आपके जीवन में ऐसा क्या हुआ है जिसने आपको परिपक्व होने पर मजबूर कर दिया?...


user

Anshu Saxena

Business Manager

3:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने सवाल जवाब देने वाले से पूछा है आप का सवाल है कि आपके जीवन में ऐसा क्या हुआ है जिसने आप को परिपक्व होने पर मजबूर कर दिया यदि आप मुझसे पूछना चाहते हैं तो मैं जवाब दूंगा आपको देखिए अगर मैं मेरे जीवन की बात करता हूं कि मैं परी पक्का हुआ यह मैंने मेरी जिम्मेदारी है कब समझी मैं मतलब लेट पैदाइश था यानी कि मेरा जब जन्म हुआ उसके बाद जब मैं पढ़ा नहीं हुआ था मेरे फादर रिटायर हो गए थे तो मुझे खुद यह महसूस हुआ कि अब मुझे कुछ करना चाहिए बस मेरी परिपक्वता जो है वहीं से शुरु हो गई थी मजबूर मुझे किस नहीं किया था क्योंकि वह बहुत अच्छी पोस्ट से रिटायर हुए थे तो सारी सुविधाएं थी परंतु मेरे मन में यह था कि अगर मेरे फादर अब रिटायर हो गए तो मुझे चेत जाना चाहिए मुझे मेरी जिम्मेदारियों को समझ लेना चाहिए क्योंकि अभी तो वह वक्त है कि अभी मैं कुछ नहीं कर पाया तो भी मेरे मां-बाप इतने सक्षम है कि वह मुझे जेल जाएंगे परंतु मैं उस चीज को मैंने सीरियस ले लिया लाइट ही नहीं लिया और मैं शुरू हो गया पढ़ाई के साथ मैंने अपने काम किए और धीरे धीरे धीरे जब मेरे को परिपक्व होने में टाइम थोड़ा लगा परंतु वह वक्त ज्यादा दूर नहीं था मैंने मेरी जिम्मेदारियों को समझा मेरे मां-बाप को मैंने संभाला और मेरी बहन की मैंने शादी करी तो इस तरह से जीवन में और मुझे कहीं कोई तकलीफ नहीं मिली किसी क्योंकि मैं अपनी जिम्मेदारी हूं कुछ ऐसे जैसे समझने लगा मुझे मज़ा आने लगा और मुझे लगने लगा कि शायद इन्होंने जो करना था पढ़ाना था जो भी करना था कर दिया रे मेरी शादी भी मेरे पिताजी की रिटायरमेंट के बाद ही हुई थी फिर भी हम लोग इतने सक्षम थे और मैं स्वयं इतना आत्मविश्वास ही हो चुका था कि मुझे ऐसा नहीं लगा कि अब क्या होगा क्योंकि समय से पहले चेत जाना परिपक्व होना बहुत जरूरी है जब सर पर मौत मंदिर मंडल आती है तब आप बाय ढूंढते तो शायद कुछ नहीं मिलता आपको फिर तो फिर मरा नहीं है इसलिए आप सभी से मैं यही कहूंगा कि मौके की नजाकत को जरूर देखिए और आने वाला समय चाहे आपको लगता है कि अभी तो टाइम है परंतु टाइम नहीं है आपके पास में आपको शुरू हो जाना चाहिए अगर मजबूरी है तब भी और मजबूरी नहीं है तब भी आप यह न सोचे कि अभी तो क्या करेंगे अभी तो हमारे घर में सब कुछ है अभी तुम्हारे खेलने कूदने के दिन समय इतना तेजी से गुजरता है कि खेलकूद में कब बड़े हो जाते हैं और कब जिम्मेदारियां अचानक जब कंधों पर आती है तब हड़बड़ा जाते हैं और उस वक्त आप तैयार नहीं होते कुछ करने के लिए इसे परिपक्वता कोई टाइम लेकर नहीं आती है आप तो जैसे आपने हो संभाला पड़े हुए अपनी पढ़ाई पूर्ण करें आपको समझ लेना चाहिए मैं परिपक्व हो गया मुझे मेरी जिम्मेदारियां निभानी है चाहे घर की जरूरत नहीं हो फिर भी मुझे काम करना है तो आप उसी राह पर चलें तो शायद आप भी खुश रहेंगे और आपका परिवार भी

aapne sawaal jawab dene waale se poocha hai aap ka sawaal hai ki aapke jeevan me aisa kya hua hai jisne aap ko paripakva hone par majboor kar diya yadi aap mujhse poochna chahte hain toh main jawab dunga aapko dekhiye agar main mere jeevan ki baat karta hoon ki main pari pakka hua yah maine meri jimmedari hai kab samjhi main matlab late paidaaish tha yani ki mera jab janam hua uske baad jab main padha nahi hua tha mere father retire ho gaye the toh mujhe khud yah mehsus hua ki ab mujhe kuch karna chahiye bus meri paripakvata jo hai wahi se shuru ho gayi thi majboor mujhe kis nahi kiya tha kyonki vaah bahut achi post se retire hue the toh saari suvidhaen thi parantu mere man me yah tha ki agar mere father ab retire ho gaye toh mujhe chet jana chahiye mujhe meri jimmedariyon ko samajh lena chahiye kyonki abhi toh vaah waqt hai ki abhi main kuch nahi kar paya toh bhi mere maa baap itne saksham hai ki vaah mujhe jail jaenge parantu main us cheez ko maine serious le liya light hi nahi liya aur main shuru ho gaya padhai ke saath maine apne kaam kiye aur dhire dhire dhire jab mere ko paripakva hone me time thoda laga parantu vaah waqt zyada dur nahi tha maine meri jimmedariyon ko samjha mere maa baap ko maine sambhala aur meri behen ki maine shaadi kari toh is tarah se jeevan me aur mujhe kahin koi takleef nahi mili kisi kyonki main apni jimmedari hoon kuch aise jaise samjhne laga mujhe maza aane laga aur mujhe lagne laga ki shayad inhone jo karna tha padhana tha jo bhi karna tha kar diya ray meri shaadi bhi mere pitaji ki retirement ke baad hi hui thi phir bhi hum log itne saksham the aur main swayam itna aatmvishvaas hi ho chuka tha ki mujhe aisa nahi laga ki ab kya hoga kyonki samay se pehle chet jana paripakva hona bahut zaroori hai jab sir par maut mandir mandal aati hai tab aap bye dhoondhate toh shayad kuch nahi milta aapko phir toh phir mara nahi hai isliye aap sabhi se main yahi kahunga ki mauke ki nazakat ko zaroor dekhiye aur aane vala samay chahen aapko lagta hai ki abhi toh time hai parantu time nahi hai aapke paas me aapko shuru ho jana chahiye agar majburi hai tab bhi aur majburi nahi hai tab bhi aap yah na soche ki abhi toh kya karenge abhi toh hamare ghar me sab kuch hai abhi tumhare khelne koodne ke din samay itna teji se guzarta hai ki khelkud me kab bade ho jaate hain aur kab zimmedariyan achanak jab kandhon par aati hai tab hadbada jaate hain aur us waqt aap taiyar nahi hote kuch karne ke liye ise paripakvata koi time lekar nahi aati hai aap toh jaise aapne ho sambhala pade hue apni padhai purn kare aapko samajh lena chahiye main paripakva ho gaya mujhe meri zimmedariyan nibhani hai chahen ghar ki zarurat nahi ho phir bhi mujhe kaam karna hai toh aap usi raah par chalen toh shayad aap bhi khush rahenge aur aapka parivar bhi

आपने सवाल जवाब देने वाले से पूछा है आप का सवाल है कि आपके जीवन में ऐसा क्या हुआ है जिसने आ

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  111
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
kya hua aapko ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!