शिक्षा विज्ञान के अनुसार चिंतन के कितने स्तर है?...


play
user

SAPNA RANA

Teacher of Biology( Msc. Zoology .3time Ctet . 1time Htet Qualify)

1:05

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने प्रश्न पूछा कि शिक्षा विज्ञान के अनुसार चिंतन के कितने स्तर होते हैं मोती अच्छे प्रश्न आपने पूछा था कि इसके बारे में जानकारी देना चाहूंगी कि जो हमारा शिक्षा विज्ञान है वह बोलता है कि चिंतन के तीन स्तर होते हैं पहला स्तर जो बहुत ही सीमित समय के लिए होता है बहुत ही कम समय के लिए दूसरा सर जो मीडियम समय के लिए होता है माध्यमिक समय के लिए होता है मतलब वह कुछ लंबे समय तक चलता है जो बहुत ऊंची सोच का या बहुत ऊंची सोच के लिए होता ना तो जहां पर बहुत ज्यादा बड़ी सोच रखें वहां पर होता है यह ज्यादातर जो उच्च लेवल का जो सबसे ऊपर वाले लेवल का चिंतन होता है वह ज्यादातर उन चीजों के बारे में सोचने के लिए प्रयोग होता है जो बहुत ही गहन पूर्ण है जैसे जो साइंटिस्ट है वह इस चिंतन के आदी होते हैं सामान्य इंसान माध्यमिक आदि होता और जो बिल्कुल कुछ ना करने वाले हो जो बिल्कुल अपनी जरूरतों तत्सम सबसे नीचे के लेबल के ऊपर निर्भर करते हैं

apne prashna poocha ki shiksha vigyan ke anusaar chintan ke kitne sthar hote hain moti acche prashna aapne poocha tha ki iske bare me jaankari dena chahungi ki jo hamara shiksha vigyan hai vaah bolta hai ki chintan ke teen sthar hote hain pehla sthar jo bahut hi simit samay ke liye hota hai bahut hi kam samay ke liye doosra sir jo medium samay ke liye hota hai madhyamik samay ke liye hota hai matlab vaah kuch lambe samay tak chalta hai jo bahut unchi soch ka ya bahut unchi soch ke liye hota na toh jaha par bahut zyada badi soch rakhen wahan par hota hai yah jyadatar jo ucch level ka jo sabse upar waale level ka chintan hota hai vaah jyadatar un chijon ke bare me sochne ke liye prayog hota hai jo bahut hi gahan purn hai jaise jo scientist hai vaah is chintan ke adi hote hain samanya insaan madhyamik aadi hota aur jo bilkul kuch na karne waale ho jo bilkul apni jaruraton tatsam sabse niche ke lebal ke upar nirbhar karte hain

अपने प्रश्न पूछा कि शिक्षा विज्ञान के अनुसार चिंतन के कितने स्तर होते हैं मोती अच्छे प्रश्

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  1267
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!