya sahi hai kya galat hai toh vaah aapko bata dega aap jo kehna mat hoga kyonki hum insaan ko yah pata hota hai basically mota mota ki sahi kya hai kya galat hai ek insaan ka dusre insaan ke prati kya ravaiya hona chahiye use pata hota hai aap bahut baareekee mein nahi samajh aayega nahi pata hoga vaah ladka nahi hai vaah koi dikkat wali baat nahi hai lekin mota mota use batao toh sahi kya hai galat kya hai jab hum baat karte hain insaniyat aur dharm ki toh hota kya hai ki kuch dharm ke prachar ki main dharm ko kaise madhyam banao taki mera kaam nikal jaaye aur adhiktar humne dekha hai ki yah political rijans hote hain jinke karan vaah dharm ko chunte hain aur sochte hain ki dharm ko agar chuna jaaye toh isme mujhe bahut badi tadad mil jayegi main emotionally logo ko charge kar sakta hoon aur ek disha mein le ja sakta hoon toh log kya karte hain log apni adharma ki chatri nikalate hain us dharm ki chatri ke niche vaah dharm waale ya us manyata waale logo ko ikattha karte hain uske baad kya hota hai uske baad wahan prachar shuru hai kisi bhi tarike ka insurance karne wali kahani shuru hoti hai isse kya hota hai vaah insaan jo dusre insaan ke bare mein vaah najariya rakhta tha vaah soch rakhta tha vaah insaan ko insaan dekhta tha waisa tweet karta tha ab vaah kya ho gaya bhai tu us chatri vala mein chatri vala tum us team mein main is team mein meri team yah bolti hai tumhari team vaah bolti abu team team ki baat ho gayi hai ab team team ki baat ho gayi toh kya iska matlab kya hua bhi free insaniyat nahi aayegi na phir toh jeet aur haar wali baat hai jayegi phir toh hot wali baat ho jayegi jaha par jeet aur haar wali baat ho gayi ki main bada toh tum chote hathon mein uncha tum niche phir insaniyat kahaan ho kahaan ho koi value karega lekin insaan ko pata hota hai sahi kya hai galat kya hai

दीदी कि अगर आप किसी छोटे बच्चे को बुलाकर भूलेंगे ना कि क्या सही है क्या गलत है तो वह आपको

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  587
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
badi didi ki ; ek doosre se ; kyon nahin karte hain ; tus q ; एक दूसरे से करते प्यार ; एक दूसरे से प्यार ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!