जहाँ ज़्यादा लोग होते है वहाँ मैं आत्म-सचेत हो जाती हूँ। ऐसा करने से मैं अपने आप को कैसे रोक सकती हूँ?...


user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन जान जाने लोग हैं वहां अपने आप सूचित हो जाते हैं आप तो अपने आप को सुनाने कोशिश करेंगे घबराना नहीं है जो बोलना है उचित मरकाम घर में प्रयास करें बोलने का प्रयास करें और घर में जब किसी मिरर के सामने दर्पण के सामने खड़े होकर प्रयास करेंगे बोलने का था मैं कॉन्फिडेंस आएगा अब मैं अच्छी सोच आएगी और बार-बार अभ्यास करने से इंसान सब कुछ सीख जाता है और आप भीड़ में या बहुत से लोगों के बीच आप अपने अच्छे तरीके से अच्छा कार्य कर सकते हैं आपको परेशान होने की जरूरत नहीं

lekin jaan jaane log hain wahan apne aap suchit ho jaate hain aap toh apne aap ko sunaane koshish karenge ghabrana nahi hai jo bolna hai uchit markam ghar me prayas kare bolne ka prayas kare aur ghar me jab kisi mirror ke saamne darpan ke saamne khade hokar prayas karenge bolne ka tha main confidence aayega ab main achi soch aayegi aur baar baar abhyas karne se insaan sab kuch seekh jata hai aur aap bheed me ya bahut se logo ke beech aap apne acche tarike se accha karya kar sakte hain aapko pareshan hone ki zarurat nahi

लेकिन जान जाने लोग हैं वहां अपने आप सूचित हो जाते हैं आप तो अपने आप को सुनाने कोशिश करेंगे

Romanized Version
Likes  368  Dislikes    views  4209
WhatsApp_icon
15 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप सचेत होना तो बहुत अच्छी बात है आप सचेत के साथ मैं आपको आप सुरक्षित महसूस करेंगे और आपको कुछ चिंता नहीं रहेगी ज्यादा लोगों के बीच में उनको थोड़ा सा अच्छी बातों के द्वारा उनके अच्छी बातें किधर दीजिए अच्छी बातें कीजिए और अध्यात्म को ज्यादा प्रेरणा दी आत्मा की शांति मिलेगी

aap sachet hona toh bahut achi baat hai aap sachet ke saath main aapko aap surakshit mehsus karenge aur aapko kuch chinta nahi rahegi zyada logo ke beech me unko thoda sa achi baaton ke dwara unke achi batein kidhar dijiye achi batein kijiye aur adhyaatm ko zyada prerna di aatma ki shanti milegi

आप सचेत होना तो बहुत अच्छी बात है आप सचेत के साथ मैं आपको आप सुरक्षित महसूस करेंगे और आपको

Romanized Version
Likes  215  Dislikes    views  2153
WhatsApp_icon
user

Vivek

Motivational Speaker

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कभी भी जितने भी लोग रहे हैं अब जी जाती है मत अपने आपको सचेत मत करिए सबसे बड़ी चीज है कि कहीं ना कहीं आपके अंदर इच्छाशक्ति आत्मविश्वास की कमी है मुझे लगता है कि अपने आत्मविश्वास को अपनी इच्छा शक्ति को मजबूत करिए कंसंट्रेशन बहुत जरूरी है हाथ को और झिझक चाहिए मस्जिद अपने से आपका नुकसान होगा हमेशा ही बोल्ड व्यक्ति की तरह हमेशा आगे बढ़ते मुझे लगता है कि आपके अंदर इस की ही जरूरत है

kabhi bhi jitne bhi log rahe hain ab ji jaati hai mat apne aapko sachet mat kariye sabse badi cheez hai ki kahin na kahin aapke andar ichchhaashakti aatmvishvaas ki kami hai mujhe lagta hai ki apne aatmvishvaas ko apni iccha shakti ko majboot kariye kansantreshan bahut zaroori hai hath ko aur jhijhak chahiye masjid apne se aapka nuksan hoga hamesha hi bold vyakti ki tarah hamesha aage badhte mujhe lagta hai ki aapke andar is ki hi zarurat hai

कभी भी जितने भी लोग रहे हैं अब जी जाती है मत अपने आपको सचेत मत करिए सबसे बड़ी चीज है कि कह

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  290
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ज्यादा लोगों को याद करके सो जा क्योंकि आप को कैसे रोक सकते हाथ में चर्चित होने का अभिप्राय कितना होता है तो कंगना पुरानी है लेकिन चैटिंग की जैसा अगर गलत हो तो हो रहा है उसी के सामने आपको सबसे पहले विचार करें कि आपकी मन में विचार क्यों है और उसके चार के पीछे कानून क्या है हेलो कौन सी ऐसी कमजोरी है जो आपको उत्साहित करती है आप उस कमजोरी कमजोरी से अपने आप को बचाएं और उसे बाहर आए और जो आपका एक पुरुषार्थ अचेतन है उस अचेतन प्रशांत को जगह आप अपनी चाची से बुरी जो भावनाएं बुरी जैसा है इसको मिठाई अभी आप अपने आप पर नियंत्रण कर सकती हो

zyada logo ko yaad karke so ja kyonki aap ko kaise rok sakte hath me charchit hone ka abhipray kitna hota hai toh kangana purani hai lekin chatting ki jaisa agar galat ho toh ho raha hai usi ke saamne aapko sabse pehle vichar kare ki aapki man me vichar kyon hai aur uske char ke peeche kanoon kya hai hello kaun si aisi kamzori hai jo aapko utsaahit karti hai aap us kamzori kamzori se apne aap ko bachaen aur use bahar aaye aur jo aapka ek purusharth achetan hai us achetan prashant ko jagah aap apni chachi se buri jo bhaavnaye buri jaisa hai isko mithai abhi aap apne aap par niyantran kar sakti ho

ज्यादा लोगों को याद करके सो जा क्योंकि आप को कैसे रोक सकते हाथ में चर्चित होने का अभिप्राय

Romanized Version
Likes  459  Dislikes    views  8263
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां जाता लोग होते हैं वहां में खत्म सच्चे हो जाती ऐसा करने से मैं अपने आप को कैसे रोक सकती हूं लिखे ज्यादा लोग यहां होते हैं तो अगर आप आत्म सचेत होते हैं उसमें कोई बुराई नहीं है जहां ज्यादा लोग होते हैं वह लोग कौन हैं वह आपके ऊपर चेक करता है आपके विचारों पर अगर ऑपोजिट जेंडर के लोग हैं तो आपका आत्मक सचेत होना जरूर अच्छी बात है अगर ज्यादा लोग आपके ही जन रखे हैं और फिर भी आप आत्मा सचेत होती हैं तो उसमें कोई बुराई नहीं है क्योंकि बहुत ज्यादा लोग में सब तरह के लोग होते हैं चाहे मेल हो या फीमेल लोगों के विचार अलग होते हैं लोगों लोगों के इरादे अलग होते हैं और लोगों की सोच लिया लगती और वह सब अगर आपके ऊपर एक पत्ते और आप अगर चाहती हैं कि आप दुनिया भी डर से अपने आपको अलग रखना चाहती है तो जरूर आपको आपको सचेत होना चाहिए लेकिन एक तरह की जो मन में भावना होती है कि आप बहुत ज्यादा अपने आप को सुरक्षित रखना चाहती हैं तो ज्यादा लोगों के बीच में जाकर एक तरफ से आत्म केंद्रित बन सकती हैं और आप लोगों का अध्ययन करना शुरू कर देते हैं लोगों के विचार जानना शुरु कर देती है और आपको जो सही लगता है उसी के साथ आप अपना बातें शेयर करती है यह एक उचित निर्णय लिया जाए तो सुंदर बात है लेकिन नेगेटिव अगर आप सोचे कोई ऐसे भी लोग आपको मिलेंगे उसमें जो आप के प्रति गलत नजरिया रखते हैं और गलत बिहेवियर करते हैं तो जरूर जवाब दें अपने आप को सेफ रखने के लिए प्रयास कर सकते हैं बहुत-बहुत शुभकामनाएं धन्यवाद

jaha jata log hote hain wahan me khatam sacche ho jaati aisa karne se main apne aap ko kaise rok sakti hoon likhe zyada log yahan hote hain toh agar aap aatm sachet hote hain usme koi burayi nahi hai jaha zyada log hote hain vaah log kaun hain vaah aapke upar check karta hai aapke vicharon par agar opposite gender ke log hain toh aapka aatmkatha sachet hona zaroor achi baat hai agar zyada log aapke hi jan rakhe hain aur phir bhi aap aatma sachet hoti hain toh usme koi burayi nahi hai kyonki bahut zyada log me sab tarah ke log hote hain chahen male ho ya female logo ke vichar alag hote hain logo logo ke Irade alag hote hain aur logo ki soch liya lagti aur vaah sab agar aapke upar ek patte aur aap agar chahti hain ki aap duniya bhi dar se apne aapko alag rakhna chahti hai toh zaroor aapko aapko sachet hona chahiye lekin ek tarah ki jo man me bhavna hoti hai ki aap bahut zyada apne aap ko surakshit rakhna chahti hain toh zyada logo ke beech me jaakar ek taraf se aatm kendrit ban sakti hain aur aap logo ka adhyayan karna shuru kar dete hain logo ke vichar janana shuru kar deti hai aur aapko jo sahi lagta hai usi ke saath aap apna batein share karti hai yah ek uchit nirnay liya jaaye toh sundar baat hai lekin Negative agar aap soche koi aise bhi log aapko milenge usme jo aap ke prati galat najariya rakhte hain aur galat behaviour karte hain toh zaroor jawab de apne aap ko safe rakhne ke liye prayas kar sakte hain bahut bahut subhkamnaayain dhanyavad

जहां जाता लोग होते हैं वहां में खत्म सच्चे हो जाती ऐसा करने से मैं अपने आप को कैसे रोक सकत

Romanized Version
Likes  299  Dislikes    views  2332
WhatsApp_icon
user
0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अर्पिता को ना गलत नहीं है मेरी चिंता करता है आपको ज्यादा सोचने की बात नहीं है तो सभी के साथ होता है

arpita ko na galat nahi hai meri chinta karta hai aapko zyada sochne ki baat nahi hai toh sabhi ke saath hota hai

अर्पिता को ना गलत नहीं है मेरी चिंता करता है आपको ज्यादा सोचने की बात नहीं है तो सभी के सा

Romanized Version
Likes  202  Dislikes    views  1939
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:53
Play

Likes  184  Dislikes    views  4840
WhatsApp_icon
user

Trainer Yogi Yogendra

Motivational Speaker || Career Coach || Business Coach || Marketing & Management Expert's

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर केरियर कोच और कॉरपोरेट ट्रेन के बारे में बात करने वाले को सचेत हो जाती हो ऐसा करने से मैं अपने आप को कैसे रोक सकते हो देखिए मैं आपको बोलना चाहता हूं कि ऐसा क्यों बताता है कि आप जो है लोगों में खुल मिलने बात नहीं कर पाते तो इसके लिए कोई बनी बनाई नहीं आती हम लोग हम अपनी मर्जी से बना लिया करते हो जैसे हम लोग आदत बनाएंगे हम रखेंगे हम लोगों के प्रति आदर है लोगों के प्रति जो आपकी फोटो बदलने की कोशिश करें

hello friends main yogendra sharma Motivational speaker Career coach aur corporate train ke bare me baat karne waale ko sachet ho jaati ho aisa karne se main apne aap ko kaise rok sakte ho dekhiye main aapko bolna chahta hoon ki aisa kyon batata hai ki aap jo hai logo me khul milne baat nahi kar paate toh iske liye koi bani banai nahi aati hum log hum apni marji se bana liya karte ho jaise hum log aadat banayenge hum rakhenge hum logo ke prati aadar hai logo ke prati jo aapki photo badalne ki koshish kare

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर केरियर कोच और कॉरपोरेट ट्रेन के बारे में

Romanized Version
Likes  385  Dislikes    views  3137
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  96  Dislikes    views  1575
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां ज्यादा लोग होते हैं वहां मैं आपसे चैट हो जाती है ऐसा करने में मैं अपने आप को कैसे रोक सकते लेकिन ज्यादातर औद्योगिक निश्चित अपने आवास में सूची कैसे कट करते हुए तुम्हें समझ नहीं पा रहा होगा अपने आप को स्ट्रांग मजबूत रखो और आने से कर दो मजबूत इरादे कृपया ग्रुप बच सकते

jaha zyada log hote hain wahan main aapse chat ho jaati hai aisa karne me main apne aap ko kaise rok sakte lekin jyadatar audyogik nishchit apne aawas me suchi kaise cut karte hue tumhe samajh nahi paa raha hoga apne aap ko strong majboot rakho aur aane se kar do majboot Irade kripya group bach sakte

जहां ज्यादा लोग होते हैं वहां मैं आपसे चैट हो जाती है ऐसा करने में मैं अपने आप को कैसे रोक

Romanized Version
Likes  332  Dislikes    views  1885
WhatsApp_icon
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

2:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम जी की आपका प्रश्न है जहां ज्यादा लोग होते हैं वहां में अनुसूचित जाति ऐसा करने से मैं अपने आप को कैसे रुक सकती हूं दी कि आपको प्रश्न बहुत स्पष्ट नहीं है लेकिन फिर भी मैं उत्तर देने का प्रयास कर रहा हूं कि आपने कहा कि जहां ज्यादा लोग होते हैं वहां मैं आपकी पूजा तो आप तो सच का मतलब मैं तो यही रहा हूं कि आप ज्यादा सावधान हो जाती मोर विजिलेंस मुर्गी रेंट हो जाती है सावधान हो जाती है आपका कोई सामान न ली जाए वीरवार में आपको कोई बुरी तरह से टशन करी गलत पोस्ट ना करें या आपको कहीं टूट न लग जाए तूने किस्मत में कोई बुराई नहीं अपने शरीर की रक्षा करना अपने सम्मान की रक्षा करना भीड़ में सावधान होना यह तो बहुत अच्छी बात है और मैं समझ नहीं पाता हूं कि आपने ही क्यों प्रश्न किया ऐसा करने से मैं अपने आप को कैसे रोक सकते भरे माहौल में जहां पर अपने को सावधान इसमें कोई बुराई नहीं है सावधान सावधान सावधान रहो कोशिश करें कि आप कुछ आप क्या कर रही हैं एक्स्ट्राऑर्डिनरी आपको एहसास हो रहा है साहब के चेहरे पर भावना है और आप सावधान देती हैं और रुखसार रूप से आशय आपका यह है कि जहां आपकी ज्यादा किस टीम पर होते हैं जहां आपकी जगह पर चलते हैं वहां ज्यादातर बांग्ला तुम बातचीत करें द पॉइंट बातचीत करेंगे तो इससे भी आपकी बुद्धिमत्ता जाहिर होगी और मैं इसमें भी कोई बुराई की मानता हूं दोनों में मैं तो यही मानता हूं कि यदि आप ज्यादा भीड़भाड़ भरे माहौल में आप सदा सावधान हो जाते हैं आपने सचिव जाति या अपने मित्रों के बीच में आपने सच्ची लगती हैं तो इसमें कहीं कोई आपकी बात को

ram ji ki aapka prashna hai jaha zyada log hote hain wahan me anusuchit jati aisa karne se main apne aap ko kaise ruk sakti hoon di ki aapko prashna bahut spasht nahi hai lekin phir bhi main uttar dene ka prayas kar raha hoon ki aapne kaha ki jaha zyada log hote hain wahan main aapki puja toh aap toh sach ka matlab main toh yahi raha hoon ki aap zyada savdhaan ho jaati mor vijilens murgi rent ho jaati hai savdhaan ho jaati hai aapka koi saamaan na li jaaye virvar me aapko koi buri tarah se tashan kari galat post na kare ya aapko kahin toot na lag jaaye tune kismat me koi burayi nahi apne sharir ki raksha karna apne sammaan ki raksha karna bheed me savdhaan hona yah toh bahut achi baat hai aur main samajh nahi pata hoon ki aapne hi kyon prashna kiya aisa karne se main apne aap ko kaise rok sakte bhare maahaul me jaha par apne ko savdhaan isme koi burayi nahi hai savdhaan savdhaan savdhaan raho koshish kare ki aap kuch aap kya kar rahi hain extraordinary aapko ehsaas ho raha hai saheb ke chehre par bhavna hai aur aap savdhaan deti hain aur rukhsar roop se aashay aapka yah hai ki jaha aapki zyada kis team par hote hain jaha aapki jagah par chalte hain wahan jyadatar bangla tum batchit kare the point batchit karenge toh isse bhi aapki buddhimatta jaahir hogi aur main isme bhi koi burayi ki maanta hoon dono me main toh yahi maanta hoon ki yadi aap zyada bhidbhad bhare maahaul me aap sada savdhaan ho jaate hain aapne sachiv jati ya apne mitron ke beech me aapne sachi lagti hain toh isme kahin koi aapki baat ko

राम जी की आपका प्रश्न है जहां ज्यादा लोग होते हैं वहां में अनुसूचित जाति ऐसा करने से मैं

Romanized Version
Likes  471  Dislikes    views  5315
WhatsApp_icon
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले मैं जाना चाहूंगी उसने के किसी प्रोग्राम के साथ जोड़ना पड़ेगा किसी भी प्रोग्राम से जुड़े जिसमें बहुत सारे लोग होंगे उन्हें जवाब तो उठेंगे देखेंगे अपना उससे आपका कॉन्फिडेंस बनेगा अगर कॉन्फिडेंस बढ़ेगा तो यह आपकी कमजोरी भी दूर हो जाएगा

sabse pehle main jana chahungi usne ke kisi program ke saath jodna padega kisi bhi program se jude jisme bahut saare log honge unhe jawab toh uthenge dekhenge apna usse aapka confidence banega agar confidence badhega toh yah aapki kamzori bhi dur ho jaega

सबसे पहले मैं जाना चाहूंगी उसने के किसी प्रोग्राम के साथ जोड़ना पड़ेगा किसी भी प्रोग्राम स

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  135
WhatsApp_icon
user

Ruchi Garg

Counsellor and Psychologist(Gold MEDALIST)

1:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दीक्षा की जो बात कह रहे हैं कि आप आपने सच हो जाते हैं जब आप ज्यादा लोगों को देखते हैं तो यह बात सबसे ज्यादा ध्यान रखिए कि ऐसा तब होता है जब आपका आत्मविश्वास कम हो आपको क्या करने की जरूरत है अपना आत्मविश्वास बढ़ाने की जरूरत है कैसे बढ़ा सकते हैं बहुत सारी जो है टेक्निक्स होते जो फॉलो कर सकते हैं जिससे कि मेरठ के सामने किसी के सामने खड़े होकर प्रैक्टिस करना आंखों में आप जब भी आप जिस से बात करते हैं आंखों में आंखें डालकर बात करिए दूसरा यह बात हमेशा याद रखिए कि आप जब भी किसी से बात करते हैं 10 में से एक या दो बार जरूर ऐसी होगी तो आप लोग को लगेगा ठीक नहीं बोला यह क्या बोल दिया इसकी जरूरत काश कुछ और बोला होता तो हमेशा याद रखें इतना डरने की बात नहीं है हो जाते हम सब कुछ ना कुछ आगे पीछे निकल ही जाता है इसके अलावा आत्मा से जीत होने का यह भी मतलब है कि आपको अपने ऊपर डाउट बहुत है क्या मैं ठीक कर रही हूं क्या मैं ठीक बोल रही हूं क्या मैं ठीक चल रही हूं कहीं लोग मेरा मजाक तो नहीं हो रहा है तो आपको अपने आप से प्यार करने की जरूरत है इसके लिए आप स्टेटमेंट भी बोल सकते हैं जैसे कि मैं अपने आप से बहुत प्यार करती हूं मैं कॉन्फिडेंट हूं इसको आप बार बार बोलेंगे उससे भी जो है आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा

diksha ki jo baat keh rahe hain ki aap aapne sach ho jaate hain jab aap zyada logo ko dekhte hain toh yah baat sabse zyada dhyan rakhiye ki aisa tab hota hai jab aapka aatmvishvaas kam ho aapko kya karne ki zarurat hai apna aatmvishvaas badhane ki zarurat hai kaise badha sakte hain bahut saree jo hai techniques hote jo follow kar sakte hain jisse ki meerut ke saamne kisi ke saamne khade hokar practice karna aankho mein aap jab bhi aap jis se baat karte hain aankho mein aankhen dalkar baat kariye doosra yah baat hamesha yaad rakhiye ki aap jab bhi kisi se baat karte hain 10 mein se ek ya do baar zaroor aisi hogi toh aap log ko lagega theek nahi bola yah kya bol diya iski zarurat kash kuch aur bola hota toh hamesha yaad rakhen itna darane ki baat nahi hai ho jaate hum sab kuch na kuch aage peeche nikal hi jata hai iske alava aatma se jeet hone ka yah bhi matlab hai ki aapko apne upar doubt bahut hai kya main theek kar rahi hoon kya main theek bol rahi hoon kya main theek chal rahi hoon kahin log mera mazak toh nahi ho raha hai toh aapko apne aap se pyar karne ki zarurat hai iske liye aap statement bhi bol sakte hain jaise ki main apne aap se bahut pyar karti hoon main confident hoon isko aap baar baar bolenge usse bhi jo hai aapka aatmvishvaas badhega

दीक्षा की जो बात कह रहे हैं कि आप आपने सच हो जाते हैं जब आप ज्यादा लोगों को देखते हैं तो य

Romanized Version
Likes  61  Dislikes    views  1063
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

1:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां ज्यादा लोग होते हैं वहां मैं हाथ में सचेत हो जाती हो ऐसा करने से अपने आप को कैसे रोक सकते हैं अभी ज्यादा लोगों को उपस्थित में एकजुट फाइनेंस फाइनेंस एलिमेंट शर्मीले पन कार्ड के अंदर मौजूद है और उससे ज्यादा प्रॉब्लम है वह प्रॉब्लम है अभी अपने विचारों का जलस्तर कितना होना चाहिए वह आप करती नहीं है आपको लगता है कि 4 लोगों की भीड़ में सही लोगों के बीच में अपने विचार रखूंगी क्यों विचार सुनने योग होंगे लोग कहेंगे कहेंगे ऐसा सोच के आप विचारों की अभिव्यक्ति नहीं करते उन्होंने लोगों से बात कर रही मूवी आप जैसे ही सामान्य व्यक्ति आपको यह कौन से स्टेट नहीं होना चाहिए आपके विचार तो सामने वाला स्वीकार करेगा या शिकार आपको मिला था अगर आपको लगता है कि आपके विचार अभिव्यक्ति योग्य हैं और लोग अपने अपने दृष्टिकोण के अनुसार आपकी बात के घाव को ग्रहण करेंगे कैसे करेंगे और यह करेंगे उसमें कुछ आपकी बात को स्वीकार भी करेंगे आपको अधिकार कर सकते हैं

jaha zyada log hote hain wahan main hath me sachet ho jaati ho aisa karne se apne aap ko kaise rok sakte hain abhi zyada logo ko upasthit me ekjut finance finance element sharmile pan card ke andar maujud hai aur usse zyada problem hai vaah problem hai abhi apne vicharon ka jalstar kitna hona chahiye vaah aap karti nahi hai aapko lagta hai ki 4 logo ki bheed me sahi logo ke beech me apne vichar rakhungi kyon vichar sunne yog honge log kahenge kahenge aisa soch ke aap vicharon ki abhivyakti nahi karte unhone logo se baat kar rahi movie aap jaise hi samanya vyakti aapko yah kaun se state nahi hona chahiye aapke vichar toh saamne vala sweekar karega ya shikaar aapko mila tha agar aapko lagta hai ki aapke vichar abhivyakti yogya hain aur log apne apne drishtikon ke anusaar aapki baat ke ghaav ko grahan karenge kaise karenge aur yah karenge usme kuch aapki baat ko sweekar bhi karenge aapko adhikaar kar sakte hain

जहां ज्यादा लोग होते हैं वहां मैं हाथ में सचेत हो जाती हो ऐसा करने से अपने आप को कैसे रोक

Romanized Version
Likes  218  Dislikes    views  2094
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  9  Dislikes    views  169
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!