बिटकॉइन को कब तक रेगुलेट करेगी भारत?...


play
user

Sa Sha

Journalist since 1986

1:19

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाल ही में वानाक्राई नाम की हरकत देख रैनसमवेयर के जरिए दुनिया भर में साइबर अटैक किया और जिन लोगों की कंप्यूटर है कोई उसे फिरौती के रूप में बिटकॉइन मांगी गई ऐसा इसलिए किया गया था क्योंकि बिटकॉइन पर किसी भी देश का कोई नियंत्रण नहीं है इसे फिरौती मांगने वाले की गिरफ्तारी होने का भी कोई डर नहीं रहता इसके बाद आशंका जताई जाने लगी है कि आगे चलकर हो सकता है बिटकॉइन फिरौती का नया मॉडल बन जाए इसको देखते हुए सरकार बिटकॉइन जैसी वर्चुअल करेंसी पर फैसला लेना चाहती है कौन सी स्कीम की तरह आशंका है कि ज्यादा रिटर्न का लालच देकर बड़ी संख्या में लोगों को फसाया भी जा सकता है पर सरकार की ओर से इसके रेगुलेशन के लिए एक कमेटी का गठन किया जा चुका है इसके अलावा फाइनेंस मिनिस्ट्री की कोशिश यह भी है कि रिजर्व बैंक कोई रेगुलेशन जल्द से जल्द बनाएं भारत सरकार को वेबसाइट के जरिए लोगों की राय पूछे क्या बिटकॉइन जैसी करेंसी को बंद करना चाहिए और सब करना चाहिए या फिर मेरे बुलेट करना चाहिए या गुलशन की प्रक्रिया शुरु हो गई नतीजा सामने आ जाएगा

haal hi mein vanakrai naam ki harkat dekh rainasamaveyar ke jariye duniya bhar mein cyber attack kiya aur jin logo ki computer hai koi use firauti ke roop mein bitcoin maangi gayi aisa isliye kiya gaya tha kyonki bitcoin par kisi bhi desh ka koi niyantran nahi hai ise firauti mangne waale ki giraftari hone ka bhi koi dar nahi rehta iske baad ashanka jatai jaane lagi hai ki aage chalkar ho sakta hai bitcoin firauti ka naya model ban jaaye isko dekhte hue sarkar bitcoin jaisi virtual currency par faisla lena chahti hai kaun si scheme ki tarah ashanka hai ki zyada return ka lalach dekar badi sankhya mein logo ko phasaya bhi ja sakta hai par sarkar ki aur se iske regulation ke liye ek committee ka gathan kiya ja chuka hai iske alava finance ministry ki koshish yah bhi hai ki reserve bank koi regulation jald se jald banaye bharat sarkar ko website ke jariye logo ki rai pooche kya bitcoin jaisi currency ko band karna chahiye aur sab karna chahiye ya phir mere bullet karna chahiye ya gulshan ki prakriya shuru ho gayi natija saamne aa jaega

हाल ही में वानाक्राई नाम की हरकत देख रैनसमवेयर के जरिए दुनिया भर में साइबर अटैक किया और जि

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  24
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन बिटकॉइन जो है वह बिटकॉइन को कोई भी अथॉरिटी जो है वह उस को रेगुलेट नहीं कर सकती है अगर आ जाए तो उसको और ट्राई कर सकती है कि यह भी एक का पेमेंट का एक साधन है लेकिन भारत क्या भारत और कोई कंट्री जो दुनिया में है वह कोई भी बिटकॉइन को जो है वह किराए से निकलता है उस को रेगुलेट नहीं कर सकता है क्योंकि दुनिया में बहुत सारी कंट्री ने बिटकॉइन को इल्लीगल घोषित किया हुआ है लेकिन उसमें भारत नहीं है इसलिए भारत में आप आसानी से बिटकॉइन से ट्रांसलेट कर सकते हैं उस पर कोई पाबंदी नहीं लगी है अभी तक

lekin bitcoin jo hai vaah bitcoin ko koi bhi authority jo hai vaah us ko regulate nahi kar sakti hai agar aa jaaye toh usko aur try kar sakti hai ki yah bhi ek ka payment ka ek sadhan hai lekin bharat kya bharat aur koi country jo duniya mein hai vaah koi bhi bitcoin ko jo hai vaah kiraye se nikalta hai us ko regulate nahi kar sakta hai kyonki duniya mein bahut saree country ne bitcoin ko illegal ghoshit kiya hua hai lekin usme bharat nahi hai isliye bharat mein aap aasani se bitcoin se translate kar sakte hain us par koi pabandi nahi lagi hai abhi tak

लेकिन बिटकॉइन जो है वह बिटकॉइन को कोई भी अथॉरिटी जो है वह उस को रेगुलेट नहीं कर सकती है अग

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  11
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप बिटकॉइन को रेगुलेट करने के लिए भारत सरकार ने अब तक कोई भी अथॉरिटी नहीं बनाई है कोई भी भारतीय चाहे तो वह इंटरनेट से बिटकॉइन की खरीदी और बिक्री कर सकता है और बिटकॉइन ही नहीं इसके अलावा डिपल लाइट को इन जैसे चीजों को भी इंसान खरीद और बिक्री कर सकता है और भारतीय सरकार ने अब तक इस पर कोई भी रेगुलेटरी अथॉरिटी नहीं बनाई है जिसकी वजह से इस से लोग इसे इसकी बिक्री और खरीदी करने के बाद लोग टैक्स देने से बच जाते हैं और वह इंटरनेट के थ्रू से खरीदते हैं और भेजते हैं और थोड़ा एक्स्ट्रा पैसा कमाते हैं इसके बेटियों खरीदने में और इस पर टैक्स भारत सरकार नहीं लगा सकती है

aap bitcoin ko regulate karne ke liye bharat sarkar ne ab tak koi bhi authority nahi banai hai koi bhi bharatiya chahen toh vaah internet se bitcoin ki kharidi aur bikri kar sakta hai aur bitcoin hi nahi iske alava dipal light ko in jaise chijon ko bhi insaan kharid aur bikri kar sakta hai aur bharatiya sarkar ne ab tak is par koi bhi reguletri authority nahi banai hai jiski wajah se is se log ise iski bikri aur kharidi karne ke baad log tax dene se bach jaate hain aur vaah internet ke through se kharidte hain aur bhejate hain aur thoda extra paisa kamate hain iske betiyon kharidne mein aur is par tax bharat sarkar nahi laga sakti hai

आप बिटकॉइन को रेगुलेट करने के लिए भारत सरकार ने अब तक कोई भी अथॉरिटी नहीं बनाई है कोई भी भ

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  171
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!