आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं? आप इस सवाल का जवाब कैसे जान सकते हैं?...


user

Pramod Kushwaha

famous Motivational Guru N Painter

0:34
Play

Likes  40  Dislikes    views  901
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

अनमोल मणी

योग शिक्षक

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां हम अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं इस सवाल का जवाब कैसे जान सकते हैं देखिए इस सवाल का जवाब आप अपने वर्तमान की स्थिति को देखकर जान सकते हैं आप वर्तमान में किस दिशा में अग्रसर हैं कैसा जीवन जी रहे हैं आप कहीं ऐसा तो नहीं कि आप सुबह उठकर टीवी देख रहे हैं सीरियल देख रहे हैं और फिर व्हाट्सएप देख रहे हैं फेसबुक देख रहे हैं इधर उधर का देखते हुए चले जा रहे हैं तब फिर आप नहीं डिसाइड कर सकते कि 5 वर्ष बाद आप क्या करेंगे क्यों क्योंकि आपने स्वयं की और कभी निहारा ही नहीं देखा ही नहीं आप तो केवल दर्शक ही बने रह गई दुनिया के श्रोता ही बने रह गए नहीं मुझे केवल दर्शक और श्रोता बनकर जीवन नहीं बिता देनी है बहुतों का जीवन दर्शक और श्रोता बनकर ही बीत जाता है इसीलिए वह 5 वर्ष तो क्या कल का भी डिसाइड नहीं कर पाते हैं कि कल मुझे क्या करना है वर्तमान की स्थिति को देखते हुए आप अगला 5 वर्ष डिसाइड कर सकते हैं कि आप अगले 5 वर्ष में क्या बनना चाहते हैं ठीक है भाई अच्छा जी शुक्रिया

ji haan hum agle 5 varshon me kya banna chahte hain is sawaal ka jawab kaise jaan sakte hain dekhiye is sawaal ka jawab aap apne vartaman ki sthiti ko dekhkar jaan sakte hain aap vartaman me kis disha me agrasar hain kaisa jeevan ji rahe hain aap kahin aisa toh nahi ki aap subah uthakar TV dekh rahe hain serial dekh rahe hain aur phir whatsapp dekh rahe hain facebook dekh rahe hain idhar udhar ka dekhte hue chale ja rahe hain tab phir aap nahi decide kar sakte ki 5 varsh baad aap kya karenge kyon kyonki aapne swayam ki aur kabhi nihara hi nahi dekha hi nahi aap toh keval darshak hi bane reh gayi duniya ke shrota hi bane reh gaye nahi mujhe keval darshak aur shrota bankar jeevan nahi bita deni hai bahuton ka jeevan darshak aur shrota bankar hi beet jata hai isliye vaah 5 varsh toh kya kal ka bhi decide nahi kar paate hain ki kal mujhe kya karna hai vartaman ki sthiti ko dekhte hue aap agla 5 varsh decide kar sakte hain ki aap agle 5 varsh me kya banna chahte hain theek hai bhai accha ji shukriya

जी हां हम अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं इस सवाल का जवाब कैसे जान सकते हैं देखिए इस

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  689
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  139  Dislikes    views  2302
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  231  Dislikes    views  2307
WhatsApp_icon
play
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

1:59

Likes  92  Dislikes    views  1655
WhatsApp_icon
user

Ruchi Garg

Counsellor and Psychologist(Gold MEDALIST)

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अगले 5 साल में क्या बनना चाहते हैं इसका जवाब क्यों है वह आपके पास ही बहुत अच्छे तरीके से है आप अभी किस फील्ड में हैं किस फील्ड में पढ़ाई कर रहे हैं उसमें क्या क्या ऑप्शन है और और आप उसमें से आपका सबसे इंटरेस्ट एरिया कहां पर जा रहा है और आपकी पर्सनैलिटी को क्या सूट करता है और आपको क्या आपके लिए आसान है इन सभी चीजों को देखते हुए आप देख सकते हैं कि आप 5 साल में अपने आप को कहां पाएंगे इसके अलावा ऑफ यूनिटी जहां ज्यादा है वहां पहुंचना जो है वह ज्यादा जहां पर 2 परसेंटेज मिलेंगी वह आप आगे भी जल्दी-जल्दी बढ़ेंगे तो आप इन सारी चीजों को देखते हुए अपना जो है नींद नहीं ले सकते हैं कि आप अगले 5 साल में कहां होंगे क्वेश्चन बहुत पर पूछा जाता है बेटा साईं कॉलेज पता है कि यह थोड़ा सा बहुत ही 22 क्वेश्चन सेंड कॉल 5 साल में ग्लोबल इतने चेंजेज आ जाते हैं आप जिस फील्ड में उसकी डिमांड कितनी है आपका इंटरेस्ट लिया कैसा है आप कितनी जॉब चेंज करते हैं तो दाग भी कम से मेरी यूनुस प्रैक्टिकल आंसर तो थोड़ा सा अपना अन सरटेन ईटीवी जिले में कुछ गलत नहीं है अनसर्टेनटीज नहीं जीने में मैं और ज्यादा मजा है बिकॉज आफ फिलहाल देखी आप कहां खड़े हैं और आप कहां जाना चाहते हैं रात-दिन उस पर्सपेक्टिव को सामने रखकर आप्रेशन डिसीजन ले रहे हैं अभी वेरी फर ऑफ डिसीजन मेकिंग व्हाट विल नॉट बे वेरी प्राप्त

aap agle 5 saal mein kya banna chahte hai iska jawab kyon hai vaah aapke paas hi bahut acche tarike se hai aap abhi kis field mein hai kis field mein padhai kar rahe hai usme kya kya option hai aur aur aap usme se aapka sabse interest area kahaan par ja raha hai aur aapki personality ko kya suit karta hai aur aapko kya aapke liye aasaan hai in sabhi chijon ko dekhte hue aap dekh sakte hai ki aap 5 saal mein apne aap ko kahaan payenge iske alava of unity jaha zyada hai wahan pahunchana jo hai vaah zyada jaha par 2 percentage milegi vaah aap aage bhi jaldi jaldi badhenge toh aap in saree chijon ko dekhte hue apna jo hai neend nahi le sakte hai ki aap agle 5 saal mein kahaan honge question bahut par poocha jata hai beta sai college pata hai ki yah thoda sa bahut hi 22 question send call 5 saal mein global itne changes aa jaate hai aap jis field mein uski demand kitni hai aapka interest liya kaisa hai aap kitni job change karte hai toh daag bhi kam se meri yunus practical answer toh thoda sa apna an cretan ETV jile mein kuch galat nahi hai anasartenatij nahi jeene mein main aur zyada maza hai because of filhal dekhi aap kahaan khade hai aur aap kahaan jana chahte hai raat din us parsapektiv ko saamne rakhakar apreshan decision le rahe hai abhi very fur of decision making what will not be very prapt

आप अगले 5 साल में क्या बनना चाहते हैं इसका जवाब क्यों है वह आपके पास ही बहुत अच्छे तरीके स

Romanized Version
Likes  79  Dislikes    views  1609
WhatsApp_icon
user

Porshia Chawla Ban

Psychologist

4:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं आप इस सवाल का जवाब कैसे जान सकते हैं हां तो इंटरव्यू के दौरान यह सवाल जरूर पूछा जाता है और मैं भी पुस्तक पाइप पाइप कहां होंगे क्या कर रहे हो जाने के लिए आपको बहुत गहराई से मन करना होगा आज आज आपको यह देखना है वह डिसाइड करना है कि आज आपकी जो वर्तमान परिस्थिति है आपने क्या-क्या किया है आप कहां हो अभी क्या है आपके पास और आप कहां जाना चाहते हो इसके दो तरीके हैं एक तरीका जो है जो बहुत आसान है और कॉमनली जो लोग यूज़ करते हैं कि पहले आप किए विजुलाइज कीजिए इमेजिन कीजिए क्या आप खुद को कहां देखते हो जिसे आप अपने जो मटेरियल चीजें हैं उनसे अपने आपको पहले जोड़ कर देख सकते हो कोई इंसान के लिए स्पीच वाले अपॉइंटमेंट है तो वहां से लेकर सोचता है कोई सोचता हेल्प से लेकर फिटनेस कि मुझे फिट होना है तो आप अपना एक एरिया पहले सेलेक्ट करो कि मैं इनफोकस आपको किस एरिया में पहले तो चाहिए जैसे अमूमन लोगों को कैरियर का आता है सबसे पहला तो आपके कार्य में मैं कहां हुआ 5 साल बाद और उसी संदर्भ में शहरी सवार ज्यादातर पूछा भी जाता है तो करियर में अगर एग्जांपल के तौर पर हम लेते हैं और करियर के बारे में सोचता है तो आज से 5 साल बाद में कहां पर सेंड करता हूं और मेरी जॉब कैसी होगी मेरा पैसा कितना होगा यानी आप अपने आप को भुला इस करिए कि आप अपना कैसा जीवन और फिर उससे बात का आप सोचना फिर शुरू करेंगे आज आप कहां हैं अब वहां पहुंचने के लिए आपको क्या करना है तो five-year टर्म गोल्स बना सकते हो 10 इयर्स बना सकते हो वह क्लियर करें दूसरा तरीका बता रही थी कि यह तो उल्टा करने वाला करो कि आप कहां पहुंचे हो और कहां अपने आपको देखते हो और आज कहां हो उतना से प्लस माइनस करके आप निकाले गुस्सा करेगा क्या है इससे उल्टा है कि आज आप जहां हो वहां से आप की क्या संभावनाएं हैं जैसे मान लीजिए किसी ने भी काम किया है या किसी ने तो अभी क्लियर कर लिया है पढ़ाई कर रहा है उसका है या वह भी नहीं किए सर 12वीं पास की संभावनाएं देखें कि यह जो कर रहा हूं या किया है इसके बाद में यहां से कहां जा सकता हूं और यहां से जाने के बाद जैसे मान लीजिए मैंने शॉर्टलिस्ट करा चार चार चीजें मैंने शॉर्टलिस्ट कर लेगी यह यह यह यह चार ऑप्शन से जिस दिशा में मुंह कर सकता हूं तो चारों दिशाओं को क्या 5 साल तक फ्यूचर में देख सकते हैं कि यह मैंने किया तो 5 साल बाद कहां आऊंगा यह किया तो कहूंगा फिर उसमें से चारों में से सबसे ज्यादा आपको कौन सा सही लगता है तो ठीक लगता है किसके साथ आपके ट्यूनिंग है आपके अंदर से ही आपको जवाब मिलेगा कहीं आपका इमोशन और फीलिंग बाबा जुड़ा होगा कोई चीज तो ऐसी होगी जिसके साथ आप को ज्यादा हैप्पीनेस मिलेगी इसे हम एक इंजीनियर को जानती हूं वह इंजीनियर इंजीनियर कर लिया है और अभी वह लेकिन राइटर बनना चाहते हैं तो उनका इंजीनियरिंग में नहीं है तो इंजीनियरिंग को बोरिंग लगता है उसको ऐसे लोग जॉब में शक्ल भी नहीं हो पाते हैं अगर उनका रुझान राइटिंग की तरह लेखक बनना चाहते हैं उनको अपना प्रयास करना चाहिए तो यही चीज अगर 12वीं के बाद एक एग्जांपल है वह वर्कआउट कर ली जाए और देख लिया जाए बहुत निजी बस जाती है दिखाएं बस जाती है और काउंसलर के पैसे भी बचाते हैं तो सही समय पर सही सवाल पूछना जरूरी है और एक बहुत ही सटीक और सुंदर सवाल है और इंसान को हर इंसान को ही खुद से पूछना चाहिए

aapka sawaal hai aap agle 5 varshon mein kya banna chahte hain aap is sawaal ka jawab kaise jaan sakte hain haan toh interview ke dauran yah sawaal zaroor poocha jata hai aur main bhi pustak pipe pipe kahaan honge kya kar rahe ho jaane ke liye aapko bahut gehrai se man karna hoga aaj aaj aapko yah dekhna hai vaah decide karna hai ki aaj aapki jo vartaman paristithi hai aapne kya kya kiya hai aap kahaan ho abhi kya hai aapke paas aur aap kahaan jana chahte ho iske do tarike hain ek tarika jo hai jo bahut aasaan hai aur commonly jo log use karte hain ki pehle aap kiye vijulaij kijiye imejin kijiye kya aap khud ko kahaan dekhte ho jise aap apne jo material cheezen hain unse apne aapko pehle jod kar dekh sakte ho koi insaan ke liye speech waale appointment hai toh wahan se lekar sochta hai koi sochta help se lekar fitness ki mujhe fit hona hai toh aap apna ek area pehle select karo ki main inafokas aapko kis area mein pehle toh chahiye jaise amuman logo ko carrier ka aata hai sabse pehla toh aapke karya mein main kahaan hua 5 saal baad aur usi sandarbh mein shahri savar jyadatar poocha bhi jata hai toh career mein agar example ke taur par hum lete hain aur career ke bare mein sochta hai toh aaj se 5 saal baad mein kahaan par send karta hoon aur meri job kaisi hogi mera paisa kitna hoga yani aap apne aap ko bhula is kariye ki aap apna kaisa jeevan aur phir usse baat ka aap sochna phir shuru karenge aaj aap kahaan hain ab wahan pahuchne ke liye aapko kya karna hai toh five year term goals bana sakte ho 10 years bana sakte ho vaah clear kare doosra tarika bata rahi thi ki yah toh ulta karne vala karo ki aap kahaan pahuche ho aur kahaan apne aapko dekhte ho aur aaj kahaan ho utana se plus minus karke aap nikale gussa karega kya hai isse ulta hai ki aaj aap jaha ho wahan se aap ki kya sambhavnayen hain jaise maan lijiye kisi ne bhi kaam kiya hai ya kisi ne toh abhi clear kar liya hai padhai kar raha hai uska hai ya vaah bhi nahi kiye sir vi paas ki sambhavnayen dekhen ki yah jo kar raha hoon ya kiya hai iske baad mein yahan se kahaan ja sakta hoon aur yahan se jaane ke baad jaise maan lijiye maine shortlist kara char char cheezen maine shortlist kar legi yah yah yah yah char option se jis disha mein mooh kar sakta hoon toh charo dishaon ko kya 5 saal tak future mein dekh sakte hain ki yah maine kiya toh 5 saal baad kahaan aaunga yah kiya toh kahunga phir usme se charo mein se sabse zyada aapko kaun sa sahi lagta hai toh theek lagta hai kiske saath aapke tyuning hai aapke andar se hi aapko jawab milega kahin aapka emotion aur feeling baba juda hoga koi cheez toh aisi hogi jiske saath aap ko zyada Happiness milegi ise hum ek engineer ko jaanti hoon vaah engineer engineer kar liya hai aur abhi vaah lekin writer banna chahte hain toh unka Engineering mein nahi hai toh Engineering ko boaring lagta hai usko aise log job mein shakl bhi nahi ho paate hain agar unka rujhan writing ki tarah lekhak banna chahte hain unko apna prayas karna chahiye toh yahi cheez agar vi ke baad ek example hai vaah workout kar li jaaye aur dekh liya jaaye bahut niji bus jaati hai dikhaen bus jaati hai aur counselor ke paise bhi bachate hain toh sahi samay par sahi sawaal poochna zaroori hai aur ek bahut hi sateek aur sundar sawaal hai aur insaan ko har insaan ko hi khud se poochna chahiye

आपका सवाल है आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं आप इस सवाल का जवाब कैसे जान सकते हैं

Romanized Version
Likes  72  Dislikes    views  2433
WhatsApp_icon
user

Lalit Tomar

Police Service

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगले 5 वर्षों में में क्या बनना चाहते बनने के बहुत सारे ऑप्शन सही होता है लोगों की नजरों में लाइक जब इंस्पेक्टर हो तो मैं चाहूंगा कि 5 सालों में इंस्पेक्टर बन जाओ अपनी प्रोफेशनल लाइफ में मुझे और बहुत सारे अधिकार मिले और मैं जीवन लोगों का जीवन और अच्छा बना सकूं क्योंकि अगर आपको नहीं पता है तो सब इंस्पेक्टर आई होता है इन्वेस्टिगेशन ऑफीसर होता है और उसके हाथ में पूरी सीआरपीसी की पावर होती है पूरे कानून की पावर उसके हाथ में होती है तो वैसे ही हमारे पास में तो इतने ज्यादा अधिकार होते हैं कि शायद हमके बलम कोई ऐसा व्यक्ति का जीवन ना बदल पाए अगर हमारे पास में कोई पीड़ित आता है तो उसका कर सकते हैं लेकिन थानाध्यक्ष के पास में उससे भी ज्यादा पावर होती है तो मैं तो जाऊंगा उस तरीके से तो मैं चाहूंगा कि मैं थानाध्यक्ष बन जाओ इंस्पेक्टर भेजो कुछ टाइम के बाद में मेरी दोस्त और भी थाने को चलाकर उन्हें ऐसो मोर के सुरजापुरी वीडियो चलती रहती है कि रतिया

agle 5 varshon mein mein kya bana chahte banne ke bahut saare option sahi hota hai logo ki nazro mein like jab inspector ho toh main chahunga ki 5 salon mein inspector ban jao apni professional life mein mujhe aur bahut saare adhikaar mile aur main jeevan logo ka jeevan aur accha bana sakun kyonki agar aapko nahi pata hai toh sab inspector I hota hai investigation officer hota hai aur uske hath mein puri crpc ki power hoti hai poore kanoon ki power uske hath mein hoti hai toh waise hi hamare paas mein toh itne zyada adhikaar hote hain ki shayad hamake balam koi aisa vyakti ka jeevan na badal paye agar hamare paas mein koi peedit aata hai toh uska kar sakte hain lekin thanadhyaksh ke paas mein usse bhi zyada power hoti hai toh main toh jaunga us tarike se toh main chahunga ki main thanadhyaksh ban jao inspector bhejo kuch time ke baad mein meri dost aur bhi thane ko chalakar unhe aiso mor ke surjapuri video chalti rehti hai ki ratia

अगले 5 वर्षों में में क्या बनना चाहते बनने के बहुत सारे ऑप्शन सही होता है लोगों की नजरों म

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  156
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

5:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने अगले 5 वर्षों की योजना पूछिए क्या आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं और आप इस सवाल का जवाब कैसे जानते हैं जिनके आधार पर चढ़ाने हमने अपनी संपूर्ण जिंदगी को चार चरणों में बैठा हुआ है पहला चरण जिसे हम विद्यार्थी जीवन कहते हैं यानी बालाश्रम उसके बाद दूसरा चरण 2 मार्च 25 से 50 साल के बीच में होता है जिसको हम अपनी जिंदगी का युवा अवस्था कहते हैं यह कह लीजिए कि हम अपनी जिंदगी का रनिंग चने कहते हैं जिसको हम जस्ट आश्रम बोलते हैं और उसके बाद तीसरा हसन जोरदार मारा वह सामाजिक परंपराओं से जुड़ा होता है वह 50 से 75 साल के बीच में हमारी जिम्मेदारियां हमें हम पर हावी होती हैं और हम करते हो कि उस फेर में फंसे होते हैं और संपूर्ण रूप से में अपने कर्तव्य निभाने होते हैं और उसके बाद 75 के बाद जब कि आज की आयु हनी को नहीं मिलती है जैसे हम बोलते प्रदर्शन कपासन के डीजे सन्यास आश्रम दीजिएगा हमारी जिंदगी 4 चरणों में बच्ची है लेकिन आप सबको 100 बरस की जिंदगी नहीं मिलती आपने तो 5 वर्ष का टारगेट दिया तो हमने 10 वर्षों में बांट रखा है कि आप जब भी जाती हैं कुछ स्थिति में आपको निर्णय करना है क्या आज आपने ग्रेजुएशन में आप ने प्रवेश लिया है तो अगले 5 वर्षों में आपको ग्रेजुएशन करने के बाद नौकरी में जाना है या बिजनेस में जाना है नौकरी में जाना है तो किस नौकरी में जाना है सिविल सर्विस में जाना है या पब्लिक सर्विस नहीं जाना है यह आपको किसी बैंकिंग सेक्टर में जाना है या किसी अन्य सेक्टर में जाना है या को निर्णय लेना है और उसके बाद जैसे-जैसे आप उस दौर के अंदर आगे बढ़ते जाते हैं आपको यह पता चलता जाता है कि आप इसके अनुकूल है क्या नहीं मानी के प्रोफेशनल कोर्स कर रहे हैं लेकिन आप एक और दो अटेंड में उसे सफल नहीं कर पाते तो आपको ही लगने लगता है कि इसमें मेरा भविष्य सुरक्षित नहीं है दूसरे चरण के विद्यार्थी जीवन के बाद जवाब नौकरी प्राप्त करने से तो अब इस नौकरी से मेरे को तरक्की कैसे करनी है अर्थात प्रमोशन कैसे लेंगे और उसके लिए भी आप अगले 5 वर्षों का समय निर्धारित करते हैं कि मेरी 10 साल की नौकरी हो गई है और मैं अभी तक वही हूं मुझे अगले 5 वर्षों में ऑफिसर बनना है इस बात को ध्यान में रखते हुए आप पूरी तैयारी करते प्रॉपर्टीज ऑफ फर्स्ट पारी के दौरान आपको ऑफिसर बनने का डिपार्टमेंटल या आप इन डिग्री खुद पर एप्लीकेशन डालते हैं तो आपको मौका मिलता है क्योंकि जब आप चैटिंग कर रहे होते हैं तब आपको एहसास हो जाता है कि मैं इस परीक्षा को क्लियर कर लूंगा आदमी का जो कब तक वह है ना वो उसको कन्वर्ट करा देता है ओपन बोर्ड क्वेश्चन विज्ञान बहुत छोटा है और ज्ञान बोध का संबंध हमेशा वर्तमान छोटा है कि वर्तमान में आप पर निर्णय कैसे फिर इसके बाद दूसरा चरण जवाब प्रमोशन ले लेते आप परिवार में रात्रि आपके बाल बच्चे होते हैं तो उनकी पढ़ाई की आपको चिंता होती है और उनकी पढ़ाई के लिए आप यह निर्भर करता है कि अगले 5 साल में इस बच्चे का ग्रेजुएशन हो जाएगा और इस बच्चों को रोजगार में 9 डिग्री गुजर जाती है और आपने जो यह कहा कि आप क्या बनना चाहते हैं सिर्फ हमारे बन्ना चाहने से कुछ नहीं होता जब तक हम उसके लिए प्रयास नहीं करेंगे अजब प्रयास करेंगे तो जो चाहेंगे वह निश्चित रूप से बन जाएंगे और उसका हमें बहुत पहले एहसास हो जाएगा कि हम इस क्षेत्र में सफलता पाएंगे

apne agle 5 varshon ki yojana puchiye kya aap agle 5 varshon mein kya bana chahte hain aur aap is sawaal ka jawab kaise jante hain jinke aadhaar par chadhane humne apni sampurna zindagi ko char charno mein baitha hua hai pehla charan jise hum vidyarthi jeevan kehte hain yani balashram uske baad doosra charan 2 march 25 se 50 saal ke beech mein hota hai jisko hum apni zindagi ka yuva avastha kehte hain yah keh lijiye ki hum apni zindagi ka running chane kehte hain jisko hum just ashram bolte hain aur uske baad teesra hasan jordaar mara vaah samajik paramparaon se jinko hota hai vaah 50 se 75 saal ke beech mein hamari zimmedariyan hamein hum par haavi hoti hain aur hum karte ho ki us pher mein fanse hote hain aur sampurna roop se mein apne kartavya nibhane hote hain aur uske baad 75 ke baad jab ki aaj ki aayu honey ko nahi milti hai jaise hum bolte pradarshan kapasan ke DJ sanyas ashram dijiyega hamari zindagi 4 charno mein bachi hai lekin aap sabko 100 baras ki zindagi nahi milti aapne toh 5 varsh ka target diya toh humne 10 varshon mein baant rakha hai ki aap jab bhi jaati hain kuch sthiti mein aapko nirnay karna hai kya aaj aapne graduation mein aap ne pravesh liya hai toh agle 5 varshon mein aapko graduation karne ke baad naukri mein jana hai ya business mein jana hai naukri mein jana hai toh kis naukri mein jana hai civil service mein jana hai ya public service nahi jana hai yah aapko kisi banking sector mein jana hai ya kisi anya sector mein jana hai ya ko nirnay lena hai aur uske baad jaise jaise aap us daur ke andar aage badhte jaate hain aapko yah pata chalta jata hai ki aap iske anukul hai kya nahi maani ke professional course kar rahe hain lekin aap ek aur do attend mein use safal nahi kar paate toh aapko hi lagne lagta hai ki isme mera bhavishya surakshit nahi hai dusre charan ke vidyarthi jeevan ke baad jawab naukri prapt karne se toh ab is naukri se mere ko tarakki kaise karni hai arthat promotion kaise lenge aur uske liye bhi aap agle 5 varshon ka samay nirdharit karte hain ki meri 10 saal ki naukri ho gayi hai aur main abhi tak wahi hoon mujhe agle 5 varshon mein officer bana hai is baat ko dhyan mein rakhte hue aap puri taiyari karte properties of first paari ke dauran aapko officer banne ka departmental ya aap in degree khud par application daalte hain toh aapko mauka milta hai kyonki jab aap chatting kar rahe hote hain tab aapko ehsaas ho jata hai ki main is pariksha ko clear kar lunga aadmi ka jo kab tak vaah hai na vo usko convert kara deta hai open board question vigyan bahut chota hai aur gyaan bodh ka sambandh hamesha vartaman chota hai ki vartaman mein aap par nirnay kaise phir iske baad doosra charan jawab promotion le lete aap parivar mein ratri aapke baal bacche hote hain toh unki padhai ki aapko chinta hoti hai aur unki padhai ke liye aap yah nirbhar karta hai ki agle 5 saal mein is bacche ka graduation ho jaega aur is baccho ko rojgar mein 9 degree gujar jaati hai aur aapne jo yah kaha ki aap kya bana chahte hain sirf hamare bana chahne se kuch nahi hota jab tak hum uske liye prayas nahi karenge ajab prayas karenge toh jo chahenge vaah nishchit roop se ban jaenge aur uska hamein bahut pehle ehsaas ho jaega ki hum is kshetra mein safalta payenge

अपने अगले 5 वर्षों की योजना पूछिए क्या आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं और आप इस स

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  1115
WhatsApp_icon
user

Dr. Renu Bhatia

Clinical Psychologist

2:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पोस्टर आफ प्रोफेशनल जाए जो आपको करियर काउंसलिंग तो होती है रोज करते हैं उसकी बेटी भी टैलेंट है उसके साथ तब तक मैं आपको नहीं जानता ही ट्रांसफार्मर से उनको समझ में आ जाता है उसी पर कोचिंग लेते हैं और अपनी करते हैं कुछ नहीं जाता है कि हां मुझे भी चेक करना है मुझे करना व्हाट एवर ब्लॉक कर रहा है तू नेशनल पर हूं और अगर फिर भी अगर दर्शन करते हैं कोई भी सरकारी नौकरी के लिए जानकारी को पता है कि वह अपनी मां का इकलौता वारिस है तो उसको अपने बिजनेस की संभावना है और एचडी में

poster of professional jaye jo aapko career Counseling toh hoti hai roj karte hain uski beti bhi talent hai uske saath tab tak main aapko nahi jaanta hi transformer se unko samajh mein aa jata hai usi par coaching lete hain aur apni karte hain kuch nahi jata hai ki haan mujhe bhi check karna hai mujhe karna what ever block kar raha hai tu national par hoon aur agar phir bhi agar darshan karte hain koi bhi sarkari naukri ke liye jankari ko pata hai ki wah apni maa ka iklauta vaaris hai toh usko apne business ki sambhavna hai aur hd mein

पोस्टर आफ प्रोफेशनल जाए जो आपको करियर काउंसलिंग तो होती है रोज करते हैं उसकी बेटी भी टैलें

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  1119
WhatsApp_icon
user

Kaartik Gupta

Clinical Psychologist

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लाइटिंग बीकमिंग तब आना चाहिए कि आप जो प्रोसेसर प्रोसेशन में आंसर क्या होगा वह गेम रिजल्ट रिजल्ट हमेशा हमारे कंट्रोल में नहीं रहता बच्चों प्रांतिक है बस उसे देख लिया विशेष ध्यान दें कि आप को कंट्रोल में कोई चीज को मैनेज कर लिया और इसमें ऑन ए डेली बेसिस अपने छोटे-छोटे पार्टी पर छोटे छोटे दाने लैपटॉप पर काम करो काफी देर तक ट्राय टू डू द मुस्लिम पॉइंट्स

lighting bikming tab aana chahiye ki aap jo processor procession mein answer kya hoga vaah game result result hamesha hamare control mein nahi rehta baccho prantik hai bus use dekh liya vishesh dhyan de ki aap ko control mein koi cheez ko manage kar liya aur isme on a daily basis apne chote chhote party par chote chhote daane laptop par kaam karo kaafi der tak try to do the muslim points

लाइटिंग बीकमिंग तब आना चाहिए कि आप जो प्रोसेसर प्रोसेशन में आंसर क्या होगा वह गेम रिजल्ट र

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  591
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

2:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहेंगे आप इस सवाल का जवाब कैसे जान सकते देखिए क्या अगले 5 साल में भविष्य को किसी ने देखा नहीं है हो सकता है कि व्यक्ति काफी आगे चला जाए हो सकता है कि व्यक्ति काफी पीछे चल आजा इसलिए भविष्य को किसी ने देखा नहीं है लेकिन प्रत्येक व्यक्ति की इच्छा तो जरूर होती है कि मैं अच्छा इंसान बनो और काफी आगे पहुंचे मेरे जीवन के प्रत्येक क्षण सफलता से भरा हुआ हो तो इस सवाल का जवाब थोड़ा सा आधी रात अब तो है कि अगले साल में क्या बनना चाहते हो जैसी करनी वैसी भरनी जैसा कर्म करेंगे वैसा ही फल हमारे सामने आएंगे इसलिए अगर 5 साल का तारीख हम लेके चल रहा है तो हमेशा तत्पर उस तरह का प्रयास करना चैट पड़ेगा करना चाहिए जिससे मैं काफी जो वर्तमान में मेरा जीवन है तो 5 साल के जो जिंदगी होगी ओ मेरे अगले भविष्य की जीवन होगी जिंदगी होगी तो काफी व्यस्त रहने के बाद और काफी सजग रहने के बाद ही व्यक्ति 5 साल का टारगेट पूरा कर पाता है उसके लिए तन मन धन से बिल्कुल पंडितपुरा और उसके बारे में चिंतन करना परम आवश्यक हो जाएगा प्रयास करना परम आवश्यक हरछठ सफलता मिलती है तो व्यक्ति 5 साल में अपने आपको काफी ऊंचाइयों तक आता है अन्यथा फिर मुश्किल की बात होगी तो हर व्यक्ति के लिए यह होता है चाहत कि मैं अगले 5 साल में बहुत बड़ा आदमी बनो समाज का एक प्रतिष्ठित व्यक्ति बनो धन्यवाद

aapka question hai aap agle 5 varshon mein kya banna chahenge aap is sawaal ka jawab kaise jaan sakte dekhiye kya agle 5 saal mein bhavishya ko kisi ne dekha nahi hai ho sakta hai ki vyakti kaafi aage chala jaaye ho sakta hai ki vyakti kaafi peeche chal aajad isliye bhavishya ko kisi ne dekha nahi hai lekin pratyek vyakti ki iccha toh zaroor hoti hai ki main accha insaan bano aur kaafi aage pahuche mere jeevan ke pratyek kshan safalta se bhara hua ho toh is sawaal ka jawab thoda sa aadhi raat ab toh hai ki agle saal mein kya banna chahte ho jaisi karni vaisi bharani jaisa karm karenge waisa hi fal hamare saamne aayenge isliye agar 5 saal ka tarikh hum leke chal raha hai toh hamesha tatpar us tarah ka prayas karna chat padega karna chahiye jisse main kaafi jo vartaman mein mera jeevan hai toh 5 saal ke jo zindagi hogi o mere agle bhavishya ki jeevan hogi zindagi hogi toh kaafi vyast rehne ke baad aur kaafi sajag rehne ke baad hi vyakti 5 saal ka target pura kar pata hai uske liye tan man dhan se bilkul panditapura aur uske bare mein chintan karna param aavashyak ho jaega prayas karna param aavashyak harchath safalta milti hai toh vyakti 5 saal mein apne aapko kaafi unchaiyon tak aata hai anyatha phir mushkil ki baat hogi toh har vyakti ke liye yah hota hai chahat ki main agle 5 saal mein bahut bada aadmi bano samaj ka ek pratishthit vyakti bano dhanyavad

आपका क्वेश्चन है आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहेंगे आप इस सवाल का जवाब कैसे जान सकते द

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  832
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिट्टू इस दुनिया में हाथ पैर की बिछिया ना कोई आदर्शवादी व्यक्ति है तो वह कहेगा मैं अपने आपको कॉलेज का टॉप ऑफिसर बनाना चाहता हूं जो अपने सब्जेक्ट की मासी रखता है और उस टो सेटिस्फाई कर सकता है कौन सब्जेक्ट वेस्टवॉर्ड्स प्राप्त कर सकता है और यदि किसी उससे पूछना चाहेंगे तो वह कहेगा तो मैं पढ़ना चाहता हूं इस संसार में हर किसी की बच्चियां अलग है हर किसी की इच्छाएं अलग है यह सब संसार अपनी इच्छाओं के अनुसार चलता है और उसी के अनुसार ईबोक में जॉब ढूंढता है अब किसी लड़के या लड़की से पूछेंगे आप तो वह बताएगा कि मैं फिल्म वेस्टीज का टॉप हीरो बनना चाहता हूं अमिताभ बच्चन से भी ऊपर बिस्तर का टॉप हीरो बनना चाहता हूं किसी लड़की से पूछोगे तो वह अपने आप को कहेगी कि मैं माधुरी दीक्षित से भी टॉप स्तर की हीरोइन बनना चाहोगी तो यह दूसरी माधुरी दीक्षित बनना चाहूंगी या मैं किसी कॉलेज की अच्छी लक्ष्य सोना चाहूंगी जहां प्ले स्टोर को पढ़ाना है उनको सेटिस्फाई करना है उनके प्रश्नों के उत्तर देने हैं जहां पूर्व में अच्छा अच्छा ज्ञान वितरण करूंगी और अच्छे जॉब दिलाने में सहायता करोगी तो जीवन भर मेरा एहसान मानेंगे मेरे प्रति कृतज्ञ रहेंगे और यही मानवता का काम होता है

bittu is duniya mein hath pair ki bichhiya na koi aadarshvaadi vyakti hai toh vaah kahega main apne aapko college ka top officer banana chahta hoon jo apne subject ki maasi rakhta hai aur us toe satisfy kar sakta hai kaun subject westwards prapt kar sakta hai aur yadi kisi usse poochna chahenge toh vaah kahega toh main padhna chahta hoon is sansar mein har kisi ki bachchiyan alag hai har kisi ki ichhaen alag hai yah sab sansar apni ikchao ke anusaar chalta hai aur usi ke anusaar ibok mein job dhundhta hai ab kisi ladke ya ladki se puchenge aap toh vaah batayega ki main film vestige ka top hero bana chahta hoon amitabh bachchan se bhi upar bistar ka top hero bana chahta hoon kisi ladki se puchoge toh vaah apne aap ko kahegi ki main madhuri dixit se bhi top sthar ki heroine bana chahogi toh yah dusri madhuri dixit bana chahungi ya main kisi college ki achi lakshya sona chahungi jaha play store ko padhana hai unko satisfy karna hai unke prashnon ke uttar dene hain jaha purv mein accha accha gyaan vitaran karungi aur acche job dilaane mein sahayta karogi toh jeevan bhar mera ehsaan manenge mere prati kritagya rahenge aur yahi manavta ka kaam hota hai

बिट्टू इस दुनिया में हाथ पैर की बिछिया ना कोई आदर्शवादी व्यक्ति है तो वह कहेगा मैं अपने आप

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  12
WhatsApp_icon
user

J.P. Y👌g i

Psychologist

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

5 साल दूर पांच फल कोई खबर नहीं है यह समय ही बता देता है इस सवाल का जवाब सिर्फ समय और स्वरूप है और प्रत्यक्ष है बताने में कोई लाभ नहीं है

5 saal dur paanch fal koi khabar nahi hai yeh samay hi bata deta hai is sawal ka jawab sirf samay aur swaroop hai aur pratyaksh hai batane mein koi labh nahi hai

5 साल दूर पांच फल कोई खबर नहीं है यह समय ही बता देता है इस सवाल का जवाब सिर्फ समय और स

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  1108
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

8:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप का सवाल है कि आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं आपको कैसे पता चले गए भैया मैं आपको एक चीज बताना चाहता हूं जो लोग आईएएस की तैयारी करने जाते हैं यूपीएससी के दिल्ली या इलाहाबाद कहीं भी जाते हैं तो उनका लक्ष्य फिक्स होता है कि मुझे तैयारी करना है और मुझे आईएएस बनना है तो कोई कोई कोई कोई तो ऐसा होता है कि जिसका यूपी जिसका पीसीएस क्वालीफाई हो जाता है लेकिन उसके बाद भी वह 2 साल 3 साल के बाद भी तैयारी करता है बंदा कि मैं ऐसी बनूंगा तो उनका तो टारगेट फिक्स होता है कुछ लोग ऐसे होते हैं जो लक्ष्य विहीन हो कर चलते हैं तो वह कुछ भी बन सकते हैं उनका मुख्या बनेंगे आप सोच भी नहीं सकते मैं आपको देश के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का उदाहरण ले कर बताना चाहता हूं मोदी जी ऐसे बैकग्राउंड से आते थे जिनके परिवार के लोग राजनीति करो नहीं जानते थे कि रॉक का क्या मतलब होता है लेकिन वह मेहनत करते गए संघ की शाखा जाते थे संघ की शाखा में उन्होंने काम किया और फिर उसके बाद बीजेपी के छोटे-मोटे कार्यकर्ता बने पोस्टर पोस्टर चिपकाते थे भीड़ में नारा लगाते थे बैठते थे और धीरे-धीरे जब वह कहीं एक बार बोलने का उन्हें मौका दिया दिया गया तो उन्होंने बोला होगा तो लोगों ने उनको लाइक किया होगा धीरे-धीरे उनका वर्चस्व बढ़ा और वह अटल बिहारी वाजपेई भूतपूर्व प्रधानमंत्री जी के नजर में आए उसके बाद वह डा गुजरात के मुख्यमंत्री बनेगा मुख्यमंत्री बनने के बाद तो ऐसा वर्चस्व बढ़ा कि आज वह दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता हैं तो अगर आप कुछ सोचेंगे कि मैं यह बनूंगा अगर हो सकता है कि आप एक नंबर से फेल हो जाए तो पूरा दिल टूट जाता है सब कुछ टूट जाता है सब कुछ खत्म हो जाता है जब आप अपने आप में टूट जाएंगे ना तो आपको कोई खड़ा नहीं कर पाएगा तो बहुत सारे लोगों का लक्ष्य होता है तो लक्ष्य के पीछे भागते हैं अगर आपका कोई लक्ष्य नहीं है आप देखते होंगे कि आपके गांव परिवार में या घर में कोई बंदा ऐसा होगा जो समाज में बहुत इंटरेस्ट लेता है उसको घर परिवार से कोई मतलब नहीं है कोई ज्यादा संघ समाज में इंटरेस्ट लेता है समाज में कुछ पैसा रूपया खर्च करता है कुछ गरीबों के लिए काम करना चाहता है कोई बंदा ऐसा होगा कि जिसका दुनिया से कोई मतलब नहीं हो बस पढ़ने से मतलब रखता होगा तो उसका टारगेट फिक्स और कुछ लोग होते हैं जो बस राजनीति की बात करते हैं बस राजनीति की बात करते हैं आप साइन स्क्वायर थीटा प्लस कौस स्क्वायर थीटा इज इक्वल टू वन का गर्भपात मांगेंगे तो उसमें भी हो राज नीति को घुसा देंगे तो आप जान जाइए किन का इंटरेस्ट राजनीति में है और यह एक दिन राजनीति में बहुत बड़े शिखर पर पहुंच सकते हैं और लक्ष्मी होकर आज चल रहे हैं लेकिन कल इनका लक्ष्य निर्धारित हो जाएगा और जो ऐसे लोग होते हैं वह बहुत आगे बढ़ जाते हैं कुछ बंदे होते हैं ना बिजनेस में इंटरेस्ट होता है बचपन से ही अरे यार यह ऐसे करूंगा कैसे हो जाएगा वैसे करूंगा तो वैसे हो जाएगा ₹1 से ₹2 बनाने की कला आ जाती है उनके पास तो आप यह चीज जान लीजिए कि यह बंदा कल बहुत बड़ा बिजनेसमैन बनेगा जो बचपन से देखिए इंटरेस्ट देखा जाता है मैं आपको बताना चाहता हूं चाइना में चाइना में जो बच्चा बड़ा होता है ना तो उसके इंटरेस्ट को देखते हैं लोग किस किस टाइम किस तरह इसका इंटरेस्ट है इलेक्ट्रॉनिक चीज में इंटरेस्ट है खेलने कूदने में इंटरेस्ट है जिस चीज में जिस फील्ड में इंटरेस्ट होता है उसे फील्ड में वह उसको डालते हैं और वह उसी में अपना एजुकेशन या जो भी है करना है करता है यह शिक्षा पद्धति पहले हमारे देश की थी पहले तो 5 साल के बच्चों का एडमिशन ही नहीं होता था जब गुरुकुल चला करता था हमारे देश में तो 5 साल के बच्चों का एडमिशन नहीं होता तो उनको खेलने कूदने दिया जाता था 5 साल से 6 साल के हो गए बच्चे तो उनका एडमिशन होता था पड़ते थे अब बहुत किताब कापी उनको नहीं दे दिया जाता था कि बैग लेकर जा रहे हैं आज के डेट में तो कक्षा 2 3 के बच्चों को देखेंगे तो इतना किताब होता है कि देखकर टेंशन हो जाता है वह बच्चे पढ़ेंगे क्या तो बच्चे जब पास तो पढ़ाई कर लेते थे तो फिर उनका इंटरेस्ट देखा जाता था जिसका इंटरेस्ट इंजीनियरिंग फील्ड में है कि मेडिकल साइंस में है तो जिस फील्ड में इंटरेस्ट होता था कक्षा से से ग्रेजुएशन तक लगातार उसी फील्ड की पढ़ाई कराई जाती थी आज के डेट में इंजीनियरिंग की पढ़ाई होती है पढ़ा या कुछ और जाता है और फील्ड में कुछ और हो रहा होता है मात्र से 7 परसेंट बच्चे जो होते हैं जो प्रेक्टिकल अनुभव कर लेते हैं थोड़ा बहुत सब लोग नहीं कर पाते हैं और हम तो यह देखते हैं कि जो टॉपर बच्चे होते हैं जो बस थ्योरी लिखकर पास होते हैं उनको तो एकदम प्रेक्टिकल अनुभव नहीं हो पाता है किसी चीज का तो यह गलत है भैया जो फील्ड में हो रहा है वह हमको पढ़ाई है आप वही हमको काम देगा तो गलत शिक्षा व्यवस्था हो गया हमारे देश का यह शिक्षा व्यवस्था हमारे देश का जो खराब हुआ है अंग्रेजों ने खराब किया था उसके बाद स्ट इंडिया कंपनी आकर यहां पर हमारे देश पर शासन किया और हम लोग समझ नहीं पाए आज भी हमारा देश आपस में लड़ रहा है सब लोग इसके पीछे किसी ने किसी देश का हाथ होगा बाद में खुलासा होगा अभी नहीं होगा तो अगर आप का लक्ष्य निर्धारित है अपने लक्ष्य अगर आप अपने किसी फील्ड में जाना चाहते हो तो आप ठीक से रखो कि मुझे इसी फील्ड में जाना है जैसे मैं आपको बताना चाहता हूं मैंने इंजीनियरिंग किया हुआ है मैंने एमबीए किया हुआ है दैनिक कैड कैम भी किया हुआ है फ्रॉम सीटीटीसी भुवनेश्वर मैं मैं जॉब भी करता हूं लेकिन मेरा इंटरेस्ट पॉलिटिक्स में है और मैं सोशल टाइप का लड़का हूं शुरू से मेरा इंटरेस्ट उसे सब चीज में तुम्हें उसी फील्ड में जाऊंगा और उसी पिंड के लिए में सबसे अधिक मेहनत करता हूं और मेरा फिक्स है एकदम चाहे कुछ बने या ना बने लेकिन मैं जिंदगी भर जिंदगी में रहूंगा अगर आप आईएएस बनना चाहते हैं तो यह मान लीजिए कि मुझे आईएएस बनना है तो बनना है मुझे पीसीएसबी नहीं बनना है मुझे बस आईएएस बनना है अगर आपने बिजनेस में बिजनेस के बारे में सोचते हैं तो आप यह सोच लीजिए कि मुझे बिजनेस करना है मैं कुछ नहीं करूंगा नौकरी छोकरी कुछ नहीं करूंगा मैं बिजनेस करूंगा आई आई जो मुंबई का लड़का इस बार आईएस फर्स्ट रैंक लाया था उस लड़के ने दो करोड़ के पैकेज को ठोकर मारा मारा था दो करोड़ रुपए के पैकेज को उसने नहीं किया और वह यूपीएससी का तैयारी किया राजू आईएएस अधिकारी है तो आप घबराइए मत आपके अंदर अगर दम है तो आप किसी भी फील्ड में सफलता प्राप्त कर सकते हैं मेहनत करिए आपका लक्ष्य निर्धारित नहीं है तो उसको फिक्स करिए लक्ष्य अपने दिमाग को स्थिर रखें और उसके पीछे भागी भागी यह मत बोलिए और कोशिश करिए दिन रात एक कर कर पढ़ाई करिए मेहनत करिए कर्म करिए आपको सफलता अवश्य प्राप्त होगी धन्यवाद

aap ka sawaal hai ki aap agle 5 varshon mein kya bana chahte hai aapko kaise pata chale gaye bhaiya main aapko ek cheez bataana chahta hoon jo log IAS ki taiyari karne jaate hai upsc ke delhi ya allahabad kahin bhi jaate hai toh unka lakshya fix hota hai ki mujhe taiyari karna hai aur mujhe IAS bana hai toh koi koi koi koi toh aisa hota hai ki jiska up jiska pcs qualify ho jata hai lekin uske baad bhi vaah 2 saal 3 saal ke baad bhi taiyari karta hai banda ki main aisi banunga toh unka toh target fix hota hai kuch log aise hote hai jo lakshya vihin ho kar chalte hai toh vaah kuch bhi ban sakte hai unka mukhiya banenge aap soch bhi nahi sakte main aapko desh ke yashashvi pradhanmantri shri narendra modi ji ka udaharan le kar bataana chahta hoon modi ji aise background se aate the jinke parivar ke log raajneeti karo nahi jante the ki rock ka kya matlab hota hai lekin vaah mehnat karte gaye sangh ki shakha jaate the sangh ki shakha mein unhone kaam kiya aur phir uske baad bjp ke chote mote karyakarta bane poster poster chipkate the bheed mein naara lagate the baithate the aur dhire dhire jab vaah kahin ek baar bolne ka unhe mauka diya diya gaya toh unhone bola hoga toh logo ne unko like kiya hoga dhire dhire unka varchaswa badha aur vaah atal bihari vajpayee bhutpurv pradhanmantri ji ke nazar mein aaye uske baad vaah da gujarat ke mukhyamantri banega mukhyamantri banne ke baad toh aisa varchaswa badha ki aaj vaah duniya ke sabse lokpriya neta hai toh agar aap kuch sochenge ki main yah banunga agar ho sakta hai ki aap ek number se fail ho jaaye toh pura dil toot jata hai sab kuch toot jata hai sab kuch khatam ho jata hai jab aap apne aap mein toot jaenge na toh aapko koi khada nahi kar payega toh bahut saare logo ka lakshya hota hai toh lakshya ke peeche bhagte hai agar aapka koi lakshya nahi hai aap dekhte honge ki aapke gaon parivar mein ya ghar mein koi banda aisa hoga jo samaj mein bahut interest leta hai usko ghar parivar se koi matlab nahi hai koi zyada sangh samaj mein interest leta hai samaj mein kuch paisa rupya kharch karta hai kuch garibon ke liye kaam karna chahta hai koi banda aisa hoga ki jiska duniya se koi matlab nahi ho bus padhne se matlab rakhta hoga toh uska target fix aur kuch log hote hai jo bus raajneeti ki baat karte hai bus raajneeti ki baat karte hai aap sign square theta plus cos square theta is equal to van ka garbhpaat mangege toh usme bhi ho raj niti ko ghusa denge toh aap jaan jaiye kin ka interest raajneeti mein hai aur yah ek din raajneeti mein bahut bade shikhar par pohch sakte hai aur laxmi hokar aaj chal rahe hai lekin kal inka lakshya nirdharit ho jaega aur jo aise log hote hai vaah bahut aage badh jaate hai kuch bande hote hai na business mein interest hota hai bachpan se hi are yaar yah aise karunga kaise ho jaega waise karunga toh waise ho jaega Rs se Rs banane ki kala aa jaati hai unke paas toh aap yah cheez jaan lijiye ki yah banda kal bahut bada bussinessmen banega jo bachpan se dekhiye interest dekha jata hai aapko bataana chahta hoon china mein china mein jo baccha bada hota hai na toh uske interest ko dekhte hai log kis kis time kis tarah iska interest hai electronic cheez mein interest hai khelne koodne mein interest hai jis cheez mein jis field mein interest hota hai use field mein vaah usko daalte hai aur vaah usi mein apna education ya jo bhi hai karna hai karta hai yah shiksha paddhatee pehle hamare desh ki thi pehle toh 5 saal ke baccho ka admission hi nahi hota tha jab gurukul chala karta tha hamare desh mein toh 5 saal ke baccho ka admission nahi hota toh unko khelne koodne diya jata tha 5 saal se 6 saal ke ho gaye bacche toh unka admission hota tha padte the ab bahut kitab kapi unko nahi de diya jata tha ki bag lekar ja rahe hai aaj ke date mein toh kaksha 2 3 ke baccho ko dekhenge toh itna kitab hota hai ki dekhkar tension ho jata hai vaah bacche padhenge kya toh bacche jab paas toh padhai kar lete the toh phir unka interest dekha jata tha jiska interest Engineering field mein hai ki medical science mein hai toh jis field mein interest hota tha kaksha se se graduation tak lagatar usi field ki padhai karai jaati thi aaj ke date mein Engineering ki padhai hoti hai padha ya kuch aur jata hai aur field mein kuch aur ho raha hota hai matra se 7 percent bacche jo hote hai jo practical anubhav kar lete hai thoda bahut sab log nahi kar paate hai aur hum toh yah dekhte hai ki jo topper bacche hote hai jo bus theory likhkar paas hote hai unko toh ekdam practical anubhav nahi ho pata hai kisi cheez ka toh yah galat hai bhaiya jo field mein ho raha hai vaah hamko padhai hai aap wahi hamko kaam dega toh galat shiksha vyavastha ho gaya hamare desh ka yah shiksha vyavastha hamare desh ka jo kharab hua hai angrejo ne kharab kiya tha uske baad st india company aakar yahan par hamare desh par shasan kiya aur hum log samajh nahi paye aaj bhi hamara desh aapas mein lad raha hai sab log iske peeche kisi ne kisi desh ka hath hoga baad mein khulasa hoga abhi nahi hoga toh agar aap ka lakshya nirdharit hai apne lakshya agar aap apne kisi field mein jana chahte ho toh aap theek se rakho ki mujhe isi field mein jana hai jaise main aapko bataana chahta hoon maine Engineering kiya hua hai maine mba kiya hua hai dainik Cad kaim bhi kiya hua hai from CTTC bhubaneswar main main job bhi karta hoon lekin mera interest politics mein hai aur main social type ka ladka hoon shuru se mera interest use sab cheez mein tumhe usi field mein jaunga aur usi pind ke liye mein sabse adhik mehnat karta hoon aur mera fix hai ekdam chahen kuch bane ya na bane lekin main zindagi bhar zindagi mein rahunga agar aap IAS bana chahte hai toh yah maan lijiye ki mujhe IAS bana hai toh bana hai mujhe PCSB nahi bana hai mujhe bus IAS bana hai agar aapne business mein business ke bare mein sochte hai toh aap yah soch lijiye ki mujhe business karna hai kuch nahi karunga naukri chhokri kuch nahi karunga main business karunga I I jo mumbai ka ladka is baar ias first rank laya tha us ladke ne do crore ke package ko thokar mara mara tha do crore rupaye ke package ko usne nahi kiya aur vaah upsc ka taiyari kiya raju IAS adhikari hai toh aap ghabaraiye mat aapke andar agar dum hai toh aap kisi bhi field mein safalta prapt kar sakte hai mehnat kariye aapka lakshya nirdharit nahi hai toh usko fix kariye lakshya apne dimag ko sthir rakhen aur uske peeche bhaagi bhaagi yah mat bolie aur koshish kariye din raat ek kar kar padhai kariye mehnat kariye karm kariye aapko safalta avashya prapt hogi dhanyavad

आप का सवाल है कि आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं आपको कैसे पता चले गए भैया मैं आप

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  15
WhatsApp_icon
user

Vivek Shukla

Life coach

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मित्र मैं तो वैसे ही टीचर बनने का ख्वाब था क्योंकि मुझे बच्चों को पढ़ाना है फिर बच्चों से बहुत ही लगाव है मैं किसी को क्योंकि टीचर ही चाहता कि हर कोई पड़ी है हर कोई शिक्षा ले उसकी भावना भी बहुत लेट होती है मुझे हर बच्चों में अपने बच्चे जैसे नजर आते हैं फिर हर बच्चों को मैं बहुत ही प्यार करता हूं माने और मेरा नजर में हर लड़की या फिर लड़का बहुत ही सम्मान भाई जनक या फिर बहन जनक ना मैं मानता हूं और मैं सभी की इज्जत करता हूं तो मुझे लगता है कि मैं अपनी सच्ची भावना के साथ यदि टीचर बन जाऊं तो शायद कुछ अच्छे बच्चों को भविष्य फिर उज्जवल भविष्य के लिए बहुत ही ज्यादा सफलता उनके चित्र में तुम को सलाह दे सकता हूं इस वजह से मैं सरकारी टीचर बनना चाहता हूं इसलिए मन्नत की तैयारी कर रहा हूं लेकिन अभी कुछ पैसों की प्रॉब्लम की वजह से जाम नहीं दे पा रहा हूं लेकिन जहां तक है मुझे एक या 2 साल में सफलता जरूर मिल जाएगी अभी दुकान में प्राइवेट स्कूल में पढ़ा रहा हूं लेकिन मेरा ख्वाब है कि मैं सरकारी टीचर बनेगी या फिर सरकारी ना भी बन सकूं तो फिर भी मेरा इच्छा यही रहेगी कि मैं बच्चों को पढ़ाओ चाय प्राइवेट कॉलेज से प्राण मुझे यही चाहिए कि मैं बच्चों के सुंदर भविष्य के सपना देखना चाहता हूं या फिर अपने भारत देश के हर बच्चा शिक्षित हुए इस बात के लिए मैं बहुत ही बड़ा कदम उठाना चाहता हूं या फिर मैं खुद का भी स्कूल खोलने के फॉर्म में हूं ओके

lekin mitra main toh waise hi teacher banne ka khwaab tha kyonki mujhe baccho ko padhana hai phir baccho se bahut hi lagav hai kisi ko kyonki teacher hi chahta ki har koi padi hai har koi shiksha le uski bhavna bhi bahut late hoti hai mujhe har baccho mein apne bacche jaise nazar aate hain phir har baccho ko main bahut hi pyar karta hoon maane aur mera nazar mein har ladki ya phir ladka bahut hi sammaan bhai janak ya phir behen janak na main manata hoon aur main sabhi ki izzat karta hoon toh mujhe lagta hai ki main apni sachi bhavna ke saath yadi teacher ban jaaun toh shayad kuch acche baccho ko bhavishya phir ujjawal bhavishya ke liye bahut hi zyada safalta unke chitra mein tum ko salah de sakta hoon is wajah se main sarkari teacher bana chahta hoon isliye mannat ki taiyari kar raha hoon lekin abhi kuch paison ki problem ki wajah se jam nahi de paa raha hoon lekin jaha tak hai mujhe ek ya 2 saal mein safalta zaroor mil jayegi abhi dukaan mein private school mein padha raha hoon lekin mera khwaab hai ki main sarkari teacher banegi ya phir sarkari na bhi ban saku toh phir bhi mera iccha yahi rahegi ki main baccho ko padhao chai private college se praan mujhe yahi chahiye ki main baccho ke sundar bhavishya ke sapna dekhna chahta hoon ya phir apne bharat desh ke har baccha shikshit hue is baat ke liye main bahut hi bada kadam uthana chahta hoon ya phir main khud ka bhi school kholne ke form mein hoon ok

लेकिन मित्र मैं तो वैसे ही टीचर बनने का ख्वाब था क्योंकि मुझे बच्चों को पढ़ाना है फिर बच्च

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  462
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप पर्सनल अपने जीवन में क्या मिलना चाहते हैं आप अपने लक्ष्य को निर्धारित करें लक्ष्य को निर्धारित करके मेहनत कीजिए पसंद कीजिए आपको जरुर सफलता मिलेगी अधिक सोचे नहीं कृष्णन की ओर ध्यान दें ईमानदारी से कार्य करें आपको जरुर सफलता मिलेगी

aap personal apne jeevan mein kya milna chahte hain aap apne lakshya ko nirdharit kare lakshya ko nirdharit karke mehnat kijiye pasand kijiye aapko zaroor safalta milegi adhik soche nahi krishnan ki aur dhyan de imaandaari se karya kare aapko zaroor safalta milegi

आप पर्सनल अपने जीवन में क्या मिलना चाहते हैं आप अपने लक्ष्य को निर्धारित करें लक्ष्य को नि

Romanized Version
Likes  202  Dislikes    views  1367
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप तो बस में आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं आपकी सवाल का जवाब कैसे जान सकते हैं देखें उड़ान वही भरते हैं जिनके हौसलों में जान होती है ऐसा कहा जाता है जिनके अंदर मजबूत पक्का इरादा है आगे बढ़ने की और हर पल हर क्षण अल्पकालिक लक्ष्य प्राप्त करने के बाद लक्ष्मी प्राप्त करने में लग जाते हैं अगर आपने अपने मध्यकालीन का कोई पता चलेगा जिसके अंदर विघ्न होगा जो आगे की सोच लेगा यह भविष्य के बारे में सोचेगा और उसको वर्तमान में उसकी योजना का आधार बनाएगा वही आगे बढ़ सकता है और दिल के अंदर है सन होता है अपने सिस्टम कैसे बैकअप करते हैं ऐसे लोग 305 साल में जो भी लड़ाई करते हैं

aap toh bus me aap agle 5 varshon me kya banna chahte hain aapki sawaal ka jawab kaise jaan sakte hain dekhen udaan wahi bharte hain jinke hausalon me jaan hoti hai aisa kaha jata hai jinke andar majboot pakka irada hai aage badhne ki aur har pal har kshan alpakalik lakshya prapt karne ke baad laxmi prapt karne me lag jaate hain agar aapne apne madhyakalin ka koi pata chalega jiske andar vighn hoga jo aage ki soch lega yah bhavishya ke bare me sochega aur usko vartaman me uski yojana ka aadhar banayega wahi aage badh sakta hai aur dil ke andar hai san hota hai apne system kaise backup karte hain aise log 305 saal me jo bhi ladai karte hain

आप तो बस में आप अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं आपकी सवाल का जवाब कैसे जान सकते हैं

Romanized Version
Likes  194  Dislikes    views  1413
WhatsApp_icon
user

Abhishek singh

(CONSULTANT AND ADVISOR) CS AND LAW STUDENT

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगले 5 साल में आप क्या बनना चाहते हैं सेवर पता करता ना तो सिंपल एक ही नहीं है अपने केयर्न इलाइट करना सीखो जैसे जैसे अपने को एनालाइज करने लगोगे ना किस प्लेटफार्म पर आप जा रहे हो क्या तारीख है क्या आपका गोल है आपको खुद ही पता चल जाएगा मैं तो यह कहता हूं अब दिल्ली पांच से 10 मिनट कहीं शांत जगह अपने को एनालाइज करें कि मेरे पास क्या इस तरह अंत है क्या वीकनेस से अपने को महसूस करो जिस दिन अपने से बात करना स्टार्ट कर देंगे ना आप लाइफ में हर चीज अजीब कर सकते हैं

agle 5 saal mein aap kya banna chahte hain sevar pata karta na toh simple ek hi nahi hai apne cairn ilait karna sikho jaise jaise apne ko analyse karne lagoge na kis platform par aap ja rahe ho kya tarikh hai kya aapka gol hai aapko khud hi pata chal jaega main toh yah kahata hoon ab delhi paanch se 10 minute kahin shaant jagah apne ko analyse kare ki mere paas kya is tarah ant hai kya weakness se apne ko mehsus karo jis din apne se baat karna start kar denge na aap life mein har cheez ajib kar sakte hain

अगले 5 साल में आप क्या बनना चाहते हैं सेवर पता करता ना तो सिंपल एक ही नहीं है अपने केयर्न

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  156
WhatsApp_icon
user

Rinku Kumar Meena

managing director (MD)life expert hindi writer tourist guides writing self employed मैं चाहता हूं हर व्यक्ति को अपने जीवन में खुश रहने का पूरा अधिकार है चाहे वह लड़का या लड़की और वह जो चाहे कर सकती अपनी लाइफ से उसका भी अधिकार होना चाहिए और मैं चाहता हूं लड़कियां भी अपना जीवन पूरी तरीके से खुश हो कर दिया चाहे वह अपने परिवार में हो या ससुराल में विश्वास करता हूं

2:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पीटी बिल्कुल अपने अगले 5 वर्षों के बारे में बिल्कुल बता सकते और मैं कहूंगा कि मैं तो अपने अगले 4050 बच्चों के बारे में पूरा डेटा बेस बता सकता केवल अपनी मौत आने का इंतजार करें तुम्हें कहना चाहूंगा कि हर व्यक्ति के पास अपने फूल होना चाहिए छोटे-छोटे कार्टून हमें 7 दिन में अच्छी करना है इतने दिनों में यह करना ओके अगर एकदम आप पटाखों से टाइप कर लोगे फिर आपको उसे जितनी जितना टाइम होता जाएगा तुलसीदास और क्या बनना चाहते हैं कंप्यूटर एक्सपर्ट बनना चाहते हैं और उनकी कंपनी ने लोगों को रोजगार 10 लोगों के लिए जो ऐसे लोगों की सहायता नहीं कर मुक्त छोटे बच्चे जो शादी में और कुछ बनना चाहती हूं करना चाहती तो मैंने अपने करियर के 40 से 50 का पूरा टाइम टू टाइम क्या करना है कैसे हो सब कुछ होना चाहिए और

PT bilkul apne agle 5 varshon ke bare mein bilkul bata sakte aur main kahunga ki main toh apne agle 4050 baccho ke bare mein pura data base bata sakta keval apni maut aane ka intejar karein tumhe kehna chahunga ki har vyakti ke paas apne fool hona chahiye chote chhote cartoon humein 7 din mein acchi karna hai itne dinon mein yeh karna ok agar ekdam aap patakhon se type kar loge phir aapko use jitni jitna time hota jayega tulsidas aur kya banana chahte hain computer expert banana chahte hain aur unki company ne logo ko rojgar 10 logo ke liye jo aise logo ki sahayta nahi kar mukt chote bacche jo shadi mein aur kuch banana chahti hoon karna chahti toh maine apne career ke 40 se 50 ka pura time to time kya karna hai kaise ho sab kuch hona chahiye aur

पीटी बिल्कुल अपने अगले 5 वर्षों के बारे में बिल्कुल बता सकते और मैं कहूंगा कि मैं तो अपने

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  342
WhatsApp_icon
user

Mohit Chouksey

Business Coach at MLM

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपका क्वेश्चन जो है वह किसी भी व्यक्ति से है तो मैं अगर अपने लिए कहना चाहूंगा कि अगले 5 साल का मेरा का टारगेट है तो अगले 5 साल का मेरे ही टारगेट है क्या वैसे जो मेरे टारगेट चलाते हैं वह हर साल के रहते हैं कुछ ना कुछ के इस साल में मुझे इतना करना उस साल में मुझे इतना करना तो अगले जो अगर मैं आपको 5 साल के टारगेट शेयर करना चाहूंगा कि अगले 5 साल में मेरी तो अभी सिचुएशन और जो मेरी पोजीशन है मेरे जो भी मेरा काम है उसमें मैं यह चाहता हूं कि उसमें अपना अगले 5 साल में मैं अपनी एक बहुत अच्छी छवि बना पाऊं और मेरा जो अभी लेवल है उससे कम से कम डब्लू ट्रिपल पर मेरा हूं और लोग मुझे जाने और वहां में अपना मतलब बेस्ट देता हूं जो भी मेरा भी फर्क है उसमें और दूसरा मैं जो अपना काम करता हूं उसमें बजे मुझे बहुत ज्यादा खुशी मिलती है तो आगे असली में उसमें बहुत अच्छे से कर रहा हूं और आगे भी चल कर मैं यह चाहूंगा कि उसको मैं बहुत अच्छा परफॉर्म करता हूं और उसमें 5 इयर्स के बाद लोग मुझे उसका हमसे जाने मेरे उस काम के लिए मुझे अप्रिशिएट करें ठीक है तो यह मेरा अगले 5 साल का टारगेट है थैंक यू

dekhiye aapka question jo hai vaah kisi bhi vyakti se hai toh main agar apne liye kehna chahunga ki agle 5 saal ka mera ka target hai toh agle 5 saal ka mere hi target hai kya waise jo mere target chalte hain vaah har saal ke rehte hain kuch na kuch ke is saal mein mujhe itna karna us saal mein mujhe itna karna toh agle jo agar main aapko 5 saal ke target share karna chahunga ki agle 5 saal mein meri toh abhi situation aur jo meri position hai mere jo bhi mera kaam hai usme main yah chahta hoon ki usme apna agle 5 saal mein main apni ek bahut achi chhavi bana paun aur mera jo abhi level hai usse kam se kam w triple par mera hoon aur log mujhe jaane aur wahan mein apna matlab best deta hoon jo bhi mera bhi fark hai usme aur doosra main jo apna kaam karta hoon usme baje mujhe bahut zyada khushi milti hai toh aage asli mein usme bahut acche se kar raha hoon aur aage bhi chal kar main yah chahunga ki usko main bahut accha perform karta hoon aur usme 5 years ke baad log mujhe uska humse jaane mere us kaam ke liye mujhe aprishiet kare theek hai toh yah mera agle 5 saal ka target hai thank you

देखिए आपका क्वेश्चन जो है वह किसी भी व्यक्ति से है तो मैं अगर अपने लिए कहना चाहूंगा कि अगल

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  16
WhatsApp_icon
user

Mehmood Alum

Law Student

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगले 5 वर्ष मेरी जिंदगी के साथ सबसे महत्वपूर्ण होने वाले हैं इस सवाल का जवाब क्या होगा मैं तो नहीं बता सकता लेकिन मैं अपने गोल को अचीव करने में पूरी ताकत लगा दूंगा

agle 5 varsh meri zindagi ke saath sabse mahatvapurna hone wale hain is sawal ka jawab kya hoga main toh nahi bata sakta lekin main apne gol ko achieve karne mein puri takat laga dunga

अगले 5 वर्ष मेरी जिंदगी के साथ सबसे महत्वपूर्ण होने वाले हैं इस सवाल का जवाब क्या होगा मैं

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  324
WhatsApp_icon
user

Nakul✨

Student

1:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुधीर कि इस सवाल का जवाब बहुत आसान होगा आप अपने इंटरेस्ट पर काम करना स्टार्ट कीजिए बहुत सारी जगह पर आपकी चीपेस्ट सोते हैं और मैं भी इस इट्स मिनिमम 503 से तो कोई एप्टिट्यूड टेस्ट होता है नहीं है ₹5 के जहां पर आप भी दे सकते हैं वहां दीजिए और जिनका कर होता है इंजीनियरिंग होती है साइंस साइंस में करियर होता है बहुत सारी फील से आज ट्रेनिंग फॉर सेंचुरी में 50 से ज्यादा करियर ऑप्शन आपको मिल जाते हैं हर फील्ड में मिनिमम 50 से ज्यादा ऑप्शंस उनमें से बहुत सारे इनमें से कोई एक में एक तो ऐसा होगा जिसमें आपको इंटरेस्ट होगा तो पोस्टर फॉर लाफ आलोक्लिप रायबरेली मतलब घर पर काम करना शुरू की थी आपने इंटरेस्ट को ऐड कीजिए कि इंटरेस्ट क्या है इसके लिए आपको ज्यादा टाइम नहीं लगाना है मिनिमम एक हफ्ता या मैक्सिमम 2 हफ्ते 2 हफ्ते में आप अपने इंटरेस्ट पर काम कीजिए आई डोंट नो कि आप अगर टेंशन में है तो आपने पोस्ट पर टेन स्टैंडर्ड तक आपको तो पता चलेगा कि आपका इंटरेस्ट किस तरफ है तो अगर आप को अब तक नहीं पता चला है तो आगे से करियर काउंसलर भी आपकी मदद कर सकता है आपकी इंटरेस्ट को बताने में और फिर आपकी ड्यूटी तो पता चल ही जाएगा कि आपका इंटरेस्ट किस तरफ है तो आईएस तो फिर अगले 5 साल में आपको क्या करना है और सुना टिकली डिसाइड हो जाएगा

sudheer ki is sawal ka jawab bahut aasaan hoga aap apne interest par kaam karna start kijiye bahut saree jagah par aapki cheapest sote hain aur main bhi is its minimum 503 se toh koi aptitude test hota hai nahi hai Rs ke jaha par aap bhi de sakte hain wahan dijiye aur jinka kar hota hai Engineering hoti hai science science mein career hota hai bahut saree feel se aaj training for century mein 50 se zyada career option aapko mil jaate hain har field mein minimum 50 se zyada options unmen se bahut saare inmein se koi ek mein ek toh aisa hoga jisme aapko interest hoga toh poster for laugh aloklip raebareli matlab ghar par kaam karna shuru ki thi aapne interest ko aid kijiye ki interest kya hai iske liye aapko zyada time nahi lagana hai minimum ek hafta ya maximum 2 hafte 2 hafte mein aap apne interest par kaam kijiye I dont no ki aap agar tension mein hai toh aapne post par ten standard tak aapko toh pata chalega ki aapka interest kis taraf hai toh agar aap ko ab tak nahi pata chala hai toh aage se career counselor bhi aapki madad kar sakta hai aapki interest ko batane mein aur phir aapki duty toh pata chal hi jayega ki aapka interest kis taraf hai toh ias toh phir agle 5 saal mein aapko kya karna hai aur suna tikli decide ho jayega

सुधीर कि इस सवाल का जवाब बहुत आसान होगा आप अपने इंटरेस्ट पर काम करना स्टार्ट कीजिए बहुत सा

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  15
WhatsApp_icon
user

Chirag Dave

Private Job

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं अगले 5 वर्ष में बिजनेसमैन बनना चाहता हूं और इस सवाल का जवाब इसलिए देने दे दो क्योंकि मैं बिजनेसमैन बनने के लिए मेहनत भी कर रहा हूं पर यह मेरी मेहनत सफल होगी 5 वर्षों के अंदर

main agle 5 varsh me bussinessmen banna chahta hoon aur is sawaal ka jawab isliye dene de do kyonki main bussinessmen banne ke liye mehnat bhi kar raha hoon par yah meri mehnat safal hogi 5 varshon ke andar

मैं अगले 5 वर्ष में बिजनेसमैन बनना चाहता हूं और इस सवाल का जवाब इसलिए देने दे दो क्योंकि म

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  86
WhatsApp_icon
user

Namrata

Student

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम तो अगले 5 सालों में अपने आगे वाले क्लास में टॉपर बनना चाहते हैं क्योंकि क्योंकि अभी मैं एक में हूं बैंक में जाऊंगी रेंट पे सपना है मेरा लक्ष्य है मैं यही चाहती हूं आगे 5 सालों में धन्यवाद

hum toh agle 5 salon mein apne aage wale class mein topper banana chahte hain kyonki kyonki abhi main ek mein hoon bank mein jaungi rent pe sapna hai mera lakshya hai yahi chahti hoon aage 5 salon mein dhanyavad

हम तो अगले 5 सालों में अपने आगे वाले क्लास में टॉपर बनना चाहते हैं क्योंकि क्योंकि अभी मैं

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  495
WhatsApp_icon
user

123

HAR.BIMARI.KA.ILAJ.DESI

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

1 सालों के बाद में कुछ नहीं बन सकता बशर्ते यह है कि आदमी अपने कर्म सुधारे करण का मतलब यह है अब जैसे कि गांव में देखा है लोगों ने और फिल्मों में दिखाते हैं कि किसी ने गाड़ी खरीद ली तो उसको बर्बाद करने की सोचो किसी की अच्छी शादी हो गई पैसा आ गया उसे बर्बाद करने की सोचने आदमी गलत सोच अमेरिकन मतलब यह है कि अब जैसे कि को तुम्हारे सामने मालदार आदमी आ गया आपके मन में हो चेन्नई कमाई मेल काश मालदार होता तो उस पर ईश्वर ने कहा है कि तुझे कुछ करने की जरूरत नहीं है बस तुम मेहनत कर देना मेरा काम है तो तुम मेहनत करो 5 साल की उम्र 4 साल में बन जाओगे और करोगे

1 salon ke baad mein kuch nahi ban sakta basharte yeh hai ki aadmi apne karm sudhare karan ka matlab yeh hai ab jaise ki gaon mein dekha hai logo ne aur filmo mein dikhate hain ki kisi ne gaadi kharid li toh usko barbad karne ki socho kisi ki acchi shadi ho gayi paisa aa gaya use barbad karne ki sochne aadmi galat soch american matlab yeh hai ki ab jaise ki ko tumhare saamne maldar aadmi aa gaya aapke man mein ho Chennai kamai male kash maldar hota toh us par ishwar ne kaha hai ki tujhe kuch karne ki zarurat nahi hai bus tum mehnat kar dena mera kaam hai toh tum mehnat karo 5 saal ki umar 4 saal mein ban jaoge aur karoge

1 सालों के बाद में कुछ नहीं बन सकता बशर्ते यह है कि आदमी अपने कर्म सुधारे करण का मतलब यह ह

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  442
WhatsApp_icon
user

MOHIT KUMAR

COMPANY WORKER

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे कि क्वेश्चन में लिखा हुआ है कि आप अगले 5 सालों में मतलब बनना चाहोगे तो यह हमारे ऊपर डिपेंड करता है कि हम कौन से देवी को पर कौन सी लेवल पर जाना चाहते हैं और आखिर वह कौन सा खेल है जिस को पसंद करते हैं और उसमें सफलता प्रदान करना चाहते हैं यह हमारे ऊपर डिपेंड करता है कि आखिर अमित भल्ला क्या है क्योंकि 5 सालों में या इससे कम सालों में इंसान किसी फील्ड को इसी फील्ड तक जा सकता है और वह उसको प्राप्त कर सकता है यह मेरा मानना है धन्यवाद

jaise ki question mein likha hua hai ki aap agle 5 salon mein matlab banana chahoge toh yeh hamare upar depend karta hai ki hum kaunsi devi ko par kaun si level par jana chahte hain aur aakhir wah kaun sa khel hai jis ko pasand karte hain aur usme safalta pradan karna chahte hain yeh hamare upar depend karta hai ki aakhir amit bhalla kya hai kyonki 5 salon mein ya isse kam salon mein insaan kisi field ko isi field tak ja sakta hai aur wah usko prapt kar sakta hai yeh mera manana hai dhanyavad

जैसे कि क्वेश्चन में लिखा हुआ है कि आप अगले 5 सालों में मतलब बनना चाहोगे तो यह हमारे ऊपर ड

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  80
WhatsApp_icon
user
1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम अपने अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं इस बात पर डिपेंड करता है कि हमने पहले क्या किया और प्रजेंट में हमारी कंडीशन क्या चल रही है जो हमने फास्ट में क्या हम देखते हैं कि आज हमें उसका क्या रिजल्ट मिल रहा है और आगे की प्लानिंग हम उसी बेस पर कर सकते हैं यह 5 वर्ष की बात नहीं है हम अपनी पूरी लाइफ भी इसी बात पर पेंट कर सकते हैं कि अब तक जो मैंने किया वह क्या किया और अब इसका क्या बकता भुगत रहा हूं मैं तो अगले 5 वर्ष में मैं सोचती हूं कि हमें वह करना चाहिए या फिर वह बनना चाहिए जो कोई ना बने कोई ऐसी राह निकालनी चाहिए जिसमें कोई ना चलाओ और हां अच्छी हो बुरी तो बिल्कुल भी ना हो क्योंकि आज के दुनिया में बुरा होना हर किसी के लिए एक सिंपल बात है और कोई बुरा होता है और बुरा ही हम भी होते हैं हमारे अंदर एक नई बुराई तो जरूर होती है तो उस बुराई को ही खत्म करने की बात ठान ले अगले 5 वर्षों में हम यह सोचे कि हमारे अंदर जो बड़ा ही हम उनको कम से कम हम उनको कम से कम करने की कोशिश करेंगे यह प्रैक्टिस करेंगे कि वह कम हो जाए

hum apne agle 5 varshon mein kya banana chahte hain is baat par depend karta hai ki humne pehle kya kiya aur present mein hamari condition kya chal rahi hai jo humne fast mein kya hum dekhte hain ki aaj humein uska kya result mil raha hai aur aage ki planning hum usi base par kar sakte hain yeh 5 varsh ki baat nahi hai hum apni puri life bhi isi baat par paint kar sakte hain ki ab tak jo maine kiya wah kya kiya aur ab iska kya bakata bhugat raha hoon main toh agle 5 varsh mein main sochti hoon ki humein wah karna chahiye ya phir wah banana chahiye jo koi na bane koi aisi raah nikaalanee chahiye jisme koi na chalao aur haan acchi ho buri toh bilkul bhi na ho kyonki aaj ke duniya mein bura hona har kisi ke liye ek simple baat hai aur koi bura hota hai aur bura hi hum bhi hote hain hamare andar ek nayi burayi toh zaroor hoti hai toh us burayi ko hi khatam karne ki baat than le agle 5 varshon mein hum yeh soche ki hamare andar jo bada hi hum unko kam se kam hum unko kam se kam karne ki koshish karenge yeh practice karenge ki wah kam ho jaye

हम अपने अगले 5 वर्षों में क्या बनना चाहते हैं इस बात पर डिपेंड करता है कि हमने पहले क्या क

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  461
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह तो कोई नहीं बता सकता कि हम आने वाले समय में क्या करेंगे क्या नहीं करेंगे यह कुछ समय तक आ सकता है कि हम आगे जाकर क्या बनेंगे क्या नहीं कर सकते क्या कर सकते हैं शायद हम आज है कल रहे ना रहे इसलिए हमें आगे के बारे में नहीं सोचना चाहिए ज्यादा लंबा नहीं सोचना चाहिए हमसे जितना हो सके उतना ही सोचना चाहिए

yeh toh koi nahi bata sakta ki hum aane wale samay mein kya karenge kya nahi karenge yeh kuch samay tak aa sakta hai ki hum aage jaakar kya banenge kya nahi kar sakte kya kar sakte hain shayad hum aaj hai kal rahe na rahe isliye humein aage ke bare mein nahi sochna chahiye zyada lamba nahi sochna chahiye humse jitna ho sake utana hi sochna chahiye

यह तो कोई नहीं बता सकता कि हम आने वाले समय में क्या करेंगे क्या नहीं करेंगे यह कुछ समय तक

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  16
WhatsApp_icon
user

Er Jaisingh

Mathematics Solution, 1:00PM TO 2:00PM

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं अगले 5 वर्षों के अंदर विदेश जाना चाहता हूं वही रहने की सोच रहा हूं कि वही पर निवास करो 5 साल तक मेरी आयु 65 वर्ष की हो चुकी है मैं सोच रहा हूं कि 70 साल तक वहीं रहो

main agle 5 varshon ke andar videsh jana chahta hoon wahi rehne ki soch raha hoon ki wahi par niwas karo 5 saal tak meri aayu 65 varsh ki ho chuki hai soch raha hoon ki 70 saal tak wahi raho

मैं अगले 5 वर्षों के अंदर विदेश जाना चाहता हूं वही रहने की सोच रहा हूं कि वही पर निवास करो

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  170
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
आप पाँच सालों में अपने आप को कहां देखते हैं ; aap kya banna chahte hain ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!