शरीर में जो मास की गांठे बनती है किस कारण बनती है?...


user

BOB

Teacher

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल शरीफ में जो मां की गांठे बनती है उसका कारण क्या है तो वह देखे बॉडी के अंदर अगर कोई सिस्टर थी कि कभी-कभी की काठी काठी

aapka sawaal sharif me jo maa ki ganthe banti hai uska karan kya hai toh vaah dekhe body ke andar agar koi sister thi ki kabhi kabhi ki kathi kathi

आपका सवाल शरीफ में जो मां की गांठे बनती है उसका कारण क्या है तो वह देखे बॉडी के अंदर अगर क

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  354
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

1:19

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसमें जो है मांस का गाया चर्बी का गाना जो बनता है उसे किस कारण से बनता है तो इसे बोलते हैं लाइफ में कोई दर्द नहीं होता है ज्योति गगन हाथ और पैर में पाए जाते हैं परेशान हो जाते हैं यह कैंसर तो नहीं लेकिन मुलायम होती है और हिलती है जबकि कैंसर वाली गांड जो है वह सख्त होती है और की नहीं हो सकती है इन छोटी बातों में ना तो कभी दर्द होता है ना ही बातों में कोई दुकान होती है शरीर की शक्ति भी है और अपनी जगह पुलिस में भी बदल सकती है जब या गांठ बड़ी हो जाती हो तो थोड़ी सी दिखी लगती है बस यही कह एक कहानी जाए सामने आती है जो सही कारण यह है कि इस कारण कोई पता नहीं कर पाया का जो है ना कोई भी संबंध नहीं है इसके घरेलू इलाज कर सकते हैं कर सकते हैं

isme jo hai maas ka gaaya charbi ka gaana jo baata hai use kis karan se baata hai toh ise bolte hain life mein koi dard nahi hota hai jyoti gagan hath aur pair mein paye jaate hain pareshan ho jaate hain yah cancer toh nahi lekin mulayam hoti hai aur hilati hai jabki cancer wali gaand jo hai vaah sakht hoti hai aur ki nahi ho sakti hai in choti baaton mein na toh kabhi dard hota hai na hi baaton mein koi dukaan hoti hai sharir ki shakti bhi hai aur apni jagah police mein bhi badal sakti hai jab ya ganth badi ho jaati ho toh thodi si dikhi lagti hai bus yahi keh ek kahani jaaye saamne aati hai jo sahi karan yah hai ki is karan koi pata nahi kar paya ka jo hai na koi bhi sambandh nahi hai iske gharelu ilaj kar sakte hain kar sakte hain

इसमें जो है मांस का गाया चर्बी का गाना जो बनता है उसे किस कारण से बनता है तो इसे बोलते हैं

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  229
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!