इस धरती में भगवान को कितने परसेंट पर मानते हैं लोग?...


user

BK Vishal

Rajyoga Trainer

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मेरा तो मानना यह है कि इस संसार में ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं होगा जो भगवान को नहीं मानता है यह बात और है कि जानते कितने लोग हैं यह प्रश्न करना चाहिए तो ली जान मानता है और कोई मान्यता को उसने अलग-अलग रूप दिया है अलग-अलग शब्द लिए अलग-अलग भावनाएं भी है क्योंकि वास्तव में जानता नहीं तो अपनी मर्जी से उसने अपनी मान्यता को निर्मित किया है इस पर है यह सब जानते कोई इसको होली स्पिरिट करेगा कोई इसको सुप्रीम सौल कहेगा कुछ तो भगवान खुदा अल्लाह जो होगा वो सारे नाम अपने अपने समाज के आधार से लोग देते हैं और नास्तिक का भी मतलब यह नहीं है कि भगवान को ना मानने वाला लेकिन अपनी मान्यता को अपने विवेक के आधार पर समझने वाला समझने की कोशिश करता है और नहीं समझना आता है तो उसका खंडन करता है तो आंख बंद करके किसी भी बात पर विश्वास नहीं करता तो वह नास्तिक हो सकता है मगर ऐसा नहीं कि वह यह नहीं मानता कि इस संसार को चलाने वाली एक सकता है एक कष्ट है वैज्ञानिकों के पास भी इसके तब से भरपूर है मानते हैं नाम कुछ और दे देते हैं

dekhiye mera toh manana yah hai ki is sansar me aisa koi bhi vyakti nahi hoga jo bhagwan ko nahi maanta hai yah baat aur hai ki jante kitne log hain yah prashna karna chahiye toh li jaan maanta hai aur koi manyata ko usne alag alag roop diya hai alag alag shabd liye alag alag bhaavnaye bhi hai kyonki vaastav me jaanta nahi toh apni marji se usne apni manyata ko nirmit kiya hai is par hai yah sab jante koi isko holi spirit karega koi isko supreme saul kahega kuch toh bhagwan khuda allah jo hoga vo saare naam apne apne samaj ke aadhar se log dete hain aur nastik ka bhi matlab yah nahi hai ki bhagwan ko na manne vala lekin apni manyata ko apne vivek ke aadhar par samjhne vala samjhne ki koshish karta hai aur nahi samajhna aata hai toh uska khandan karta hai toh aankh band karke kisi bhi baat par vishwas nahi karta toh vaah nastik ho sakta hai magar aisa nahi ki vaah yah nahi maanta ki is sansar ko chalane wali ek sakta hai ek kasht hai vaigyaniko ke paas bhi iske tab se bharpur hai maante hain naam kuch aur de dete hain

देखिए मेरा तो मानना यह है कि इस संसार में ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं होगा जो भगवान को नहीं मा

Romanized Version
Likes  66  Dislikes    views  1738
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!