यदि सरकार आतंकवादियों के शव को दफनाने की वजह जलाने का नियम कर दे तो आतंकवाद का धर्म बताने वाले खुद आपके सामने आएंगे?...


user

Prabhakar Tiwari

National Trainer,Motivational Speaker, Social Activist

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत ही बढ़िया प्रश्न आपका है और सुना अपने सलूशन भी निकाल दिया है कि यह सरकार आतंकवादियों के शव को दफनाने की वजह जलाने का नियम कर दें तो आतंकवाद का धर्म बताने वाले खुद आपके सामने आ जाएंगे क्योंकि उनके अंदर या जाएगा कि अगर वह आदमी मर गया है तो उसको अंत में कम से कम जो धार्मिक नियम है उस नियम के तहत उसकी बुराई करें नहीं तो उसकी आत्मा को शांति नहीं मिलेगी

bahut hi badhiya prashna aapka hai aur suna apne salution bhi nikaal diya hai ki yah sarkar aatankwadion ke shav ko dafnane ki wajah jalane ka niyam kar de toh aatankwad ka dharm batane waale khud aapke saamne aa jaenge kyonki unke andar ya jaega ki agar vaah aadmi mar gaya hai toh usko ant me kam se kam jo dharmik niyam hai us niyam ke tahat uski burayi kare nahi toh uski aatma ko shanti nahi milegi

बहुत ही बढ़िया प्रश्न आपका है और सुना अपने सलूशन भी निकाल दिया है कि यह सरकार आतंकवादियों

Romanized Version
Likes  53  Dislikes    views  536
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!