पृथ्वी पर अक्षांश रेखाओं की संख्या कितनी है?...


play
user

A.k

Teacher

1:05

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं कि पृथ्वी की भौगोलिक परिस्थितियों को समझने के लिए वैज्ञानिकों ने कुछ कश्मीर रेखाओं का निर्माण किया है यह काल्पनिक रेखा पर खींची जाती है जीरो जीरो डिग्री विश्वत रेखा पृथ्वी को दो बराबर भागों में उतरी गोलार्ध और दक्षिणी गोलार्ध में भारतीय विश्वत रेखा से उत्तर की ओर की रेखाएं कर्क रेखा और दक्षिण की ओर की रेखा मकर रेखा खिलाती है करके रेखाओं की संख्या 90 गांवों की संख्या कुल मिलाकर अक्षांश रेखाओं की संख्या हो गई 181 तरह देशांतर रेखाएं पृथ्वी को और और पश्च आरती इनकी संख्या 337

main ki prithvi ki bhaugolik paristhitiyon ko samjhne ke liye vaigyaniko ne kuch kashmir rekhaon ka nirmaan kiya hai yah kalpnik rekha par khinchi jaati hai zero zero degree vishwat rekha prithvi ko do barabar bhaagon me utari golardh aur dakshini golardh me bharatiya vishwat rekha se uttar ki aur ki rekhayen kark rekha aur dakshin ki aur ki rekha makar rekha khilati hai karke rekhaon ki sankhya 90 gaon ki sankhya kul milakar akshansh rekhaon ki sankhya ho gayi 181 tarah deshantar rekhayen prithvi ko aur aur pashch aarti inki sankhya 337

मैं कि पृथ्वी की भौगोलिक परिस्थितियों को समझने के लिए वैज्ञानिकों ने कुछ कश्मीर रेखाओं का

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  300
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!