मुझे ऐसा लगता है की मैं हर एक इंसान से नफ़रत करता हूँ। मैं इस भावना को उभरने से कैसे रोक सकता हूँ?...


user

Kavita

Writer

1:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पीके पहले तो मैं आपको बताना चाहूंगी की फीलिंग सबको नहीं आती आप अगर ऐसा सोचकर चलेंगे कि मैं हर इंसान से नफरत करता हूं तो फिर तो बहुत ज्यादा मुश्किल हो जाएगी आपके लिए आप तो है बड़ी लाइफ के बड़े लोपेज में है बड़े डिप्रेसिव फेज में है और आप जो है अब कम्युनिकेट करिए अपने जज्बात को किसी के साथ भी आपका दोस्त हो या माता-पिता हो किसी के साथ भी ऐसा ऐसा एटीट्यूड कर आप लाइफ में लेकर चलेंगे तो फिर तो आप हर जगह है आपको जो है निराशा मिलेगी और नफरत जो है अगर आप नफरत की बात करते हैं तो नफरत अपने आप में बहुत बड़ी शब्द है किसी के लिए नफरत की भावना रखना अजीत को आप पहचानते नहीं है तो यह तो उनके लिए भी हम फेल हो जाएगा है ना तो आप ऐसी भावना से मुक्त रहने के लिए मेडिटेशन जो करें मेरिटेशन ऑफ करेंगे तो आपको इन रूपीस इन रूपीस जो है आपको मिलेगा और आप समझ नहीं कोशिश करेंगे क्यों जो है आपको ऐसी भावना हीन भावना आपके अंदर आ रही है और आप अपने अंदर झांक एंगे कि आपकी लाइफ में क्या डिफिकल्टीज है वह उसको अगर जानेंगे तो जी आपके लिए चीजें जो है बेहतर हो सकती हैं आपने अगर अपनी प्रॉब्लम कोई व्हाट्सएप कर लिया दी मेरी लाइफ में जो भी प्रॉब्लम आ रही है मगर उससे उसको अगर मैं जानता हूं सही से उसको अगर सोनू जी आपको अब मुझे लगता है आपको यह नफरत की भावना से मुक्ति जरूर जरूर मिलेगी लेकिन कम्युनिकेट करना बहुत जरूरी बात करेंगे क्या आप की तकलीफ क्यों आप ऐसे सोच रहे हैं तो आपको जो हेल्प मिल सकती है

pk pehle toh main aapko bataana chahungi ki feeling sabko nahi aati aap agar aisa sochkar chalenge ki main har insaan se nafrat karta hoon toh phir toh bahut zyada mushkil ho jayegi aapke liye aap toh hai badi life ke bade lopez mein hai bade depressive phase mein hai aur aap jo hai ab kamyuniket kariye apne jazbaat ko kisi ke saath bhi aapka dost ho ya mata pita ho kisi ke saath bhi aisa aisa attitude kar aap life mein lekar chalenge toh phir toh aap har jagah hai aapko jo hai nirasha milegi aur nafrat jo hai agar aap nafrat ki baat karte hain toh nafrat apne aap mein bahut badi shabd hai kisi ke liye nafrat ki bhavna rakhna ajit ko aap pehchante nahi hai toh yah toh unke liye bhi hum fail ho jaega hai na toh aap aisi bhavna se mukt rehne ke liye meditation jo kare meriteshan of karenge toh aapko in Rupees in Rupees jo hai aapko milega aur aap samajh nahi koshish karenge kyon jo hai aapko aisi bhavna heen bhavna aapke andar aa rahi hai aur aap apne andar jhank enge ki aapki life mein kya difficulties hai vaah usko agar jaanege toh ji aapke liye cheezen jo hai behtar ho sakti hain aapne agar apni problem koi whatsapp kar liya di meri life mein jo bhi problem aa rahi hai magar usse usko agar main jaanta hoon sahi se usko agar sonu ji aapko ab mujhe lagta hai aapko yah nafrat ki bhavna se mukti zaroor zaroor milegi lekin kamyuniket karna bahut zaroori baat karenge kya aap ki takleef kyon aap aise soch rahe hain toh aapko jo help mil sakti hai

पीके पहले तो मैं आपको बताना चाहूंगी की फीलिंग सबको नहीं आती आप अगर ऐसा सोचकर चलेंगे कि मैं

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  92
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

TS Bhanot

Teacher

0:56

Likes  2  Dislikes    views  140
WhatsApp_icon
user

Aradhya Gupta

Life Coach

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्तों अगर आपको ऐसा लगता है कि आप हर इंसान से नफरत करते हैं आपके मन में नफरत इतनी ज्यादा है तो आपको नहीं जल्द आईडेंटिफाई करना पड़ेगा कि आप इतनी नफरत क्यों करते हैं आखिर वजह क्या है भावना को रोकने से कैसे रोक सकता हूं तो इंसान की सबसे बड़ी जो गलती होती है भैया ही होती है कि हम हर किसी के अंदर सिर्फ बुराइयां देखने जिस दिन अपनी प्रवृत्ति को जितना भी सोच को चेंज कर लेंगे जिस दिन आप सोचेंगे कि मेरे अंदर क्या अच्छाई है आज कंपेयर टू नेगेटिविटी अगर आप दूसरों की क्षमता है देखेंगे दूसरों की खूबिया देखेंगे तो अपनी नफरत को कंट्रोल में कर पाएंगे और आपको प्रॉब्लम बिल्कुल नहीं होगी अगर आप सब लोगों की बुराइयां देखेंगे तो आपको बुरा गई अट्रैक्ट करेंगे पॉजिटिव एनर्जी पॉजिटिविटी करती है तो आप को मेल काम यही करना चाहिए कि पॉजिटिव लोगों के साथ रहना चाहिए लोगों के अंदर पॉजिटिविटी देखनी चाहिए अपने पॉजिटिव वाली फीलिंग को लोगों के साथ शेयर करना चाहिए जिनको अपनी लाइफ में लाएंगे रूटीन वही फॉलो करें तू अपनी हैबिट बन जाएगी और इससे आपको लाइफ में कोई प्रॉब्लम नहीं होगी और संभावना जो आपके हर इंसान से नफरत करने की प्रवृत्ति जब खुद से प्यार करेंगे पशुओं से प्यार करेंगे पक्षों से प्यार करेंगे खूबियों को देखेंगे तब आपको उनसे भी प्यार होने लगेगा और पहले शांत मन से प्रार्थना करेंगे शांत मन से जगा बैठे और सोचा आप लोगों से नफरत क्यों करते हैं कि आप अपने आप से नफरत करते हैं इसलिए आप लोगों से नफरत करते हैं तो आप को बजाएं मिल जाएंगे कि आप अपनी इस गलत चीज को कैसे दूर कर सकते हैं

hello doston agar aapko aisa lagta hai ki aap har insaan se nafrat karte hain aapke man mein nafrat itni zyada hai toh aapko nahi jald aidentifai karna padega ki aap itni nafrat kyon karte hain aakhir wajah kya hai bhavna ko rokne se kaise rok sakta hoon toh insaan ki sabse badi jo galti hoti hai bhaiya hi hoti hai ki hum har kisi ke andar sirf buraiyan dekhne jis din apni pravritti ko jitna bhi soch ko change kar lenge jis din aap sochenge ki mere andar kya acchai hai aaj compare to negativity agar aap dusro ki kshamta hai dekhenge dusro ki khubiya dekhenge toh apni nafrat ko control mein kar payenge aur aapko problem bilkul nahi hogi agar aap sab logo ki buraiyan dekhenge toh aapko bura gayi attract karenge positive energy positivity karti hai toh aap ko male kaam yahi karna chahiye ki positive logo ke saath rehna chahiye logo ke andar positivity dekhni chahiye apne positive wali feeling ko logo ke saath share karna chahiye jinako apni life mein layenge routine wahi follow kare tu apni habit ban jayegi aur isse aapko life mein koi problem nahi hogi aur sambhavna jo aapke har insaan se nafrat karne ki pravritti jab khud se pyar karenge pashuo se pyar karenge pakshon se pyar karenge khubiyon ko dekhenge tab aapko unse bhi pyar hone lagega aur pehle shaant man se prarthna karenge shaant man se jagah baithe aur socha aap logo se nafrat kyon karte hain ki aap apne aap se nafrat karte hain isliye aap logo se nafrat karte hain toh aap ko bajaye mil jaenge ki aap apni is galat cheez ko kaise dur kar sakte hain

हेलो दोस्तों अगर आपको ऐसा लगता है कि आप हर इंसान से नफरत करते हैं आपके मन में नफरत इतनी ज्

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  77
WhatsApp_icon
play
user

Dilsh Sheikh

Journalist

1:40

Likes  4  Dislikes    views  67
WhatsApp_icon
user

Riya

Artist, Traveller

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस भावना से उबरने के लिए आप उस लोगों के साथ वक्त बिता है जो आपको अच्छा लगे उस चीजों को करे जो आप को पसंद है जिससे आपको संतुष्टि मिले जिसका कोई मूल्य हो

is bhavna se ubarane ke liye aap us logo ke saath waqt bita hai jo aapko accha lage us chijon ko kare jo aap ko pasand hai jisse aapko santushti mile jiska koi mulya ho

इस भावना से उबरने के लिए आप उस लोगों के साथ वक्त बिता है जो आपको अच्छा लगे उस चीजों को करे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  92
WhatsApp_icon
user

Sanchi Sharma

Journalist, Photographer

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शायद अब न कर किसी से करते हो अरे कभी अगर आपने यह तेरी शक्ल पे छाई है तो शायद ही इस वजह से हो सकता है कि कोई ना कोई चीज आपके साथ एक ऐसी हो रही हो जिसे अपना खुशबू जैसे शायद आपके काम में आप की नौकरी में कुछ चीजें से आपको बहुत ही ज्यादा डिस्टर्ब कर रही हूं डिस्टर्ब कर रही हूं ऐसे में अगर ऐसे भी चीज है कोई तो हो ऑटोमेटिकली आपको भी रिटेल करेगी बहुत ज्यादा गुस्सा उनसे इधर से आप नफरत करना शुरू कर दो समझ गए क्या बर्ताव ऐसा क्यों हो गया कारण के लिए क्या बताएं उसको कैसे समझा जा सकता जब तक आप की भाभी ने

shayad ab na kar kisi se karte ho are kabhi agar aapne yah teri shakl pe chhai hai toh shayad hi is wajah se ho sakta hai ki koi na koi cheez aapke saath ek aisi ho rahi ho jise apna khushboo jaise shayad aapke kaam mein aap ki naukri mein kuch cheezen se aapko bahut hi zyada disturb kar rahi hoon disturb kar rahi hoon aise mein agar aise bhi cheez hai koi toh ho atometikli aapko bhi retail karegi bahut zyada gussa unse idhar se aap nafrat karna shuru kar do samajh gaye kya bartaav aisa kyon ho gaya karan ke liye kya bataye usko kaise samjha ja sakta jab tak aap ki bhabhi ne

शायद अब न कर किसी से करते हो अरे कभी अगर आपने यह तेरी शक्ल पे छाई है तो शायद ही इस वजह से

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  106
WhatsApp_icon
play
user

Mohini

Voice Artist

1:51

Likes  18  Dislikes    views  434
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!