ज़िंदगी में सबसे ज़्यादा ज़रूरी प्यार है या दोस्त?...


user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी देखिए संसार में बहुत सारी चीजें हम अकेले नहीं है इस संसार में सृष्टि बहुत बड़ी है अगर हम देखें देखें ध्यान से तो अब इस सृष्टि में इतनी सारी चीजें हर चीज का अपना महत्व है चाहे वह लिविंग बीइंग हो चाहे वह नॉन लिविंग थिंग होगी प्यार जरूरी है जो सवाल पूछा गया है कि या दोस्त होते हैं कि हर चीज की अपनी अहमियत होती है कई बार क्या होते हैं कि ऐसे में पता नहीं चलता है ऐसा लगता कि क्या छोटी सी चीज है जो चीज है हम ध्यान नहीं देते लेकिन जब समय आता है तो हमारे लिए बहुत इंपॉर्टेंट जाते समय की महत्ता तब समझते हैं एग्जांपल अगर मान लीजिए किसी को बहुत प्यास लगी है उसे क्या चाहिए कुछ और चाहिए होगा क्या सिर्फ उसको पानी दे दी दूसरी तरफ एक आदमी बहुत भरपेट उसने भी खाना खा है और तुरंत उसको बहुत स्वादिष्ट भोजन दे दीजिए क्या करेगा वह क्या वह खा लेगा अच्छा खाना क्यों नहीं ऐसा खाना उसने कभी नहीं कहा हो क्या वह खाएगा वह कभी नहीं खाएगा वही खाना आप कैसे उसको दे दीजिए जो भूखा है कई दिनों से भूखा है उसको दीजिए कि उसकी वैल्यू क्या होती है उसके लिए उठाने की वैल्यू कितनी ज्यादा होती है तो ऐसे होता है कई बार क्या होता है मां तो उसका तब समझ गया था मैं तो उसका बढ़ जाता है और जब जरूरत आती है तो आ राह से बजा दो सोहर प्यार में तू दिखे क्या है दोस्त अपनी जगह प्यार अपनी जगह प्यार किया है वह पीलिंग है वह अप्रोच है वह वह थिंकिंग है वह बस बैठे हुए हो नजरिया है वहां पर एहसास है जो आप दूसरे के प्रति रखते हैं क्या सोचते हैं क्या करना चाहते क्या करने का मन करता है दिल से क्या करने का मन करता है वह सभा 272 जगह खुल के जिससे ज्यादा बैठ सकते हैं बातें करते थे कुछ भी डिस्कस कर सकते हैं कोई अपना समझता नहीं आती तो दोनों का अपना महत्व

ji dekhiye sansar mein bahut saree cheezen hum akele nahi hai is sansar mein shrishti bahut badi hai agar hum dekhen dekhen dhyan se toh ab is shrishti mein itni saree cheezen har cheez ka apna mahatva hai chahen vaah living being ho chahen vaah non living thing hogi pyar zaroori hai jo sawaal poocha gaya hai ki ya dost hote hain ki har cheez ki apni ahamiyat hoti hai kai baar kya hote hain ki aise mein pata nahi chalta hai aisa lagta ki kya choti si cheez hai jo cheez hai hum dhyan nahi dete lekin jab samay aata hai toh hamare liye bahut important jaate samay ki mahatta tab samajhte hain example agar maan lijiye kisi ko bahut pyaas lagi hai use kya chahiye kuch aur chahiye hoga kya sirf usko paani de di dusri taraf ek aadmi bahut bharapet usne bhi khana kha hai aur turant usko bahut swaadisht bhojan de dijiye kya karega vaah kya vaah kha lega accha khana kyon nahi aisa khana usne kabhi nahi kaha ho kya vaah khaega vaah kabhi nahi khaega wahi khana aap kaise usko de dijiye jo bhukha hai kai dino se bhukha hai usko dijiye ki uski value kya hoti hai uske liye uthane ki value kitni zyada hoti hai toh aise hota hai kai baar kya hota hai maa toh uska tab samajh gaya tha main toh uska badh jata hai aur jab zarurat aati hai toh aa raah se baja do sohar pyar mein tu dikhe kya hai dost apni jagah pyar apni jagah pyar kiya hai vaah peeling hai vaah approach hai vaah vaah thinking hai vaah bus baithe hue ho najariya hai wahan par ehsaas hai jo aap dusre ke prati rakhte kya sochte kya karna chahte kya karne ka man karta hai dil se kya karne ka man karta hai vaah sabha 272 jagah khul ke jisse zyada baith sakte hain batein karte the kuch bhi discs kar sakte hain koi apna samajhata nahi aati toh dono ka apna mahatva

जी देखिए संसार में बहुत सारी चीजें हम अकेले नहीं है इस संसार में सृष्टि बहुत बड़ी है अगर ह

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  404
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
2:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए इस चीज को कभी कम पर मत कीजिए दोस्ती और प्यार को क्यों क्योंकि हर एक चीज की एक बेटी होती है साहब यह आप एक बिलीव कर लीजिए इस चीज को आप एक्सेप्ट कर लीजिए कि आप की शादी क्यों कराई जाती है पता है या आप अपनी जिंदगी में एक जी को अपनी पत्नी को क्यों एंटर करने देते हैं अपनी इतनी अच्छी जिंदगी में आप अपने लिए जिए यूज करते हैं अपनी पत्नी को चूस करते हैं क्यों क्योंकि एक्सपोर्ट होता है आपकी जिंदगी का जो आपके साथ इमोशंस में सही हो गुस्से में सही हो फिजिकल से ही हूं मैं दिल्ली से ही हूं कैसे सपोर्ट जो आप दोनों को जिंदा रख सके क्योंकि एक पागल इंसान जो अपने काम पर ही फोकस कर रहा है और किसी और चीज पर कभी वो कुछ नहीं कर रहा है तो ऐसे ही बाहर होकर अपने काम में ही ऐसा पागल हो जाएगा कि वह लास्ट में अपने काम ही करते करते मर जाएगा उससे ना तो दोस्ती यारी देखी कि नहीं यह प्यार की बकवास तो यह समझ कि प्यार आपको सिर्फ खुशी देने के लिए आप की फिजिकल नीड्स आपके मेंटली क्रश इस चीज को दूर करने के लिए दोस्ती जा रही आपको एंजॉयमेंट पर एक अच्छा सजेशन अपॉर्चुनिटी दे सकती हैं जो आपको एक्सप्लेन कर सकें दोस्ती यारी आपको इस तरह से अपनी जिंदगी के साथ आपकी दोस्ती होती तो क्या करते हैं कि उनके साथ हर चीज को शेयर कर सकते हैं हर्ष फिलिंग्स को आप एक्सप्रेस कर सकते हैं और अपने प्यार के साथ भी आप वही चीज कर सकते हैं पर उनके साथ उस कदर बात नहीं कर सकते जितना आप फ्रेंड्स के साथ बात कर सकते हैं तो हर एक चीज की एक बड़ी होती है जहां पर फैमिली की अलबेली होती है दोस्ती आपकी लग रही होती है और प्यार किया लगते तो इस चीजों को कभी कमजोर मत कीजिए

dekhie is cheez ko kabhi kam par mat kijiye dosti aur pyar ko kyon kyonki har ek cheez ki ek beti hoti hai saheb yeh aap ek believe kar lijiye is cheez ko aap except kar lijiye ki aap ki shadi kyon karai jati hai pata hai ya aap apni zindagi mein ek ji ko apni patni ko kyon enter karne dete hain apni itni acchi zindagi mein aap apne liye jiye use karte hain apni patni ko chus karte hain kyon kyonki export hota hai aapki zindagi ka jo aapke saath emotional mein sahi ho gusse mein sahi ho physical se hi hoon main delhi se hi hoon kaise support jo aap dono ko zinda rakh sake kyonki ek Pagal insaan jo apne kaam par hi focus kar raha hai aur kisi aur cheez par kabhi vo kuch nahi kar raha hai toh aise hi bahar hokar apne kaam mein hi aisa Pagal ho jayega ki wah last mein apne kaam hi karte karte mar jayega usse na toh dosti yaari dekhi ki nahi yeh pyar ki bakwas toh yeh samajh ki pyar aapko sirf khushi dene ke liye aap ki physical needs aapke mentally crush is cheez ko dur karne ke liye dosti ja rahi aapko enjoyment par ek accha suggestion opportunity de sakti hain jo aapko explain kar sake dosti yaari aapko is tarah se apni zindagi ke saath aapki dosti hoti toh kya karte hain ki unke saath har cheez ko share kar sakte hain harsh feelings ko aap express kar sakte hain aur apne pyar ke saath bhi aap wahi cheez kar sakte hain par unke saath us kadar baat nahi kar sakte jitna aap friends ke saath baat kar sakte hain toh har ek cheez ki ek badi hoti hai jaha par family ki albeli hoti hai dosti aapki lag rahi hoti hai aur pyar kiya lagte toh is chijon ko kabhi kamjor mat kijiye

देखिए इस चीज को कभी कम पर मत कीजिए दोस्ती और प्यार को क्यों क्योंकि हर एक चीज की एक बेटी ह

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  670
WhatsApp_icon
play
user

Neha

Journalist , Writer

1:26

Likes    Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!