क्या आपने अपने सामने किसी का देहांत होते हुए देखा है? वह अंतिम बात क्या थी जो आपने उनसे उनकी मृत्यु से पहले उससे कही थी?...


user

Anuraadha Uboweja

Empowerment Coach & Healer

1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैंने अपनी आंखों के सामने अपने दादा जी का देहांत होते हुए देखा है और मैं उसे तुमसे कहना चाहती थी कि मुझे उन से कितना लगाव है और उन ने मुझे कितना प्रेम दिया कितना उत्साह दिया और बोलो जानू ने मेरे साथ व्यतीत किए वह बहुत ही खूबसूरत है और हमेशा मेरी यादों में रहेंगे मुझे अपने हाथों में खिला करते थे मुझे यह बात बहुत ज्यादा याद है पेट में बहुत छोटी थी जब उनका देहांत हुआ और मैं यह सब कुछ नहीं कह पाए और मैं हमेशा यह सोचती हूं कि काश नहीं सब कुछ नहीं बता पाती तो अगर आप ऐसे व्यक्ति के साथ हैं जिनका अंतिम गाड़ियां हैं तो आपने बताइए कि आप उनके बारे में कैसा महसूस करते हैं उनके साथ बिताया समय कैसा रहा कितना इन लम्हों ने आपके जीवन पर इंपैक्ट किया पॉजिटिवली आप ही उन्हें बताइए और अगर आप से कुछ भूल हुई हो कुछ ऐसी चीज आपने कह दिया हो तो उसके लिए आप माफी मांग ली जाए तो जब हमें दो चीजें करते हैं कौन को बता दें कि कितना अच्छा महसूस किया और वह सब चीज है जो हम नहीं हमें नहीं कहना चाहिए था वो कह दिया तो उसके लिए माफी मांगने तो वह भी हल्के हो कर जाएंगे और आप भी हमेशा जिंदगी भर हल्का महसूस करेंगे

maine apni aankho ke saamne apne dada ji ka dehant hote hue dekha hai aur main use tumse kehna chahti thi ki mujhe un se kitna lagav hai aur un ne mujhe kitna prem diya kitna utsaah diya aur bolo janu ne mere saath vyatit kiye vaah bahut hi khoobsurat hai aur hamesha meri yaadon mein rahenge mujhe apne hathon mein khila karte the mujhe yah baat bahut zyada yaad hai pet mein bahut choti thi jab unka dehant hua aur main yah sab kuch nahi keh paye aur main hamesha yah sochti hoon ki kash nahi sab kuch nahi bata pati toh agar aap aise vyakti ke saath hain jinka antim gadiyan hain toh aapne bataye ki aap unke bare mein kaisa mehsus karte hain unke saath bitaya samay kaisa raha kitna in lamhon ne aapke jeevan par impact kiya positively aap hi unhe bataye aur agar aap se kuch bhool hui ho kuch aisi cheez aapne keh diya ho toh uske liye aap maafi maang li jaaye toh jab hamein do cheezen karte hain kaun ko bata de ki kitna accha mehsus kiya aur vaah sab cheez hai jo hum nahi hamein nahi kehna chahiye tha vo keh diya toh uske liye maafi mangne toh vaah bhi halke ho kar jaenge aur aap bhi hamesha zindagi bhar halka mehsus karenge

मैंने अपनी आंखों के सामने अपने दादा जी का देहांत होते हुए देखा है और मैं उसे तुमसे कहना चा

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  374
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!