अगर आप यह सवाल पढ़ रहे हैं तो यह बताएँ की क्या आपने जैसा सोचा था, आपका जीवन वैसे ही निकला या उस से बिलकुल अलग?...


user

राज "जिज्ञासु"

Hotel Management Professor /karate Coach/motivational Speaker

4:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आकर बहुत ही प्रभावी प्रश्न है और बहुत ही इसका जवाब तकलीफ देना बहुत है या अपने अपने स्तर पर सभी का अलग-अलग जवाब देंगे आपका प्रश्न है अगर आप सवाल पढ़ रहे हैं तो यह बताएं कि आपने जैसा सोचा था आपका जीवन में से निकला तो बोलना चाहूंगा दोस्त हमने हम जब भी कुछ सोचते हैं तो लाइफ ही चेंज इसका नाम है लेकिन कुछ ना कुछ चेंज तो होता ही है ना लाइफ में तो अगर हम यह बोले कि हम जैसा सोच रहे हैं वैसा कल होगा तो ऐसा होता नहीं है और चीजें भी साथ में आती हैं तो अगर आप सोच लो कि हर चीज आपके अनुसार होगी तो संभव नहीं है हम बचपन में सोते हैं हम लोग जीने देंगे हम पुलिस वाले बनेंगे पुलिस बनेंगे हम आगे बढ़ते हैं आई का बोझ पड़ता है बाल मन बड़ा होता है आगे कौन से सब्जेक्ट लेने हैं बस वही मैंने जो सोचा था मैं उसी फील्ड में गया मैंने आगे काम उसमें करा और सबसे जरूरी होती है आपका पैशन लेकिन एक हमेशा ध्यान रखिए दो चीजें होती हैं मेरा मानना है नौकरी करना पैसे कमाना पढ़ाई करना दिखी तो सब कर आपके बचपन में कुछ हो भी रही होंगी चाहे वह पेंटिंग हुई डांसिंग सिंगिंग कोई स्पोर्ट्स और कोई कुछ भी बड़े होते हैं ना तो कहीं भी खत्म हो जाती है बड़े होने का मतलब करेंगे आपकी शादी होगी आपके बच्चे होंगे ऐसा दोस्त हमेशा ध्यान रखना अपना हाथ रखो उसे करते रहो तो उसे क्या होगा देखिए आपको को अंत आंतरिक खुशी मिलेगा अब जब बड़े होंगे अब स्ट्रेस में होंगे ना उसे होंगे आप तो आप हो ग्रुप करते रहेंगे तो आपको अच्छा लगेगा लेकिन मेरी बात करें तो मैं बेसिकली आई एम ए टीचर इन होटल मैनेजमेंट कॉलेज में होटल मैनेजमेंट कॉलेज है वहां पर मैं पढ़ाता हूं लेकिन मेरी जॉब है मेरा पेट भरता है मेरा घर चलता है साथ में इसके साथ में ही कुछ और भी है उसके साथ मेरा अपना कराटे सेंटर भी है और मैं ब्लैक बेल्ट हूं आई एम अ क्राफ्ट इंस्ट्रक्टर अलसो कर आता हूं यह मेरी हॉबी है बचपन से क्लास ज्वाइन करवाया था बाद में मैंने उसको एक साइड बिजनेस बन गया है वह भी अपनी खुशी से करता हूं उसके अलावा भी हूं मैं खाली समय में पेंटिंग करता हूं सिंगिंग कर लेता हूं हल्का-फुल्का तो आप चाहे कितने भी पैसे कमाए ना अपनी इन भाभियों को वह आपकी सबकी अलग-अलग होती हैं उनको हमेशा अपने साथ रखिए वह को सुकून देंगे ना आपको टेंशन वाली जिंदगी में टेंशन और लाइफ ऐसे नहीं होती है ना हमेशा जो हम सोचते हैं आपके साथ चेंज करते थे तो आपको जो आपने गोल सचिव किए हैं ना वह गिफ्ट रूपी गोल्स उसके साथ वह और सरकमस्टेंस जा रहे हैं उनको भी आपको एक्सेप्ट करना पड़ेगा इतना कहना चाहूंगा एम वेरी हैप्पी अबाउट माय लाइफ में बहुत खुश हूं अपनी लाइफ से मैं एम वेरी सेटिस्फाइड बहुत माय लाइफ और अभी ऐसा कुछ कर सकते हैं अगर अच्छा लगा थैंक यू

aakar bahut hi prabhavi prashna hai aur bahut hi iska jawab takleef dena bahut hai ya apne apne sthar par sabhi ka alag alag jawab denge aapka prashna hai agar aap sawaal padh rahe hain toh yah bataye ki aapne jaisa socha tha aapka jeevan me se nikala toh bolna chahunga dost humne hum jab bhi kuch sochte hain toh life hi change iska naam hai lekin kuch na kuch change toh hota hi hai na life me toh agar hum yah bole ki hum jaisa soch rahe hain waisa kal hoga toh aisa hota nahi hai aur cheezen bhi saath me aati hain toh agar aap soch lo ki har cheez aapke anusaar hogi toh sambhav nahi hai hum bachpan me sote hain hum log jeene denge hum police waale banenge police banenge hum aage badhte hain I ka bojh padta hai baal man bada hota hai aage kaun se subject lene hain bus wahi maine jo socha tha main usi field me gaya maine aage kaam usme kara aur sabse zaroori hoti hai aapka passion lekin ek hamesha dhyan rakhiye do cheezen hoti hain mera manana hai naukri karna paise kamana padhai karna dikhi toh sab kar aapke bachpan me kuch ho bhi rahi hongi chahen vaah painting hui dancing singing koi sports aur koi kuch bhi bade hote hain na toh kahin bhi khatam ho jaati hai bade hone ka matlab karenge aapki shaadi hogi aapke bacche honge aisa dost hamesha dhyan rakhna apna hath rakho use karte raho toh use kya hoga dekhiye aapko ko ant aantarik khushi milega ab jab bade honge ab stress me honge na use honge aap toh aap ho group karte rahenge toh aapko accha lagega lekin meri baat kare toh main basically I M a teacher in hotel management college me hotel management college hai wahan par main padhata hoon lekin meri job hai mera pet bharta hai mera ghar chalta hai saath me iske saath me hi kuch aur bhi hai uske saath mera apna karate center bhi hai aur main black belt hoon I M a craft instructor alaso kar aata hoon yah meri hobby hai bachpan se class join karvaya tha baad me maine usko ek side business ban gaya hai vaah bhi apni khushi se karta hoon uske alava bhi hoon main khaali samay me painting karta hoon singing kar leta hoon halka fulka toh aap chahen kitne bhi paise kamaye na apni in bhabhiyon ko vaah aapki sabki alag alag hoti hain unko hamesha apne saath rakhiye vaah ko sukoon denge na aapko tension wali zindagi me tension aur life aise nahi hoti hai na hamesha jo hum sochte hain aapke saath change karte the toh aapko jo aapne gol sachiv kiye hain na vaah gift rupee goals uske saath vaah aur sarakamastens ja rahe hain unko bhi aapko except karna padega itna kehna chahunga M very happy about my life me bahut khush hoon apni life se main M very setisfaid bahut my life aur abhi aisa kuch kar sakte hain agar accha laga thank you

आकर बहुत ही प्रभावी प्रश्न है और बहुत ही इसका जवाब तकलीफ देना बहुत है या अपने अपने स्तर पर

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  716
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

1:59

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बहुत अच्छा सवाल है और इसको कुछ ऐसे देखते हैं देखिए आप एक इंसान अपनी पूरी लाइफ टाइम में हर एक स्टेज पर कुछ न कुछ सोचता है याद होगा आपको जवाब छोटे थे तो हमसे पूछा जाता था बेटा बड़े होकर क्या बनोगे तो हमारे कोई जवाब होता था और एक क्योंकि वह जवाब वाला था जब हम बहुत पैसे से हमने हमें बहुत कम तुझे बता कुछ ज्यादा कुछ पता नहीं था ऐसा चीज है देखी समझी उसके हिसाब से हमने बोल दिया कि हां अब मैं बड़ा होकर क्या बनूंगा थोड़ा और बड़े हुए तो पता चला बहुत चेंज हो गया वह जो हमने सोचा था अब बनेगा वह चेंज हो गया जो लाइफ हमने देखी थी या सोची थी वह धीरे-धीरे चेंज हो गई वह चेंज होने में बचपन वाली कई रीजन सो सकते हैं फायदे की ट्रांसफर हो गई है बिजनेस अच्छा नहीं चलाया बहुत अच्छा चला तो हम कहीं से कहीं शिफ्ट हो गए लाइफ़स्टाइल भेजोगे तो बहुत सारी चीजें होते हैं जिसके कारण चेंज होते रहते हैं और एक ना करें कि क्या मेरा लाइफ ऐसे ही था जैसा मैंने क्योंकि मेरे जो एक्सपेक्टेशन सीए वह फ्लिकरिंग रही है वह चेंज होती है या हो जाती है कई बार बहुत कम लोग ही होती है जो हमेशा सेम रहती है तो इसलिए बोल पाना बड़ा मुश्किल होता है कि जैसा मैंने सोचा था वैसे ही रहा लेकिन आज अगर मैं अपनी लाइफ को देखो तो क्या कुछ चीजों को मैं ठीक कर सकता था या मैं बहुत हैप्पी हूं एक्सपेक्टेड से एक्सपेक्टेशन से ज्यादा मिला है मुझे मैं ही सोचता हूं कि हमेशा गुंजाइश रहती है कि शायद हम इसको को और अच्छा कर सकते थे अगर मैं अपनी बात करूं तो मुझे भी ऐसा लगता है कि कुछ और पहलुओं पर में ध्यान देकर भी सकता था उसे कुछ और थोड़ा और अच्छा बना सकता था कुछ चीजें मैंने छोड़ दी शायद मैंने कुछ और करता तो शायद यहां होता बट बट यह भी सही है कि उस समय पर मेरे विसजन के हिसाब से मुझे जो सही लगा मैंने वह किया और उस हिसाब से आज मैं यहां पर हूं तो मैं संतुष्ट हूं मैं जहां पर भी हूं जिस काबिल हूं जो भी मैंने किया उस हिसाब से मुझे रिजल्ट मिला है

yah bahut accha sawaal hai aur isko kuch aise dekhte hain dekhiye aap ek insaan apni puri life time mein har ek stage par kuch na kuch sochta hai yaad hoga aapko jawab chote the toh humse poocha jata tha beta bade hokar kya banogey toh hamare koi jawab hota tha aur ek kyonki vaah jawab vala tha jab hum bahut paise se humne hamein bahut kam tujhe bata kuch zyada kuch pata nahi tha aisa cheez hai dekhi samjhi uske hisab se humne bol diya ki haan ab main bada hokar kya banunga thoda aur bade hue toh pata chala bahut change ho gaya vaah jo humne socha tha ab banega vaah change ho gaya jo life humne dekhi thi ya sochi thi vaah dhire dhire change ho gayi vaah change hone mein bachpan wali kai reason so sakte hain fayde ki transfer ho gayi hai business accha nahi chalaya bahut accha chala toh hum kahin se kahin shift ho gaye lifestyle bhejoge toh bahut saree cheezen hote hain jiske karan change hote rehte hain aur ek na kare ki kya mera life aise hi tha jaisa maine kyonki mere jo expectation ca vaah flickering rahi hai vaah change hoti hai ya ho jaati hai kai baar bahut kam log hi hoti hai jo hamesha same rehti hai toh isliye bol paana bada mushkil hota hai ki jaisa maine socha tha waise hi raha lekin aaj agar main apni life ko dekho toh kya kuch chijon ko main theek kar sakta tha ya main bahut happy hoon expected se expectation se zyada mila hai mujhe main hi sochta hoon ki hamesha gunjaiesh rehti hai ki shayad hum isko ko aur accha kar sakte the agar main apni baat karu toh mujhe bhi aisa lagta hai ki kuch aur pahaluwon par mein dhyan dekar bhi sakta tha use kuch aur thoda aur accha bana sakta tha kuch cheezen maine chod di shayad maine kuch aur karta toh shayad yahan hota but but yah bhi sahi hai ki us samay par mere visjan ke hisab se mujhe jo sahi laga maine vaah kiya aur us hisab se aaj main yahan par hoon toh main santusht hoon main jaha par bhi hoon jis kaabil hoon jo bhi maine kiya us hisab se mujhe result mila hai

यह बहुत अच्छा सवाल है और इसको कुछ ऐसे देखते हैं देखिए आप एक इंसान अपनी पूरी लाइफ टाइम में

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  323
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!