मांसाहारी भोजन और शाकाहारी भोजन दोनों का जीवन में क्या भूमिका है?...


user

Rajesh Rana

Educator, Lawyer

5:29
Play

Likes  84  Dislikes    views  2595
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

1:07
Play

Likes  563  Dislikes    views  6438
WhatsApp_icon
play
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

2:04

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम राम जी आपका पर्सनल माता री भोजन और शाकाहारी भोजन दोनों का जीवन में क्या भूमिका है तो भोजन तो जो जैसा खाता आया है वही उसको पसंद आता है लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो बचपन में उनका परिवार पूरा शाकाहारी है लेकिन वह बाहर निकलते और मांसाहार सेवन करने लगते हैं लेकिन मैं यह समझती कि मांसाहारी लो थोड़े से दाम की प्रगति हो जाती तो भर्ती हो जाते हैं और शाकाहारी शाकाहारी होते किसी जानवर को पशु को मारने में उनको हाथ में जो है शिक्षक होता हमसे यह चीजें भूल जाते हैं मेरी राय में तो शाकाहारी भोजन जो है बहुत अच्छा है और जीवन में उससे कोई दिक्कत नहीं आती है सभी तरह को सफल हैं सभी तरह के मैदान हैं सभी तरह के प्रोटीन है अभी कुछ है ऐसी कोई भी चीज नहीं है जो मांसाहार में है तो शाकाहार नहीं और मांसाहारी और शाकाहारी ने कोई इस तरह किसी का अपन जो है अंदर से लगा हुआ मुझे खाने के लिए थोड़ा नहीं होती है शाकाहारी भोजन जो है शाकाहारी चीजें खाने के लिए होती हैं तो हमें दिल में दबी हो जिनके दिल होता है हाथ जो भी जिसको जो अच्छा लगता है खाने में या फिर ये कहे मैं शाकाहारी हूं इसलिए मुझे ऐसा लग रहा है मांसाहारी लोगों से पूछा जाए तो उसका जवाब और खाती है यह जिंदगी पसंद है

ram ram ji aapka personal mata ri bhojan aur shakahari bhojan dono ka jeevan me kya bhumika hai toh bhojan toh jo jaisa khaata aaya hai wahi usko pasand aata hai lekin kuch log aise bhi hote hain jo bachpan me unka parivar pura shakahari hai lekin vaah bahar nikalte aur mansahaari seven karne lagte hain lekin main yah samajhti ki masahari lo thode se daam ki pragati ho jaati toh bharti ho jaate hain aur shakahari shakahari hote kisi janwar ko pashu ko maarne me unko hath me jo hai shikshak hota humse yah cheezen bhool jaate hain meri rai me toh shakahari bhojan jo hai bahut accha hai aur jeevan me usse koi dikkat nahi aati hai sabhi tarah ko safal hain sabhi tarah ke maidan hain sabhi tarah ke protein hai abhi kuch hai aisi koi bhi cheez nahi hai jo mansahaari me hai toh shaakaahaar nahi aur masahari aur shakahari ne koi is tarah kisi ka apan jo hai andar se laga hua mujhe khane ke liye thoda nahi hoti hai shakahari bhojan jo hai shakahari cheezen khane ke liye hoti hain toh hamein dil me dabi ho jinke dil hota hai hath jo bhi jisko jo accha lagta hai khane me ya phir ye kahe main shakahari hoon isliye mujhe aisa lag raha hai masahari logo se poocha jaaye toh uska jawab aur khati hai yah zindagi pasand hai

राम राम जी आपका पर्सनल माता री भोजन और शाकाहारी भोजन दोनों का जीवन में क्या भूमिका है तो

Romanized Version
Likes  405  Dislikes    views  5100
WhatsApp_icon
user

JAIBIR LANGYAN

Business Counselor /Nutritionist

1:32
Play

Likes  33  Dislikes    views  576
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!