पैराशूट धीरे-धीरे क्यों उतरता है?...


user

Snehasish Gupta

Journalist / Traveller

0:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पैराशूट जो है उसकी बोलने के लिए हमें देखा है कि हवा भी लगता है उस आदमी के बीच

parachute jo hai uski bolne ke liye hamein dekha hai ki hawa bhi lagta hai us aadmi ke beech

पैराशूट जो है उसकी बोलने के लिए हमें देखा है कि हवा भी लगता है उस आदमी के बीच

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  398
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Kavita

Writer

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी पैराशूट अगर बहुत तेजी से उतरेगा जमीन पर रहेगा तू क्रश हो जाएगा और जो इंसान उसमें जो इंसान को पकड़कर चल रहा है वह दम पर खत्म हो जाएगा इसलिए ऊपर सूट धीरे धीरे धीरे करता है ताकि जो है हवा में हवा की जो गति है उसके साथ वह आगे बढ़े और अपनी स्पीड जो है वह बिल्कुल कम कर दें और जिस इंसान भी सीख रही थी ना इसलिए मुझे करने के लिए यही काफी कम हो जाता है स्पीड ज्यादा हो तो वहीं पर हार्ट अटैक

ji parachute agar bahut teji se utrega jameen par rahega tu crush ho jaega aur jo insaan usme jo insaan ko pakadakar chal raha hai vaah dum par khatam ho jaega isliye upar suit dhire dhire dhire karta hai taki jo hai hawa mein hawa ki jo gati hai uske saath vaah aage badhe aur apni speed jo hai vaah bilkul kam kar de aur jis insaan bhi seekh rahi thi na isliye mujhe karne ke liye yahi kaafi kam ho jata hai speed zyada ho toh wahi par heart attack

जी पैराशूट अगर बहुत तेजी से उतरेगा जमीन पर रहेगा तू क्रश हो जाएगा और जो इंसान उसमें जो इंस

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  340
WhatsApp_icon
play
user

Mohini

Voice Artist

1:17

Likes  15  Dislikes    views  409
WhatsApp_icon
user

mak mansuri

Story teller - artist

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आता है क्योंकि उसमें क्या होता है बहुत तेजी से चली जब हम खेल रहे होते हैं तब हवा कम होता है और आप जब एमएस खुलता है तब उसका सिर्फ इसीलिए बढ़ जाता है किसके घर हवा करे जिस दिन भर जाता है धीरे-धीरे

aata hai kyonki usme kya hota hai bahut teji se chali jab hum khel rahe hote hain tab hawa kam hota hai aur aap jab ms khulta hai tab uska sirf isliye badh jata hai kiske ghar hawa kare jis din bhar jata hai dhire dhire

आता है क्योंकि उसमें क्या होता है बहुत तेजी से चली जब हम खेल रहे होते हैं तब हवा कम होता ह

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  422
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!