आपके अनुसार सबसे अच्छे प्रेरक भाषण कौन से हैं? कुछ बताएँ ँ?...


user

Dr. Parul Adlakha

Clinical Psychologist

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोटिवेशनल स्पीच तो बहुत सारी है ऐसे तो बताना तो मुश्किल हो जाता है लेकिन कई लोगों को क्या होता है ना कहीं जैसे जैसे आप गुजरात होते हैं उस टाइम आप जो सुन रहे होते हैं कोई आपको आपको लगे कि हमारा मेंटली जैसा चल रहा होता है हम भी उसे वक्त इसको देख रहे होते वक़्त लग रही है अच्छी लग रही है

Motivational speech toh bahut saree hai aise toh bataana toh mushkil ho jata hai lekin kai logo ko kya hota hai na kahin jaise jaise aap gujarat hote hain us time aap jo sun rahe hote hain koi aapko aapko lage ki hamara mentally jaisa chal raha hota hai hum bhi use waqt isko dekh rahe hote waqt lag rahi hai achi lag rahi hai

मोटिवेशनल स्पीच तो बहुत सारी है ऐसे तो बताना तो मुश्किल हो जाता है लेकिन कई लोगों को क्या

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  406
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Kavita

Writer

1:58

Likes  9  Dislikes    views  294
WhatsApp_icon
user

Bhavin J. Shah

Life Coach

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

26 में स्टीव जॉब्स स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में अपनी लाइफ का 69 बेस्ट लेक्चर दिया था उसमें उन्होंने बहुत सारी बातें बताई थी जिसमें एक बात यह थी कि याद रखो क्या बहुत जल्द मर जाने वाले हो लड़के बड़े डिसीजन लेने में आपको सबसे ज्यादा मददगार होगा और दूसरा मुझे जो लेक्चर अच्छा लगा है वह जे के रोलिंग 2008 में उन्होंने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में स्पीच की थी उन्होंने कहा कि आप अगर फेल होते हो तो आप बहुत जमीन से ऊपर उठ पाओगे जीवन में हो तो क्या फल ही नहीं होगी तो आप बाय डिफॉल्ट फेल हो यह दोनों भाषा में से हैं जिन्होंने मेरे जीवन में बहुत सकारात्मक परिवर्तन किया है थैंक यू

26 mein steve jobs stanford university mein apni life ka 69 best lecture diya tha usme unhone bahut saree batein batai thi jisme ek baat yah thi ki yaad rakho kya bahut jald mar jaane waale ho ladke bade decision lene mein aapko sabse zyada madadgaar hoga aur doosra mujhe jo lecture accha laga hai vaah je ke rolling 2008 mein unhone Harvard university mein speech ki thi unhone kaha ki aap agar fail hote ho toh aap bahut jameen se upar uth paoge jeevan mein ho toh kya fal hi nahi hogi toh aap bye default fail ho yah dono bhasha mein se hain jinhone mere jeevan mein bahut sakaratmak parivartan kiya hai thank you

26 में स्टीव जॉब्स स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में अपनी लाइफ का 69 बेस्ट लेक्चर दिया था उसमें उ

Romanized Version
Likes  62  Dislikes    views  536
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

3:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पार्टी चुन्नी तक उन्हें राजनीति में दो प्रकार के भाषण करते हैं वह लोग और तू अधिकांश ऐसे धार्मिक उन्मादी नेताओं का है जो जनता को भड़का हुआ सिम देखते हैं धार्मिक उन्माद फैलाते हैं और धार्मिक उन्माद ओं के परिणाम स्वरुप विभिन्न धर्मावलंबियों को आपस में लड़ आते हैं और ना करके अपनी बुद्धि दे करते हैं यह खुदगर्ज है स्वार्थी है झूठे चालाक है ऐसे नेता अधिकांश मोस्टली जो अपनी वोटों की राजनीति करते हैं खुदगर्जी के स्वार्थ से भरी हुई राजनीति है ऐसे नेता धार्मिक उन्मादी भाषण करते हैं आज दूसरी बार उन नेताओं का है जो विचारे उदारवादी हैं जो भाईचारे में बिलीव करते हैं जो मानव को मानव से मिलाते हैं जो आपस की भाइयों को दरारों को पाटने का काम करते हैं जो सामंजस्य पूर्ण विवेकपूर्ण भाषण देते हैं और जनता के समाज सुधार का या मार्गदर्शन का कार्य करते हैं रीजन विदेशी राष्ट्रभक्ति से परिपूर्ण हैं देशभक्त हैं देश के प्रति निष्ठावान हैं ऐसी वर्क वाली नेताओं का जो लोग वर्ग है वह बहुत कम है वह आदर्श नेता के लाते हैं और प्रबुद्ध वर्ग अधिकांश ऐसे नेताओं का ही अन्याय अन्याय होते हैं उनके विचारों को ही सद्विचार मानते हैं उनके मार्गदर्शन पर ही प्रबुद्ध वर्ग और पढ़े-लिखे क्वालिफाइड लोग चलते हैं जैसी आप कहेंगे डॉक्टर अब्दुल कलाम साहब को भाषण दीजिए बड़े उदार सामान जिस भाई को भाईचारा परिपूर्ण टाइम से भरे हुए लोगों को जन हितेषी में भाषण दिया करते थे अच्छा दूसरे लाल बहादुर शास्त्री जी को कह सकते हैं आप स्वामी विवेकानंद जी के भाषणों को देखिए आप स्वामी दयानंद सरस्वती के भाषणों को देखिए आप उन्होंने हमेशा समाज को रास्ता दिखाने वाले देश के हितकारी देश के विकास में सहायक लोगों का आपस में मिलाने वाले सामंजस्य पूर्ण संवेदना के सहानुभूति के प्रेम के त्याग से भरे हुए भाषण दिए थे उन्होंने जनता को लड़ा नहीं था ऐसे आदर्शवादी भाषण हैं जो जनता के आप ऐसे भाषणों में ही आप कह सकते हैं महान उदारवादी जैसे मदर टेरेसा को कभी बोलने का मौका मिला हो तो मदर टेरेसा की शब्द सुने आप उन्होंने दलों को जोड़ा था उन्होंने दिखाइए धार्मिक उन्मादी स्वार्थी खुदगर्ज नेताओं की तरह उन्होंने जनता को कभी लड़ाया नहीं होता

party chunni tak unhe raajneeti mein do prakar ke bhashan karte hain vaah log aur tu adhikaansh aise dharmik unmadi netaon ka hai jo janta ko bhadaka hua sim dekhte hain dharmik unmaad failate hain aur dharmik unmaad on ke parinam swarup vibhinn dharmavalambiyon ko aapas mein lad aate hain aur na karke apni buddhi de karte hain yah khudagarj hai swaarthi hai jhuthe chalak hai aise neta adhikaansh Mostly jo apni voton ki raajneeti karte hain khudagarji ke swarth se bhari hui raajneeti hai aise neta dharmik unmadi bhashan karte hain aaj dusri baar un netaon ka hai jo vichare udarvaadi hain jo bhaichare mein believe karte hain jo manav ko manav se milaate hain jo aapas ki bhaiyo ko dararon ko patne ka kaam karte hain jo samanjasya purn vivekpurn bhashan dete hain aur janta ke samaj sudhaar ka ya margdarshan ka karya karte hain reason videshi rashtra bhakti se paripurna hain deshbhakt hain desh ke prati nisthawan hain aisi work wali netaon ka jo log varg hai vaah bahut kam hai vaah adarsh neta ke laate hain aur prabuddh varg adhikaansh aise netaon ka hi anyay anyay hote hain unke vicharon ko hi sadwichar maante hain unke margdarshan par hi prabuddh varg aur padhe likhe qualified log chalte hain jaisi aap kahenge doctor abdul kalam saheb ko bhashan dijiye bade udaar saamaan jis bhai ko bhaichara paripurna time se bhare hue logo ko jan hiteshi mein bhashan diya karte the accha dusre laal bahadur shastri ji ko keh sakte hain aap swami vivekananda ji ke bhashano ko dekhiye aap swami dayanand saraswati ke bhashano ko dekhiye aap unhone hamesha samaj ko rasta dikhane waale desh ke hitkari desh ke vikas mein sahayak logo ka aapas mein milaane waale samanjasya purn samvedana ke sahanubhuti ke prem ke tyag se bhare hue bhashan diye the unhone janta ko lada nahi tha aise aadarshvaadi bhashan hain jo janta ke aap aise bhashano mein hi aap keh sakte hain mahaan udarvaadi jaise mother teresa ko kabhi bolne ka mauka mila ho toh mother teresa ki shabd sune aap unhone dalon ko joda tha unhone dikhaaiye dharmik unmadi swaarthi khudagarj netaon ki tarah unhone janta ko kabhi ladaya nahi hota

पार्टी चुन्नी तक उन्हें राजनीति में दो प्रकार के भाषण करते हैं वह लोग और तू अधिकांश ऐसे धा

Romanized Version
Likes  181  Dislikes    views  2469
WhatsApp_icon
user

Akshat Chowdhury

Clinical Psychologist

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैपिटल ऑफ मेघालय

capital of meghalaya

कैपिटल ऑफ मेघालय

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  531
WhatsApp_icon
play
user

Mohini

Voice Artist

1:09

Likes  14  Dislikes    views  313
WhatsApp_icon
play
user

Neha

Journalist , Writer

0:52

Likes  16  Dislikes    views  405
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!