भगवान को किस किसने देखा है मुझे विश्वास दिलाने के लिए?...


play
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

2:01

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है भगवान को किस किसने दिखा मुझे विश्वास दिलाने के लिए जी हां मैं आपको विश्वास दिलाने के लिए बताऊंगा कि भगवान राम को तुलसीदास जी ने देखा था ऐसी कथा कही जाती है कि तुलसीदास जी ने सबसे पहले हनुमान जी के दर्शन किए एक वृत्त के माध्यम से उन्होंने हनुमान जी को राम कथा सुनते हुए पूरे के रूप में देखा अभिनव ने बताया था कि वह हनुमान जी पूरे ग्रुप में आते हैं तो भगवान हनुमान जी के वी के पैर तुलसीदास जी ने पकड़ लिए एकांत में जाकर तब उन्होंने हनुमान जी ने अपना दिव्य रूप प्रकट किया तब तुलसीदास जी ने उनसे भगवान राम के दर्शन की मांग की तो भगवान राम को उन्होंने दर्शन करवाया चित्रकूट के घाट पर भई संतन की भीर तुलसीदास चंदन घिसे तिलक प्रीत लगी यह कहकर हनुमान जी ने तोते के रूप में भगवान का परिचय कराया उनसे क्योंकि वह भगवान के रूप को देखकर मुक्त हो गई तभी सुध बुध भूल गई थी इस प्रकार तुलसीदास जी ने दर्शन किए कलयुग में ही नीम करोली बाबा हैं वह हनुमान जी के बहुत बड़े भक्त रहे उन्होंने भी भगवान राम के हनुमान जी के दर्शन किए और ऐसी ही अन्य बहुत से महापुरुष ने जिन्होंने भगवान के दर्शन किए हैं दिल की कथा पौराणिक ग्रंथों में और धर्मशास्त्र में मिलती है उनमें से एक बहुत पुराना है वह बालक ध्रुव थे जिन्होंने विष्णु भगवान की बहुत तपस्या की और उनके दर्शन किए और वह धारा के रूप में उत्तर दिशा में अटल हो गए जी आपकी प्रश्न का उत्तर

aapka prashna hai bhagwan ko kis kisne dikha mujhe vishwas dilaane ke liye ji haan main aapko vishwas dilaane ke liye bataunga ki bhagwan ram ko tulsidas ji ne dekha tha aisi katha kahi jaati hai ki tulsidas ji ne sabse pehle hanuman ji ke darshan kiye ek vritt ke madhyam se unhone hanuman ji ko ram katha sunte hue poore ke roop me dekha abhinav ne bataya tha ki vaah hanuman ji poore group me aate hain toh bhagwan hanuman ji ke v ke pair tulsidas ji ne pakad liye ekant me jaakar tab unhone hanuman ji ne apna divya roop prakat kiya tab tulsidas ji ne unse bhagwan ram ke darshan ki maang ki toh bhagwan ram ko unhone darshan karvaya chitrakoot ke ghat par bhai santan ki bhir tulsidas chandan ghise tilak prateet lagi yah kehkar hanuman ji ne tote ke roop me bhagwan ka parichay karaya unse kyonki vaah bhagwan ke roop ko dekhkar mukt ho gayi tabhi sudh buddha bhool gayi thi is prakar tulsidas ji ne darshan kiye kalyug me hi neem karoli baba hain vaah hanuman ji ke bahut bade bhakt rahe unhone bhi bhagwan ram ke hanuman ji ke darshan kiye aur aisi hi anya bahut se mahapurush ne jinhone bhagwan ke darshan kiye hain dil ki katha pouranik granthon me aur dharmashastra me milti hai unmen se ek bahut purana hai vaah balak dhruv the jinhone vishnu bhagwan ki bahut tapasya ki aur unke darshan kiye aur vaah dhara ke roop me uttar disha me atal ho gaye ji aapki prashna ka uttar

आपका प्रश्न है भगवान को किस किसने दिखा मुझे विश्वास दिलाने के लिए जी हां मैं आपको विश्वास

Romanized Version
Likes  429  Dislikes    views  4358
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!