रात में झाड़ू क्यों नहीं करना चाहिए?...


user

Dr. Rajesh Raval

Director, Rainbow Academy

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रात में झाड़ू नहीं लगाना चाहिए यह बड़ा पूरा नियम बना हुआ है पुराना नियम है जो पुराने जमाने में लोग यह कहते थे रात को झाड़ू नहीं लगा उसका रीजन यह था कि अंधेरे में कोई कीमती चीज गिर गई हो और अब झाड़ू लगा कर बाहर फेंक दे तो वह भी चली जाती है इसलिए होता था लेकिन मॉर्डन जमाने में क्या है ऐसे पूरी रोशनी रहती है रात को लाइट भी रहती है इसलिए लोग रात को झाड़ू लगाते हैं और कोई बुरा नहीं मानता लेकिन फिर भी रात को झाड़ू लगाना अशुभ मानते हैं क्योंकि धर्म में लिखा है झाड़ू का संबंध सीधा लक्ष्मी से है तो लक्ष्मी जी को बुरा लग जाता है अगर रात को आप जरूर लगाते हैं फिर भी कोई किसी चीज अनुसार अगर रात को लगाना पड़ जाए जानू तो जो उसका कचरा है वह एक साइड में कर के रख देना चाहिए घर में ही बाहर नहीं फेंकना चाहिए नहीं तो ऐसा माना जाता है कि लक्ष्मी चली जाती है साइंटिफिकली देखा जाए तो रात का समय जो है वह आराम का समय है और उस समय झाड़ू पोछा वगैरह पहले ही कर लिया जाता है शाम होने से पहले ही दिया बत्ती जला लिया जाता है तो उसके बाद हो सके तब तक झाड़ू नहीं लगाना चाहिए सैलरी जल्दी यही कहता है ठीक है नहीं तो बाकी सफाई तो अच्छी है लेकिन पूरा दिन के 24 में से 23 घंटे सोएंगे तो अच्छा होता है नहीं होता है उसी तरह कभी भी झाड़ू नहीं लगाना चाहिए उसका समय है

raat mein jhaad nahi lagana chahiye yeh bada pura niyam bana hua hai purana niyam hai jo purane jamane mein log yeh kehte the raat ko jhaad nahi laga uska reason yeh tha ki andhere mein koi kimti cheez gir gayi ho aur ab jhaad laga kar bahar fenk de toh wah bhi chali jati hai isliye hota tha lekin morden jamane mein kya hai aise puri roshni rehti hai raat ko light bhi rehti hai isliye log raat ko jhaad lagate hai aur koi bura nahi manata lekin phir bhi raat ko jhaad lagana ashubh maante hai kyonki dharm mein likha hai jhaad ka sambandh seedha laxmi se hai toh laxmi ji ko bura lag jata hai agar raat ko aap zaroor lagate hai phir bhi koi kisi cheez anusaar agar raat ko lagana pad jaye janu toh jo uska kachda hai wah ek side mein kar ke rakh dena chahiye ghar mein hi bahar nahi phenkana chahiye nahi toh aisa mana jata hai ki laxmi chali jati hai scientifically dekha jaye toh raat ka samay jo hai wah aaram ka samay hai aur us samay jhaad pochaa vagera pehle hi kar liya jata hai shaam hone se pehle hi diya batti jala liya jata hai toh uske baad ho sake tab tak jhaad nahi lagana chahiye salary jaldi yahi kahata hai theek hai nahi toh baki safaai toh acchi hai lekin pura din ke 24 mein se 23 ghante soyenge toh accha hota hai nahi hota hai usi tarah kabhi bhi jhaad nahi lagana chahiye uska samay hai

रात में झाड़ू नहीं लगाना चाहिए यह बड़ा पूरा नियम बना हुआ है पुराना नियम है जो पुराने जमाने

Romanized Version
Likes  106  Dislikes    views  2194
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!