ऐसी कौन सी बात जो आपने अपने मन में बहुत समय से दबा कर रखी है और अब बताना चाहते है?...


user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके सवाल का जो जवाब है मेरे पास थोड़ा सा गहरा है मुझे नहीं पता मैं समझा पाऊंगी या नहीं लेकिन कोशिश करती हूं बचपन से पहले सुना था कि किसी से जल्द नहीं होना चाहिए या नहीं होनी चाहिए तो मैंने अपने जीवन में 40 42 साल अपने आप को यही समझा कर रखा कि नहीं मुझे किसी को देखकर जलन नहीं होती लोगों को भरते हुए देखकर हमेशा खुशी होती थी कोई अच्छा काम कर रहा है तो मुझे बहुत अच्छा लगता था उस इंसान को देखकर या उससे मिल कर ले उससे बातें करके लेकिन अभी कुछ समय पहले दो 1 महीने पहले मैं कुछ पढ़ रही थी चक्रास के बारे में तो मैंने बहुत अच्छा कौन सा पड़ा कि जो भी बुरी भावनाएं होती है जैसे विशेष इस तरह की जो चीजें होती हमारे मन में बदला लेने की भावना हम इंसान हैं हमारे मन में भावनाओं का आना कोई बुरी बात नहीं है तो अगर हम उन बातों को एक्सेप्ट कर ली कि हां मुझे इस बात पर गुस्सा आ रहा है हां मुझे इस बात से जलन हो रही है तो हमारा मन दिमाग बहुत शांत हो जाते हैं कि उनको यह पता चल जाता है हमारे मन को कि हां ठीक है ऐसा करना नॉर्मल एक बार किसी को देख कर गुस्सा आना या किसी भी बात पर हमारा बहुत उतावला हो ना नॉर्मल है जब हम उसको एक्सेप्ट कर लेते हैं तो बल्कि हमारे लिए आगे के रास्ते आसान हो जाते हैं और जब अपनी उस भावना को दबा कर रख देते हमेशा जैसे कि मैंने अपने जीवन में दबाया कि मुझे किसी से ईर्ष्या नहीं होती लेकिन आज मुझे यह स्वीकार करने में कोई शर्म नहीं है बल्कि मैं शान से बताती हूं आजकल जो भी बात आती है से मेरे आस-पास या पहले की कोई बात तो मैं अपने बच्चों से शेयर करती हूं मैं उनसे कहती हूं कि बेटा देखो मुझे इस चीज से जल्दी सो रही है मुझे इससे जलन हो रही है उसको ऐसा देखकर मुझे जलन होगी और अब विश्वास नहीं करेंगे जब मैं ऐसे बोल देती हूं इस बात को क्लियर आउट करती हूं तो मेरा मन इतना शांत हो जाता है कि ठीक है इन सबके आई एम इन बॉथरूम

aapke sawaal ka jo jawab hai mere paas thoda sa gehra hai mujhe nahi pata main samjha paungi ya nahi lekin koshish karti hoon bachpan se pehle suna tha ki kisi se jald nahi hona chahiye ya nahi honi chahiye toh maine apne jeevan mein 40 42 saal apne aap ko yahi samjha kar rakha ki nahi mujhe kisi ko dekhkar jalan nahi hoti logo ko bharte hue dekhkar hamesha khushi hoti thi koi accha kaam kar raha hai toh mujhe bahut accha lagta tha us insaan ko dekhkar ya usse mil kar le usse batein karke lekin abhi kuch samay pehle do 1 mahine pehle main kuch padh rahi thi chakras ke bare mein toh maine bahut accha kaun sa pada ki jo bhi buri bhaavnaye hoti hai jaise vishesh is tarah ki jo cheezen hoti hamare man mein badla lene ki bhavna hum insaan hain hamare man mein bhavnao ka aana koi buri baat nahi hai toh agar hum un baaton ko except kar li ki haan mujhe is baat par gussa aa raha hai haan mujhe is baat se jalan ho rahi hai toh hamara man dimag bahut shaant ho jaate hain ki unko yah pata chal jata hai hamare man ko ki haan theek hai aisa karna normal ek baar kisi ko dekh kar gussa aana ya kisi bhi baat par hamara bahut utavala ho na normal hai jab hum usko except kar lete hain toh balki hamare liye aage ke raste aasaan ho jaate hain aur jab apni us bhavna ko daba kar rakh dete hamesha jaise ki maine apne jeevan mein dabaya ki mujhe kisi se irshya nahi hoti lekin aaj mujhe yah sweekar karne mein koi sharm nahi hai balki main shan se batati hoon aajkal jo bhi baat aati hai se mere aas paas ya pehle ki koi baat toh main apne baccho se share karti hoon main unse kehti hoon ki beta dekho mujhe is cheez se jaldi so rahi hai mujhe isse jalan ho rahi hai usko aisa dekhkar mujhe jalan hogi aur ab vishwas nahi karenge jab main aise bol deti hoon is baat ko clear out karti hoon toh mera man itna shaant ho jata hai ki theek hai in sabke I M in bathrum

आपके सवाल का जो जवाब है मेरे पास थोड़ा सा गहरा है मुझे नहीं पता मैं समझा पाऊंगी या नहीं ले

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  307
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज ही यह सच है मेरे पास ऐसी कोई बात नहीं है जो मैंने बहुत टाइम तक दबा कर रखी है और जिससे आप मुझे बताना चाहिए ऐसा कोई टाइम आ गया है कि मुझे अब उसको पब्लिक कर देना चाहिए ऐसा कुछ भी नहीं है जैसा मैं समझता हूं और जैसा मैंने जीवन जिया है और आगे भी जीने की कोशिश करूंगा कि आज जो है हम इस समय मुझे क्या करना है अगर मैं फुली अवेयर होगे उस पर फोकस करके जीता हूं हमें को बहुत सीरियस होकर जीने की जरूरत नहीं है लेकिन बस प्रेजेंट में पैसे देने की बात है जैसे मैं जो काम कर रहा हूं क्या मैं उस काम में अपने आप को समर्पित कर रहा हूं या नहीं क्या उसे डेडीकेशन और निष्ठा के साथ हो काम कर रहा हूं या नहीं चाहे वो काम हो चाहे जो बात हो चाहे वह कुछ भी चीज हो मैं ऐसा करता हूं तो मेरे पास कोई गुंजाइश नहीं होगी कि फ्यूचर में मेरे को कुछ करना पड़ेगा ऐसा एक्सप्लीसिटली बताने की हजरत जताने के लिए दिखाने के लिए ऐसा कुछ भी नहीं है और बीच में ऐसा होता है कि आज आपने बोया उसके बाद जब मिलेगा तब वो पौधा बाहर आएगा नहीं हमारे साथ तो ऐसा नहीं होना चाहिए हमारे साथ ऐसा होना चाहिए कि मुझे आज पर फोकस करना चाहिए आज जो है उस पर काम करना चाहिए उसको दिल करना चाहिए उसको मैनेज करना चाहिए और आगे बढ़ना चाहिए तो यह भी है कि अगर माली से किसी से मनमुटाव भी है तो उसको फ्यूचर में क्यों ले जाने की जरूरत है अगर आज उसको स्पेशल तो कर लीजिए अगर नहीं कर सकते छोड़ कर भूल जाइए ऐसा कुछ नहीं होना चाहिए कि मैंने दवा के बाद में यह चीज एक और हो सकते हैं कि आपकी कुछ महत्वाकांक्षा हैं आप के एंबीशन से गोल से जो आप अभी नहीं बताना चाहते हो और वक्त आएगा तब आपको करके दिखाना चाहते हैं वह बात अलग है साफ कर सकते उसको पब्लिक करने कि आज जरूरत है आप मेहनत कीजिए उस लेवल का एयरपोर्ट डालिए जब रिजल्ट आएगा लोगों को पता लग जाएगा तो मैं कैसे जीता हूं और शायद मैं यही राय दूंगा आपके लिए भी

aaj hi yah sach hai mere paas aisi koi baat nahi hai jo maine bahut time tak daba kar rakhi hai aur jisse aap mujhe bataana chahiye aisa koi time aa gaya hai ki mujhe ab usko public kar dena chahiye aisa kuch bhi nahi hai jaisa main samajhata hoon aur jaisa maine jeevan jiya hai aur aage bhi jeene ki koshish karunga ki aaj jo hai hum is samay mujhe kya karna hai agar main fully aveyar hoge us par focus karke jita hoon hamein ko bahut serious hokar jeene ki zarurat nahi hai lekin bus present mein paise dene ki baat hai jaise main jo kaam kar raha hoon kya main us kaam mein apne aap ko samarpit kar raha hoon ya nahi kya use dedikeshan aur nishtha ke saath ho kaam kar raha hoon ya nahi chahen vo kaam ho chahen jo baat ho chahen vaah kuch bhi cheez ho main aisa karta hoon toh mere paas koi gunjaiesh nahi hogi ki future mein mere ko kuch karna padega aisa eksaplisitli bata ki hazrat jatane ke liye dikhane ke liye aisa kuch bhi nahi hai aur beech mein aisa hota hai ki aaj aapne boya uske baad jab milega tab vo paudha bahar aayega nahi hamare saath toh aisa nahi hona chahiye hamare saath aisa hona chahiye ki mujhe aaj par focus karna chahiye aaj jo hai us par kaam karna chahiye usko dil karna chahiye usko manage karna chahiye aur aage badhana chahiye toh yah bhi hai ki agar maali se kisi se manmutaav bhi hai toh usko future mein kyon le jaane ki zarurat hai agar aaj usko special toh kar lijiye agar nahi kar sakte chod kar bhool jaiye aisa kuch nahi hona chahiye ki maine dawa ke baad mein yah cheez ek aur ho sakte hain ki aapki kuch mahatwakanksha hain aap ke embishan se gol se jo aap abhi nahi bataana chahte ho aur waqt aayega tab aapko karke dikhana chahte hain vaah baat alag hai saaf kar sakte usko public karne ki aaj zarurat hai aap mehnat kijiye us level ka airport daaliye jab result aayega logo ko pata lag jaega toh main kaise jita hoon aur shayad main yahi rai dunga aapke liye bhi

आज ही यह सच है मेरे पास ऐसी कोई बात नहीं है जो मैंने बहुत टाइम तक दबा कर रखी है और जिससे आ

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  440
WhatsApp_icon
play
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:44

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन है जीवन में हंसने के लोगों को मिलते हैं हम कहते हैं किसी को कोई अपनी बात बताइए अपने बाप को अपने दिल में बाकी आपकी

jeevan hai jeevan mein hasne ke logo ko milte hain hum kehte hain kisi ko koi apni baat bataye apne baap ko apne dil mein baki aapki

जीवन है जीवन में हंसने के लोगों को मिलते हैं हम कहते हैं किसी को कोई अपनी बात बताइए अपने ब

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  619
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप तो इसने ऐसी कौन सी बात जो आपने अपने मन में बहुत समय से दबा कर रखी है और अब बताना चाहते हैं मैं बहुत अच्छी हूं बहुत प्यार का और मैं इस व्यवस्था में विश्वास करता हूं कि मनुष्य के जीवन का अंत कभी भी हो सकता है इसलिए मैं हर क्षण और हर पल वर्तमान में रहता हूं और वर्तमान को जीता हूं और आगे इस बारे में चिंतन मनन नहीं करता अगले देखने का मौका देगा उसके बाद अगले दिन का विचार किया जाएगा यह मेरे मन में बहुत समय से बातचीत करना चाहता था इसलिए वर्तमान

aap toh isne aisi kaun si baat jo aapne apne man mein bahut samay se daba kar rakhi hai aur ab batana chahte hain main bahut achi hoon bahut pyar ka aur main is vyavastha mein vishwas karta hoon ki manushya ke jeevan ka ant kabhi bhi ho sakta hai isliye main har kshan aur har pal vartaman mein rehta hoon aur vartaman ko jita hoon aur aage is bare mein chintan manan nahi karta agle dekhne ka mauka dega uske baad agle din ka vichar kiya jaega yah mere man mein bahut samay se batchit karna chahta tha isliye vartmaan

आप तो इसने ऐसी कौन सी बात जो आपने अपने मन में बहुत समय से दबा कर रखी है और अब बताना चाहते

Romanized Version
Likes  211  Dislikes    views  1902
WhatsApp_icon
user

Aniel K Kumar Imprints

NLP Master Life Coach, Motivational Speaker

2:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मैं नील की कुमार इन प्रिंट एनल पर मस्त लाइफ कोच आज आपके साथ जुड़ा हूं और आपका सवाल है कि ऐसी कौन सी बात है जो आप अपने दिल मन में बहुत समय से दबा कर रखी है और अब बताना चाहते दोस्त तू बात यह है कि कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता है काम सिर्फ काम होता है सिर्फ काम होता है मैं मेरी पहली रनिंग ₹5 के न्यूज़पेपर ले करके उसके लिफाफे बनाए गए थे वह लाइव स्टैंडिंग इन द क्लास 8 जिसमें उन्हें ₹5 के न्यूज़पेपर लाकर के ₹75 के लिफाफे बनाए थे उसके बाद मैंने ₹25 पर डे में लेबर का काम किया और आज उन्हीं सब चीजों की देन उन्हीं सब चीजों से सीखते आगे बढ़ते हुए आज एक इंटरनल है आज एक सफल जीवन है आज लोगों को गाइड कर रहे हैं आज बहुत से लोग हमारे नीचे काम कर रहे हैं तो मेरा अपना मानना है कि कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं है काम सिर्फ काम है बशर्ते कि आप उसे शिद्दत से करें आशा करता हूं कि इससे भी आप अपना बेनिफिट उठा सकते हैं और अपने जीवन को खुशहाल सक्षम और सफल बना सकते हैं जय हिंद जय

namaskar main neel ki kumar in print anal par mast life coach aaj aapke saath juda hoon aur aapka sawaal hai ki aisi kaun si baat hai jo aap apne dil man mein bahut samay se daba kar rakhi hai aur ab batana chahte dost tu baat yah hai ki koi bhi kaam chota ya bada nahi hota hai kaam sirf kaam hota hai sirf kaam hota hai meri pehli running Rs ke Newspaper le karke uske lifafe banaye gaye the vaah live standing in the class 8 jisme unhe Rs ke Newspaper lakar ke Rs ke lifafe banaye the uske baad maine Rs par day mein labour ka kaam kiya aur aaj unhi sab chijon ki then unhi sab chijon se sikhate aage badhte hue aaj ek internal hai aaj ek safal jeevan hai aaj logo ko guide kar rahe hain aaj bahut se log hamare niche kaam kar rahe hain toh mera apna manana hai ki koi bhi kaam chota ya bada nahi hai kaam sirf kaam hai basharte ki aap use shiddat se kare asha karta hoon ki isse bhi aap apna benefit utha sakte hain aur apne jeevan ko khushahal saksham aur safal bana sakte hain jai hind jai

नमस्कार मैं नील की कुमार इन प्रिंट एनल पर मस्त लाइफ कोच आज आपके साथ जुड़ा हूं और आपका सवाल

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  191
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत सी बातें होती है जो लोग अपने मन में दबा के रखती है उसे समय आने पर जाकर करते हैं क्योंकि सेक्रेट को सुकृति रखना चाहिए हर चीज को बता देना प्रॉब्लम होने लगती है इसलिए जो बात अपने मन में दबाकर रखें उसको सही वक्त आने पर जाकर करें पहले सुधार करना आपके लिए अच्छा नहीं होगा बस्ती कंपटीशन एग्जामिनेशन मेरे देखा जाता है कि मैं बात कर जाते हैं मैं आस-पास पर जाते हैं और लास्ट में 12 में छूट जाते हैं क्या कारण है मैं कॉन्फिडेंस की कमी में टैलेंट की टीम इस क्वालीफाई की लेकिन जब टैलेंटेड आदमी रहते हैं तुम्हें किसी तरह की बाधा नहीं आती है 12:00 पर विजय प्राप्त कर लेते हैं और वह हर हाल में अपने मन में बहुत समय से दबे इन बातों को सही वक्त आने पर उजागर करते हैं जब आपकी कोई बड़ी नौकरी हो जाए या एक बहुत बड़ा बिजनेसमैन बन जाए तब उस तभी बातों को आप उजागर अपनी बातें अपनी वाइफ से स्पिनिंग शेयर करें इस साल की बच्चियों की पत्नी आपकी अखिलेश को समझेंगे मैं आपको ज्यादा ना तो देने लगेंगे

bahut si batein hoti hai jo log apne man mein daba ke rakhti hai use samay aane par jaakar karte hain kyonki sekret ko sukriti rakhna chahiye har cheez ko bata dena problem hone lagti hai isliye jo baat apne man mein dabakar rakhen usko sahi waqt aane par jaakar kare pehle sudhaar karna aapke liye accha nahi hoga basti competition examination mere dekha jata hai ki main baat kar jaate hain main aas paas par jaate hain aur last mein 12 mein chhut jaate kya karan hai confidence ki kami mein talent ki team is qualify ki lekin jab talented aadmi rehte hain tumhe kisi tarah ki badha nahi aati hai 12 00 par vijay prapt kar lete hain aur vaah har haal mein apne man mein bahut samay se dabe in baaton ko sahi waqt aane par ujagar karte hain jab aapki koi badi naukri ho jaaye ya ek bahut bada bussinessmen ban jaaye tab us tabhi baaton ko aap ujagar apni batein apni wife se spinning share kare is saal ki bachiyo ki patni aapki akhilesh ko samjhenge main aapko zyada na toh dene lagenge

बहुत सी बातें होती है जो लोग अपने मन में दबा के रखती है उसे समय आने पर जाकर करते हैं क्यों

Romanized Version
Likes  209  Dislikes    views  1148
WhatsApp_icon
user

Rounak Romi

Philosopher & Activist

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसी कौन सी बात जो अपने मन में बहुत समय से दबा कर रखी है और अब बताना चाहते हैं लेकिन मैं पर्सनली अपनी बात करूं तो मैं प्रेजेंट में जीना पसंद करता हूं और यह मेरे जीवन का सिद्धांत है जो कुछ है आज है अभी है इसी वक्त है यदि किसी इंसान एक इसी बात पर मुझे पीड़ा होती है अब जैकसन होता है यह नाराजगी होती है तुम्हें तत्काल और बात उस पार्टी के लिए रखती तक पहुंचा कर उसे समाप्त कर देता हूं लेकिन यदि मेरी वजह से किसी को कोई पीड़ा पहुंचती और ऐसी मुझे महसूस होता है कि मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था हमें तत्काल उसके लिए सॉरी भी कह देता हूं और साथ ही किसी ने मेरे लिए अच्छा किया है यह किसी की वजह से मेरा भला हुआ है यह किसी ने मेरे बारे में कुछ अच्छा किया है तुम्हें तत्काल उसे थैंक्स भी कह देता हूं और उसके प्रति ग्रेसफुलनेस भी गिफ्ट कर देता हूं मैं ऐसा प्रयास करता हूं कि लाइफ को कंप्लीट तरीके से जीना चाहिए प्रेजेंट में जीना चाहिए और इस तरह से जीना चाहिए कि आज अभी अगले पल यदि मृत्यु नजदीक आ जाए तो कुछ भी अधूरा न रहे इस तरीके से अपने लाइफ को जीने का प्रयास करता हूं और साथ ही हर दिन जो कुछ अच्छा होता है उसके लिए मैं ईश्वर को भी थैंक्स कहता हूं अपनी प्रार्थना के दौरान और मैं हर इंसान के प्रति ऐसा सोचता हूं कि उसे भी ऐसा ही जीने का प्रयास करना चाहिए और प्रेजेंट में रहते हुए लाइफ को अच्छे से जीने का प्रयास करना चाहिए

aisi kaun si baat jo apne man mein bahut samay se daba kar rakhi hai aur ab bataana chahte hain lekin main personally apni baat karu toh main present mein jeena pasand karta hoon aur yah mere jeevan ka siddhant hai jo kuch hai aaj hai abhi hai isi waqt hai yadi kisi insaan ek isi baat par mujhe peeda hoti hai ab jackson hota hai yah narajgi hoti hai tumhe tatkal aur baat us party ke liye rakhti tak pohcha kar use samapt kar deta hoon lekin yadi meri wajah se kisi ko koi peeda pohchti aur aisi mujhe mehsus hota hai ki mujhe aisa nahi karna chahiye tha hamein tatkal uske liye sorry bhi keh deta hoon aur saath hi kisi ne mere liye accha kiya hai yah kisi ki wajah se mera bhala hua hai yah kisi ne mere bare mein kuch accha kiya hai tumhe tatkal use thanks bhi keh deta hoon aur uske prati gresafulnes bhi gift kar deta hoon main aisa prayas karta hoon ki life ko complete tarike se jeena chahiye present mein jeena chahiye aur is tarah se jeena chahiye ki aaj abhi agle pal yadi mrityu nazdeek aa jaaye toh kuch bhi adhura na rahe is tarike se apne life ko jeene ka prayas karta hoon aur saath hi har din jo kuch accha hota hai uske liye main ishwar ko bhi thanks kahata hoon apni prarthna ke dauran aur main har insaan ke prati aisa sochta hoon ki use bhi aisa hi jeene ka prayas karna chahiye aur present mein rehte hue life ko acche se jeene ka prayas karna chahiye

ऐसी कौन सी बात जो अपने मन में बहुत समय से दबा कर रखी है और अब बताना चाहते हैं लेकिन मैं पर

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  272
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!