प्रसिद्ध भारतीयों के जीवन की ऐसी कौन सी प्रेरक कहानियाँ हैं जिनके बारे में लोगों को नहीं पता?...


user

Mahendra Joshi

Motivational Speaker www.mahendrajoshi.com

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल मैं खुद बहुत सारे लक्षण विशु विशु टावर करता हूं मेरे को अपना बाय प्रोफेशन एक साइकोलॉजिस्ट शो अपार्ट फ्रॉम बीइंग ए मोटिवेशनल स्पीकर बहुत सारी कोशिश करता हूं और उन रिसर्च के बाद में बहुत सारे ऐसे लोग निकल कर आते हैं अभी लेटेस्ट मैंने एक यहां पर रिसर्च की एडवांस पार्टिकुलर पर्सन जो उन्होंने अपना करियर बहुत मिडिल क्लास नॉर्मल किया फैमिली से शुरू किया था और टुडे इज no3 छोटे शार्ट में लांच भी करने वाला हूं तुझे ना सोनू नहीं होने से मैंने देखा जो करते हैं और उनके बारे में अभी निघासन

bilkul main khud bahut saare lakshan vishu vishu tower karta hoon mere ko apna bye profession ek psychologist show apart from being a Motivational speaker bahut saree koshish karta hoon aur un research ke baad mein bahut saare aise log nikal kar aate hain abhi latest maine ek yahan par research ki advance particular person jo unhone apna career bahut middle class normal kiya family se shuru kiya tha aur today is no3 chote shaart mein launch bhi karne vala hoon tujhe na sonu nahi hone se maine dekha jo karte hain aur unke bare mein abhi nighasan

बिल्कुल मैं खुद बहुत सारे लक्षण विशु विशु टावर करता हूं मेरे को अपना बाय प्रोफेशन एक साइको

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  158
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

4:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्वेश्चन है अशुद्ध भारतीय प्रसिद्ध भारतीयों के जीवन की ऐसी कौन सी प्रेरक कहानियां है जिनके बारे में लोगों को नहीं पता देखिए ऐसा हमारा भारत एक विकासशील देश है और 80 साल पहले वाले में मानता हूं कि गांव के बने पत्थर के लोग तलाक हुआ करते थे लेकिन अभी स्थिति नहीं है मीडिया और प्रिंट मीडिया इलेक्ट्रॉनिक मीडिया इतनी तेज हो गई है इतने बिल्कुल क्विक एक्शन में है कि हर खबर हर चीज प्रत्येक व्यक्ति को मालूम है हां कुछ गहराइयों की बात है जो कि भारत सरकार और उद्योगपतियों के बीच कुछ ऐसी बातें होती है उसी से हर लोगों तक नहीं पहुंचती और धनवान व्यक्ति और गरीब व्यक्ति के बीच का अंतर जो है वह चीज हर लोग समझ में नहीं आती कुछ नेताओं के और आम पब्लिक के बीच की बहुत सारी ऐसी कहानियां है जो कि आम पब्लिक को पता नहीं है कुछ ऐसी बातें है जो आम पब्लिक को पता नहीं होती है लेकिन मैक्सिमम 9095 परसेंट प्रत्येक छह भारतीयों के बारे में गरीब लोगों के बारे में जो भी भर्ती हुए भारत के उनके बारे में प्रत्येक व्यक्ति को पता है क्योंकि आज प्रिंट मीडिया इलेक्ट्रॉनिक मीडिया या आपको भाई के माध्यम से फेसबुक व्हाट्सएप वाया बहुत तरह के मीडिया के माध्यम से लोगों को पता चले जाता है इसलिए हम कहे कि कौन सी बातें लोगों को पता नहीं है यह समझ से परे है हर चीज है प्रत्येक व्यक्ति को पता है भाई ऐसी है कि कुछ भारत के संत हैं लोग और भारत सरकार के बीच की कुछ बातें ऐसी हो सकती है जिसे हम लोगों को तक नहीं पहुंच पाते तो उस चीज को हम वहां उसी धर्म प्रकाश डाल सकते हैं कि वह चीज पति पति को पता नहीं है लेकिन ना बाकी सब हर लोगों को पता है इस चीज को नकारा नहीं जा सकता कारण कि पहले में और अब में काफी अंतर है व्यक्ति प्रत्येक व्यक्ति भारत का काफी जागरुक हो चुका है तो यह कहा जाए कि इससे व्यक्ति को यह चीज पता है आप ओएसिस्कन बॉबी कर सकते हैं जो चीज हम जानते हैं 1 बड़े शहर में रहकर अगर गांव में आप चाहिए और चीज का चर्चा कीजिए तो निश्चित है कि वह गांव में रहने वाला व्यक्ति को भी उसी पता है भले वह उसी से चर्चा किसी और के साथ ना करता हूं लेकिन आप से चर्चा करेंगे तो उसमें उसके विस्तृत रूप को ज्यादा जरूर वर्णन करेगा इसका अर्थ है कि उसको पहले से मालूम होगा चाहे माध्यम जो हो कारण के हमारा जो भारतवर्ष गांव का देश है अस्सी परसेंट लोग गांव में निवास करते हैं और 20 परसेंट मान लीजिए शहर में निवास करते हैं तो जो शहर में आए हैं वह गांव के ही लोग हैं पर इसलिए ऐसा नहीं है कि बहुत सारी बातें डाकुओं को नहीं बताया है कि लोगों को पता है ऐसा कुछ भी नहीं है धन्यवाद

question hai ashuddh bharatiya prasiddh bharatiyon ke jeevan ki aisi kaun si prerak kahaniya hai jinke bare mein logo ko nahi pata dekhiye aisa hamara bharat ek vikasshil desh hai aur 80 saal pehle waale mein manata hoon ki gaon ke bane patthar ke log talak hua karte the lekin abhi sthiti nahi hai media aur print media electronic media itni tez ho gayi hai itne bilkul quick action mein hai ki har khabar har cheez pratyek vyakti ko maloom hai haan kuch gaharaiyon ki baat hai jo ki bharat sarkar aur udyogpatiyon ke beech kuch aisi batein hoti hai usi se har logo tak nahi pohchti aur dhanwan vyakti aur garib vyakti ke beech ka antar jo hai vaah cheez har log samajh mein nahi aati kuch netaon ke aur aam public ke beech ki bahut saree aisi kahaniya hai jo ki aam public ko pata nahi hai kuch aisi batein hai jo aam public ko pata nahi hoti hai lekin maximum 9095 percent pratyek cheh bharatiyon ke bare mein garib logo ke bare mein jo bhi bharti hue bharat ke unke bare mein pratyek vyakti ko pata hai kyonki aaj print media electronic media ya aapko bhai ke madhyam se facebook whatsapp vaya bahut tarah ke media ke madhyam se logo ko pata chale jata hai isliye hum kahe ki kaun si batein logo ko pata nahi hai yah samajh se pare hai har cheez hai pratyek vyakti ko pata hai bhai aisi hai ki kuch bharat ke sant hain log aur bharat sarkar ke beech ki kuch batein aisi ho sakti hai jise hum logo ko tak nahi pohch paate toh us cheez ko hum wahan usi dharm prakash daal sakte hain ki vaah cheez pati pati ko pata nahi hai lekin na baki sab har logo ko pata hai is cheez ko nakara nahi ja sakta karan ki pehle mein aur ab mein kaafi antar hai vyakti pratyek vyakti bharat ka kaafi jagruk ho chuka hai toh yah kaha jaaye ki isse vyakti ko yah cheez pata hai aap oesiskan bobby kar sakte hain jo cheez hum jante hain 1 bade shehar mein rahkar agar gaon mein aap chahiye aur cheez ka charcha kijiye toh nishchit hai ki vaah gaon mein rehne vala vyakti ko bhi usi pata hai bhale vaah usi se charcha kisi aur ke saath na karta hoon lekin aap se charcha karenge toh usme uske vistrit roop ko zyada zaroor varnan karega iska arth hai ki usko pehle se maloom hoga chahen madhyam jo ho karan ke hamara jo bharatvarsh gaon ka desh hai assi percent log gaon mein niwas karte hain aur 20 percent maan lijiye shehar mein niwas karte hain toh jo shehar mein aaye hain vaah gaon ke hi log hain par isliye aisa nahi hai ki bahut saree batein daakuon ko nahi bataya hai ki logo ko pata hai aisa kuch bhi nahi hai dhanyavad

क्वेश्चन है अशुद्ध भारतीय प्रसिद्ध भारतीयों के जीवन की ऐसी कौन सी प्रेरक कहानियां है जिनके

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  939
WhatsApp_icon
play
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

1:59

Likes  76  Dislikes    views  1264
WhatsApp_icon
play
user

Kavita

Writer

1:13

Likes  2  Dislikes    views  146
WhatsApp_icon
play
user

Aahil

Storyteller

0:00

Likes  11  Dislikes    views  317
WhatsApp_icon
user

Roshan Prasad Jaiswal

Junior Volunteer

0:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दुनिया का सबसे बड़ी इमारत जो सबसे बड़ी जो बिल्डिंग है वह है बुर्ज खलीफा जो कि दुबई में

duniya ka sabse badi imarat jo sabse badi jo building hai vaah hai burj khalifa jo ki dubai mein

दुनिया का सबसे बड़ी इमारत जो सबसे बड़ी जो बिल्डिंग है वह है बुर्ज खलीफा जो कि दुबई में

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  20
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!